बाेटोक्स हेयर ट्रीटमेंट बालों के लिए एक कॉस्मेटिक ट्रीटमेंट है. इसकी मदद से बालों की मजबूती और विकास को बढ़ावा मिलता है. साथ ही इसके इस्तेमाल से बालों में चमक आती है और डैमेज बाल फिर से रिपेयर हो सकते हैं. हेयर ट्रीटमेंट के लिए दो तरह के बोटोक्स ट्रीटमेंट इस्तेमाल किए जाते हैं. ऐसे में यह समझना जरूरी है कि किस तरह के बालों के लिए कौन का बोटोक्स हेयर ट्रीटमेंट लेना चाहिए.

आज इस लेख में आप बोटोक्स हेयर के फायदे, असर और सावधानी के बारे में विस्तार से जानेंगे -

(और पढ़ें - सर्दियों में बालों की देखभाल)

  1. बोटोक्स हेयर ट्रीटमेंट क्या है?
  2. क्या बोटोक्स हेयर ट्रीटमेंट सुरक्षित है?
  3. बोटोक्स हेयर ट्रीटमेंट के फायदे
  4. बोटोक्स हेयर ट्रीटमेंट का असर
  5. बोटोक्स हेयर ट्रीटमेंट के संबंध में सावधानी
  6. बोटोक्स हेयर ट्रीटमेंट की कीमत
  7. सारांश
बाेटोक्स हेयर ट्रीटमेंट : फायदे, असर, सावधानी व कीमत के डॉक्टर

बालों की सुंदरता को बढ़ाने के लिए बोटोक्स हेयर ट्रीटमेंट किया जाता है. बोटोक्स ट्रीटमेंट दो तरह के होते हैं. एक में तो बालों पर क्रीम जैसा कुछ लगाया जाता है. इससे डैमेज बालों को रिपेयर करने में मदद करती है. साथ ही इससे बालों की चमक को बढ़ावा मिलता है. इसके अलावा, इस ट्रीटमेंट की मदद से बालों को स्वस्थ भी रखा जा सकता है.

दूसरे तरह के बोटोक्स ट्रीटमेंट में स्कैल्प में बोटोक्स को इंजेक्ट किया जाता है. ध्यान रहे कि यह ट्रीटमेंट स्वास्थ्य के लिए नुकसानदेह भी हो सकता है. बोटोक्स मुख्य रूप से बोटुलिनम टॉक्सिन (botulinum toxin) से बना एक यौगिक है. यह ऐसा पदार्थ है, जो मसल्स पैरालायसिस (Muscle Paralysis) का कारण बन सकता है.

बोटुलिनम टॉक्सिन की अधिकता विषाक्त हो सकती है. इसलिए कई डॉक्टर्स इसे कम से कम मात्रा में उपयोग करने की सलाह देते हैं. इसकी वजह से पसीना कम आना, माइग्रेनथकी आंखें और निगलने में परेशानी जैसी समस्या हो सकती है.

(और पढ़ें - क्षतिग्रस्त बालों के लिए आसान घरेलू उपाय)

हालांकि, इस ट्रीटमेंट को सुरक्षित माना गया है, लेकिन कुछ लोगों को इससे त्वचा में जलन या एलर्जी की समस्या हो सकती है. ऐसे में इन दुष्प्रभावों के जोखिम को कम करने के लिए इस ट्रीटमेंट में इस्तेमाल होने वाले प्रोडक्ट को त्वचा के संपर्क में नहीं आने देना चाहिए.

(और पढ़ें - डैमेज बालों का इलाज)

बोटोक्स हेयर ट्रीटमेंट लेने से बालों को कई तरह से लाभ हो सकते हैं. यह डैमेज बालों की रिपेयरिंग करने के साथ-साथ बालों में चमक ला सकता है. आइए, इसके फायदों के बारे में विस्तार से जानते हैं -

फ्री-रेडिकल्स से बचाव

बोटोक्स हेयर ट्रीटमेंट की मदद से बालों को फ्री-रेडिकल्स से बचाया जा सकता है. दरअसल, बोटोक्स ट्रीटमेंट में कैवियार तेल का इस्तेमाल होता है, जो कई तरह के विटामिन से भरपूर होता है. यह फ्री-रेडिकल्स से होने वाली क्षति को रोकने में मददकार हो सकता है. बस ध्यान रखें कि उम्र बढ़ने के साथ-साथ इसका असर कम होने लगता है, जिसकी वजह से बालों को फायदा होने की जगह नुकसान हो सकता है. 

(और पढ़ें - बालों को मुलायम बनाने के उपाय)

डैमेज बाल करे रिपेयर

बोटोक्स हेयर ट्रीटमेंट से बालों को कोलेजन प्राप्त होता है, जो एक तरह का प्रोटीन है. इस प्रोटीन की मदद से डैमेज बालों की रिपेयरिंग की जा सकती है. खासतौर से हीट स्टाइलिंग की वजह से डैमेज बालों को ठीक करने में बोटोक्स हेयर ट्रीटमेंट मददगार हो सकता है.

