myUpchar प्लस+ के साथ पूरेे परिवार के हेल्थ खर्च पर भारी बचत
संक्षेप में सुनें

चक्कर आना क्या है?

चक्कर आने को साधारण भाषा में सिर का घुमना कहते हैं, आपके एक जगह स्थिर खड़े या बैठे होने पर भी यह समस्या होती हैं। चक्कर आना एक ऐसी स्थिति है जिसमें हम एक अलग तरह की उत्तेजना, जैसे- बेहोश होना, कमजोरी व अस्थिरता को महसूस करते हैं।

डॉक्टर से मिलने के कुछ सामान्य कारणों में चक्कर आने को भी शामिल किया जाता है। चक्कर आने की स्थिति को कई लोग सही तरह से समझ नहीं पाते हैं, क्योंकि लोग इसको कई अलग तरह के स्थिति के रूप में भी देखते हैं। यह समस्या या तो हल्के सिर दर्दकमजोरी को दर्शाती है या फिर इसमें व्यक्ति को सब कुछ घुमता हुआ लगता है। ऐसे में आप जब भी डॉक्टर से मिलें, तो इस दौरान महसूस करने वाली सभी बातों को उन्हें खुलकर बताएं। इस स्थिति का पहला व यह सबसे महत्वपूर्ण कदम होता है, ताकि इसके निदान का पता लगाने व इसके इलाज को सही दिशा दी जा सकें। लगातार चक्कर आना आपके जीवन को बुरी तरह से प्रभावित कर सकता है।

चक्कर आने के लक्षण अस्पष्ट हो सकते हैं, क्योंकि यह समस्या कई वजह से हो सकती है। चक्कर आने के अंतर्निहित कारणों की पहचान करना हमेशा आसान नहीं होता।

 

  1. चक्कर आने के प्रकार - Types of Dizziness in Hindi
  2. चक्कर आने के लक्षण - Dizziness Symptoms in Hindi
  3. चक्कर आने के कारण और जोखिम कारक - Dizziness Causes $Risk Factors in Hindi
  4. चक्कर आने से बचाव - Prevention of Dizziness in Hindi
  5. चक्कर आने का निदान - Diagnosis of Dizziness in Hindi
  6. चक्कर आने का उपचार - Dizziness Treatment in Hindi
  7. चक्कर आने पर क्या करना चाहिए
  8. चक्कर आने पर करें ये घरेलू उपाय
  9. चक्कर आना की दवा - Medicines for Dizziness in Hindi
  10. चक्कर आना के डॉक्टर

चक्कर आने के प्रकार - Types of Dizziness in Hindi

चक्कर आने के क्या प्रकार होते हैं?

  • सिर में हल्के दर्द के साथ चक्कर आना (लाइटहेडडनेस: lighheadedness): इस अवस्था में आपको लगता है कि आप बेहोश हो रहें हैं। आम तौर पर तेजी से उठने व गहरी सांसों को लंबे समय तक लेने से इसका अनुभव हो सकता है। 
  • वर्टिगो: इसमें आसपास की सभी चीजें घूमती हुई लगती है, जबकि वास्तव में ऐसा होता नहीं है। कुछ समय के लिए हुए वर्टिगो में आप खुद को गोल-गोल घूमता हुआ महसूस करते हैं और फिर अचानक यह ठीक हो जाता है। 

 

चक्कर आने के लक्षण - Dizziness Symptoms in Hindi

चक्कर आने के क्या लक्षण होते हैं?

चक्कर की समस्या को महसूस करने वाले लोग इसे कई संवेदनाओं के रूप में बता सकते हैं, जैसे-

  • खड़े होने या बैठने पर नियंत्रण खोना।
  • सिर का एक तरफ झुक जाना।
  • हल्का सिर दर्द व बेहोशी महसूस करना।
  • किसी एक स्थिति में बैठने या रहने में मुश्किल होना।
  • खुद को आगे और पीछे की ओर गिरता हुआ महसूस करना।
  • नीचे जमीन को देखकर अपनी स्थिति का पता करने की प्रवृत्ति।
  • बैठे या खड़े होने पर किसी चीज को छुकर या पकड़कर रखने की आदत।
  • आपके स्थिर होने पर भी आस-पास की सभी चीजें घूमती हुई लगना व चक्कर आना।

