myUpchar प्लस+ के साथ पूरेे परिवार के हेल्थ खर्च पर भारी बचत

नींद, महर्षि आयुर्वेद के मौलिक आधार और स्तंभों में से एक है। नींद इंसान के शरीर को स्वस्थ और संतुलित बनाए रखने के लिए महत्वपूर्ण है। एक अच्छी और गहरी नींद तनाव से राहत देने के साथ साथ जीवन शक्ति को बनाए रखने में भी मदद करती है। जब एक इंसान अच्छी और गहरी नींद लेता है तो उस समय उसका शरीर ऊतकों (tissues) को फिर से जीवंत करता है। उचित नींद इंसान के शरीर एवं मस्तिष्क दोनों को आराम देने के लिए काफी आवश्यक है। लेकिन नींद न आना यानी अनिद्रा आजकल के समय में एक आम समस्या बन चुकी है। तो चलिए जानते हैं नींद न आने के घरेलू और आयुर्वेदिक उपाय के बारे में जिसके उपयोग से आप एक अच्छी और गहरी नींद का आनंद ले सकते हैं।

  1. अच्छी नींद आने के लिए टिप्स - Tips for good sleep in Hindi
  2. नींद ना आने के घरेलू उपाय - Home Remedies for Insomnia in Hindi
  3. दिमाग अशांत होने की वजह से अगर नींद है गायब तो इन तरीकों से तुरंत सो पाएंगे

हालांकि, नींद की कमी एक बड़ी समस्या है, लेकिन दैनिक जीवन शैली में कुछ सरल और छोटे बदलाव स्वस्थ और सरल नींद दे सकते हैं।

  1. अच्छी नींद का आयुर्वेदिक उपाय है कैफीन और चीनी से बचाव - Avoid sugar and caffeine for sound sleep in Hindi
  2. अनिद्रा का आयुर्वेदिक इलाज है गर्म दूध के साथ जायफल - Hot milk good for sleep in Hindi
  3. नींद न आने का आयुर्वेदिक उपाय है तेल की मालिश - Oil massage for good sleep in Hindi
  4. अच्छी गहरी नींद लाने के लिए करें इलेक्ट्रॉनिक उपकरणों को बंद - Turn off electronic gadgets before bed in Hindi
  5. नींद लाने का उपाय है ध्यान - Practice meditation before sleep in Hindi
  6. अच्छी नींद आने के लिए करना चाहिए योग - Yoga for sleep disorders in Hindi
  7. अच्छी नींद का आयुर्वेदिक उपाय है स्वस्थ आहार - Healthy diet for sleep in Hindi
  8. गहरी नींद की आयुर्वेदिक दवा है जड़ी बूटियों का सेवन - Herbs for sleep disorders in Hindi
  9. नींद लाने का तरीका है नियमित दिनचर्या का पालन - Proper routine good for sleep in Hindi

अच्छी नींद का आयुर्वेदिक उपाय है कैफीन और चीनी से बचाव - Avoid sugar and caffeine for sound sleep in Hindi

कैफीन और चीनी नींद को ख़त्म कर देती हैं, इसलिए दोपहर के 3 बजे के बाद इन चीज़ो को खाने से बचना चाहिए।

अनिद्रा का आयुर्वेदिक इलाज है गर्म दूध के साथ जायफल - Hot milk good for sleep in Hindi

दूध प्रोटीन ट्रिपटोफन(tryptophan) का एक बड़ा स्रोत है, जो शरीर में नींद लाता है। एक अच्छी नींद के लिए गर्म दूध के एक गिलास के साथ जायफल का एक चौथाई चम्मच मिलाकर पिएं। अगर आपके शरीर का प्रकार पित्त है, तो आप दूध में शतावरी मिला सकते हैं। कफ शरीर के प्रकार वाले लोग हल्दी मिला सकते हैं और वात शरीर के प्रकार वाले लोग दूध में लहसुन मिला सकते हैं। 

(और पढ़ें - लहसुन के फायदे)

नींद न आने का आयुर्वेदिक उपाय है तेल की मालिश - Oil massage for good sleep in Hindi

तेल मालिश तंत्रिका तंत्र को शांत करने का एक बढ़िया तरीका है जिससे नींद अच्छी आती है। सिर और पैर पर भ्रिंगराज तेल से मालिश अच्छी नींद लाने में मदद करता है।

अच्छी गहरी नींद लाने के लिए करें इलेक्ट्रॉनिक उपकरणों को बंद - Turn off electronic gadgets before bed in Hindi

सोने के कम से कम एक घंटे पहले सभी इलेक्ट्रॉनिक उपकरणों को बंद कर दें जैसे मोबाइल, लैपटॉप, टीवी आदि। इससे तंत्रिका तंत्र को शांत करने में मदद मिलेगी और आप आराम से सो पाएँगे।

नींद लाने का उपाय है ध्यान - Practice meditation before sleep in Hindi

ध्यान (meditation) के स्वास्थ्य लाभ हमेशा से विशाल रहे हैं। इसलिए यह आपके शरीर के समग्र स्वास्थ्य को बनाए रखने के लिए अच्छा है। बिस्तर पर जाने से पहले 10-15 मिनट के लिए ध्यान ज़रूर लगाएँ। यह आपके शरीर को आराम देगा और एक गहरी नींद के लिए प्रेरित करेगा।

(और पढ़ें – ध्यान या मेडिटेशन कैसे करें?)

