• हिं
  • हिं

अमूमन ब्लड प्रेशर की दवा खाने के समय के बारे में यह सलाह दी जाती थी कि इसे सुबह में लेना चाहिए. वहीं, अब नए शोध ये दावा करते हैं कि ब्लड प्रेशर की दवा तभी ज्यादा असरकारक होती है, जब इसका सेवन रात में सोने से पहले किया जाता है. यह नया शोध क्रोनोथेरेपी नामक कॉन्सेप्ट पर आधारित है.

हाई ब्लड प्रेशर का आयुर्वेदिक इलाज जानने के लिए इस ब्लू लिंक पर क्लिक करें.

आज इस लेख में आप ब्लड प्रेशर की दवा खाने के सही समय के बारे में जानेंगे -

(और पढ़ें - हाई बीपी का आयुर्वेदिक इलाज)

  1. क्या है क्रोनोथेरेपी?
  2. ब्लड प्रेशर की दवा खाने का सही समय
  3. सारांश
ब्लड प्रेशर की टेबलेट, मेडिसिन खाने का सही समय के डॉक्टर

यह सर्कैडियन रिदम (circadian rhythm) पर आधारित एक मेडिकल ट्रीटमेंट है, जिसमें हर 24 घंटे पर बॉडी के नैचुरल साइकिल में होने वाले फिजिकल बदलाव पर ध्यान दिया जाता है. इस अप्रोच का इस्तेमाल स्लीप एपनिया, क्रोनिक किडनी डिजीज और डायबिटीज जैसे अन्य मेडिकल कंडीशन के इलाज के लिए दिन के सबसे बढ़िया समय को खोजने के लिए किया गया है. क्रोनोथेरेपी के अनुसार जब रात में ब्लड प्रेशर की दवा का सेवन किया जाता है, तो यह ज्यादा फायदा पहुंचाता है.

(और पढ़ें - हाई ब्लड प्रेशर में परहेज)

ब्लड प्रेशर को कंट्रोल रखने के लिए myUpchar Ayurveda Hridyas Capsule का उपयोग करें -
myUpchar Ayurveda Hridyas Capsule For Heart Care
₹899  ₹999  10% छूट
खरीदें

कई शोध यह साबित कर चुके हैं कि दिन की तुलना में रात के दौरान ब्लड प्रेशर की दवा खाने से ज्यादा फायदा पहुंचता है. इसके लिए क्रोनोथेरेपी का हवाला दिया जाता है, जिसके लिए 6 साल तक शोध किया गया. इसमें हाई ब्लड प्रेशर वाले 19 हजार लोगों ने हिस्सा लिया. यह शोध स्पेन में किया गया था.

इस शोध की हेड रैमोन हरमिडा का कहना है कि इस शोध का नाम हीगीया क्रोनोथेरेपी ट्रायल (hygia chronotherapy trial) रखा गया था. ये शोध 2008 से 2018 तक चला. इसमें करीब 10,600 पुरुषों व 8,500 महिलाओं ने हिस्सा लिया और इन सबकी उम्र 18 से ऊपर थी. इस शोध में भाग लेने वाले लोगों को दिन में सोने की अनुमति नहीं थी. 

इस शोध के लिए शोधकर्ताओं ने भाग लेने वालों को दो ग्रुप में बांट दिया. पहले ग्रुप को ब्लड प्रेशर की दवा सुबह के समय लेने के लिए कहा गया था और दूसरे ग्रुप में रात में. शोध में यह पाया गया कि सुबह वाले ग्रुप की तुलना में, जो ग्रुप रात में ब्लड प्रेशर की दवा ले रहा था, उनको कई बीमारियां होने का जोखिम कम था. रात में ब्लड प्रेशर की दवा ले रहे ग्रुप में निम्न बातें पाई गई -

  • हार्ट या ब्लड वेसल कंडीशन से होने वाली मृत्यु 66 प्रतिशत कम हो गई. 
  • स्ट्रोक का जोखिम 49 प्रतिशत कम हो गया. 
  • हार्ट अटैक का जोखिम 44 प्रतिशत कम हो गया. 
  • हार्ट फेलियर का खतरा 42 प्रतिशत कम हो गया.

 2015 में डायबेटोलॉजी नामक जर्नल में प्रकाशित एक शोध में यह बात भी सामने आई कि रात के समय ब्लड प्रेशर की दवा लेने वालों का टाइप 2 डायबिटीज होने का खतरा भी कम हो गया.

(और पढ़ें - हाई बीपी का होम्योपैथिक इलाज)

हीगीया क्रोनोथेरेपी ट्रायल नामक शोध का कहना है कि रात के दौरान ब्लड प्रेशर की दवा लेने के कई फायदे होते हैं. शोध में यह पाया कि सोने से पहले रात के समय ब्लड प्रेशर की दवा लेने से हार्ट फेलियर, स्ट्रोक व डायबिटीज जैसे कई गंभीर हेल्थ कंडीशन होने का जोखिम बहुत कम हो जाता है. साथ ही हम यहां स्पष्ट कर दें ब्लड प्रेशर की दवा किस समय किसको सूट करेगी, इस बारे में डॉक्टर से बेहतर और कोई नहीं बता सकता है. इसलिए, ब्लड प्रेशर की दवा खाने के सही समय के बारे में पता लगाने के लिए डॉक्टर से सलाह जरूर लेनी चाहिए.

(और पढ़ें - हाई ब्लड प्रेशर में क्या खाएं)

Dr. Amit Singh

Dr. Amit Singh

कार्डियोलॉजी
10 वर्षों का अनुभव

Dr. Shekar M G

Dr. Shekar M G

कार्डियोलॉजी
18 वर्षों का अनुभव

Dr. Janardhana Reddy D

Dr. Janardhana Reddy D

कार्डियोलॉजी
20 वर्षों का अनुभव

Dr. Abhishek Sharma

Dr. Abhishek Sharma

कार्डियोलॉजी
1 वर्षों का अनुभव

ऐप पर पढ़ें