(और पढ़ें - बालों के विकास के 4 चरण)

बालों को रखे हाइड्रेट

बालों को स्वस्थ रखने के लिए बोटोक्स हेयर ट्रीटमेंट लिया जा सकता है. यह बालों को नमी प्रदान करके डाइड्रेट रखने में असरदार है. बोटोक्स से बालों की गहरी कंडीशनिंग होती है. साथ ही यह बालों की लोच में भी सुधार कर सकता है. 

(और पढ़ें - बालों को सूरज से बचाने के तरीके)

बालों की बढ़ाए चमक

बोटोक्स हेयर ट्रीटमेंट की मदद से बालों की ड्राईनेस कम की जा सकती है. इससे बालों की कंडीशनिंग होती है, जो बालों की कोमलता को बढ़ावा देता है. 

(और पढ़ें - तैलीय बालों के लिए घरेलू उपाय)

ऐसा माना जाता है कि बालों पर बोटोक्स का प्रभाव 2-4 महीनों के बीच रहता है. बोटोक्स का असर लंबे समय तक बनाए रखने के लिए कम-सल्फेट या सल्फेट-फ्री शैंपू उपयोग करने की सलाह दी जा सकती है. बोटोक्स हेयर ट्रीटमेंट का बेहतर रिजल्ट पाने के लिए इस बात का ध्यान रखें कि किसी विश्वसनीय सैलून में ही जाएं. हेयर स्टाइलिस्ट से ट्रीटमेंट की जानकारी सही से लें. इस बात को जानने की कोशिश करें कि बोटोक्स ट्रीटमेंट में उपयोग किए गए प्रोडक्ट्स सर्टिफाइड विक्रेताओं से खरीदे गए हैं या नहीं. इससे बोटोक्स ट्रीटेमेंट का सही रिजल्ट मिल सकता है.

(और पढ़ें - बालों में तेल लगाने के फायदे)

बालों की मजबूती और गुणवत्ता को बेहतर करने के लिए कई लोग बोटोक्स हेयर ट्रीटमेंट का सहारा लेते हैं, लेकिन कुछ स्थितियों में इसके विपरीज रिजल्ट मिल सकते हैं. ऐसे में बोटोक्स हेयर ट्रीटमेंट लेने से पहले कुछ बातों का ध्यान रखें -

  • बोटोक्स हेयर ट्रीटमेंट साल में तीन से चार ही लें. इससे अधिक ट्रीटमेंट लेने से बाल काफी ज्यादा डैमेज हो सकते हैं.
  • कुछ लोगों में बोटोक्स ट्रीटमेंट सही से काम नहीं करता है. साथ ही यह काफी महंगा होता है. ऐसे में इस बात का ध्यान जरूर रखें.
  • स्कैल्प में बोटोक्स इंजेक्शन लेने से कर्ली हेयर वालों को कम समय के लिए रिजल्ट मिल सकता है.
  • बोटोक्स इंजेक्शन काफी ज्यादा महंगा होता है. इसलिए इस ट्रीटमेंट को लेना आपकी जेब को ढीला कर सकता है.

(और पढ़ें - घुंघराले बाल सीधा करने के टिप्स)

भारत बाजार में बोटोक्स हेयर ट्रीटमेंट की कीमत करीब 11 हजार से लेकर 23 हजार के बीच है. सैलून, क्षेत्र व राज्य के अनुसार यह कीमत कम व ज्यादा हो सकती है.

(और पढ़ें - ऑयली बालों के लिए हेयर सीरम)

इस महंगे ट्रीटमेंट पर हजारों रुपये खर्च करने से बेहतर है कि बालों के विकास के लिए Sprowt Biotin का सेवन किया जाए, जो पूरी तरह से सुरक्षित है और इसका सेवन करना भी आसान है -

बोटोक्स ट्रीटमेंट बालों के लिए काफी अच्छा साबित हो सकता है. हालांकि, ध्यान रखें कि अधिक बोटोक्स ट्रीटमेंट लेने से बालों और स्वास्थ्य को नुकसान पहुंच सकता है. इसलिए, साल में 2 से 3 बार ही बोटोक्स ट्रीटमेंट लें. वहीं, अगर आप पहली बार बोटोक्स ट्रीटमेंट ले रहे हैं, तो एक्सपर्ट से सलाह जरूर लें.

(और पढ़ें - बालों को स्वस्थ रखने के उपाय)

Dr. Raju Singh

Dr. Raju Singh

डर्माटोलॉजी
1 वर्षों का अनुभव

Dr. Afroz Alam

Dr. Afroz Alam

डर्माटोलॉजी
4 वर्षों का अनुभव

Dr. Pranjal Praveen

Dr. Pranjal Praveen

डर्माटोलॉजी
5 वर्षों का अनुभव

Dr. Nihal Yadav

Dr. Nihal Yadav

डर्माटोलॉजी
5 वर्षों का अनुभव

ऐप पर पढ़ें