myUpchar प्लस+ के साथ पूरेे परिवार के हेल्थ खर्च पर भारी बचत

गर्मी के दिनों में ठंडा पानी राहत की सांस देता है। फिर चाहे ठंडा पानी पीना हो या फिर पानी में स्विमिंग करनी हो। इसी तरह इन दिनों गर्मी से राहत देने के लिए वाटर वर्कआउट चलन में है। इसे लोग काफी पसंद भी कर रहे हैं। हालांकि, जिन लोगों को स्विमिंग करना नहीं आता, वे इस वर्कआउट से डरते हैं। जबकि वाटर वर्कआउट करने के लिए स्विमिंग आना जरूरी नहीं है।

इस वर्कआउट से आपको गर्मी से तो राहत मिलती ही है, इसके साथ ही यह एक्सरसाइज आपको कई तरह से फायदा पहुंचा सकती है जैसे शारीरिक क्षमता को बढ़ाना, कैलोरी बर्न करना आदि। फिटनेस गुरु यास्मिन कराचीवाला और उनकी रेगुलर क्लाइंट कैटरीना कैफ भी इसे करती हैं।

एक्वा साइक्लिंग: 
स्विमिंग के फायदों के बारे में ज्यादातर लोग जानते हैं। स्विमिंग की ही तरह पानी में एक्वा साइक्लिंग भी की जाती है। इसमें पानी में साइकिल मौजूद होती है जिसमें आप एक ही जगह पर रुक-कर साइक्लिंग कर सकते हैं। पानी में पैडल चलाते वक्त आपके पैरों को पानी के विपरीत ताकत लगानी होती है। इससे पैरों को मजबूती मिलती है और पैरों की अच्छी मसाज भी होती है। हालांकि, शुरूआती दिनों में आपको समस्या आ सकती है लेकिन धीरे-धीरे इसे करना आसान हो जाएगा।

जाॅगिंग:
स्विमिंग पूल में एक जगह खड़े हो जाएं। वहीं खड़े-खड़े जाॅगिंग करें। अपने घुटनों को जितना ऊपर उठा सकें, उठाएं। इससे आपकी कैलोरी बर्न होती है और हेल्दी रहने में मदद मिलती है।

(और पढ़ें - जल चिकित्सा पद्धति क्या है)

घुटने मोड़ें:
पानी में एक जगह खड़े हो जाएं। अपने दोनों हाथों को मोड़ें। बाएं हाथ की कोहनी को दाएं पैर के घुटने की ओर लाने की कोशिश करें। कुछ देर ऐसा करने के बाद दूसरे साइड से इसे दोहराएं। दोनों पैरों से ऐसा 10 बार करें।

स्क्वैट जम्प:
सीधे खड़े होकर पैरों को खोलें और हाथों को सीधा रखें। इसके बाद कमर को सीधा रखते हुए घुटनों को हल्का सा मोड़ते हुए निचे की ओर झुकें और हाथों को आगे की ओर सीधा फैलाएं। अब जितना हो सके उतना ऊंचा कूदने की कोशिश करें। 

इसी तरह टिक टाॅक हाॅप, फ्लटर किक, पेंडुलम स्विंग और क्रंच भी वाटर एक्सरसाइज का हिस्सा है।

वाटर वर्कआउट के फायदे

  • पानी प्राकृतिक रूप से आपकी मांसपेशियों पर अतिरिक्त दबाव बनाता है। यही वजह है कि स्विमिंग स्ट्रेंथ बिल्डिंग के लिए एक बेहतरीन एक्सरसाइज है। यह आपके जोड़ों और हृदय को स्वस्थ रखती है।
  • पानी में वर्कआउट करते हुए आपको अपने वजन का अनुभव नहीं होता है। इसलिए इसमें एक्सरसाइज करते हुए आपको अलग महसूस होता है। विशेषज्ञों के अनुसार आप पानी में होते हैं तो वजन का अनुभव न के बराबर होता है। अतः इसमें एक्सरसाइज करना आसान होता है, इसमें उछलने पर आपके ज्वाइंट्स पर अतिरिक्त दबाव भी नहीं बनता।
  • लोग जमीन पर एक्सरसाइज करने की तुलना में पानी में एक्सरसाइज करने को ज्यादा मजेदार समझते हैं। यही नहीं पानी में वर्कआउट लंबे समय तक बिना थके हुए किया जा सकता है। इसके अलावा यदि आप गर्म पानी में एक्सरसाइज करते हैं तो इससे शरीर रिलैक्स महसूस करता है और मांसपेशियों में जकड़न, दर्द की समस्या भी कम होती है। इसके साथ ही पानी में एक्सरसाइज करने से आप संतुलन बनाना सीख जाते हैं।
और पढ़ें ...