myUpchar प्लस+ के साथ पूरेे परिवार के हेल्थ खर्च पर भारी बचत

इन दिनों ज्यादातर लोग बैठे-बैठे कंप्यूटर पर काम करते हैं। लगभग 8 से 10 घंटे तक एक सीट पर पूरे दिन बैठे रहने से स्वास्थ्य बुरी तरह प्रभावित होता है। ऐसे में जरूरी है कि शारीरिक गतिविधियां बनाए रखें ताकि आप बीमार न पड़ें। लेकिन हैरानी इस बात पर है कि ज्यादातर लोग इस तथ्य को जानते हैं, इसके बावजूद ऐसा नहीं करते।

(और पढ़ें - ज्यादा देर तक बैठने के नुकसान

दरअसल, इसके पीछे समय की कमी एक बड़ी वजह है। अतः आप ऑफिस या घर की कुर्सी में बैठे-बैठे कुछ योगासन कर सकते हैं जो आपको स्वस्थ रख सकते हैं। इनकी मदद से तनाव कम होता है, रक्त प्रवाह बढ़ता है, शारीरिक पोस्चर और लचीलापन बेहतर होता है। इसके साथ ही चिंता कम होती है और ऊर्जा में इजाफा होता है।

(और पढ़ें - ब्लड सर्कुलेशन कैसे ठीक करे

बैठे-बैठै गर्दन गोल घुमाएं
इस आसन को करने से पहले अपने जूते उतारकर चेयर पर बैठ जाएं। आंखों को बंद कर लें। अपनी ठुड्डी को सीने से लगाएं। अब गर्दन को धीरे-धीरे गोल-गोल घुमाएं। सबसे पहले दाएं कान को दांए कंधे से ले जाते हुए पीछे की तरफ और फिर बाएं कान को बांए कंधे की ओर लेकर आएं।

इस दौरान अपने कंधों को सामान्य और रिलैक्स रखें। इस आसन को करते हुए जल्दबाजी न दिखाएं और शरीर में किसी तरह की टाइटनेस आने न दें। एक बार में तीन से 5 बार गर्दन को रोल करें। इसके बाद गर्दन गोल घुमाने की दिशा बदल लें यानी अगली बार बाईं ओर से गर्दन घुमाना शुरू करें। इससे गर्दन और कंधों को आराम मिलता है।

बैठे-बैठे गर्दन झुकाएं
सबसे पहले चेयर पर बैठ जाएं और अपने पैरों को जमीन पर सपाट रखें। अपने दोनों हाथों को खींचकर घुटनों के ऊपर रखें। सांस लेने के दौरान गर्दन को आसमान की ओर उठाएं और सांस छोड़ते हुए सिर को नीचे की ओर लेकर आएं कि गर्दन की हड्डी भी मुड़े। ऐसा तीन से पांच बार करें।

सीने पर हाथ रखें
सबसे पहले आप किसी चेयर पर आराम की मुद्रा में बैठ जाएं। अपने बाएं हाथ को गोद में रखें। गर्दन और पीठ को सीधा रखें। चेहरे तथा आंखों को रिलैक्स होने दें। अब अपने दाएं हाथ से कप का आकार बनाएं और हथेली को धीरे से सीने के बाईं ओर यानी दिल के ऊपर रखें। ऐसा कम से कम 50 बार करें। इससे हृदय की मसाज होती है, रक्त प्रवाह बेहतर होता है और हृदय की क्षमता बढ़ती है।

पीठ के निचले हिस्से को एक और झुकाएं
एक चेयर पर आराम की मुद्रा में बैठै जाएं। पैरों और घुटनों को आपस में जोड़ लें। पैरों के पंजों को जमीन पर सपाट रखें। अपने दाएं हाथ को सीधा आसमान की ओर उठाएं। अब अपनी पीठ को बाईं ओर घुमाएं।

इसके साथ ही गर्दन और हाथ भी इसी दिशा में मुड़ने चाहिए। इस दौरान अपने कुर्सी के दाएं हत्थे को अपने बाएं हाथ से पकड़ें। इसी स्थिति में कुछ देर रहें। इसके बाद दूसरे हाथ से इसी प्रक्रिया को दोहराएं। ऐसा नियमित 10-10 बार दोनों हाथों से करें।

यहां बताए गए सभी पोज़ कुर्सी पर बैठे-बैठे किए जा सकते हैं। इससे आपके हाथ, गर्दन और कंधों को आराम मिलेगा साथ ही इनमें लचीलापन भी बढ़ेगा। अतः इन आसनों के पोज को अपनी रोजमर्रा की जिंदगी में शामिल करें।

(और पढ़ें - सारा दिन बैठकर काम करने से हो रही स्वास्थ्य समस्याओं का इलाज हैं ये योगासन)

और पढ़ें ...