myUpchar प्लस+ के साथ पूरेे परिवार के हेल्थ खर्च पर भारी बचत

आपने अपने जन्मदिन या दोस्त की शादी को कैसे सेलिब्रेट करते हैं? इसके लिए चाहे आप सारी रात पार्टी करते हैं या अपने परिवार या दोस्तों के साथ एक सुखद शाम का आनंद लेते हैं। चाहे कोई भी सेलेब्रेशन्स हो बिना भोजन के तो कभी पूरी ही नहीं हो सकती है। हमारा कोई भी सेलेब्रेशन्स बिना स्वादिष्ट भोजन के अधूरा है। लेकिन शादी या पार्टी में बहुत अधिक भोजन और पेय पदार्थ होते हैं और हम उत्साह में जितनी हमें जरूरत है उस से कही अधिक भोजन का सेवन कर लेते हैं। सरल शब्दों में, आप जितनी कैलोरी खर्च करते हैं उससे अधिक कैलोरी का सेवन कर लेते हैं। जब आप खाने पर नियंत्रण खो कर अधिक मात्रा में खाते हैं तो उसे ठूस ठूस कर खा जाता है। जब आप कम समय में बहुत अधिक शराब का सेवन करते हैं, बेकाबू हो कर खाना कपुलसीवे ओवरईटिंग डिसऑर्डर (compulsive overeating disorder) का लक्षण हो सकता है। तो चलिए जानते हैं अधिक भोजन करने से क्या नुकसान हो सकता हैं।

  1. अधिक खाने के नुकसान पेट लगता है भारी - Overeating makes you feel bloated in hindi
  2. ज्याद खाने के नुकसान बढ़ता है डकार की समस्या - Sulfur burps after overeating in hindi
  3. अधिक खाने से समस्या श्वास लेने में - Overeating causes shortness breath in hindi
  4. ज्याद खाने से समस्या है जलन की - Overeating causes heartburn in hindi
  5. अधिक भोजन करने के नुकसान पाचन करे कम - Overeating cause digestive problems in hindi
  6. अधिक भोजन करने से समस्या बढ़ाए वजन - Overeating causes weight gain in hindi
  7. ज्यादा खाना खाने के नुकसान पेट फूलने में - Stomach bloating due to overeating in hindi
  8. ज्यादा खाना खाने से समस्या बढ़ाए कोलेस्ट्रॉल - Jyada khane ke nuksan increase cholesterol in hindi
  9. अधिक मात्रा में खाने से नुकसान बढ़ाए डायबिटीज - Overeating causes diabetes in hindi
  10. भोजन को पचाने में कितना समय लगता है - How much time does it take to digest food in hindi

आपका पेट आपकी मुट्ठी के आकार के समान होता है और आप जब आप अपने छोटे से पेट में प्राकृतिक क्षमता से भोजन करते हैं तो आपका पेट निश्चित रूप से असहज और भारी लगने लगता है।

जब भोजन स्वादिष्ट होता है तो आप न केवल ज़्यादा खा लेते हैं बल्कि ज़्यादा जल्दी भी खा लेते हैं और तेजी के खाने के कारण खाने के साथ साथ हवा भी निगल जाते हैं जिसके परिणाम स्वरूप आपको हिचकियाँ या डकार की समस्या हो सकती है। कार्बोनेटेड ड्रिंक्स भी आपकी डकार की समस्या बढ़ा सकता है।

अधिक भोजन करने से आपका पेट फूल जाता है जिसके कारण आपके फेफड़ों पर दवाब बन सकता है और आपको श्वास लेने में दिक्कत महसूस होने लगती है।

अधिक मात्रा में भोजन करने से भोजन नली और पेट बंद के बीच का जो वाल्व होता है, वह बंद नहीं हो पाता है। इससे खाद्य पदार्थ पेट से वापस भोजन नली में आने लगते हैं जिसके कारण छाती क्षेत्र में या उसके आस-पास जलन जैसी समस्या को पैदा करते हैं।

