myUpchar प्लस+ सदस्य बनें और करें पूरे परिवार के स्वास्थ्य खर्च पर भारी बचत,केवल Rs 99 में -

हर किसी को आम खाना पसंद होता है। इसमें कोई संदेह नहीं है कि फलों का राजा आम स्वास्थ्य लाभों का खजाना है। लेकिन इसके अलावा आम के पत्तों के बारे में आपका क्या ख्याल हैं? क्या आपको पता हैं कि आम की पत्तियों भी अद्धभुत लाभों से भरपूर होती हैं।

आम पत्तियां औषधीय और उपचार गुणों से भरी हुई हैं। आम के पत्ते लाल या बैंगनी होते हैं, जब ये पत्ते कोमल और नए होते हैं तो एक गहरे हरे रंग और हल्के नीले रंग के होते हैं। ये पत्ते विटामिन सी, बी और ए में समृद्ध हैं। ये पत्ते विभिन्न अन्य पोषक तत्वों में भी समृद्ध होते हैं। आम के पत्ते में शक्तिशाली एंटीऑक्सीडेंट गुण होते हैं क्योंकि वे फ्लैनोनोड्स और फिनोल की उच्च सामग्री रखते हैं। आप ने अधिकतर आम के पत्तों का इस्तेमाल पूजा पाठ के लिए किया होगा। लेकिन आम के पत्तो का सेवन करने से आप स्वास्थ्य से जुड़ी कई बीमारियों से छुटकारा पाया जा सकता है। तो आइये जानते हैं आम के पत्तों के लाभों के बारे में -

  1. आम के पत्ते के फायदे डायबिटीज के इलाज के लिए - Mango Leaves Good for Diabetes in Hindi
  2. आम के पत्ते का उपयोग करें उच्च रक्तचाप को कम - Mango Leaves for High Blood Pressure in Hindi
  3. आम के पत्तों के लाभ रखें चिंता को दूर - Mango Leaves for Anxiety in Hindi
  4. आम के पत्ते के गुण करें किडनी स्टोन का उपचार - Mango Leaf for Kidney Stone in Hindi
  5. आम के पत्तों का सेवन है खांसी का देसी इलाज - Mango Leaves for Cough in Hindi
  6. आम के पत्तों के लाभ पेचिश में है लाभकारी - Mango Leaf Cures Dysentery in Hindi
  7. आम के पत्तों का उपयोग करता है कान दर्द का इलाज - Aam ke Patte ke Fayde for Ear Pain in Hindi
  8. जले हुए का घरेलू उपचार करें आम के पत्तों से - Mango Leaf for Burns in Hindi
  9. हिचकी रोकने का घरेलू उपाय है आम के पत्ते - Aam ke Patte ka Upyog for Hiccups and Throat Problems in Hindi
  10. स्टमक टॉनिक है आम के पत्ते - Mango Leaves as Stomach Tonic in Hindi

मधुमेह के उपचार के लिए आम के पत्ते बहुत उपयोगी होते हैं। आम के पेड़ की कोमल पत्तियों में एंथोकाइनाडिंस (anthocyanidins) नामक टैनिन होता है, जो प्रारंभिक मधुमेह के इलाज में मदद करता है। पत्तियों को सूखाकर पीस लें और उस पाउडर का उपयोग करें। यह मधुमेह की रक्त-नलिकाओं के रोग और मधुमेह के रेटिनोपैथी का इलाज करने में भी मदद करता है। आम के पत्ते इस उद्देश्य के लिए बहुत अच्छे हैं। रात भर एक कप पानी में पत्तियों को भिगोएँ। मधुमेह के लक्षणों को दूर करने के लिए इस पानी को छानकर पियें। यह हाइपरग्लेसेमिया का भी इलाज करने में सहायता करता है। पत्तियों में 3 बीटा-तारकेरोल नामक एक यौगिक और एथिल एसीटेट अर्क होता है जो जीसएलयूटी 4 को सक्रिय करने और ग्लाइकोजन के संश्लेषण को प्रोत्साहित करने के लिए इंसुलिन के साथ सहक्रियात्मकता करता है।