अच्छी नींद आने के लिए करना चाहिए योग - Yoga for sleep disorders in Hindi

योग, विशेष रूप से प्राणायाम का अभ्यास, आपको शांत रखने, शरीर को आराम देने और तंत्रिका तंत्र के लिए बहुत फायदेमंद माना जाता है। सरल साँस लेने के व्यायाम भी नींद उत्प्रेरण में मदद करते हैं।

(और पढ़ें – तनाव से राहत के लिए योग)

अच्छी नींद का आयुर्वेदिक उपाय है स्वस्थ आहार - Healthy diet for sleep in Hindi

एक स्वस्थ आहार अच्छे स्वास्थ्य को बनाए रखने के लिए महत्वपूर्ण है। भारी मसालेदार या उत्तेजक खाद्य पदार्थों से बचें क्योंकि वे अम्लता या अपच पैदा कर सकते हैं, जो नींद चक्र को प्रभावित कर सकते हैं। एक उचित पाचन और अच्छी नींद के लिए बिस्तर पर जाने से दो से तीन घंटे पहले एक हल्का भोजन करने का सुझाव दिया जाता है। 

(और पढ़ें - अपच का घरेलू उपचार)

गहरी नींद की आयुर्वेदिक दवा है जड़ी बूटियों का सेवन - Herbs for sleep disorders in Hindi

अच्छी नींद के लिए कुछ आयुर्वेदिक जड़ी बूटियाँ मौजूद हैं। कुछ जड़ी बूटियाँ जैसे अश्वगंधा, तगार, और शंखपुष्पी आदि आपकी तंत्रिकाओं को आराम देती हैं जिससे आपको अच्छी नींद आती है।

(और पढ़ें – अश्वगंधा के फायदे और नुकसान)

नींद लाने का तरीका है नियमित दिनचर्या का पालन - Proper routine good for sleep in Hindi

एक नियमित दिनचर्या का पालन करना और समय पर सोना आपको अच्छी नींद देता है।

अच्छी नींद के लिए इन आयुर्वेदिक सुझावों का नियमित रूप से पालन करने पर, आपको निश्चित रूप से मदद मिलेगी। इन के साथ, यह भी सुनिश्चित करें कि कमरे में सोते समय काफी अंधेरा होना चाहिए।

  1. नींद न आने की समस्या को करें दूर सेब के सिरके से - Apple cider vinegar for insomnia in Hindi
  2. अनिद्रा का घरेलू उपचार है वेलेरियन के जड़ - Valerian root for insomnia in Hindi
  3. अच्छी नींद लाने के उपाय में करें मेथी का जूस का उपयोग - Fenugreek juice for insomnia in Hindi
  4. गहरी नींद का आसान उपाय है गर्म पानी - Warm milk for insomnia in Hindi
  5. अनिंद्रा को दूर करने का घरेलू उपाय है केला - Banana good for insomnia in Hindi
  6. अनिंद्रा की समस्या के लिए घरेलू नुस्खा है कैमोमाइल - Chamomile tea for insomnia in Hindi
  7. अनिंद्रा को दूर करने के लिए करें जायफल का इस्तेमाल - Nutmeg powder for insomnia in Hindi
  8. अनिद्रा के घरेलू उपाय करें जीरा से - Cumin seeds for insomnia in Hindi
  9. अच्छी नींद के लिए घरेलू नुस्खे में करें केसर का उपयोग - Saffron for insomnia in Hindi
  10. नींद न आने का घरेलू उपचार है गर्म पानी से स्नान - Hot bath for insomnia in Hindi

नींद न आने की समस्या को करें दूर सेब के सिरके से - Apple cider vinegar for insomnia in Hindi

सेब साइडर सिरका में अमीनो एसिड होता है जो थकान को राहत देता है। साथ ही, यह फैटी एसिड को तोड़ने में मदद करता है। शहद भी आपके इंसुलिन को बढ़ाकर नींद को बढ़ावा देता है। शहद के इस्तेमाल से आपके दिमाग के केमिकल आपके नींद और उठने के चक्र को नियंत्रित करने में मदद करते हैं। 

(और पढ़ें – थकान कम करने के घरेलू उपाय)

