myUpchar प्लस+ के साथ पूरेे परिवार के हेल्थ खर्च पर भारी बचत

मूंगफली का तेल एक प्रकार का वनस्पति तेल है जिसे आमतौर पर खाना बनाने के लिए मूँगफली से प्राप्त किया जाता है। मूंगफली के तेल की कई प्रकार की किस्में हैं जैसे रिफाइंड, अन-रिफाइंड, रोस्टेड और कोल्ड प्रेस्ड। आम तौर पर मूँगफली के तेल का उपयोग भोजन के स्वाद को दिलचस्प बनाते के लिए किया जाता है। रोस्टेड मूँगफली तेल का उपयोग खाना बनाने के लिए बहुत अच्छा होता है। यह अन्य प्रकार के तेल से अधिक हेल्दी होता है।

मूंगफली के तेल की एक विशेषता यह है कि जो खाद्य पदार्थ इस तेल में बनते हैं, यह उनके फ्लेवर यानी स्वाद को अवशोषित (absorb) नहीं करता है। यह खाने के उच्च तापमान तक पहुंच कर खाद्य पदार्थों को बाहर से करारा (crispy) करता है और अंदर से बहुत नर्म रखता है। मूंगफली तेल का उपयोग मुख्य रूप से एशियाई व्यंजनों में किया जाता है।

मूंगफली तेल के अधिकांश स्वास्थ्य लाभ इसमें मौजूद विभिन्न प्रकार के फैटी एसिड से आते हैं, जैसे ओलिक एसिड (oleic acid), स्टीयरिक एसिड (stearic acid), पामिटिक एसिड (palmitic acid), और लिनोलिक एसिड (linoleic acid)। जबकि फैटी एसिड का असंतुलित स्तर हमारे स्वास्थ्य के लिए खतरनाक होता है, मूंगफली के तेल में इनका सुरक्षित संतुलन है जो हमारे स्वास्थ्य को विभिन्न तरीकों से बढ़ावा देता है। साथ ही इसमें पाए जाने वाले अन्य विटामिन, खनिज और आर्गेनिक यौगिक के भी अपने स्वास्थ्य लाभ हैं।

तो चलिए हम मूंगफली तेल के स्वास्थ्य लाभ के बारे में विस्तार से जानते हैं।

  1. मूंगफली तेल के फायदे - Mungfali tel ke fayde in hindi
  2. मूंगफली तेल के नुकसान - Mungfali tel ke nusksan in hindi

मूंगफली के तेल के फायदे कम करे कोलेस्ट्रॉल - Peanut oil reduces cholesterol in hindi

अन्य वनस्पति तेलों के विपरीत मूंगफली का तेल किसी भी प्रकार के कोलेस्ट्रॉल से मुक्त होता है, जो हृदय सम्बंधित समस्या जैसे एथेरोस्क्लेरोसिस (धमनियों का ब्लॉक होना) के होने का एक प्रमुख कारण होता है। इसके अलावा कोलेस्ट्रॉल से मुक्त होने के साथ-साथ शरीर के वर्तमान कोलेस्ट्रॉल के स्तर को कम करने में भी यह मदद करता है। इसमें मौजूद फाइटोस्टेरॉल पेट में कोलेस्ट्रॉल के अवशोषण में मदद करते हैं जिससे हमारे कोलेस्ट्रॉल का स्तर 10-15% कम हो जाता है। कोलेस्ट्रॉल का उचित स्तर बनाए रखने और दिल के स्वास्थ्य के लिए अपने दैनिक आहार में मूंगफली तेल की सीमित मात्रा का उपयोग करें।

मूंगफली तेल के गुण रखे हृदय रोग से दूर - Peanut oil good for heart in hindi

जैसा कि ऊपर बताया गया है एथेरोस्क्लेरोसिस की संभावना कम करने से दिल का दौरा और स्ट्रोक की संभावना कम हो जाती है। मूंगफली तेल में मोनोअनसेचुरेटेड फैटी एसिड भी पाया जाता है जैसे ओलिक एसिड, जो अच्छे कोलेस्ट्रॉल (HDL) के स्तर को बढ़ाता है। यह फायदेमंद कोलेस्ट्रॉल वास्तव में खराब कोलेस्ट्रॉल (LDL) को कम करने और कोरोनरी (coronary) हृदय रोग और स्ट्रोक की संभावना को कम करने में मदद करता है। 

(और पढ़ें - स्ट्रोक के कारण)

मूंगफली का तेल कैंसर के लिए - Groundnut oil for cancer in hindi

मूंगफली के तेल में रेस्वेराट्रोल (Resveratrol) जैसे पोलीफेनोल एंटीऑक्सीडेंट (polyphenol antioxidants) की उच्च मात्रा पाई जाती है। यह यौगिक फ्री रेडिकल्स को खत्म करने में मदद करते है जिनकी वजह से शरीर में कई बीमारियां जैसे कैंसर होती हैं। अध्ययनों से पता चला है कि मूंगफली तेल की तरह जिस भी वनस्पति तेल में रेस्वेराट्रोल (Resveratrol) उच्चा मात्रा में होता है, यह शक्तिशाली एंटीऑक्सीडेंट कैंसर के विकास के खतरे को कम करने में मदद करता है।

मूंगफली तेल के फायदे रक्तचाप को करे कम - Peanut oil for high blood pressure in hindi