आपके चलते समय, खड़े होने या अपने सिर को हिलाने की स्थिति में इसके लक्षण धीरे-धीरे गंभीर भी हो सकते हैं। चक्कर आने पर आपको उल्टी भी हो सकती है। इसके अचानक होने पर आप बैठ या लेट जाएं। चक्कर आने की स्थिति से निकलने के अंतिम पड़ाव में आप धीरे-धीरे ठीक हो जाते हैं।यह परिस्थिति कभी कभी कुछ ही सैकंड में सामान्य हो जाती है तो कभी इसे सामान्य होने में घंटों लग जाते है। साथ ही कुछ ही समय में इसकी पुनरावृत्ति हो सकती है।

डॉक्टर के पास कब जाएं?

यदि आपको लगातार चक्कर आ रहें हैं, तो आप तुरंत अपने डॉक्टर से मिलें। इसके अलावा यदि आप नीचे बताएं गए कारणों के साथ अचानक चक्कर आने को अनुभव कर रहें हो, तो भी आपको डॉक्टर से संपर्क करने की जरूरत है-

  • बेहोश होना
  • छाती में दर्द होना
  • उल्टी आना
  • तेज बुखार 
  • दिखाई देने में मुश्किल होना
  • सुनने में परेशानी होना
  • सिर पर चोट लगना
  • सिरदर्द होना
  • बोलने में कठिनाई

ये सभी लक्षण आपके स्वास्थ्य की किसी गंभीर समस्या की ओर संकेत करते हैं, इसलिए जितनी जल्दी हो सके इस समस्या के लिए अपने डॉक्टर से मिलें।

चक्कर आने के कारण और जोखिम कारक - Dizziness Causes $Risk Factors in Hindi

चक्कर क्यों आते हैं?

चक्कर के सामान्य कारण नीचे बताए गए हैं-

  • माइग्रेन: सिरदर्द से पहले या बाद में चक्कर का आना।
  • तनाव या चिंता: जब आप असामान्य रूप से जल्दी-जल्दी सांस लेते हैं।
  • रक्त शर्करा का कम स्तर(लो ब्लड शुगर): यह स्थिति आमतौर पर डायबिटीज के रोगियों में देखी जाती है। 
  • कान का संक्रमण: यह आपके सुनने और संतुलन को बनाए रखने की क्षमता को प्रभावित करता है और ऐसा होने पर लगातार चक्कर आ सकते हैं।
  • निम्न रक्तचाप(लो ब्लड प्रेशर): रक्तचाप के कम होने पर आपका रक्त मस्तिष्क में पर्याप्त ऑक्सीजन नहीं भेज पाता है। इससे भी चक्कर आते हैं। 
  • स्थिति में अचानक हुए परिवर्तन से कम रक्तचाप होना: आपके अचानक बैठने, खड़े होने या लेटने पर रक्तचाप का कम हो जाना, यह स्थिति मुख्यतः बुजुर्गों में देखी जाती है। 
  • निर्जलीकरण या गर्मी से थकान होना: व्यायाम के दौरान पर्याप्त मात्रा में पानी नहीं पीने के कारण निर्जलीकरण हो सकता है। इसके अलावा किसी बीमारी में उल्टी व दस्त होना भी शरीर में पानी की कमी का कारण हो सकता है।

कुछ दुर्लभ, लेकिन संभावित कारण -

  • कान या सिर पर चोट लगना
  • आंतरिक कान में ट्यूमर होना
  • एनीमिया- शरीर में आयरन या विटामिन बी की कमी होना
  • मस्तिष्क के पीछे के भाग में (वह क्षेत्र जो शरीर के संतुलन को नियंत्रित करता है) रक्त प्रवाह का कम होना। यह हृदय से मस्तिष्क तक आने वाली रक्त वाहिकाओं के अवरूद्ध होने से हो सकता है।  
  • दवाओं के विपरीत प्रभाव के चलते- रक्तचाप और हृदय गति को नियंत्रित करने के लिए उपयोग किए जाने वाले दवाओं के दुष्प्रभाव के कारण चक्कर आने की समस्या हो सकती है।

चक्कर आने से बचाव - Prevention of Dizziness in Hindi

चक्कर आने को कैसे रोकें?

