एक समय था जब झुर्रियों को बुढ़ापे की निशानी माना जाता था। लेकिन आजकल यह आश्चर्यजनक बात नहीं है क्यूंकि ये परेशानी अब 20 की उम्र से भी शुरू होने लगी है। व्यस्त जीवनशैली, तनाव, नींद की कमी और अनुचित आहार अक्सर त्वचा को नुकसान पहुंचाते हैं। इन सब लक्षणों की वजह से झुर्रियां उत्पन्न होती हैं।

जबसे आप अपनी झुर्रियों पर ध्यान देना शुरू करते हैं उस समय से आप छुटकारा पाने के तरीकों के बारे में सोचने लगते हैं। लेकिन आपको इसमें किसी भी तरह का बोटोक्स उपचार कराने की ज़रूरत नहीं है। अन्य तरीकों की तुलना में प्राकृतिक और घरेलू उपचार हमेशा सबसे ज़्यादा फायदेमंद होता है। इनसे आपको किसी भी तरह के नुकसान नहीं होते। इन विधियों का उपयोग करके न केवल युवा पीढ़ी बल्कि बुजुर्ग भी अपनी त्वचा को स्वस्थ और जवान बना सकते हैं।

(और पढ़ें - झुर्रियां हटाने की क्रीम)

झुर्रियों के लिए घरेलू उपाय सरल और सस्ते होते हैं। लेकिन उपायों पर पहुंचने से पहले हमे सबसे पहले समझना होगा झुर्रियां क्या हैं? और उसके क्या कारण होते हैं?

  1. चेहरे की झुर्रियां हटाने के लिए घरेलू उपाय - Home remedies for facial wrinkles in Hindi
  2. चेहरे की झुर्रियां हटाने के उपाय - Wrinkles remove tips in Hindi
  3. झुर्रियों से छुटकारा पाने का तरीका - How to get rid of wrinkles at home in Hindi
  4. चेहरे की झुर्रियां हटाने के घरेलू उपाय के डॉक्टर

इन घरेलू उपाय की मदद से आप चेहरे की झुर्रियों से आसानी से छुटकारा पा सकते हैं - 

शहद - Honey good for wrinkles in Hindi

सामग्री -

  1. कच्चा शहद।

विधि -

  1. सबसे पहले शहद लें।
  2. अब उसे अपनी त्वचा पर लगाकर कुछ मिनट तक मालिश करें।
  3. मालिश के बाद त्वचा पर उसे आधे घंटे के लिए ऐसे ही लगा हुआ छोड़ दें।
  4. आधे घंटे के बाद गुनगुने पानी से त्वचा को धो लें।
  5. इसके अलावा आप अदरक के कुछ टुकड़े करके शहद में डालकर लगा सकते है।
  6. इस मिश्रण से भी आपको एक अच्छा परिणाम देखने को मिलेगा।

शहद का इस्तेमाल कब करें -

स्वस्थ और जवान त्वचा पाने के लिए इस मिश्रण का इस्तेमाल रोज़ाना करें।

झुर्रियों को रोकने के लिए शहद के फायदे -

जीवन में अधिक काम आपकी आँखों और उम्र पर असर डालता है जिस वजह से झुर्रिया दिखने लगती है। शहद आपका PH संतुलन बनाये रखता है जिसकी मदद से झुर्रिया और फाइन लाइन्स की समस्या नहीं होती। 

(और पढ़ें - शहद के फायदे और नुकसान)

नींबू का जूस - Lemon juice to reduce wrinkles in Hindi

सामग्री -

  1. नींबू का जूस।
  2. शहद।

विधि -

  1. नींबू का जूस और शहद को बराबर मात्रा में मिलाएं।
  2. अब इस मिश्रण को अपने चेहरे और गर्दन पर लगाएं।
  3. लगाने के बाद मिश्रण को 10 मिनट तक सूखने दें।
  4. 10 मिनट के बाद चेहरे और गर्दन को पानी से साफ़ कर लें।

