myUpchar प्लस+ के साथ पूरेे परिवार के हेल्थ खर्च पर भारी बचत

मधुमक्खी का काटना एक आम समस्या है जो अधिकतर गंभीर नहीं होती। आमतौर पर, मधुमक्खी अपने आप को या अपनी जगह को बचाने के लिए डंक मारती है। मधुमक्खी के काटने से दर्द होता है जो अधिकतर घर पर उपाय करने से ठीक भी हो जाता है, लेकिन अगर आपको मधुमक्खी के डंक से एलर्जी है या आपको बहुत बार मधुमक्खी ने डंक मार लिया है, तो आपको इससे एक गंभीर रिएक्शन (प्रतिक्रिया) हो सकता है जिसके लिए तुरंन्त चिकित्सा लेना आवश्यक होता है।

मधुमक्खी के डंक में मौजूद जहर से डंक वाली जगह पर रिएक्शन होने लगता है।

इस लेख में मधुमक्खी के डंक को कैसे पहचानें, क्या करें और मधुमक्खी का डंक कैसे निकालते हैं के बारे में बताया गया है।

(और पढ़ें - मकड़ी के काटने पर क्या करें)

  1. मधुमक्खी के काटने से क्या होता है - Madhumakhi ke katne se kya hota hai
  2. कैसे पता चलता है कि मधुमक्खी ने काटा है - Madhumakhi ke katne ka pata kaise chalta hai
  3. मधुमक्खी का डंक कैसे निकालें - Madhumakhi ka dank kaise nikalte hai
  4. मधुमक्खी के काटने पर क्या करें और लगाएं - Madhumakhi ke katne par prathmik upchar

आमतौर पर, मधुमक्खी के काटने से कोई गंभीर समस्या नहीं होती है, हालांकि अगर आपको मधुमक्खी के डंक के जहर से एलर्जी है या आपको पहले भी मधुमक्खी ने काटा है, तो आपको इससे एक गंभीर एलर्जिक रिएक्शन हो सकता है। इसके लिए तुरंत चिकित्सा लेना आवश्यक होता है।

  • एक बार एक तरह की प्रतिक्रिया होने का मतलब यह नहीं है कि आपको हमेशा मधुमक्खी के काटने पर वैसी ही या और गंभीर प्रतिक्रिया होगी।
  • अगर आपको मधुमक्खी ने बहुत बार काटा है, तो इससे गंभीर समस्या हो सकती है जो किसी के लिए भी घातक हो सकती है। ऐसी स्थिति में आपको तुरंत चिकित्सा लेनी चाहिए।
  • कुछ दुर्लभ मामलों में चिकित्सा के बिना एलर्जिक शॉक नामक समस्या हो सकती है, जो घातक होती है।

(और पढ़ें - कुत्ते के काटने पर क्या करें)

मधुमक्खी के डंक से बहुत दर्द होता है, लेकिन इसके साथ होने वाली अन्य समस्याएं इस बात पर निर्भर करती हैं कि व्यक्ति की प्रतिरक्षा प्रणाली में कितना जहर गया है। मधुमक्खी के काटने पर दर्द के साथ निम्नलिखित समस्याएं हो सकती हैं -

हालांकि मधुमक्खी का डंक ज़्यादातर घातक नहीं होता है, लेकिन जहर से एलर्जी होने वाले कुछ गंभीर मामलों में इससे मतली और बेहोश होना जैसी समस्याएं हो सकती हैं। और बहुत ही दुर्लभ मामलों में इससे जान को खतरा हो सकता है।

(और पढ़ें - मतली को रोकने के घरेलू उपाय)

केवल मादा मधुमक्खी ही डंक मारती है और उनका डंक सीधे की जगह मुड़ा हुआ होता है, इसीलिए मधुमक्खी के डंक का कुछ हिस्सा त्वचा में रह जाता है जो आसानी से दिखता है।

  • डंक निकालने के लिए आप अपने नाखूनों, कार्ड या छोटी चिमटी का इस्तेमाल कर सकते हैं।
  • इसके लिए एक साफ़ स्केल के कोने का इस्तेमाल भी किया जा सकता है।
  • डंक निकालने के लिए आप घाव पर एक चिपकने वाली पट्टी लगाकर उसे तेजी से खींच भी सकते हैं।
  • डंक निकालने के लिए किसी नुकीली वस्तु का उपयोग न करें, इससे आपको चोट लग सकती है।
  • डंक को बहुत जोर से दबाएं नहीं, ऐसा करने से और अधिक जहर निकल सकता है।

(और पढ़ें - सांप के काटने पर क्या करें)

मधुमक्खी के काटने पर क्या करें और क्या नहीं?

  • ऊपर बताए गए तरीके से मधुमक्खी का डंक त्वचा से बाहर निकाल लें।
  • प्रभावित क्षेत्र को पानी और साबुन से धो लें।
  • घाव पर ठंडी सिकाई करें या बर्फ लगाएं।
  • अगर डंक हाथ या पैर पर है, तो उसे ऊपर उठा लें।
  • डंक वाली जगह को खरोंचें नहीं। इससे खुजली और सूजन बढ़ेगी और आपको इन्फेक्शन (संक्रमण) होने का खतरा भी बढ़ जाएगा।

मधुमक्खी के काटने पर क्या लगाएं और खाएं?

  • लाली, सूजन और खुजली के लिए घाव पर हाइड्रोकोर्टिसोन क्रीम (Hydrocortisone cream) या कैलामाइन लोशन लगा लें। (और पढ़ें - खुजली दूर करने के घरेलू उपाय)
  • सूजन और लाली के लिए एक एंटीहिस्टमीन (Antihistamine) दवा भी ली जा सकती है।
  • अगर असहनीय दर्द हो रहा है तो कोई सामान्य दर्द निवारक दवा ले सकते हैं, जैसे आइबूप्रोफेन।

चेतावनी: डॉक्टर से पूछे बिना खुद और बच्चों को कोई  दवा न दें। ऐसा करना स्वास्थ्य के लिए हानिकारक हो सकता है।

नोट: प्राथमिक चिकित्सा या फर्स्ट ऐड देने से पहले आपको इसकी ट्रेनिंग लेनी चाहिए। अगर आपको या आपके आस-पास किसी व्यक्ति को किसी भी प्रकार की आपातकालीन स्वास्थ्य समस्या है, तो डॉक्टर या अस्पताल​ से तुरंत संपर्क करें। यह लेख केवल जानकारी के लिए है।

और पढ़ें ...