तेज पत्ते को अँग्रेज़ी में बे लीफ कहते हैं। यह एक तरह का गर्म मसाला है, जिसका उपयोग खाने में खुशबू तथा स्वाद बढ़ाने के लिए किया जाता है। इसका उपयोग ज़्यादातर भारतीय खानों में किया जाता है। यह हमारे खाने में जान डाल देता है।

घर में या होटल में इसका उपयोग भले ही स्वाद को बढ़ाने के लिए किया जाता है। लेकिन इसके फायदे स्वाद के अलावा हमारे स्वास्थ्य से भी जुड़ें हैं। तेज पत्ते में कई स्वास्थ्यवर्धक गुण छुपे हुए हैं। यह हमारे सेहत और सौन्दर्य दोनों के लिए लाभदायक होता है। तेज पत्ते में काफी मात्रा में कॉपर, पौटेशियम, कैल्शियम, मैग्‍नीशियम, सेलेनियम और आयरन पाया जाता है जो हमारे शरीर के लिए बहुत ही फायदेमंद होते हैं। तो आज हम जानते हैं तेज पत्ते के स्वास्थ्य लाभ के बारे में।

  1. तेजपात के फायदे मधुमेह में - Tej Patta Benefits For Diabetes In Hindi
  2. तेजपत्ता के गुण नींद दूर करे - Bay Leaf For Sleep In Hindi
  3. तेजपत्ता के उपयोग चेहरे के लिए - Tej Patta For Skin In Hindi
  4. तेज पत्ता बेनिफिट्स पेट की समस्या में - Bay Leaves Good For Stomach In Hindi
  5. तेज पत्ता के फायदे माइग्रेन में - Bay Leaves For Migraine In Hindi
  6. तेज पत्ता के लाभ दांतों के लिए - Bay Leaf Benefits For Teeth In Hindi
  7. तेज पत्ता बेनिफिट्स फॉर हेयर - Tej Patta Benefits For Hair In Hindi
  8. तेजपत्ता का उपयोग गर्भावस्था के लिए - Bay Leaves In Pregnancy In Hindi
  9. तेज पत्ता हेल्थ बेनिफिट्स कफ़ में - Bay Leaf Tea For Cough In Hindi
  10. कैंसर से लड़ने में तेजपात के गुण - Bay Leaf For Cancer In Hindi

जिन भी लोगों को मधुमेह की समस्या है उन्हे तेज पत्ते का सेवन ज़रूर करना चाहिए। क्योंकि तेज पत्ता रक्त में सुगर के संतुलन को बनाए रखता है। टाइप 2 डायबिटीज में भी यह फायदेमंद है। इसके उपयोग से हमारे दिल की कार्यशीलता पर भी सकारात्मक प्रभाव पड़ता है। इसके उपयोग से हमरा हृदय स्वस्थ रहता है और दिल का दौरा पढ़ने का ख़तरा कम होता है। 

(और पढ़ें – दिल का दौरा के लक्षण)

कुछ लोगो को नींद बहुत ज़्यादा आती है। 7-8 घंटे सोने पर भी उनकी नींद पूरी नही होती है। ऐसे में तेज पत्ते को पानी में कम से कम 6 घंटे के लिए भिगो कर रख देँ। सुबह इस पानी को पीलें इससे आपको नींद नही आएगी और राहत मिलेगी। 

(और पढ़ें - नींद के लिए घरेलू उपाय)

आपने चेहरे को साफ करने और इससे दाग हटाने के लिए कई क्रीम्स लगा रहे होंगे। तो एक बार तेज पत्ता भी इस्तेमाल ज़रूर करें। चेहरे के मुँहासे, दाग, धब्बे सभी में तेज पत्ता आपको फायदा पहुंचना है। प्रयोग के लिए आप तेज पत्ते को पानी में उबाल लें और इस पानी से अपने चेहरे को धोएं या आप इससे लेप बनाकर भी लगा सकते हैं। इससे टैनिंग की समस्या भी दूर होती है। यह आपकी चेहरे की रंगत को एक समान करता है।

