सर्जरी की जानकारी के लिए फॉर्म भरें।
हम 48 घंटों के भीतर आपसे संपर्क करेंगे।

अगर किसी मरीज के शरीर में हृदय तक खून पहुंचाने वाली एक या एक से अधिक रक्त वाहिकाएं यानी आर्टरी संकुचित हो जाए तो इस समस्या को ठीक करने के लिए हार्ट बाईपास सर्जरी या कोरोनरी बाईपास सर्जरी की जाती है। इसमें आमतौर पर हृदय में किसी अन्य रक्त वाहिका के हिस्से का इस्तेमाल कर रक्त प्रवाह को फिर से ठीक कर दिया जाता है। यह एक बड़ी सर्जरी मानी जाती है और सर्जरी के बाद मरीज की रिकवरी में काफी समय लगता है जिसमें मरीज को अपनी जीवनशैली में भी काफी बदलाव करने की जरूरत पड़ती है। 

देश के नंबर 1 हार्ट सर्जन्स में से एक और एशियन हार्ट इंस्टिट्यूट के वाइस चेयरमैन डॉ रमाकांत पांडा का सुझाव है कि अगर कोई व्यक्ति स्वस्थ जीवनशैली अपनाए तो बाईपास सर्जरी जैसे बड़े ऑपरेशन के बाद भी उस व्यक्ति की हृदय संबंधी सेहत लंबे समय तक बेहतर बनी रहती है। ऐसे में अगर आपकी या आपके किसी अपने परिवार के सदस्य की बाईपास सर्जरी हुई हो तो डाइट, एक्सरसाइज और हेल्थकेयर में सकारात्मक बदलाव करके आप अपने आगे के जीवन-स्तर को बेहतर बना सकते हैं। बाईपास सर्जरी के बाद आप किस तरह से स्वस्थ जीवन जी सकते हैं इसके लिए हम आपको बता रहे हैं कुछ जरूरी टिप्स के बारे में।

(और पढ़ें - बाईपास सर्जरी और एंजियोप्लास्टी में क्या है अंतर)

  1. नियमित रूप से और समय पर दवाइयां लें
  2. धूम्रपान की लत छोड़ दें
  3. डॉक्टर की सलाह अनुसार एक्सरसाइज करें
  4. हेल्दी डाइट का सेवन करें
  5. अगर कोई बीमारी भी हो तो उसे मैनेज करें
  6. तनाव से दूर रहें
बाईपास सर्जरी के बाद स्वस्थ जीवन जीने के 6 टिप्स के डॉक्टर

डॉ पांडा कहते हैं कि जब किसी व्यक्ति की बाईपास सर्जरी होती है तो उसे कई तरह की दवाइयां प्रिस्क्राइब की जाती हैं और व्यक्ति की परिस्थिति के आधार पर हर मरीज का एक अलग डिटेल प्लान तैयार किया जाता है। आमतौर पर सभी मरीजों को खून का थक्का जमने से रोकने की दवा, बीटा-ब्लॉकर, एसीई निरोधी दवाइयां और नाइट्रेट्स दी जाती हैं। इस बात का पूरा ध्यान रखें कि आप डॉक्टर द्वार बताई गई दवा का सही डोज नियमित रूप से और सही समय पर जरूर लें। अगर किसी नई दवा का सेवन करने पर आपको बेचैनी महसूस होने लगे तो तुरंत अपने डॉक्टर को इस बारे में सूचित करें। हो सकता है कि डॉक्टर आपको कोई और दवा बताएं जो आपको बेहतर तरीके से सूट करे।

myUpchar के डॉक्टरों ने अपने कई वर्षों की शोध के बाद आयुर्वेद की 100% असली और शुद्ध जड़ी-बूटियों का उपयोग करके myUpchar Ayurveda Hridyas Capsule बनाया है। इस आयुर्वेदिक दवा को हमारे डॉक्टरों ने कई लाख लोगों को हाई ब्लड प्रेशर और हाई कोलेस्ट्रॉल जैसी समस्याओं में सुझाया है, जिससे उनको अच्छे प्रभाव देखने को मिले हैं।
BP Tablet
₹899  ₹999  10% छूट
खरीदें

धूम्रपान करने से आपके हृदय की कार्यप्रणाली पर सीधा असर पड़ता है और इससे शरीर में हृदय से जुड़े गंभीर लक्षण भी नजर आ सकते हैं। लिहाजा बाईपास सर्जरी के बाद आपको धूम्रपान पूरी तरह से छोड़ देना चाहिए। आप चाहें तो अपनी इस लत को छोड़ने के लिए अपने डॉक्टर से बात करके किसी पुर्नवास कार्यक्रम के बारे में जानकारी ले सकते हैं। स्मोकिंग की आदत छुड़वाने के लिए कई तरह की थेरेपी और सपोर्ट ग्रुप भी काम कर रहे हैं जो आपके लिए फायदेमंद साबित हो सकते हैं।

