myUpchar प्लस+ के साथ पूरेे परिवार के हेल्थ खर्च पर भारी बचत

आयुर्वेद पर आधारित हर्बल सौंदर्य के क्षेत्र की अग्रणी शहनाज हुसैन ने पूरे जोश के साथ भारतीय हर्बल विरासत को विश्व स्तर तक पहुंचाने का बेमिसाल कार्य किया है, जिसके लिए उन्हें अंतरराष्ट्रीय प्रशंसा भी हासिल हुई है। आज के समय में, शहनाज जी "शहनाज हुसैन ग्रुप ऑफ कम्पनीज़" की चीफ मैनेजिंग डायरेक्टर हैं और दुनिया भर में अपनी तरह का सबसे बड़ा संस्थान चलाती हैं। इस संस्थान के वैश्विक स्तर पर सैलून, स्पा, ट्रेनिंग अकादमी, स्टोर और 375 अलग-अलग प्रोडक्ट हैं। शहनाज हुसैन, 5000 साल पुरानी भारतीय सभ्यता को आयुर्वेदिक ब्यूटी केयर के रूप में अंतरराष्ट्रीय बाजार तक लेकर आई हैं।

उनका संस्थान केवल फ्रेन्चाइजी के सिद्धांत पर आधारित नहीं है बल्कि उनकी व्यापार की नीतियां भी बहुत अनोखी हैं। जहां आज के समय में किसी उत्पाद की मांग बनाए रखने के लिए विज्ञापन बहुत अहम भूमिका निभाते हैं, वहीं शहनाज जी व्यापारिक विज्ञापनों का सहारा नहीं लेती हैं। और तो और उन्हें हॉवर्ड बिज़नेस स्कूल में इस विषय पर बात करने के लिए भी बुलाया गया था। इस दौरान उन्होंने बताया कि बिना व्यापारिक विज्ञापनों का सहारा लिए एक इंटरनैशनल ब्रांड कैसे स्थापित किया। अब उनके ब्रांड की सफलता के बारे में हॉवर्ड बिज़नेस स्कूल में पढ़ाया भी जाता है।

शहनाज हुसैन ने यूनिवर्सिटी ऑफ ऑक्सफोर्ड, लंदन स्कूल ऑफ इकोनॉमिक्स और मैसेचुसेट्स इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी (एमआईटी) में भी लेक्चर दिए हैं। उन्हें एमी अवार्ड्स और हॉलीवुड फिल्म फेस्टिवल में भी आमंत्रित किया गया था। इस फेस्टिवल में शहनाज जी के प्रोडक्ट्स की स्टारलाइट रेंज को हॉलीवुड के सितारों से परिचित करवाया गया था। शहनाज जी को ऑस्कर अवार्ड फंक्शन के एक इवेंट में “आयुर्वेद - भारत का प्राचीन कॉस्मेटिक विज्ञान” के विषय पर बात करने के लिए भी आमंत्रित किया गया था।

सामान्य ब्यूटी केयर के अलावा शहनाज हुसैन को उनके चिकित्सकीय प्रोडक्ट्स और स्किन व बालों के स्पेशल प्रोडक्ट्स के लिए जाना जाता है। उन्होंने कीमोलाइन रेंज के प्रोडक्ट्स भी निकाले हैं, जिससे कीमोथेरेपी के बाद त्वचा व बालों पर होने वाले प्रभावों को कम किया जा सकता है। सामाजिक जिम्मेदारी के तहत, इन प्रोडक्ट्स को कैंसर अस्पतालों में मुफ्त दिया जाता है। उनकी प्रीमियम लक्ज़री रेंज, जैसे 24 कैरट गोल्ड़, डायमंड, पर्ल, प्लांट स्टेम सेल्स और प्लैटिनम रेंज ने अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर खूब प्रसन्नता हासिल की है। शहनाज हुसैन ग्रुप को विश्व भर में अधिक पहचान तब मिली जब इनके प्रोडक्ट्स को लंदन के मशहूर स्टोर लॉयड्स फार्मेसी में लांच किया गया, जहां इन प्रोडक्ट्स की रिकॉर्ड तोड़ बिक्री हुई।