नींबू का जूस का इस्तेमाल कब करें -

आप इस मिश्रण को हफ्ते में दो बार ज़रूर लगाएं।

झुर्रियों को रोकने के लिए नींबू का जूस के फायदे -

नींबू का जूस गर्मियों में सिर्फ आपकी प्यास ही नहीं भुजाता बल्कि सौंदर्य उपचार के लिए भी बहुत फायदेमंद है। इसमें मौजूद विटामिन सी तत्व आपके कोलेजन को फिर से बढ़ाने में मदद करते हैं। विटामिन सी से झुर्रियां और फाइन लाइन्स दूर रहती हैं। 

(और पढ़ें - नींबू के फायदे और नुकसान)

शीया बटर - Shea butter prevent wrinkles in Hindi

सामग्री -

  1. शिया बटर।

विधि -

  1. सबसे पहले शिया बटर को प्रभावित क्षेत्र पर लगाएं।
  2. इसके बाद कुछ मिनट तक त्वचा पर शिया बटर से मालिश करें।
  3. आधा घंटे तक इसे ऐसे ही लगा हुआ छोड़ दें।
  4. आधे घंटे बाद शिया बटर को पानी से साफ़ कर लें।

शीया बटर का इस्तेमाल कब करें -

इस प्रक्रिया को नहाने के बाद रोज़ इस्तेमाल करें।

झुर्रियों को रोकने के लिए शीया बटर के फायदे -

शिया मक्खन त्वचा के लिए अत्यधिक हाइड्रेटिंग है यह त्वचा के लचीलेपन को बनाये रखता है और कोलेजन के उत्पादन को बढ़ावा देता है। 

ग्रीन टी - Green tea prevent wrinkles in Hindi

सामग्री -

  1. 1 ग्रीन टी बैग।
  2. एक कप गर्म पानी।
  3. शहद (ऑप्शनल)।

विधि -

  1. कुछ मिनट के लिए ग्रीन टी के बैग को गर्म पानी में डालकर रखें।
  2. गर्म पानी में ग्रीन टी मिक्स होने के बाद उसमे शहद मिलाएं।
  3. अब चाय को गर्म गर्म पीलें।

ग्रीन टी का इस्तेमाल कब करें -

पूरे दिन में दो से तीन कप रोज़ाना ज़रूर पियें।

झुर्रियों को रोकने के लिए ग्रीन टी के फायदे -

ग्रीन टी एंटीऑक्सिडेंट्स के गुण से भरपूर होती है जो शरीर को साफ करने में मदद करती है साथ ही त्वचा की झुर्रियों को भी कम कर देती है। 

(और पढ़ें - ग्रीन टी के फायदे और नुकसान, बनाने की विधि और पीने का सही समय)

कीवी फल - How to use kiwi fruit for wrinkles in Hindi

सामग्री -

एक मध्यम आकार की कीवी।

विधि -

  1. सबसे पहले कीवी को छील लें और दो टुकड़ों में काट लें।
  2. अब इसका मिक्सर में पेस्ट तैयार कर लें।
  3. इस पेस्ट को चेहरे पर लगाएं और 15 मिनट तक इसे ऐसे ही लगा हुआ छोड़ दें।
  4. 15 मिनट के बाद चेहरे को पानी से साफ़ कर लें।

कीवी फल का इस्तेमाल कब करें -

हफ्ते में दो बार कीवी को कीवी पेस्ट के रूप में इस्तेमाल करें।

झुर्रियों को रोकने के लिए कीवी फल के फायदे -

कीवी एंटीऑक्सिडेंट से समृद्ध होती है जैसे विटामिन सी, विटामिन ई और लाइकोपीन। ये इलास्टिन और कोलेजन के उत्पादन को बढ़ावा देती है। (और पढ़ें - किवी के फायदे और नुकसान)

दुनिया भर के लोगों द्वारा जांच के बाद हमने आपको ये घरेलू उपाय इस लेख में बताएं हैं। प्रत्येक उपाय के तत्वों में बेहद फायदेमंद गुण हैं जो आपकी झुर्रियों को कम करने में मदद करेंगे साथ ही आपकी त्वचा को भी स्वस्थ रखेंगे। झुर्रियों से छुटकारा पाने के लिए और भविष्य में उन्हें रोकने के लिए नियमित रूप से इन उपायों का प्रयोग करते रहें।

