myUpchar प्लस+ के साथ पुरे परिवार के हेल्थ खर्च पर भारी बचत

अगर आप सुबह जल्दी उठने वाले लोगों में से नहीं है तो शायद कैफीन आपकी सुबह की साथी अवश्य होगी। कैफीन को लोग अक्सर कॉफी के रूप में पीते हैं। कैफीन दुनिया में सबसे व्यापक रूप से उपयोग होने वाली दवा है और जब आप इसका सेवन करते हैं, तो यह आपको कई प्रकार के स्वास्थ्य लाभ प्रदान करती है। तो चलिए जानते हैं कैफीन के क्या क्या स्वास्थ्य लाभ हैं।

  1. कैफीन के फायदे - Caffeine ke fayde in hindi
  2. कैफीन के साइड इफेक्ट - Caffeine ke nuksan in hindi

कैफीन का सेवन बढ़ाए शारीरिक ऊर्जा - Caffeine increases energy in hindi

कैफीन आपकी शारीरिक ऊर्जा को बढ़ाती है। यही कारण है कि लोग सुबह में चाय या कॉफी पीना पसंद करते हैं। कैफीन आपको सुबह में जगाने में मदद करती है और आपकी आखों को खोलती है। यह आपको व्यायाम करने के लिए प्रेरित भी कर सकती है। यदि आप एक कप ब्लैक कॉफी पी कर व्यायाम करने जाते हैं तो यह आपको व्यायाम के दौरान ऊर्जावान महसूस कराती है।

(और पढ़ें – सुबह जल्दी उठने के आयुर्वेदिक तरीके)

कैफीन के लाभ बढ़ाए एकाग्रता - Caffeine improves focus in hindi

कैफीन आपकी एकाग्रता बढ़ाने में मदद करती है। युवा लोगों में कैफीन की खपत उनकी मस्तिष्क की कार्यात्मक कनेक्टिविटी में सुधार करती है और कार्यों को जल्दी करने में मदद करती है। कैफीन का कम मात्रा में सेवन बुजुर्गों के लिए भी अच्छा होता है, यह उनके मस्तिष्क के विभिन्न भागों के बीच संचार में मदद करती है। इसके कारण उनकी ध्यान अवधि और स्मृति बेहतर होती है। जिन रजोनिवृत्ति वाली महिलाओं में एकाग्रता की कमी होती है, उनके लिए भी यह अच्छी होती है।

(और पढ़ें – कमजोर याददाश्त के घरेलू उपचार)

कैफीन के फायदे अच्छा रखें मूड - Caffeine is a mood booster in hindi

कैफीन आपको खुश रहने में भी मदद करती है। इसका कम मात्रा में सेवन चिंता, तनाव और घबराहट को कम करने में मदद करता है। कैफीन डोपामाइन और सेरोटोनिन हार्मोन पर सकारात्मक प्रभाव डालती है जो हमारी मनोदशा को अच्छा रखते हैं। कैफीन का प्रभाव खास तौर से बुजुर्ग और थके हुए लोगों में अधिक देखा जाता है लेकिन कैफीन का लाभ सभी ले सकते हैं। अच्छे प्रभाव के लिए सुबह में कैफीन का सेवन करना चाहिए।

(और पढ़ें – मूड को अच्छा बनाने के लिये खाएं ये सूपरफूड)

कैफीन का प्रभाव सिरदर्द होने पर - Caffeine for headache relief in hindi

जब आपको पर्याप्त नींद नहीं मिलती है तो आपके सिरदर्द होने लगता है या फिर आपको तनाव के कारण भी सिरदर्द होने लगता है तो आपको कॉफी या चाय का सेवन करना चाहिए। इनमें मौजूद कैफीन आपके एडेनोसाइन रिसेप्टर (adenosine receptors) के स्तर को बढ़ा कर सिरदर्द से राहत देने में मदद करती है। 

(और पढ़ें – नींद ना आने के आयुर्वेदिक उपाय)

हालांकि ध्यान रखें कि कैफीन कम सिरदर्द के लिए उपयोगी हो सकती है पर यदि किसी को बहुत अधिक सिरदर्द की समस्या है तो तत्काल चिकित्सक से संपर्क करें।

(और पढ़ें – गर्मियों में सिरदर्द से बचने के लिए फॉलो करें डाइटीशियन रुजुता दिवेकर के ये पाँच टिप्स)

कैफीन बेनिफिट्स फॉर वेट लॉस - Caffeine helps weight loss in hindi

वजन कम करने के लिए हमें बहुत अधिक समय देना पड़ता है लेकिन कैफीन के सेवन से वजन बहुत जल्दी कम हो सकता है क्योंकि यह थर्मोजेनेसिस (thermogenesis) को बढ़ाने में मदद करती है। थर्मोजेनेसिस आहार में मौजूद फैट को जला कर ऊर्जा प्राप्त करने की सामान्य शारीरिक प्रक्रिया है। भले ही आप आराम क्यों न कर रहे हों, यह प्रक्रिया उस समय भी आपकी कैलोरी को जलाती है। कैफीन भूख को कम करने में भी मदद करती है और हमें अधिक खाने से रोकती है। इन दोनों के कारण, मतलब थर्मोनेसिस में वृद्धि और भूख में कमी के कारण आपका वजन बहुत तेजी से घटता है।

(और पढ़ें - वजन घटाने के लिए क्या खाएं)

कैफीन के सेवन से शरीर में फैट टूटता है। यह लिपिड ऑक्सीकरण के रूप में जाना जाता है और मोटापे से ग्रस्त व्यक्तियों के लिए अच्छा होता है।

लाभ के साथ-साथ अधिक मात्रा में लेने पर कैफीन के खतरे जानने भी ज़रूरी हैं। कैफीन को प्रतिदिन लगभग 100 से 200 मिलीग्राम के बीच में लेना चाहिए।

इसके अधिक सेवन से चिंताअवसाद, निर्जलीकरण और नींद नहीं आने की समस्या हो सकती है। अधिक समय तक इसके अधिक सेवन से यह कैल्शियम के अवशोषण को रोक सकती है और ऑस्टियोपोरोसिस की समस्या जो जन्म दे सकती है। 

गर्भवती और स्तनपान कराने वाली महिलाओं को भी बहुत अधिक कैफीन के सेवन से बचना चाहिए। प्रतिदिन 300 मिलीग्राम या उससे अधिक कैफीन के सेवन से गर्भपात हो जाने का खतरा हो सकता है।

यदि आप पहले से ही तीव्र तनाव, नींद की समस्यागैस, पेट में अल्सर और उच्च रक्तचाप की समस्या से पीड़ित हैं तो कैफीन का सेवन नहीं करें। यह आपकी हालत और बदतर कर सकती है।

(और पढ़ें – शरीर में पानी की कमी के 10 महत्वपूर्ण संकेत)

और पढ़ें ...