तनाव, शरीर में पानी की कमी और अनहेल्दी डाइट को ब्लड प्रेशर कम होने का मुख्य कारण माना जाता है. आजकल अधिकतर लोगों को लो बीपी का सामना करना पड़ रहा है. 120/80mm/Hg को सामान्य रक्तचाप माना जाता है. वहीं, जब ब्लड प्रेशर 90/60mm/Hg से कम हो जाता है, तो इस स्थिति को लो बीपी कहा जाता है. मेडिकल टर्म में लो बीपी को हाइपोटेंशन कहा जाता है. बीपी के कम होने पर कमजोरी होने के साथ-साथ हृदय रोग होने की आशंका भी रहती है.

आज इस लेख में आप लो बीपी के नुकसान और इस स्थिति में क्या करना चाहिए, इस बारे में जानेंगे -

(और पढ़ें - लो ब्लड प्रेशर की अंग्रेजी दवा)

  1. बीपी लो होने के नुकसान
  2. बीपी लो होने पर क्या न करें?
  3. सारांश
बीपी लो होने के नुकसान के डॉक्टर

जब ब्लड प्रेशर बहुत कम हो जाता है, तो कई तरह की जटिलताओं का सामना करना पड़ सकता है. बीपी लो होने पर शरीर को कई नुकसान झेलने पड़ सकते हैं, जो इस प्रकार हैं -

कमजोरी आना

जिस व्यक्ति का बीपी अक्सर लो रहता है, उसे कमजोरी महसूस हो सकती है. दरअसल, शरीर में पानी की कमी होने पर बीपी लो जाता है. ऐसे में व्यक्ति बीमार व कमजोरी महसूस कर सकता है.

(और पढ़ें - लो बीपी का आयुर्वेदिक इलाज)

चक्कर खाकर गिरना

चक्कर आना बीपी लो का सबसे आम लक्षण होता है. बीपी लो होने पर चक्कर आ सकते हैं, आंखों के सामने अंधेरा छा सकता है. इस स्थिति में चक्कर आते समय व्यक्ति बेहोश हो सकता है और गिर सकता है. 

(और पढ़ें - बीपी कम होने पर क्या करे)

ऑर्गन फेल होना

अगर ब्लड प्रेशर बहुत कम हो जाता है, तो शरीर के जरूरी अंग काम करना बंद कर सकते हैं. दरअसल, बीपी लो होने पर ऑर्गन्स को ठीक से काम करने के लिए पर्याप्त रक्त नहीं मिल पाता है. इससे कई अंदरुनी अंग एक साथ काम करना बंद कर सकते हैं, जो किसी के लिए भी प्राणघातक साबित हो सकता है.

(और पढ़ें - लो ब्लड प्रेशर डाइट चार्ट)

हृदय रोग या स्ट्रोक

बीपी लो होना हृदय रोग या स्ट्रोक का कारण भी बन सकता है. बीपी लो शरीर के ऑक्सीजन लेवल को कम कर सकता है, इससे हृदय और मस्तिष्क को नुकसान हो सकता है. इसलिए, इस स्थिति को नजरअंदाज बिल्कुल न करें.

(और पढ़ें - बीपी लो के घरेलू उपाय)

शॉक

बीपी लो की वजह से व्यक्ति को शॉक भी हो सकता है. शॉक एक घातक स्थिति होती है, जिसमें शरीर में पर्याप्त खून नहीं मिल पाता है. शॉक में शरीर के अंगों और कोशिकाओं को पर्याप्त ऑक्सीजन और पोषक तत्व भी नहीं मिल पाते हैं. इसकी वजह से अंगों को नुकसान पहुंच सकता है. चिपचिपी त्वचा, त्वचा में पीलापन, बेहोशी, असामान्य नब्ज, सांस फूलना और छाती में दर्द शॉक के लक्षण हो सकते हैं.

(और पढ़ें - लो बीपी में क्या खाएं)

ब्लड प्रेशर लो होने पर आपको उन चीजों को करने से बचना चाहिए, जो इस समस्या को ट्रिगर कर सकती हैं. इसलिए, बीपी लो होने पर निम्न चीजें बिल्कुल न करें -

  • लंबे समय तक बैठे न रहें. इसके अलावा, लंबे समय तक खड़ा भी नहीं रहना चाहिए.
  • बीपी लो होने पर अचानक बिल्कुल न झुकें. कोई भी पोश्चर अचानक से न बदलें.
  • रात में कैफीन युक्त पेय पदार्थ जैसे कॉफी व चाय आदि बिल्कुल न पिएं.
  • बीपी लो होने पर शराब, धूम्रपान का सेवन बिल्कुल न करें.
  • खाना खाने के बाद अचानक खड़े होने से बचें.

(और पढ़ें - गर्भावस्था में बीपी लो)

लो ब्लड प्रेशर की समस्या से आजकल कई लोग परेशान हैं. इस स्थिति में व्यक्ति को चक्कर आना, कमजोरी व बेहोशी जैसे लक्षण महसूस हो सकते हैं. इसके अलावा स्ट्रोक व ऑर्गन फेल होने जैसे नुकसान का भी सामना करना पड़ सकता है. बीपी लो होने पर आपको हमेशा अच्छी डाइट लेनी चाहिए, साथ ही पर्याप्त मात्रा में लिक्विड भी लेना चाहिए. बीपी लो की स्थिति को बिल्कुल भी नजरअंदाज न करें. इसके लक्षण नजर आने पर तुरंत डॉक्टर से संपर्क करें. सही डाइट और लाइफस्टाइल से बीपी को कंट्रोल में रखा जा सकता है.

(और पढ़ें - नॉर्मल ब्लड प्रेशर कितना होना चाहिए)

Dr. Amit Singh

Dr. Amit Singh

कार्डियोलॉजी
10 वर्षों का अनुभव

Dr. Shekar M G

Dr. Shekar M G

कार्डियोलॉजी
18 वर्षों का अनुभव

Dr. Janardhana Reddy D

Dr. Janardhana Reddy D

कार्डियोलॉजी
20 वर्षों का अनुभव

Dr. Abhishek Sharma

Dr. Abhishek Sharma

कार्डियोलॉजी
1 वर्षों का अनुभव

ऐप पर पढ़ें
cross
डॉक्टर से अपना सवाल पूछें और 10 मिनट में जवाब पाएँ