चेहरे की झुर्रियां हटाने के उपाय के लिए निम्नलिखित तरीकों का उपयोग करके झुर्रियों को चेहरे हटा सकते हैं -

सेब का सिरका - Apple cider vinegar remove wrinkles in Hindi

सामग्री -

  1. 1 चम्मच सेब का सिरका।
  2. 1 चम्मच शहद।

विधि -

  1. सबसे पहले सेब का सिरका और शहद को मिक्स कर लें।
  2. अब इस मिश्रण को अपने चेहरे और गर्दन पर लगाएं।
  3. लगाने के बाद इस मिश्रण से चेहरे और गर्दन पर मालिश करें।
  4. इसे 15-20 मिनट के लिए ऐसे ही लगा हुआ छोड़ दें।
  5. अब इस मिश्रण को गुनगुने पानी से धो लें और सूखने दें।
  6. इसके बाद मॉइस्चराइज़र लगाएं।

सेब के सिरका का इस्तेमाल कब करें -

इस मिश्रण को हफ्ते में दो बार ज़रूर लगाएं।

झुर्रियों को रोकने के लिए सेब के सिरका के फायदे -

सेब साइडर सिरका में PH को संतुलित रखने का गुण और शहद के फायदे आपकी त्वचा को चमकदार और जवान बनाएं रखते हैं। 

(और पढ़ें - सेब के सिरके के फायदे और नुकसान)

वैसलीन - How to remove pimples with vaseline in Hindi

सामग्री -

  1. वैसलीन या पेट्रोलियम जेली।

विधि -

  1. वैसलीन को लें और अपने प्रभावित क्षेत्रों पर उसे लगाएं।
  2. लगाने के बाद कुछ मिनट तक उन क्षेत्रों पर मालिश करें जिससे वैसलीन आसानी से अवशोषित हो सके।
  3. इसे रात को सोने से पहले लगाएं और रातभर ऐसे ही लगा छोड़ दें।

वैसलीन का इस्तेमाल कब करें -

रोज़ रात को सोने से पहले वैसलीन को लगाएं। रोज़ लगाने से आपको एक अच्छा परिणाम देखने को मिलेगा। 

झुर्रियों को रोकने के लिए वैसलीन के फायदे -

झुर्रियों के लिए पेट्रोलियम जेली का उपयोग करना बेहद फायदेमंद होता है। इसका इस्तेमाल सेलिब्रिटी भी अपनी झुर्रियों को कम करने के लिए करते हैं। यह त्वचा में नमी बनाये रखता है। यह अभी भी साफ़ नहीं है कि एक वैसलीन कैसे झुर्रियों को कम कर सकती है लेकिन इस उपाय से आपको किसी भी तरह का नुकसान नहीं होगा क्यूंकि पेट्रोलियम जेली एक सुरक्षित उपाय है।

सावधानी - इसका इस्तेमाल कील-मुहासों वाली त्वचा पर न करें। 

(और पढ़ें - झुर्रियां हटाने के लिए करें वैसलीन का इस्तेमाल)

अंडे - Egg white good for wrinkles in Hindi

सामग्री -

  1. एक अंडे की सफेदी।

विधि -

  1. सबसे पहले आराम से अंडे से उसकी सफेदी निकाले।
  2. अब अंडे की सफेदी से त्वचा पर कुछ मिनट तक मसाज करें।
  3. जब यह पूरी तरह से सूख जाये तो गुनगुने पानी से त्वचा को साफ़ कर लें।

अंडे का इस्तेमाल कब करें -

अंडे की सफेदी को हफ्ते में दो बार ज़रूर लगाएं।

झुर्रियों को रोकने के लिए अंडे के फायदे -

झुर्रियों के लिए मिलने वाली क्रीम की जगह पर आप अंडे की सफेदी का इस्तेमाल करें। इस आसान से घरेलू उपाय से आप झुर्रियों और ढीली त्वचा की समस्या को कम कर पाएंगे। अंडे की सफेदी आपकी त्वचा और फाइन लाइन को टाइट रखने में मदद करेगी। 

(और पढ़ें - अंडे के फायदे)

