myUpchar प्लस+ के साथ पूरेे परिवार के हेल्थ खर्च पर भारी बचत

जब हम पानी को कुछ मिनट के लिए उबालते हैं तो यह वाष्प या भाप में बदल जाता है। ये वाष्प या भाप हमारी सुंदरता के लिए बेहद फायदेमंद होता है। अक्सर सैलून में बाल और त्वचा के ट्रीटमेंट्स के लिए भाप का उपयोग किया जाता है। अच्छी बात यह है कि हम अपने घर पर भी भाप का उपयोग कर सकते हैं और एक सस्ते तरीके से खुद को एक छोटा सा मेकओवर दे सकते हैं।

तो चलिए जानते हैं भाप कैसे आपके बालों और त्वचा को लाभ पहुंचा सकते है।

  1. चेहरे पर भाप कैसे लें - Steam lene ka tarika in hindi
  2. स्टीम के फायदे हटाए ब्लैकहेड्स - Facial steam for blackheads in hindi
  3. चेहरे पर भाप लेने के फायदे चमकाए त्वचा - Steaming face for glowing skin in hindi
  4. चेहरे पर भाप लेने के लाभ मुँहासों के लिए - Steam to prevent pimples in hindi
  5. भांप के फायदे करे उम्र कम - Steam for anti aging in hindi
  6. भाप लेने के फायदे बालों के लिए - Benefits of steam hydration for hair in hindi
  1. अगर आपके बाल लम्बे हैं तो अपने बालों को बांधकर अपने चेहरे से दूर करें।
  2. एक हल्के क्लीन्ज़र के साथ अपना चेहरा साफ करें और अच्छी तरह से धो लें।
  3. एक बड़े बर्तन में 5 कप पानी डाल कर उबाल लें।
  4. गर्म पानी को एक बड़े कटोरे में डालें और यह सुनिश्चित करें कि कटोरा मेज पर सुरक्षित रूप से रखा हुआ है।
  5. बैठ जाएँ ताकि आप गर्म पानी के कटोरे के ऊपर आराम से अपना चेहरा रख सकें।
  6. अपने सिर पर एक तौलिया लें ताकि आप अपने सर और पानी के कटोरे को पूरी तरह से ढक सकें।
  7. अगर किसी भी समय आपको लगता है कि भाप आपकी त्वचा पर बहुत गर्म हो गयी है, तो अपना चेहरा पानी से दूर कर लें।
  8. लगभग 10 से 15 मिनट तक भाप लें या जब तक भाप ठंडी नहीं हो जाती है।
  9. अपनी पसंद के क्लीन्ज़र के साथ अपना चेहरा साफ करें और फिर गुनगुने पानी से तीन से पांच बार धोएं।
  10. एक कॉटन बॉल पर कुछ एस्ट्रिंजेंट या सिरका डालें और इसे अपने चेहरे पर रगड़ें। एस्ट्रिंजेंट मैल को हटाने में मदद करता है और रोम छिद्रों को साफ करता है। गुनगुने पानी के साथ एस्ट्रिंजेंट को धो लें और उसके बाद ठन्डे पानी से अपना चेहरा धोएं। फिर एक साफ तौलिए के साथ त्वचा को सुखा लें।

अगर आपने कभी भी अपनी त्वचा का क्लीन अप करवाया होगा तो आप उस प्रक्रिया से परिचित होंगे जब आपकी त्वचा पर वाष्प देकर ब्लैकहैड्स और व्हाइटहेड्स निकाले जाते हैं। वाष्प देने का कारण यह है कि वाष्प से त्वचा के छिद्रों को खोलने में मदद मिलती है जिससे ब्लैकहैड्स और व्हाइटहेड्स को निकालने और फिर से होने से रोकने में मदद मिलती है। यह ब्लैकहैड्स और व्हाइटहेड्स को कम भी करती है।

तो चलिए जानते हैं घर पर हम कैसे इसका उपयोग कर सकते हैं। (और पढ़े – ब्लैकहेड्स हटाने के घरेलू नुस्खे)

सब से पहले आप किसी क्लीन्ज़र से अपने चेहरे को धो लें और फिर स्टीमर में पानी उबलने के लिए रख दें। जब स्टीमर से भाप निकलने लगे तो फिर अपने सिर को एक तौलिये से ढक लें और अपने चेहरे पर भाप को आने दें। अपने चेहरे को एक तरफ से दूसरी तरफ करें जिससे आपका चेहरा बहुत गर्म न हो। आप इस प्रक्रिया को तब तक करें जब तक आप भाप की गर्मी को बर्दाश्त कर पाएं। अब आप एक दर्पण और एक चिमटी के उपयोग से धीरे-धीरे सफेद और ब्लैकहैड निकालें। आप उन्हें निकालने के लिए थोड़ा दबा भी सकते हैं। लेकिन ज्यादा जोर से नहीं दबाएं क्योंकि इससे आपकी त्वचा को नुकसान पहुंच सकता है। जब आप यह कर लें तो अपने चेहरे को अच्छी तरह पोछ लें और पियर्स को बंद करने के लिए अपने चेहरे पर ठन्डे पानी की छींटे माड़े।