  • हर काम को धीरे-धीरे ही पूरा करें।
  • सिर को तेजी से धुमाने से बचें (विशेषकर मुड़ने या घुमाने में)।
  • शरीर के परिसंचरण पर बुरा असर डालने वाले उत्पाद, जैसे तंबाकू, शराब, कैफीन और नमक का प्रयोग न करें।
  • तनाव को कम करें और एलर्जी करने वाले पदार्थों से दूर रहें।
  • पर्याप्त मात्रा में पानी पीएं।
  • शरीर की किसी भी मुद्रा(उठने, बैठने, चलने व लेटने) में अचानक परिवर्तन करने से बचें।
  • लेटने की स्थिति से धीरे-धीरे उठें और खड़े होने से पहले कुछ क्षणों के लिए बैठें।
  • जब खड़े हो, तो सुनिश्चित करें कि किसी चीज का सहारा लेकर ही खड़े हो।
  • इसके लक्षण महसूस होने पर आप स्थिर रहें व कुछ देर आराम करें।
  • बार-बार चक्कर आते हों तो आप किसी छड़ी की सहायता लेकर ही चलें।
  • तेज रोशनी, टीवी से दूरी बनाएं और वर्टिगो की समस्या होने पर पढ़ने से बचें, क्योंकि यह असावधानियां इसके लक्षणों को और भी गंभीर बना सकती हैं।
  • अचानक हिलने से बचें।
  • यात्रा करते समय किताबें पढ़ने से बचें।
  • पिछली सीट में बैठकर यात्रा न करें।
  • अपनी यात्रा के पहले और यात्रा के दौरान तेज गंध व मसालेदार खाना न खाएं।
  • कान का संक्रमण, सर्दी होना, साइनस और अन्य सांस संबंधी संक्रमणों का समय रहते इलाज करें।
  • इस समस्या के लक्षण ठीक होने के 1 सप्ताह के बाद ही आप ड्राइविंग, भारी मशीनरी का संचालन व किसी ऊंची जगह की चढ़ाई कर सकते हैं, इससे पहले इन कामों को करने से बचें। इन गतिविधियों के दौरान अचानक चक्कर आना आपके लिए खतरनाक हो सकता है।

चक्कर आने का निदान - Diagnosis of Dizziness in Hindi

चक्कर आने का निदान कैसे करें?

चक्कर आने की समस्या का निदान आपके स्वास्थ्य की पिछली स्थितियों, शारीरिक परीक्षण और समस्या की प्रकृति के आधार पर किया जाता है। इसमें निम्न बिंदुओं पर विचार किया जाता है-

  • यह कब होता है?
  • किस परिस्थितियों में होता?
  • लक्षणों की गंभीरता
  • चक्कर आने के साथ होने वाले अन्य लक्षण
  • क्या यह आपकी तेजी से बदलती स्थिति यानी जल्दी -जल्दी पोजीशन (गतिविधि) बदलने से संबंधित है?
  • क्या यह खुद ही ठीक हो जाता है या आपको इसके लिए कुछ करने की जरूरत होती है, जैसे- लेट जाना?
  • क्या इसके लक्षण होने में सिर को हिलाना पड़ता है? क्या आपके स्थिर होने पर इसके लक्षण ठीक हो जाते हैं?

इस समस्या में आपके डॉक्टर आपकी आंखों और कानों की जांच के अलावा, न्यूरोलॉजिकल (तंत्रिका संबंधी) परीक्षण, आपके बैठने या खड़े होने के तरीके और इसके दौरान आपके नियंत्रण की स्थिति का भी परीक्षण कर सकते हैं। वहीं इसके कुछ संदिग्ध कारणों के आधार पर इमेजिंग टेस्ट, जैसे- सीटी स्कैन (CT scan) या एमआरआई (MRI) भी किया जा सकता है।

कुछ मामलों में अन्य कारणों की वजह से चक्कर आने के किसी भी सामान्य कारण का पता नहीं चल पाता है।

चक्कर आने का उपचार - Dizziness Treatment in Hindi

चक्कर आने का इलाज क्या है?