एवोकैडो - Avocado remove wrinkles in Hindi

सामग्री -

  1. एक एवोकैडो।

विधि -

  1. एवोकैडो के छिलके और गुठली को सबसे पहले निकाल दें।
  2. अब गूदे को मैश कर लें जिससे कि एक अच्छा पेस्ट तैयार हो सके।
  3. नहाने से पहले इस पेस्ट को त्वचा पर 20 से 30 मिनट तक लगाएं।

एवोकैडो का इस्तेमाल कब करें -

हफ्ते में इस मिश्रण को एक या दो बार ज़रूर लगाएं।

झुर्रियों को रोकने के लिए एवोकैडो के फायदे -

क्या आपने कभी अपनी पसंदीदा झुर्रियों की क्रीम में मौजूद इंग्रीडिएंट्स पर गौर किया है। आपको उसमे एवोकैडो का मिश्रण ज़रूर मिलेगा। यह फल उन लोगो के लिए फायदेमंद है जिन लोगो को समय से पहले झुर्रियां होने लगती है। इसके साथ ही ये झुर्रियों को दूर रखता है और आपकी त्वचा को स्वस्थ बनाये रखता है। इसके नियमित इस्तेमाल से आपकी त्वचा चमकदार रहेगी। 

(और पढ़ें - एवोकाडो के फायदे)

एलोवेरा - How to use aloe vera for wrinkles in Hindi

सामग्री -

  1. 1 बड़ा चम्मच एलो वेरा का गूदा।
  2. 1 अंडे की सफेदी।

विधि -

  1. सबसे पहले एलो वेरा का एक चम्मच गूदा निकालें।
  2. और एक अंडे की सफेदी के साथ इसे मिला दें।
  3. अब इस मिश्रण को चेहरे पर लगाएं और हल्के हाथ से इससे मालिश करें।
  4. इस मिश्रण को लगाने के बाद एक घंटे के लिए ऐसे ही लगा छोड़ दें।
  5. एक घंटे के बाद अपने चहेरे को पानी से धो लें।
  6. आप सिर्फ एलो वेरा का गूदा भी लगा सकते हैं।

एलो वेरा का इस्तेमाल कब करें -

इस पेस्ट का इस्तेमाल हफ्ते में दो बार ज़रूर करें।

झुर्रियों को रोकने के लिए एलो वेरा के फायदे -

एलो वेरा जेल में विटामिन ई पाया जाता है और अगर अंडे की सफेदी के साथ आप इसको इस्तेमाल करते हैं तो ये आपकी त्वचा के लिए बेहद लाभदायक रहेगा। एलो वेरा जेल मृत त्वचा के लिए भी फायदेमंद है। इसमें एंटीऑक्सिडेंट और सूजनरोधी गुण पाए जाते हैं। 

(और पढ़ें - एलोवेरा के फायदे और नुकसान)

झुर्रियों से छुटकारा पाने के तरीके के लिए आप निम्नलिखित चीजों का उपयोग करके चेहरे की झुर्रियों से छुटकारा पा सकते हैं -

नारियल का तेल - Coconut oil to reduce wrinkles in Hindi

सामग्री -

  1. नारियल का तेल।

विधि -

  1. सबसे पहले हाथों में ज़रा सा नारियल का तेल लें।
  2. अब नारियल के तेल को दो उँगलियों से लें और अपनी आँखों के नीचे लगाएं।
  3. और जहां जहां झुर्रियों का प्रभाव है वहां वहां नारियल का तेल लगाएं।
  4. नारियल के तेल को सोने से पहले लगाएं और उसे पूरी रात ऐसे ही लगा हुआ छोड़ दें। 

नारियल तेल का इस्तेमाल कब करें -

रात को सोने से पहले हर रात इस प्रक्रिया को दोहराएं। (और पढ़ें - नारियल तेल से बने ये प्राकृतिक उपाय हैं चेहरे की झुर्रियां हटाने में दमदार)