दिलचस्प बात यह है कि सेरोटोनिन का अगर स्तर नीचे जाता है तो आपके नींद में रुकावटे पैदा होने लगती हैं और अगर ज़्यादा मात्रा में रहे तो आपको नींद आना मुश्किल हो जाता है। इसलिए आपको उपाए के गुणों के हिसाब से उनका सेवन करना है जिस वजह से आपको सेरोटोनिन से जुडी उच्च या निम्न स्तर की परेशानी न झेलनी पड़े।

सेब साइडर सिरका का कैसे करें इस्तेमाल -

  • दो चम्मच सेब का सिरका और शहद को एक ग्लास गर्म पानी में ज़रूर मिलाएं। अब इस मिश्रण को सोने से पहले जरूर पियें।
  • इसके अलावा आप एक कप शहद में दो चम्मच सेब का सिरका मिला लें। अब इस मिश्रण का एक चम्मच पानी के साथ या बिन पानी के भी ले सकते हैं।
  • बच्चों के लिए आप दो चम्मच शहद को पानी में डालकर भी दे सकते हैं।
(और पढ़ें - सेब के सिरके के फायदे और नुकसान)

इसके अलावा पर्याप्त नींद लेने का प्रयास करें। किसी शांत और अँधेरे वाले कमरे में सोएं, सोने से पहले अधिक और भारी खाने को नज़रअंदाज़ करें, आराम की तकनीकों का अभ्यास करें, कैफीन को अपने आहार से दूर कर दें और रोज़ाना व्यायाम करने की कोशिश करें। अगर नींद की कमी आपकी दैनिक गतिविधियों को प्रभावित कर रही है तो अपने डॉक्टर को इस बारे में जानकारी दें।

अनिद्रा का घरेलू उपचार है वेलेरियन के जड़ - Valerian root for insomnia in Hindi

वेलेरियन एक औषधीय जड़ी बूटी है और इसमें मांसपेशियों को आराम देने के गुण भी मौजूद होते हैं। इसके सेवन से शरीर को आराम मिलता है और गहरी नींद को भी बढ़ावा मिलता है।

वेलेरियन जड़ का कैसे करें इस्तेमाल -

  • दो कप गर्म पानी में एक या आधा चम्मच वेलेरियन जड़ और जायफल को मिलाएं। अब इस 15 मिनट के लिए उबलते रहने दें। 15 मिनट के बाद मिश्रण को छान लें और पी लें। इस मिश्रण का इस्तेमाल रोज़ाना न करें क्योंकि इससे आपको हृदय की समस्या हो सकती है।
  • सिर्फ वेलेरियन जड़ की चाय को पीने से भी अपनी अनिंद्रा की समस्या दूर हो सकती है।
  • इसके अलावा आप आधा चम्मच वेलेरियन को पानी में मिलाकर पी सकते हैं। आप इस मिश्रण का सेवन पूरे दिन में तीन बार ज़रूर करें।

अच्छी नींद लाने के उपाय में करें मेथी का जूस का उपयोग - Fenugreek juice for insomnia in Hindi

मेथी चिंता, अनिद्रा, और चक्कर आने की समस्या को दूर करती है।

मेथी का जूस का कैसे करें इस्तेमाल -

  • दो चम्मच मेथी के पत्तों का जूस और एक चम्मच शहद को अच्छी तरह से मिला लें।
  • अब इस मिश्रण का सेवन रोज़ाना करें।
(और पढ़ें - मेथी के फायदे और नुकसान)

गहरी नींद का आसान उपाय है गर्म पानी - Warm milk for insomnia in Hindi

गर्म दूध आपके दिमाग और शरीर को आराम देने में बेहद लाभकारी है। केले की तरह ही दूध में भी ट्रिपटोपॉन होता है जो नींद को बढ़ावा देने में मदद करता है।

गर्म दूध का कैसे करें इस्तेमाल –

  • एक कप में गर्म दूध में एक या आधा चम्मच दालचीनी पाउडर को मिलाएं।
  • सोने से पहले इस मिश्रण को पी लें।
(और पढ़ें - दूध के फायदे और नुकसान)

अनिंद्रा को दूर करने का घरेलू उपाय है केला - Banana good for insomnia in Hindi

एक केला आपकी अनिंद्रा की समस्या के लिए बहुत प्रभावी हो सकता है। क्योंकि इसमें ट्रिपटोपॉन नामक एक एमिनो एसिड होता है जो सेरोटोनिन के स्तर को बढ़ाने में मदद करता है। केले के सेवन से आपकी मनोदशा बढ़ती है और आपकी भूख को भी नियंत्रित रखने में मदद मिलती है। केले में मौजूद खनिज जैसे आयरनकैल्शियम और पोटेशियम अच्छी नींद देने में सहायक होते हैं।

(और पढ़ें - केले के फायदे और नुकसान)