रेस्वेराट्रोल (Resveratrol) शरीर के दूसरे कार्य के लिए भी महत्वपूर्ण है। यह शरीर में विभिन्न हॉर्मोन्स के साथ संपर्क करता है जो रक्त वाहिकाओं जैसे एंजियोटेनसिन (angiotensin) को प्रभावित करते हैं जिससे वेसल्स (vessels) और धमनियां संकुचित होती हैं। उस हार्मोन के प्रभाव को ख़त्म करके रेस्वेराट्रोल रक्तचाप को कम करने में मदद करता है, जिससे हृदय तथा रक्तवाहिकाओं पर तनाव कम हो जाता है।

मूंगफली तेल खाने के लाभ अल्जाइमर रोग के लिए - Peanut oil for Alzheimer in hindi

अल्जाइमर रोग सबसे अधिक व्यापक और दुखद होता है जो लोगों को बूढ़े होने पर प्रभावित करता है। मूंगफली तेल में मौजूद रेस्वेराट्रोल जो एक एंटीऑक्सीडेंट है, अल्जाइमर रोग और मनोभ्रंश (dementia) जैसे विकार को शुरुआत में ही खत्म या धीमा करने में मदद करता है। फ्री रेडिकल्स मस्तिष्क में तंत्रिका को क्षति पहुंचाते हैं। रेस्वेराट्रोल इन फ्री रेडिकल्स को ख़त्म करने में मदद करता है।

मूंगफली तेल का उपयोग त्वचा रखे स्वस्थ - Peanut oil benefits for skin in hindi

कई वनस्पति तेलों की तरह मूंगफली के तेल में भी विटामिन ई पाया जाता है जो हमारे लिए बहुत आवश्यक विटामिन है। यह विटामिन त्वचा के रखरखाव और स्वास्थ्य के लिए महत्वपूर्ण है। यह त्वचा को फ्री रेडिकल्स से बचाता है जो झुर्रियां, धब्बे और उम्र बढ़ने की प्रक्रिया का कारण होते हैं। मूंगफली तेल में पाए जाने वाला विटामिन ई आपकी त्वचा को जवान और स्वस्थ रखता है।

मूंगफली का तेल के फायदे प्रतिरक्षा प्रणाली में - Mungfali ke tel ke fayde for Immune System in hindi

मूंगफली तेल में पाया जाने वाला रेस्वेराट्रोल हमारी प्रतिरक्षा प्रणाली को सुधारने में मदद करता है। यह एंटीऑक्सीडेंट विशेष रूप से वायरल और फंगल संक्रमण से हमारी रक्षा करता है। इसलिए अपने आहार में मूंगफली तेल का सेवन करें। मूंगफली तेल का सेवन सफेद रक्त कोशिका को बढ़ाता है और हमे स्वस्थ रखता है।

मूंगफली तेल लगाने के फायदे बालों के लिए - Groundnut oil for hair in hindi

मूंगफली तेल बालों में प्रोटीन की कमी को पूरा करता है और बालों को घना करता है। यह दोमुंहे बालों को नमी देता है और क्षतिग्रस्त बालों को फिर से पोषण प्रदान करता है।

बालों की रूसी को ख़त्म करने के लिए एक साफ कटोरी में एक बड़ा चम्मच मूंगफली का तेल और कुछ बून्द नींबू का रस और टी ट्री आयल डालकर अच्छी तरह मिला लें। फिर इसे अपने सिर पर लगा कर 2-3 घंटे के लिए छोड़ दें । अब आप शैंपू से अपने बालों को धो लें। यह रूसी का इलाज करने के लिए एक प्राकृतिक एंटीसेप्टिक है।

ग्राउंड नट आयल फॉर आर्थराइटिस - Peanut oil good for arthritis in hindi

जोड़ों के दर्द और मांसपेशियों में दर्द का इलाज करने के लिए मूंगफली तेल प्रभावी है। मूंगफली तेल की मालिश शरीर को फिर से सक्रिय कर देती है और गठिया से संबंधित दर्द सहित सभी तरह के दर्द से राहत देती है। 

(और पढ़ें – मांसपेशियों में दर्द के घरेलू उपचार)

पीनट आयल फॉर डायबिटीज - Peanut oil for diabetes in hindi

मधुमेह रोगियों के लिए मूंगफली का तेल फायदेमंद है। इसका नियमित उपयोग शरीर के इंसुलिन स्तर को बेहतर बनाता है। मूंगफली का तेल रक्त में ग्लूकोज के स्तर को सामान्य करने में मदद करता है और रक्त शर्करा के स्तर को नियंत्रित करता है।

हालांकि मूंगफली के तेल में पाए जाने वाले फैटी एसिड आम तौर पर फायदेमंद होते हैं लेकिन मूंगफली के तेल का मध्यम (moderate) मात्रा में सेवन ही स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद है। इसका ज़्यादा मात्रा में सेवन करने से मोटापे की समस्या हो सकती है क्योंकि मूंगफली के तेल तकनीकी रूप से वसा है और इसमें कैलोरी उच्च होती हैं।

गर्भावस्था और स्तनपान के दौरान मध्यम मात्रा में मूंगफली का तेल सेवन करना सुरक्षित है।

(और पढ़ें - गर्भावस्था में पेट दर्द और पुत्र प्राप्ति के लिए क्या करें)

इस तथ्य का समर्थन करने के लिए पर्याप्त सबूत उपलब्ध नहीं हैं कि दवाओं में इसका भारी मात्रा में सेवन सुरक्षित है या नहीं।

जिन लोगों को मूंगफली या FABACEAE फैमिली से सम्बंधित किसी पदार्थ से एलर्जी है, उन्हें मूंगफली के तेल का सेवन नहीं करना चाहिए।

और पढ़ें ...