झुर्रियों को रोकने के लिए नारियल तेल के फायदे -

नारियल का तेल आपकी त्वचा को एक प्राकृतिक चमक देता है। इसके रोज़ाना के उपयोग से आप अपनी झुर्रियों और लाइनों को कम कर पाएंगे। क्यूंकि नारियल का तेल आपकी त्वचा को नमी देता है और हमेशा हाइड्रेटेड रखता है। 

(और पढ़ें - नारियल तेल के फायदे और नुकसान)

अरंडी का तेल - Castor oil help wrinkles in Hindi

सामग्री -

  1. अरंडी का तेल।
  2. रूई।

विधि -

  1. सबसे पहले अरंडी का तेल लें।
  2. अब उसमे रूई डुबोएं और उसे प्रभावित क्षेत्रों पर लगाएं।
  3. रात को सोने से पहले इस प्रक्रिया का इस्तेमाल करें।
  4. इसे पूरी रात ऐसे ही लगा हुआ छोड़ दें।

अरंडी के तेल का इस्तेमाल कब करें -

इस प्रक्रिया को रोज़ाना रात को सोने से पहले दोहराएं।

झुर्रियों को रोकने के लिए अरंडी के तेल के फायदे -

अरंडी का तेल त्वचा में इलास्टिन और कोलेजन का उत्पादन बढ़ाता है। इसके परिणामस्वरूप आपकी झुर्रियां और फाइन लाइन्स कम हो जाएंगी और लगातार इसके इस्तेमाल से गायब भी हो जाएंगी। 

(और पढ़ें - अरंडी के तेल के फायदे और नुकसान)

ग्रेप सीड तेल - Grapeseed oil good for wrinkles in Hindi

सामग्री -

  1. अंगूर के बीज की कुछ बूँदें या अंगूर के बीज के तेल की कुछ बूँदें।

विधि -

  1. अंगूर के बीज की बूँदें या अंगूर के बीज के तेल की बूँदें अपने प्रभावित क्षेत्र पर लगाएं।
  2. अब उस तेल से प्रभावित क्षेत्र पर मालिश करें।
  3. मालिश करने के बाद आप तेल को जब तक चाहे तब तक लगा हुआ छोड़ सकते हैं।
  4. अब जहां तेल आपने लगाया था उस जगह को ठंडे पानी से धो लें।

ग्रेप सीड तेल का इस्तेमाल कब करें -

इस प्रक्रिया को कुछ हफ़्तों तक ज़रूर करें। इसके इस्तेमाल से आप देखेंगे कि आपकी त्वचा झुर्रिया से मुक्त हो गयी हैं।

झुर्रियों को रोकने के लिए ग्रेप सीड तेल के फायदे -

अंगूर आपकी झुर्रियों को ढक देता है। इस छोटे से फल का बीज आपकी त्वचा को टाइट और स्वस्थ रखेगा। इसके इस्तेमाल से आपकी त्वचा को फैटी एसिड, पॉलीफेनोल और विटामिन ई मिलता है जिससे आपकी त्वचा चमकदार और झुर्रियां रहित रहेगी।

(और पढ़ें - अंगूर के बीज के तेल के फायदे और नुकसान)

विटामिन ई - Vitamin E reduce wrinkles in Hindi

सामग्री -

  1. विटामिन ई कैप्सूल।

विधि -

  1. सबसे पहले विटामिन ई के कैप्सूल्स खोलें।
  2. अब उसमे मौजूद तेल को एक कटोरी में निकाल लें।
  3. जितने तेल की ज़रूरत है आप उतने कैप्सूल का इस्तेमाल कर सकते है।
  4. अब उस तेल को प्रभावित क्षेत्रों पर लगाकर कुछ मिनट तक मालिश करें।
  5. अब इस तेल को कुछ घंटों के लिए लगा हुआ छोड़ दें।
  6. कुछ घंटे के बाद त्वचा को ठंडे पानी से साफ़ कर लें।

विटामिन ई का इस्तेमाल कब करें -

सोने से पहले रोज़ रात को इस प्रक्रिया को दोहराएं।

झुर्रियों को रोकने के लिए विटामिन ई के फायदे -

विटामिन ई के हाइड्रेटिंग और एंटीऑक्सिडेंट गुण आपकी त्वचा को नमी और ताज़गी प्रदान करते हैं। यह त्वचा को स्वस्थ रखता है और झुर्रियों को कम करता है। 