एक बार में बहुत अधिक भोजन उबासी का करण हो सकता है। क्योंकि आपके पेट को अतिरिक्त भोजन पचाने के लिए पूरे समय काम करना पड़ता है। इस प्रक्रिया में कारण हमारे मस्तिष्क में रक्त का प्रवाह कम होता है जिससे हमें जगे रहने में कठनाई होने लगती है। अधिक मात्रा में भोजन मेलाटोनिन के उत्पादन को बढ़ता है। मेलाटोनिन एक ऐसा हार्मोन है जो आपको सोने में मदद करता है। अधिक चीनी और कार्बोहाइड्रेट युक्त भोजन आपके रक्त शर्करा के स्तर को बढ़ता है और आपके शरीर में इंसुलिन को स्रावित करता है जो शांत प्रभाव डालने वाले रसायनों को रिलीज करते हैं।

अधिक मात्रा में भोजन करने से मोटापे की समस्या हो सकती है और मोटापे के कारण डायबिटीज, हृदय रोग,हाई बीपी और स्ट्रोक समस्याएं हो सकती है। इसके कारण लोग अपना आत्मविश्वास और आत्मसम्मान तक खो सकते हैं। अधिक वजन या अधिक मोटापा के कारण जवानी में मौत भी हो जाती है - आकड़ों के अनुसार हर साल कम से कम 28 लाख वयस्क मरते हैं। जब आप वजन कम करने का सोचते हैं और अत्यधिक मात्रा में खाना खाने से आपका वजन कम नहीं होता है तो इसके कारण आप तनावग्रस्त या उदास हो जाते हैं। इसके फलस्वरूप आप अपने आपको खुश करने के लिए भोजन पर निर्भर होना शुरू कर सकते हैं। इससे ऐसा हो सकता है कि आप बहुत अधिक मात्रा में खाना खाने लगें और वजन अधिक बढ़ जाता है।

(और पढ़ें - वजन कम करने के लिए डाइट प्लान)

ओवरईटिंग आपके पाचन तंत्र के काम को कम करता है और शरीर में विषाक्त पदार्थों को बढ़ता है। ओवरईटिंग से आपके पित्ताशय की थैली को कड़ी मेहनत करनी पड़ेगी और वसा को पचाने के लिए पित्ताशय अधिक मात्रा में पित्त को निचोड़ेगा। इससे आपको पित्त की पथरी की समस्या भी हो सकती है। अधिक मात्रा में भोजन करने से आपको पेट फूलने की समस्या भी हो सकती है।

अधिक मात्रा में भोजन करने से आपके दिल को आंत तक रक्त पहुंचाने के लिए अधिक रक्त पंप करने की आवश्यकता होती है। संतृप्त वसा युक्त आहार के सेवन से रक्त में कोलेस्ट्रॉल के स्तर बढ़ जाता है जिसके कारण रक्त के जमने की समस्या भी हो करती है। यह रक्त के प्रवाह में बाधा डाल सकता है और दिल का दौरा और स्ट्रोक की समस्या पैदा कर सकता है।

इंसुलिन प्रतिरोध एक ऐसी स्थिति है जहां कोशिका इंसुलिन को बंद कर देती है जिससे रक्त में चीनी की मात्रा बढ़ जाती है। यह टाइप 2 मधुमेह सहित चयापचय संबंधी विभिन्न प्रकार के विकारों को जन्म देती है। एक अध्ययन ने यह साबित किया है कि उच्च कैलोरी आहार 4 सप्ताह के बाद इंसुलिन प्रतिरोध विकसित करता है। यदि आप पहले से ही स्वास्थ्य की स्थिति के कारण आहार संशोधनों पर हैं तो ज्यादा मात्रा में खाना खाने से आपके शरीर में नमक, वसा और कैलोरी की मात्रा बढ़ सकती है।

खाना आपके पेट में कितनी देर रहता है यह आपके खाने के प्रकार और मात्रा के आधार पर होता है। छोटी मात्रा में भोजन के साथ मध्यम तरल पदार्थ सेवन को पचने में 2 से 3 घंटे लग जाते हैं। वहीँ अधिक मात्रा में वसा वाले भोजन को पचने में लगभग 6 से 8 घंटे लग सकते हैं।आज जो भी खाते हैं वह धीरे-धीरे आपके आंतों में जाता है जहां वह कई घंटे तक संसाधित (processed) होता है। अधिक मात्रा में भोजन आपके पेट, पित्ताशय, लिवर, गुर्दा, हृदय आदि आपके अंगों पर एक टोल लेता है और अपने शरीर को फिट रखने के लिए आपको बड़े भोजन के बाद कड़ी मेहनत करनी पर सकती है।

और पढ़ें ...