(और पढ़ें - हृदय के ये 10 लक्षण जिन्हें कभी नजरअंदाज नहीं करना चाहिए)

सर्जरी के बाद आपको पूरी तरह से रिकवर होने में भले ही कई महीनों का वक्त लग जाए लेकिन इस दौरान बेहद जरूरी है कि आप ऐक्टिव रहें। आपकी स्थिति की गंभीरता को देखते हुए डॉक्टर आपको हार्ट बाईपास सर्जरी के बाद किस तरह की एक्सरसाइज करनी चाहिए इसका सुझाव देंगे और इस तरह की एक्सरसाइज समय के साथ बढ़ भी सकती है। 

(और पढ़ें - हृदय रोगी एक्सरसाइज से पहले इन बातों पर दें ध्यान)

Spirulina capsules
₹539  ₹599  10% छूट
खरीदें

आपके हार्ट हेल्थ को बनाए रखने के लिए स्वस्थ और संतुलित भोजन का सेवन करना बेहद जरूरी है। हृदय के लिए हेल्दी डाइट खाने का उद्देश्य यही है कि आपके शरीर में ब्लड कोलेस्ट्रॉल का लेवल कम हो और आपका वजन भी ना बढ़े। आमतौर पर इस तरह की हेल्दी डाइट में प्रोसेस्ड और चीनी वाले खाद्य पदार्थ, फैट से भरपूर चीजें, रिच मीट, क्रीम और चीज जैसी चीजों की जगह लीन मीट, सीफूड, फलियां, दालें, सब्जियां और फलों का सेवन करने की सलाह दी जाती है। हो सकता है कि आपके लिए एक डाइटिशियन भी नियुक्त की जाए जो आपको सही डाइट का चुनाव करने और सही मील की प्लानिंग करने में आपकी मदद करे।

हृदय रोग के साथ अक्सर हाई ब्लड प्रेशर और डायबिटीज जैसी कॉमन बीमारियां भी हो जाती हैं। ऐसे में अगर इन बीमारियों को सही तरीके से मैनेज न किया जाए तो कार्डिएक मरीजों की सेहत और बिगड़ सकती है। ऐसे में अगर बाईपास सर्जरी कराने वाले किसी भी व्यक्ति को इनमें से भी कोई भी बीमारी हो तो उन्हें इन बीमारियों की दवा भी नियमित रूप से लेनी चाहिए ताकि ये बीमारियां भी पूरी तरह से कंट्रोल में रहें। साथ ही साथ नियमित रूप से एक्सरसाइज करने और हेल्दी डाइट का सेवन करने से भी डायबिटीज और ब्लड प्रेशर को कंट्रोल में रखा जा सकता है।

(और पढ़ें - हृदय को स्वस्थ रखने के लिए खाएं ये आहार)

L-Arginine capsule
₹599  ₹695  13% छूट
खरीदें

हृदय की इतनी बड़ी सर्जरी होना आपके और आपके परिवार के सदस्यों के लिए तनावपूर्ण अनुभव हो सकता है। ऐसे मुश्किल समय में तनाव और अवसाद महसूस करना सामान्य सी बात है। लेकिन अगर आपको बहुत ज्यादा बेचैनी या तनाव महसूस हो रहा हो तो किसी प्रफेशनल से मदद लें। इस समय आपको अपने परिवार के सदस्यों और दोस्तों को जितना हो सके अपने करीब ही रखना चाहिए। अगर किसी व्यक्ति का सपोर्ट सिस्टम मजबूत हो तो उसे बीमारी से उबरने और तनाव के लेवल को कंट्रोल में रखने में बहुत मदद मिलती है।

(और पढ़ें : दिल को स्वस्थ रखने के लिए योगासन)

Dr. Farhan Shikoh

Dr. Farhan Shikoh

कार्डियोलॉजी
11 वर्षों का अनुभव

Dr. Amit Singh

Dr. Amit Singh

कार्डियोलॉजी
10 वर्षों का अनुभव

Dr. Shekar M G

Dr. Shekar M G

कार्डियोलॉजी
18 वर्षों का अनुभव

Dr. Janardhana Reddy D

Dr. Janardhana Reddy D

कार्डियोलॉजी
20 वर्षों का अनुभव

ऐप पर पढ़ें
cross
डॉक्टर से अपना सवाल पूछें और 10 मिनट में जवाब पाएँ