इसके उपचार का तरीके रोगी के चक्कर आने के कारणों पर निर्भर करते हैं। चक्कर आना अक्सर कई अन्य बीमारियों की ओर भी संकेत करता है। इससे होने वाली बीमारियों या स्थितियों के इलाज से चक्कर आने के लक्षणों में सुधार हो सकता है। ज्यादातर मामलों में, घरेलू उपचार व चिकित्सा उपचार से आप चक्कर आने के कारणों को नियंत्रित कर सकते हैं।

इसके उपचार में दवाएं और कुछ व्यायाम शामिल किए जाते हैं। यहां तक कि अगर इस समस्या का कोई कारण नहीं पाया जाता है, तो भी डॉक्टर की दवाएं व अन्य उपचार आपके लक्षणों को ठीक कर सकते हैं-

  • बैलेंस थेरेपी: चक्कर आने पर संतुलन प्रणाली को कम संवेदनशील बनाने में मदद करने के लिए आप विशेष योगासन सीख सकते हैं। आंतरिक कान की दिक्क्त के चलते चक्कर आने वाले लोगों में इसका उपयोग किया जाता है।
  • मनोचिकित्सा (मनोवैज्ञानिक द्वारा परामर्श लेना): इस तरह की थैरेपी उन लोगों की सहायता कर सकती है जिनको चिंता के कारण चक्कर आते हों।
  • दवाओं की सहायता से चक्कर आने की समस्या को कम किया जा सकता है। एंटीहिस्टामाइन दवाएं जैसे मैकलिजाइन को वर्टिगो में कुछ समय के लिए आराम पहुंचाने के लिए इस्तेमाल किया जा सकता हैं। 
  • मतली के लिए दवा लेना। आपके डॉक्टर मतली से तत्काल राहत प्रदान करने के लिए आपको दवा दे सकते हैं।
  • चिंता के लिए दवाओं में डॉक्टर डायजेपाम (Diazepam) और अल्पराजोलम (alprazolam) जैसी दवाएं देते हैं।
  • माइग्रेन के लिए भी दवाओं का प्रयोग किया जा सकता है। कुछ दवाएं माइग्रेन की समस्या को रोकने में मदद करती हैं।

जीवनशैली व खुद की देखभाल

चक्कर आने की समस्या आमतौर पर अपने आप ही सही हो जाती है, लेकिन यदि आपको बार-बार चक्कर आ रहें हों, तो इन टिप्स की मदद ले सकते हैं-

  • पर्याप्त मात्रा में तरल पदार्थ लें। पौष्टिक आहार का सेवन करें, इसके साथ ही पूरी नींद लें और तनाव से दूर रहें।
  • यदि आपको किसी दवा के सेवन के कारण चक्कर आ रहें हों, तो डॉक्टर से मिलकर इन दवाओं को बदलने या इनकी मात्रा को कम करने पर विचार करें।  
  • अगर आपको निर्जलीकरण व ज्यादा गर्मी के कारण चक्कर आते हों, तो आप किसी ठंडे स्थान या जगह पर आराम करें व जरूरत के अनुसार पानी पीएं।
  • चक्कर आने पर नियंत्रण खोने की संभावनाओं के बारे में आप सचेत रहें, क्योंकि अचानक नियंत्रण खोने से आपको गिरने व गंभीर चोट लगने की संभावना होती है।
  • अचानक खड़े होकर चलने से बचें, वहीं चलने में स्थिरता बनाएं रखने के लिए किसी छड़ी का सहारा लें। 
  • चक्कर आना महसूस हो तो आप तुरंत बैठ या लेट जाएं व तेज चक्कर आने की स्थिति में आप किसी अंधेरे कमरे में लेटने पर अपनी आंखों को बंद करके ही रखें।
  • यदि आपको बार-बार चक्कर आने की समस्या हो, तो आप गाड़ी व किसी भारी मशीनरी को न चलाएं। 
Dr. Giri Prasath

Dr. Giri Prasath

सामान्य चिकित्सा

Dr. Madhav Bhondave

Dr. Madhav Bhondave

सामान्य चिकित्सा

Dr. Sunil Choudhary

Dr. Sunil Choudhary

सामान्य चिकित्सा

चक्कर आना की जांच का लैब टेस्ट करवाएं

KFT ( Kidney Function Test )

25% छूट + 5% कैशबैक

LFT ( Liver Function Test )