यदि किसी को कब्ज, पेट में जलन और गैस की समस्या है तो गर्म पानी में तेज पत्ते को मिलाकर पिएं। इससे यह सारी समस्याएं ठीक हो जाएंगी। यदि आपको अपच की समस्या है तो तेज पत्ते और अदरक को पानी में डालकर उबाल लें। तब तक उबालें जब तक पानी आधा ना हो जाए। अब इस पानी में शहद मिलाकर दिन में दो बार पिएं। इससे आपको काफ़ी फायदा होगा। 

(और पढ़ें - कब्ज के लक्षण)

तेज पत्ते में एंटी इंफ्लेमेटरी गुण पाए जाते हैं जिससे हमें दर्द, ऐंठन, खिचाव आदि से छुटकारा मिलता है। सिर में दर्द होने पर या फिर जिन लोगों को माइग्रेन की समस्या है वे लोग तेज पत्ते के तेल (Bay Leaf Essential oil) से कानों के पीछे मालिश करें। इससे रक्त संचार सही होता है जिससे दर्द से राहत मिलती है। जोड़ो का दर्द दूर करने में भी यह फायदेमंद है।

दांतों का पीलापन आपको लोगों के सामने शर्मिंदा भी करता है। साथ ही साथ यह ओरल केयर के हिसाब से भी सही नहीं है। तेज पत्ते को दांतों पर रगड़ने से दांतों का पीलापन दूर होता है और दाँत सफेद हो जाते हैं।

तेजपत्‍ता हमारे बालों की चमक बढ़ाने में भी काफी उपयोगी है। प्रयोग के लिए कुछ तेज पत्ते लें और पानी में उबालें। जब पानी ठंडा हो जाए तो उससे बाल धो लें।यह आपके बालों से ना केवल चिपचिपाहट को दूर करती हैं बल्कि कंडीशनर की तरह काम करके बालों में चमक भी लती हैं। आप इसकी मदद से बालों की रूसी भी दूर कर सकते हैं। तेज पत्ते की सूखी पत्तियों को मिक्सर में पीसकर पाउडर बना लें और इस पाउडर में दही मिला कर इस मिश्रण को सिर की त्वचा पर लगाएं और करीब आधे घंटे बाद धो लें। इससे रूसी की समस्या ठीक हो जाती है।

तेजपत्‍ता फोलिक एसिड से समृद्ध होता है। इसलिए गर्भावस्था से 3 महीने पहले और 3 महीने बाद के दौरान बेहद फायदेमंद होता हैं। तेजपत्‍ता का उपयोग बच्चे के लिए पर्याप्त मात्रा में फोलिक एसिड प्रदान करता है और जन्म दोष को रोकने में मदद करता है। आप तेजपत्‍ता का गर्भावस्था में भी उपयोग कर सकते हैं।

(और पढ़ें - गर्भावस्था में पेट में दर्द और प्रेग्नेंट होने के लिए क्या करें)

तेजपत्‍ता सर्दी, फ्लू और संक्रमण के लक्षणों से लड़ने में मदद करता है। इस के लिए उबले पानी में 2 से 3 तेजपत्‍ता डालें और फिर 10 मिनट तक इस की भाप लें। यह आप को सर्दी, फ्लू और संक्रमण से निजात दिलाएगा। तेजपत्‍ता की चाय बुखार को कम करने में प्रभावी है। 

(और पढ़ें - इन्फ्लूएंजा या फ्लू के लक्षण)

तेज पत्ते में कैंसर से लड़ने का गुण होता है। इसमें कफेन एसिड (kafen acid), केर्सटिन (quercetin), इयूगिनेल (Iuginel) नामक तत्‍व मौजूद होते हैं जिसके कारण मेटाबोल्जिम कैंसर जैसी घातक बीमारी को होने से रोक लेता है। 

(और पढ़ें – कैंसर के लक्षण)


उत्पाद या दवाइयाँ जिनमें तेज पत्ता है

ऐप पर पढ़ें