चेहरे पर भाप लेना आपको चमक्दार त्वचा पाने में मदद करता है। इससे मृत त्वचा कोशिकाओं को हटाने में मदद मिलती है जिसके त्वचा में जम जाने से त्वचा सुस्त दिखने लगती है। ये मृत कोशिकाएं जीवाणुओं को बढ़ाती हैं जो मुँहासे जैसी समस्याएं पैदा कर सकते हैं। जब एक बार आप अपनी त्वचा पर भाप लेते हैं तो ये मृत कोशिकाएं हट जाती हैं और आपकी त्वचा उज्ज्वल दिखने लगती है।
इसके लिए सबसे पहले आप अपने चेहरे पर भाप लेने के लिए कुछ मिनटों तक एक स्टीमर का उपयोग करें। इसके बाद अपना चेहरा साफ तौलिए से पोंछ लें और अपने चेहरे को भी धो लें। इसके बाद आप अपने चेहरे पर सनस्क्रीन लगा लें।

(और पढ़े – चमकदार त्वचा पाने के लिए गाइड)

किशोरावस्था के दौरान मुँहासे निकलना एक आम समस्या है और कई लोगों को तो मुँहासे किशोरावस्था के बाद भी निकलते रहते हैं। लेकिन भाप इस सौंदर्य समस्या को नियंत्रित करने में मदद कर सकती है। आमतौर पर जब त्वचा के छिद्र में गंदगी और सीबम भड़ा जाता हैं तो मुँहासों की समस्या होती है। जब आप अपने चेहरे पर भाप लेते हैं तो आपकी त्वचा के छिद्र खुल जाते हैं और त्वचा से गंदगी और तेल साफ हो जाते हैं। इसके कारण मुँहासों को निकलने से रोका जा सकता है।

जैसा कि ऊपर समझाया गया है उसी तरह अपने चेहरे पर भाप लें।

छिद्रों के खुल जाने पर गंदगी और सीबम को साफ करने के लिए साफ़ टिश्यू (tissue) का उपयोग करें
मौजूदा मुँहासे को फोड़ें ना लेकिन उसके आसपास के क्षेत्र को साफ कर लें।ॉ

अपनी त्वचा को थोड़ा दबा कर बेहतर ढंग से साफ कर सकते हैं।

अब इसे पोंछने के बाद ठंडे पानी से अपने चेहरे को धो लें और चेहरे को हलके से थपथपा कर सूखा लें।

बेहतर परिणाम के लिए आप अपने चेहरे पर मुल्तानी मिट्टी से बना फेस पैक भी लगा सकते हैं।

(और पढ़े – मुँहासे हटाने के घरेलू उपाय)

जब आप 30 की उम्र पार करते हैं तो आपकी त्वचा नई त्वचा का निर्माण नहीं कर पाती है और रक्त परिसंचरण भी कम हो जाता है। भाप आपकी त्वचा में रक्त प्रवाह को बेहतर बनाने में मदद कर सकती है। जब आप भाप लेते हैं तो रक्त वाहिकाओं को गर्मी मिलती है जिससे रक्त वाहिकायें फैलती है जिसके कारण त्वचा में रक्त प्रवाह बेहतर होता है। इसके अलावा भाप लेने से जो पसीना निकलता है, उससे त्वचा के अंदर के विषाक्त पदार्थ त्वचा के बाहर निकल जाते हैं। साथ ही त्वचा की नमी बानी रहती है। इससे त्वचा अधिक लचीली और युवा बानी रहती है।
इसके लिए सबसे पहले ऊपर बताए अनुसार अपने चेहरे पर भाप लें।

फिर रक्त के प्रवाह को बढ़ाने के लिए गोल गोल अपने चेहरे पर मालिश करें।

अब ठंडे पानी से अपना चेहरा धो लें।

(और पढ़े – आयुर्वेद की मदद से एंटी एजिंग के लक्षणों को कम करके रहें हमेशा युवा)

भाप का उपयोग आपके बालों और सर के लिए बहुत ही फायदेमंद होता है। यहां तक कि जब आप हेयर स्पा के लिए जाते हैं तो वहाँ भी भाप का उपयोग किया जाता है जो किसी भी हेयर पैक के बालों में ठीक से बैठने में मदद करता है और बालों में रक्त परिसंचरण को बढ़ाता है।

इसके लिए आप एक बर्तन में पानी उबाल लें और उस में तौलिया दाल लें। कुछ मिनटों के बाद तौलिया ले कर अपने सिर के चारों ओर लपेटें

जब तक आप जरूरत महसूस करते हैं तब तक कई बार ऐसा करें। जब आपका सर और बाल थोड़े गीले हो जाए, तब हेयर पैक लगा कर शॉवर कैप से अपने सिर को कवर कर लें।

30 मिनट के बाद हल्के शैम्पू से अपने बालों को धो लें।

यदि आप एक स्टीम रूम में बैठें तो आप अपने पूरे शरीर के लिए इससे लाभ प्राप्त कर सकते हैं। स्टीम रूम में कुछ मिनट बैठने से विषाक्त पदार्थों को खत्म करने और रक्त परिसंचरण को बेहतर बनाने में मदद मिलती है। अपने वाष्प सत्र के बाद सुनिश्चित करें कि आप एक शॉवर लें और अपनी त्वचा को मॉइस्चराइज करें।

हालांकि भाप के बहुत फायदे हैं, इसे अक्सर नहीं लेना चाहिए। यदि आपकी त्वचा बहुत तैलीय है तो आप इसे महीने एक बार या दो बार ले सकते हैं। यदि आपको त्वचा विकार रोसेएशिया हो या आपकी त्वचा बेहद संवेदनशील हो तो भाप लेने से पहले त्वचा विशेषज्ञ से परामर्श करना बेहतर है।

(और पढ़े – बालों के लिए किस हेयर आयल का इस्तेमाल करें और कैसे, जानिए फेमस हेयर एक्सपर्ट जावेद हबीब से)

और पढ़ें ...