25% छूट + 5% कैशबैक

CBC (Complete Blood Count)

25% छूट + 5% कैशबैक

चक्कर आना की दवा - Medicines for Dizziness in Hindi

चक्कर आना के लिए बहुत दवाइयां उपलब्ध हैं। नीचे यह सारी दवाइयां दी गयी हैं। लेकिन ध्यान रहे कि डॉक्टर से सलाह किये बिना आप कृपया कोई भी दवाई न लें। बिना डॉक्टर की सलाह से दवाई लेने से आपकी सेहत को गंभीर नुक्सान हो सकता है।

Medicine NamePack SizePrice (Rs.)
DILIGANDILIGAN 25 MG TABLET109.0
VOMINOSVOMINOS 25 MG TABLET44.0
AvomineAvomine 25 Mg Tablet Md24.0
EminEmin 25 Mg Tablet14.0
Phena KidPhena Kid 5 Mg Syrup13.0
PhenaminPhenamin 25 Mg Injection3.0
PhenazinePhenazine 5 Mg Syrup54.0
PhenerganPhenergan 10 Mg Tablet10.0
PhenzeePhenzee 5 Mg Syrup12.0
PremaganPremagan 10 Mg Tablet6.0
Prompt(Neu)Prompt 5 Mg Syrup13.0
Regan (A.N.Pharmacia)Regan 25 Mg Tablet22.0
Apizine SyrupApizine 5 Mg Syrup63.0
EmispanEmispan 5 Mg Syrup13.0
LarganLargan Syrup24.0
Logan(Rho)Logan 5 Mg Syrup35.0
PhenerminPhenermin 5 Mg Syrup13.0
PmzPmz 25 Mg Injection7.0
PrimozynPrimozyn 5 Mg Syrup30.0
ProgeneProgene 25 Mg Tablet10.0
PromeronPromeron 5 Mg Syrup36.0
PromethPrometh 10 Mg Tablet4.0
Prompt(Skm)Prompt 40 Mg Injection56.0
PronetPronet 5 Mg Syrup23.0
Proz (Tripada)Proz 25 Mg Tablet12.0
UrialUrial Syrup58.0
DiocalmDiocalm Syrup14.0
EmiganEmigan Injection5.0
KzineKzine Syrup15.0
PhenercofPhenercof Syrup22.0
Pro BurnPro Burn Powder266.0
PromeganPromegan Syrup21.0
Promet (Orchid)Promet Injection45.0
PropazinePropazine Tablet9.0
Prozine(Shi)Prozine Syrup36.0
CinadilCinadil 25 Mg Tablet15.0
Cintigo ForteCintigo Forte 75 Mg Tablet42.0
CinvertCinvert 25 Mg Tablet20.0
CinzanCinzan 25 Mg Tablet Dt28.0
DizironDiziron 25 Mg Tablet98.0
DiziDizi 25 Mg Tablet30.0
StugeronStugeron 25 Mg Tablet141.0
VergoVergo 25 Mg Tablet39.0
VertigonVertigon 25 Mg Tablet33.0
CervatonCervaton 25 Mg Tablet30.0
Cinaz (Tripada)Cinaz 25 Mg Tablet20.0
CinironeCinirone 25 Mg Tablet9.0
CinnCinn 25 Mg Tablet25.0
CinzineCinzine 25 Mg Tablet19.0
C ZineC Zine 50 Mg Tablet15.0
KvertKvert 25 Mg Tablet28.0
MosicMosic 20 Mg Tablet41.0
SigcinarSigcinar 25 Mg Tablet17.0
StedicinStedicin 25 Mg Tablet18.0
SufiSufi 25 Mg Tablet28.0
SyzeronSyzeron 25 Mg Tablet19.0
VerifixVerifix 25 Mg Tablet25.0
VertiridVertirid 25 Mg Tablet25.0
VertironVertiron 25 Mg Tablet60.0
Vertizine(Marc)Vertizine 25 Mg Tablet38.0
VestableVestable 25 Mg Tablet40.0
VnvVnv 25 Mg Tablet17.0
CiniCini 25 Mg Tablet8.0
CintigoCintigo 25 Mg Tablet25.0