(और पढ़ें - विटामिन ई के स्रोत)

आर्गन तेल - Benefits of argan oil for wrinkles in Hindi

सामग्री -

  1. ऑर्गन तेल की कुछ बूँदें।

विधि -

  1. आर्गन तेल लें।
  2. अब उस तेल को अपने प्रभावित क्षेत्रों पर लगाएं।
  3. लगाने के बाद तेल से त्वचा पर मालिश करें।
  4. और कुछ देर इसे ऐसे ही त्वचा पर लगा हुआ छोड़ दें।
  5. अब पानी से त्वचा को धो लें।

आर्गन तेल का इस्तेमाल कब करें -

पूरे दिन में इस तेल को एक या दो बार ज़रूर लगाएं।

झुर्रियों को रोकने के लिए आर्गन तेल के फायदे -

ऑर्गन तेल आसानी से त्वचा में अवशोषित हो जाता है। इसमें फैटी एसिड और विटामिन ई की उच्च मात्रा होती है जो त्वचा को स्वस्थ रखती है। इसका नियमित उपयोग झुर्रियों और फाइन लाइन्स को कम कर देता है। 

(और पढ़ें - आर्गन के तेल के फायदे)

रोज़हिप तेल - Rosehip oil best for wrinkles in Hindi

सामग्री -

  1. रोज़हिप तेल की 3-4 बूंदें।

विधि -

  1. सोने से पहले रात को रोज़हिप तेल को चेहरे पर लगाएं।
  2. अब उस तेल से चेहरे पर हल्के हाथ से मालिश करें तब तक जब तक की तेल त्वचा में अवशोषित न हो जाये।
  3. रातभर इस तेल को ऐसे ही लगा हुआ छोड़ दें।

रोज़हिप तेल का इस्तेमाल कब करें -

रोज़हिप तेल को रोज़ाना रात को सोने से पहले ज़रूर लगाएं।

झुर्रियों को रोकने के लिए रोज़हिप तेल के फायदे -

यह तेल आपकी झुर्रियों और समय से होने वाले बुढ़ापे के अन्य लक्षणों के लिए बेहद प्रभावी है। इसमें मौजूद विटामिन ए, विटामिन ई और फैटी एसिड त्वचा की परतों में जाकर दाग-धब्बे और झुर्रियों को खत्म कर देते हैं। 

(और पढ़ें - अपनी त्वचा की कसावट के लिए उपयोग करें इन बेस्ट तेलों का)

 

जोजोबा तेल - Jojoba oil for face wrinkles in Hindi

सामग्री -

  1. जोजोबा का तेल।

विधि -

  1. थोड़ा सा जोजोबा तेल लें।
  2. अब उसे अपने चेहरे पर लगाएं।
  3. लगाने के बाद हल्के हाथ से त्वचा पर मालिश करें।
  4. इसे कुछ घंटे के लिए ऐसे ही लगा हुआ छोड़ दें।
  5. कुछ घंटे बाद चेहरे को पानी से धो लें।

जोजोबा तेल का इस्तेमाल कब करें -

झुर्रियों से मुक्ति पाने के लिए रोज़ इस तेल का इस्तेमाल करें।

झुर्रियों को रोकने के लिए जोजोबा तेल के फायदे -

जोजोबा तेल प्राकृतिक तेल के समान है। यह आसानी से त्वचा में अवशोषित हो जाता है। नियमित उपयोग से आपकी झुर्रिया और फाइन लाइन्स भी कम होंगी। 

(और पढ़ें - जोजोबा तेल के फायदे और नुकसान)

कलोंजी का तेल - Kalonji oil for wrinkles in Hindi

सामग्री -

  1. 1 चम्मच जैतून का तेल।
  2. 1/2 चम्मच कलोंजी का तेल (काली बीज का तेल)।

विधि -

  1. जैतून का तेल कलोंजी का तेल एक साथ मिलाएं।
  2. अब इस मिश्रण को प्रभावित क्षेत्रों पर लगाएं।
  3. कुछ घंटो के लिए इस मिश्रण को ऐसे ही लगा हुआ छोड़ दें।
  4. कुछ घंटे के बाद इस मिश्रण को पानी से न धोएं।
  5. फिर इस मिश्रण को पानी से साफ़ कर लें।

