myUpchar प्लस+ के साथ पूरेे परिवार के हेल्थ खर्च पर भारी बचत

टूथपेस्ट एक लोकप्रिय स्वच्छता उत्पाद है जो हम सभी दैनिक रूप से हमारे दांत ब्रश करने के लिए उपयोग करते हैं। यह हमारे दांतों से बैक्टीरिया को हटाने के द्वारा मौखिक स्वास्थ्य को बनाए रखने में मदद करता है। यह मुंह से दुर्गंध, दाँत क्षय और मसूड़ों की बीमारी को रोकने में भी मदद करता हैं। टूथपेस्ट का उपयोग केवल दांतों के लिए ही नहीं है बल्कि त्वचा की सभी समस्याओं जैसे दाग धब्बे, मुंहासे और झुर्रियों के लिए भी है।

  1. टूथपेस्ट के फायदे मुँहासो के उपचार के लिए - Toothpaste for Acne Treatment in Hindi
  2. टूथपेस्ट के उपयोग से ठीक करें जली हुई त्वचा - Toothpaste for Burns on Skin in Hindi
  3. टूथपेस्ट का इस्तेमाल सूजन और दर्द से राहत के लिए - Toothpaste for Bites in Hindi
  4. टूथपेस्ट के फायदे पीले नाखूनों के लिए - Toothpaste for Yellow Nails in Hindi
  5. टूथपेस्ट के लाभ पैरों के छालों के लिए - Toothpaste for Blisters on Feet in Hindi

मुँहासे त्वचा की एक समस्या है जिसका सामना अधिकतर लोगों को करना पड़ता है। अगर आप मुँहासे और पिंपल्स से ग्रस्त हैं तो उन पर थोडा सा टूथपेस्ट लगाएं। टूथपेस्ट मुँहासों को सुखा देंगे और अधिक तेल को अवशोषित (absorb) कर लेंगे। अत्यधिक तेल उत्पादन त्वचा पर मुँहासो के पीछे के मुख्य कारणों में से एक है।

प्रभावित क्षेत्र को पानी से साफ करे और त्वचा को सुखा लें। बिस्तर पर जाने से पहले प्रभावित क्षेत्र पर थोड़ा सा सफेद टूथपेस्ट लगाएं। यह अगली सुबह अच्छी तरह धो लें। कुछ दिनों के लिए दैनिक रूप से दोहराएँ जब तक आपकी त्वचा मुँहासो से मुक्त ना हो जाए। 

(और पढ़ें – दादी माँ के नुस्खे)

ध्यान दें - अगर आपकी त्वचा संवेदनशील है, तो रात भर अपनी त्वचा पर टूथपेस्ट लगाकर ना छोड़ें। सिर्फ 15 से 20 मिनट लगाने के बाद धो लें।

कई बार घर में उबल रहे गर्म पानी को छूने से या गलती से एक गर्म कड़ाही छू लेने से त्वचा थोड़ी सी जल जाती है जिससे दर्द और जलन होती है। तत्काल इस जलन से राहत पाने के लिए सफेद टूथपेस्ट सही इलाज है। इसे जले हुए स्थान पर लगाने से जलन भी कम होगी और फफोले भी नहीं पड़ेंगे।

सबसे पहले, जले हुए स्थान को ठंडे पानी के नीचे ले जाएँ। फिर इसे सूखने दें, अब जले हुए स्थान पर थोडा सा सफेद टूथपेस्ट लगाएं। ज़रूरत पड़ने पर फिर से टूथपेस्ट लगाएं।

ध्यान दें - सफेद टूथपेस्ट सिर्फ मामूली जलने पर उपयोग किया जाता है, इसका प्रयोग घावों पर नहीं किया जाना चाहिए।

किसी हल्के जन्तु(कीट) का दंश बहुत परेशानी पैदा कर सकता है। ये कीट तुरंत प्रभावित क्षेत्र पर लालिमा, दर्द, खुजली और सूजन पैदा कर सकते हैं। घर पर तुरंत प्राथमिक उपचार के लिए, सिर्फ सफेद टूथपेस्ट ही एकमात्र सही घटक है। यह एसिडीक जहर को बेअसर करने में मदद करता है, जिससे दर्द और सूजन से राहत मिलती है। 

(और पढ़ें – मच्छर काटने से हो रही खुजली और दर्द का इलाज

प्रभावित क्षेत्र पर थोड़ा सा सफेद टूथपेस्ट लगाएं। यह कुछ घंटों के लिए लगाकर रखें। इसके बाद गुनगुने पानी के साथ धो लें। अगर ज़रूरत है तो फिर से दोहराएँ।

आप अपने नाखूनों से पीले रंग के धब्बे दूर करने के लिए, नियमित रूप से अपने सफेद टूथपेस्ट का इस्तेमाल कर सकते हैं। सफेद टूथपेस्ट में हाइड्रोजन पेरोक्साइड होता है जो हल्के दागो को दूर करने में मदद करता है। 

(और पढ़ें – नाखून बढ़ाने के पाँच अचूक घरेलू उपाय)

अपने नाखूनों पर थोड़ा सा सफेद टूथपेस्ट लगायें। 5 से 10 मिनट के लिए लगाकर छोड़ दें। एक नरम नेल ब्रश का प्रयोग करके, अपने नाखूनों को धीरे से रगड़ें। टूथपेस्ट को गीली रूई के साथ साफ कर लें। अपने सफेद नाखून वापिस पाने के लिए, सप्ताह में 2 या 3 बार इस प्रक्रिया को दोहराएं।

पैर के छाले चलने में बहुत मुश्किल करते हैं। सफेद टूथपेस्ट में बेकिंग सोडा, हाइड्रोजन पेरोक्साइड, अल्कोहॉल और मेन्थॉल जैसे तत्व होते हैं, जो जल्दी से पैर के छालों को सुखाने में मदद करते हैं।

(और पढ़ें - हाथों और पैरों की देखभाल करें इन घरेलू नुस्खों से)

छालों पर पर थोड़ा सा सफेद टूथपेस्ट लगायें। कम से कम 2 घंटे के लिए या रात भर लगाकर छोड़ दें। इसे एक गीले कपड़े के साथ धो लें। अब इस पर पेट्रोलियम जैली की एक हल्की सी परत लगाएँ। जब तक छाले भर नहीं जाते, तब तक दैनिक रूप से इस उपाय का पालन करें।

और पढ़ें ...