CinwoxCinwox 25 Mg Tablet7.0
E Brium (Med Manor)E Brium Tablet25.0
QvertQvert 25 Mg Tablet20.0
SinarzineSinarzine Tablet6.0
StugenolStugenol Forte Tablet60.0
StugipenStugipen 25 Mg Tablet34.0
TiniminTinimin Forte Tablet171.0
VastenVasten Tablet47.0
V GonV Gon 25 Mg Tablet16.0
BelloidBelloid 10 Mg Tablet28.75
BuscogastBuscogast 10 Mg Tablet29.09
HikinHikin Injection6.9
HylacHylac Tablet25.0
HyocimaxHyocimax 10 Mg Suppository46.1
HyopilHyopil 20 Mg Injection9.62
Hyoscine BromideHyoscine Bromide 20 Mg Injection11.87
HyospanHyospan 10 Mg Injection6.53
Xspas (Prescription)Xspas Tablet29.5
BiscotasBiscotas 20 Mg Injection10.23
Dolokind SpasDolokind Spas 10 Mg/500 Mg Tablet42.5
Hyoscine Butyl Bromide 10 Mg TabletHyoscine Butyl Bromide 10 Mg Tablet46.59
HyosilHyosil 20 Mg Injection8.75
HyoswiftHyoswift 10 Mg Tablet25.0
CofrylCofryl 25 Mg Syrup68.5
DifDif 25 Mg Suspension37.9
ZendrylZendryl 25 Mg Capsule17.25
AldrylAldryl Soft Gelatin Capsule11.12
Caladryl(Piramal)Caladryl Lotion56.45
MeladrylMeladryl 1% W/V Lotion45.0
DraminateDraminate 50 Mg Tablet19.75
GravolGravol 50 Mg Tablet22.5
Adwin PAdwin P 5 Mg/125 Mg Syrup0.0
Cetnol PpCetnol Pp 2.5 Mg/250 Mg Syrup0.0
Diocalm PlusDiocalm Plus 5 Mg/125 Mg Syrup0.0
Emispan HEmispan H 125 Mg/2.5 Mg Syrup0.0
Emispan PlusEmispan Plus 125 Mg/5 Mg Syrup0.0
FevrilFevril 2.5 Mg/125 Mg Syrup0.0
Fevril DsFevril Ds 2.5 Mg/250 Mg Suspension0.0
Fnorm PFnorm P 5 Mg/125 Mg Syrup0.0
HyperexHyperex 2.5 Mg/125 Mg Syrup0.0
Kelvin PlusKelvin Plus 6.25 Mg/500 Mg Syrup0.0
MolzinMolzin Tablet0.0
Nectar PNectar P 2.5 Mg/125 Mg Syrup0.0
NormaganNormagan 2.5 Mg/125 Mg Suspension0.0
PadmolPadmol 5 Mg/125 Mg Syrup0.0
Paramax PParamax P 5 Mg/125 Mg Syrup0.0
Pinex PlusPinex Plus 2.5 Mg/250 Mg Syrup0.0
Promegan PlusPromegan Plus 5 Mg/125 Mg Syrup0.0
Promeron PPromeron P 5 Mg/125 Mg Syrup0.0
PromolPromol 5 Mg/125 Mg Syrup0.0
PyronilPyronil 2.5 Mg/125 Mg Syrup0.0
BasipromBasiprom 5 Mg/125 Mg Suspension26.42
Brumol PBrumol P 5 Mg/125 Mg Syrup23.93
CrophenCrophen Syrup29.4
Emigan PlusEmigan Plus 5 Mg/125 Mg Syrup31.0
Febrinil PFebrinil P 2.5 Mg/125 Mg Syrup17.58
Fenaplus (Leeford)Fenaplus Syrup13.75
IbupromIbuprom 125 Mg/2.5 Mg Syrup30.9
Kelvin P LiteKelvin P Lite Syrup26.22
Pazine PPazine P Syrup34.12
Pgan PlusPgan Plus 2.5 Mg/125 Mg Suspension21.52
Phenamin PlusPhenamin Plus Syrup9.37
PhenometPhenomet Syrup23.32
PhenparPhenpar Drops50.0
ProparaPropara 5 Mg/250 Mg Syrup14.12