अनिंद्रा की समस्या के लिए घरेलू नुस्खा है कैमोमाइल - Chamomile tea for insomnia in Hindi

यह लम्बे समय से नींद के लिए बहुत फायदेमंद है। कैमोमाइल चाय अनिद्रा के लिए एक प्रसिद्ध प्राकृतिक घरेलू उपाय है। हालांकि सटीक कारण अभी पता नहीं चल पाया है लेकिन अध्ययनों के अनुसार कैमोमाइल में एपिजेनिन नामक यौगिक पाया जाता है जो अनिंद्रा के लिए बेहद प्रभावी होता है।

अच्छी नींद और थकान दूर करने के लिए एक कप कैमोमाइल चाय का आनंद लें। कैमोमाइल चाय में दालचीनी की एक चुटकी और कुछ शहद की मात्रा भी मिला सकते हैं।

(और पढ़ें - कैमोमाइल चाय के फायदे और नुकसान)

अनिंद्रा को दूर करने के लिए करें जायफल का इस्तेमाल - Nutmeg powder for insomnia in Hindi

जायफल में बहुत ही प्रभावी गुण पाए जाते हैं। इसके इस्तेमाल से आपकी अनिंद्रा की समस्या खत्म होती है।

जायफल का कैसे करें इस्तेमाल -

  • एक कप गर्म दूध में एक से आठ चम्मच जायफल पाउडर को मिलाएं।
  • अब इस मिश्रण को सोने से पहले पियें।
  • इसके अलावा आप किसी भी फलों के जूस में ताज़ी जायफल को मिला सकते हैं। अब इस मिश्रण का सेवन सोने से पहले करें।
  • आप एक और विकल्प अपना सकते हैं। सबसे पहले एक चम्मच आंवला के जूस में कुछ मात्रा में जायफल पाउडर डालें। अब इस मिश्रण को पूरे दिन में तीन बार ज़रूर पियें। अनिंद्रा के अलावा यह अपच और अवसाद का भी इलाज करता है।
(और पढ़ें - जायफल के फायदे और नुकसान)

अनिद्रा के घरेलू उपाय करें जीरा से - Cumin seeds for insomnia in Hindi

जीरा औषधीय गुणों के साथ आपके पाचन क्रिया को स्वस्थ रखने में मदद करता है। पारंपरिक आयुर्वेदिक चिकित्सा में इसका उपयोग नींद को प्रेरित करने के लिए किया गया है। जीरा तेल में कई प्रभाव देखे जाते हैं।

जीरा का कैसे करें इस्तेमाल -

  • एक क्रश केले में एक चम्मच जीरे पाउडर को मिलाये और सोने से पहले इस मिश्रण को खा लें। आपके पास जीरे का पाउडर नहीं है तो आप जीरे को भूनकर और फिर उसे पीसकर इस्तेमाल कर सकते हैं।
  • इसके अलावा तनाव और थकान को दूर करने के लिए आप जीरे की चाय भी बना सकते हैं। जीरे की चाय तैयार करने के लिए एक चम्मच जीरे के बीज को पांच सेकेंड के लिए हल्की आंच पर गर्म कर लें। अब जीरे को अलग रख दें। फिर एक कप पानी को गर्म करें और उसमे भुने हुए जीरे के बीज को मिक्स कर दें। अब गैस को बंद कर दें और ढक्कन से बर्तन को पांच मिनट के लिए कवर करके रखें। अंत में, सोने से पहले इस जी रा चाय को छान लें और फिर सोने से पहले पी जाएँ।
(और पढ़ें - जीरे के फायदे और नुकसान)

अच्छी नींद के लिए घरेलू नुस्खे में करें केसर का उपयोग - Saffron for insomnia in Hindi

केसर में कई तरह के गुण होते हैं जो अनिद्रा के इलाज में मदद करते हैं।

केसर का कैसे करें इस्तेमाल -

  • दो चुटकी केसर को एक कप गर्म दूध में मिलाएं।
  • अब इस मिश्रण का सेवन रात को सोने से पहले करें।
(और पढ़ें - केसर के फायदे और नुकसान)

नींद न आने का घरेलू उपचार है गर्म पानी से स्नान - Hot bath for insomnia in Hindi

आप सोने से दो घंटे पहले गर्म पानी से नहा सकते हैं। इससे आपकी अनिंद्रा की समस्या कम होगी। इससे आपके शरीर को आराम मिलेगा और तंत्रिका अंत को शांत करने में मदद मिलेगी।

इस उपाय को और अधिक प्रभावी बनाने के लिए नींबू बाम, कैमोमाइल, रोजमेरी या लैवेंडर तेल की कुछ बूंदों को पानी में डालकर नहाएं।


अगर है नींद न आने की समस्या तो अपनाएं ये आयुर्वेदिक उपाय सम्बंधित चित्र

और पढ़ें ...