कलोंजी का तेल का इस्तेमाल कब करें -

रोज़ रात सोने से पहले इस मिश्रण को ज़रूर लगाएं। (और पढ़ें - कलौंजी के फायदे और नुकसान)

झुर्रियों को रोकने के लिए कलोंजी का तेल के फायदे -

मध्य पूर्व और दक्षिण पूर्व एशिया में इसके गुणों की वजह से इसे इस्तेमाल किया जाता है। काले बीज का तेल या कलोंजी का तेल फाइटोकेमिकल्स के गुण से भरपूर होता है जो शरीर और त्वचा के लिए बेहद फायदेमंद है। इसके असंतृप्त फैटी एसिड (unsaturated fatty acids) जैसे लिनोलिक एसिड (linoleic acid) और ऑलीक एसिड (oleic acid) त्वचा को नमी प्रदान करते हैं। 

(और पढ़ें - जैतून के तेल के फायदे और नुकसान)

Dr. Avinash Jhariya

Dr. Avinash Jhariya

डर्माटोलॉजी
5 वर्षों का अनुभव

Dr. R.K . Tripathi

Dr. R.K . Tripathi

डर्माटोलॉजी
12 वर्षों का अनुभव

Dr. Deepak Kumar Yadav

Dr. Deepak Kumar Yadav

डर्माटोलॉजी
2 वर्षों का अनुभव

Dr. Alpana Mohta

Dr. Alpana Mohta

डर्माटोलॉजी
3 वर्षों का अनुभव

और पढ़ें ...

संदर्भ

  1. Nemours Children’s Health System [Internet]. Jacksonville (FL): The Nemours Foundation; c2017; What Are Wrinkles?
  2. Better health channel. Department of Health and Human Services [internet]. State government of Victoria; Wrinkles
  3. Jensen Gitte S, Shah Bijal,Holtz Robert, Patel Ashok, and Lo Donald C. Reduction of facial wrinkles by hydrolyzed water-soluble egg membrane associated with reduction of free radical stress and support of matrix production by dermal fibroblasts. Clin Cosmet Investig Dermatol. 2016; 9: 357–366. PMID: 27789968.
  4. Tanaka Miyuki, et al. Aloe sterol supplementation improves skin elasticity in Japanese men with sunlight-exposed skin: a 12-week double-blind, randomized controlled trial. Clin Cosmet Investig Dermatol. 2016; 9: 435–442. PMID: 27877061.
  5. Tanaka Miyuki, et al. Effects of plant sterols derived from Aloe vera gel on human dermal fibroblasts in vitro and on skin condition in Japanese women. Clin Cosmet Investig Dermatol. 2015; 8: 95–104. PMID: 25759593.
  6. Keen Mohammad Abid and Hassan Iffat. Vitamin E in dermatology. Indian Dermatol Online J. 2016 Jul-Aug; 7(4): 311–315. PMID: 27559512.
  7. Pereira A, Maraschin M. Banana (Musa spp) from peel to pulp: ethnopharmacology, source of bioactive compounds and its relevance for human health. J Ethnopharmacol. 2015;160:149–163. PMID: 25449450.
  8. Sampath Kumar K. P., Bhowmik Debjit, Duraivel S., and Umadevi M. Traditional and Medicinal Uses of Banana . Journal of Pharmacognosy and Phytochemistry. 2012; 1(3): 51-63.
  9. Caberlotto Elisa, et al. Effects of a skin-massaging device on the ex-vivo expression of human dermis proteins and in-vivo facial wrinkles. PLoS One. 2017; 12(3): e0172624. PMID: 28249037.
  10. Boucetta Kenza, et al. The effect of dietary and/or cosmetic argan oil on postmenopausal skin elasticity. Clin Interv Aging. 2015; 10: 339–349. PMID: 25673976.
ऐप पर पढ़ें
cross
डॉक्टर से अपना सवाल पूछें और 10 मिनट में जवाब पाएँ