Prosym PProsym P 5 Mg/125 Mg Syrup25.0
Prozine (Parasol)Prozine 5 Mg/125 Mg Syrup27.42
Pyrivin PPyrivin P 5 Mg/125 Mg Syrup29.0
SymolSymol 5 Mg/125 Mg Syrup27.3
Tempcon PlusTempcon Plus 5 Mg/125 Mg Syrup18.46
BelicBelic 10 Mg/325 Mg Injection0.0
Buscogast PlusBuscogast Plus 10 Mg/325 Mg Tablet0.0
Buscopan PlusBuscopan Plus 10 Mg/500 Mg Tablet55.7
Dolokind Spas RfDolokind Spas Rf 10 Mg/500 Mg Tablet45.0
CimenzaCimenza 20 Mg/40 Mg Tablet60.0
DizilivDiziliv 20 Mg/40 Mg Tablet60.0
DizitacDizitac 20 Mg/40 Mg Tablet75.0
SpinfreeSpinfree 20 Mg/40 Mg Tablet68.5
VertizacVertizac 20 Mg/40 Mg Tablet75.5
Cinzine PlusCinzine Plus Tablet63.0
Diziron DDiziron D 20 Mg/40 Mg Tablet65.0
Stugeron PlusStugeron Plus Tablet90.0
VertigenVertigen Tablet59.0
VomivertVomivert 20 Mg/40 Mg Tablet55.0
CinadewCinadew Tablet68.48
CindomCindom 15 Mg/20 Mg Tablet66.0
CinidomCinidom 15 Mg/20 Mg Tablet60.0
DomcinDomcin 15 Mg/20 Mg Tablet62.0
Domfast CzDomfast Cz 15 Mg/20 Mg Tablet40.0
DomgilDomgil 15 Mg/20 Mg Tablet60.0
Novadom CNovadom C 15 Mg/20 Mg Tablet47.4
Spinil DSpinil D 15 Mg/20 Mg Tablet35.3
StedidomStedidom 15 Mg/20 Mg Tablet51.3
StugilStugil Tablet76.0
SynadomSynadom 15 Mg/20 Mg Tablet32.0
Verifix DVerifix D 10 Mg/25 Mg Tablet38.46
VertidomVertidom 15 Mg/20 Mg Tablet66.25
Vertirid DVertirid D 15 Mg/20 Mg Tablet48.75
Vertizine DVertizine D 10 Mg/20 Mg Tablet55.0
Cinadil DCinadil D 15 Mg/25 Mg Tablet38.0
Cinn DCinn D 15 Mg/20 Mg Tablet45.81
Domax CzDomax Cz Tablet37.61
Domitin CDomitin C 15 Mg/20 Mg Capsule52.93
Domperon CzDomperon Cz Tablet52.0
Normesis PlusNormesis Plus 20 Mg/15 Mg Tablet618.75
Qvert DQvert D 15 Mg/20 Mg Tablet40.48
RhizandRhizand 15 Mg/20 Mg Tablet35.7
SinadomSinadom Tablet7.5
TrudomTrudom 15 Mg/20 Mg Tablet45.0
VertigilVertigil 10 Mg/20 Mg Tablet37.5
Coryl TabletCoryl Tablet0.0
C.R.MC.R.M Linctus0.0
Tedykoff CoughTedykoff Cough 1.5 Mg/1.5 Mg Syrup0.0
Tedykoff LxTedykoff Lx 1.5 Mg/1.5 Mg Linctus0.0
TixylixTixylix New Syrup0.0
Zytolix PZytolix P 1.5 Mg/1.5 Mg Syrup0.0
TedykoffTedykoff Syrup35.0
TiskytasTiskytas Syrup27.5
Tixylix Alert SyrupTixylix Alert Syrup71.0
KidylinctusKidylinctus 1.5 Mg/1.5 Mg/2.5 Mg Syrup0.0
Kidylinctus ZKidylinctus Z Syrup47.0
Pnv PlusPnv Plus 25 Mg/2.5 Mg Tablet39.6
SensitusSensitus 300 Mg/60 Mg/24 Mg Syrup49.0
Ascodex PlusAscodex Plus Syrup43.52

क्या आप या आपके परिवार में किसी को यह बीमारी है? सर्वेक्षण करें और दूसरों की सहायता करें

और पढ़ें ...