ये पत्ते रक्तचाप को कम करने में मदद करते हैं क्योंकि इनमें रक्तचाप को कम करने वाले गुण होते हैं। वे रक्त वाहिकाओं को मजबूत करने और वैरिकाज़ नसों (varicose veins) की समस्या का इलाज करने में सहायता करते हैं।

चिंता के कारण बेचैनी से पीड़ित लोगों के लिए, आम के पत्ते एक अच्छा घरेलू उपाय प्रदान करते हैं। नहाने के पानी में दो से तीन गिलास आम के पत्तों से बनी चाय डालें। इससे सुस्ती का इलाज होता है और शरीर ताज़ा महसूस करता है।

आम के पत्ते गुर्दे की पथरी और पित्त की पथरी का इलाज करने में मदद करते हैं। आम के पत्तों के पाउडर का दैनिक सेवन (जो कि छाया में सूखाएं गए हो) करें। रात में एक गिलास पानी में पाउडर मिलकर रखें इससे स्टोन्स को तोड़ने और उन्हें बाहर निकालने में मदद करता है। (और पढ़ें - गुर्दे की पथरी के लक्षण)

आम के पत्ते सभी प्रकार की श्वसन समस्याओं के लिए अच्छे होते हैं। यह विशेष रूप से सर्दी, ब्रोंकाइटिस और अस्थमा से पीड़ित लोगों के लिए उपयोगी है। थोड़ा शहद के साथ पानी में आम के पत्तों को उबालकर काढ़ा तैयार करें। यह काढ़ा पीने से खाँसी को प्रभावी ढंग से ठीक करने में मदद मिलती है। यह आवाज हानि (गला बैठने पर) का इलाज करने में भी मदद करता है। (और पढ़ें – अस्थमा के कारण, लक्षण एवं उपचार)

आम के पत्ते पेचिश (खून बहने वाली पेचिश) के इलाज में बहुत मदद करते हैं। छाया में सुखाकर पत्तों का पाउडर तैयार कर लें। फिर रोजाना पानी के साथ दो से तीन बार इस पाउडर का सेवन करें।

कान दर्द काफी परेशान कर सकता है। इस घरेलू उपचार का उपयोग करके आप कान दर्द से राहत प्राप्त कर सकते हैं। आम के पत्तों निकाले जाने वाले रस का एक चम्मच कान का दर्द से राहत देता है। रस का उपयोग करने से पहले रस को थोड़ा गरम करें।

जली हुई त्वचा पर, जले हुए आम के पत्तों की एक मुट्ठी राख को प्रभावित क्षेत्र पर लगाएं। इससे तुरंत राहत मिलती है। इसके उपयोग बाद घाव की जलन में भी राहत मिलती है।

यदि आप हिचकी या गले की समस्या से पीड़ित हैं, तो आम के पत्ते एक अच्छा घरेलू उपाय है। कुछ आम के पत्ते जलाएं और धुएं में श्वास लें। यह हिचकी और गले की समस्याओं का इलाज करने में मदद करेगा।

गर्म पानी में कुछ आम पत्ते डालें, एक ढक्कन के साथ कंटेनर बंद करें और इसे रात भर ऐसे ही छोड़ दें। अगली सुबह पानी को फिल्टर करें और इसे खाली पेट पिएं। इसका नियमित सेवन एक अच्छे पेट टॉनिक के रूप में कार्य करता है और विभिन्न पेट की बीमारियों को रोकने में मदद करता है। चूंकि आम के पेड़ के पत्ते पूरे साल उपलब्ध होते हैं, घरेलू उपचार के लिए उनका उपयोग करना आसान है। एंटीऑक्सिडेंट और रोगाणुरोधी गुण विभिन्न बीमारियों का कुशलतापूर्वक इलाज करते हैं।


आम के पत्ते के लाजवाब फ़ायदे सम्बंधित चित्र

और पढ़ें ...
ऐप पर पढ़ें