शहनाज हुसैन के सैलून को विश्वभर में उनके अनोखे तरीकों के लिए जाना जाता है। बालों व त्वचा के लिए मौजूद उनके स्पेशल प्रोडक्ट्स में जड़ी बूटियां, फल व फूलों का अर्क, एसेंशियल ऑयल, मिनरल्स और रत्न होते हैं।

शहनाज हुसैन को कई प्रतिष्ठित अंतर्राष्ट्रीय अवार्ड मिले हैं, जिनमें ब्रिटिश संसद में दिया जाने वाला “आउटस्टैंडिंग आयुर्वेदिक इनोवेशन अवार्ड” भी शामिल हैं। उन्‍हें यू.एस की बिजनेस मैगजीन सक्‍सेस द्वारा शहनाज हुसैन को "वर्ल्‍ड ग्रेटेस्‍ट वुमेन इंटरप्रेन्योर अवार्ड" और लंदन में थेरेसा मई की तरफ से "गोल्‍डन पीकॉक अवार्ड" भी मिल चुका है। ब्‍यूटी के क्षेत्र में अद्भुत योगदान और उपलब्‍धियों के लिए शहनाज हुसैन को भारत सरकार की तरफ से पद्मश्री पुरस्‍कार से नवाजा गया था।

शहनाज हमेशा से ही महिला सशक्‍तिकरण और समाजसेवा के कार्यों से जुड़ी रही हैं। 40 साल पहले ब्‍यूटी के क्षेत्र में प्रोफेशनल ट्रेनिंग नहीं दी जाती थी लेकिन शहनाज हुसैन ने अंतर्राष्‍ट्रीय मानकों को ध्‍यान में रखते हुए प्रोफेशनल ट्रेनिंग के लिए अपनी ब्‍यूटी एकेडमी की शुरुआत की।  उन्‍होंने घरेलू महिलाओं को अपने ही घर पर सैलून खोलने के लिए प्रोत्‍साहित किया और आर्थिक रूप से आत्‍मनिर्भर बनने के लिए ब्‍यूटी के क्षेत्र में अवसर प्रदान किया।

उन्‍होंने अपने फ्री ब्‍यूटी ट्रेनिंग कोर्स के ज़रिए शारीरिक रूप से विकलांग लोगों की जिंदगी में भी रोशनी की एक उम्‍मीद जगाई। उन्‍होंने ब्‍यूटी पर एक किताब भी लिखी थी जिसे ब्रेल लिपि में डाला जा चुका है। ब्‍यूटी के क्षेत्र में शहनाज हुसैन सरकार द्वारा चलाए जा रहे अनेक स्किल डेवलेपमेंट कार्यक्रमों से जुड़ी हुई हैं। अपनी ब्‍यूटी एकेडमी के ज़रिए उन्‍होंने 40,000 से भी ज्‍यादा गरीब महिलाओं को प्रशिक्षण दिया है एवं घर पर ब्‍यूटी पार्लर का काम करने वाली महिलाओं को टूल किट मुहैया करवाया है। उन्‍होंने केंद्र सरकार के कार्यक्रम के तहत 6000 से भी ज्‍यादा गरीब महिलाओं को प्रशिक्षण दिया है। 

पिछले चार दशकों में शहनाज हुसैन ने ब्‍यूटी के क्षेत्र में इतना नाम कमाया है कि आज तक उनके बराबर कोई और नहीं आ पाया है। आज उनका नाम एक ब्रांड बन चुका है और दिन-ब-दिन उनके नाम की चमक बढ़ती जा रही है। शहनाज हुसैन की उपलब्धियों और सफलता की कहानी हर महिला के लिए प्रेरणा है।

और पढ़ें ...