वाहिकाशोफ (एंजियोडीमा) - Angioedema in Hindi

Dr. Ayush PandeyMBBS

November 12, 2018

March 06, 2020

कई बार आवाज़ आने में कुछ क्षण का विलम्ब हो सकता है!
वाहिकाशोफ
सुनिए कई बार आवाज़ आने में कुछ क्षण का विलम्ब हो सकता है!

एंजियोडिमा क्या है?

एंजियोडिमा या वाहिकाशोफ एक ऐसी स्थिति है जिसमें छोटी रक्त वाहिकाएं ऊतकों में तरल पदार्थ का रिसाव करती हैं, जिससे सूजन हो जाती है। त्वचा की सतह पर गोल घेरेदार सूजन होती है जिसे पित्ती (अर्टिकेरिया) कहा जाता है। एंजियोडिमा के कारण ऊतकों की गहराई में भी सूजन होती है। लगभग 20% लोगों को अपने जीवन में कभी न कभी पित्ती होती है और इनमें से 3 में से लगभग 1 व्यक्ति को एंजियोडिमा भी होता है।

(और पढ़ें - पित्ती ठीक करने के घरेलू उपाय)

एंजियोडिमा शरीर में आमतौर पर चेहरे, होंठ, जीभ, गले और जननांग जैसे क्षेत्रों में होते हैं। किसी क्षेत्र में सूजन आमतौर पर 1 से 3 दिनों तक रहती है। कभी-कभी एंजियोडिमा से एसोफैगस, पेट या आंत जैसे आंतरिक अंगों की सूजन सीने में दर्द या पेट दर्द का कारण बन सकती है।

(और पढ़ें - छाती में दर्द होने पर क्या करें)

एंजियोडिमा के लक्षण क्या हैं?

त्वचा की सतह के नीचे लाल रंग के धब्बे के साथ सूजन एंजियोडिमा या वाहिकाशोफ का सबसे आम लक्षण है। यह पैरों, हाथों, आंखों या होंठों के पास हो सकती है। अधिक गंभीर मामलों में, सूजन शरीर के अन्य हिस्सों में भी फैल सकती है। एंजियोडिमा के कारण होने वाली सूजन त्वचा की सतह पर दिख भी सकती है और नहीं भी।

एंजियोडिमा के अन्य लक्षणों में पेट में ऐंठन तथा कुछ दुर्लभ मामलों में, एंजियोडिमा वाले लोगों को गले में सूजन, गला बैठने और सांस लेने में कठिनाई जैसे लक्षण हो सकते हैं। एंजियोडिमा में खुजली भी हो सकती है।

(और पढ़ें - खुजली दूर करने के तरीके)

एंजियोडिमा क्यों होता है?

एक्यूट एंजियोडिमा आमतौर पर एलर्जिक रिएक्शन का परिणाम होता है। जब आपको कोई एलर्जी होती है, तो आपका शरीर हिस्टामाइन का उत्पादन करता है। हिस्टामाइन आपकी रक्त वाहिकाओं में फैल जाता है और तरल पदार्थ के रिसाव का कारण बनता है।

इसके अतिरिक्त, कुछ दवाएं गैर-एलर्जिक एंजियोडिमा का कारण बन सकती हैं। एंजियोडिमा किसी संक्रमण या बीमारी के परिणामस्वरूप भी विकसित हो सकता है, जैसे लुपस (एसएलई) या ल्यूकेमिया इत्यादि। इस प्रकार के एंजियोडिमा को अक्वायर्ड एंजियोडिमा कहा जाता है।

वंशानुगत आनुवंशिक उत्परिवर्तन या माता-पिता से म्युटेशन वाले जीन को प्राप्त करने के कारण होने वाले एंजियोडिमा की स्थिति को हेरेडिटरी एंजियोडिमा कहा जाता है।

(और पढ़ें - एलर्जी दूर करने का तरीका)

एंजियोडिमा का इलाज कैसे होता है?

एंजियोडिमा का उपचार इसको पैदा करने वाले कारण पर निर्भर करता है। लेकिन इस स्थिति में सबसे महत्वपूर्ण कार्य रोगी को सांस लेने में मदद सुनिश्चित करना होता है। इसका मतलब है कि आपात स्थिति में, सुरक्षा के लिए एक वेंटीलेटर लगाया जा सकता है।

एलर्जिक रिएक्शन का इलाज एपिनेफ्राइन से किया जा सकता है। एंटीहिस्टामाइन और कॉर्टिकोस्टेरॉइड्स जैसी अन्य दवाओं को भी उपयोग किया जा सकता हैं। यदि एंजियोडिमा का कारण वंशानुगत है, तो रोगी को विशेष दवाएं दी जा सकती हैं।

(और पढ़ें - स्टेरॉयड क्या होते हैं)



संदर्भ

  1. National Health Service [Internet]. UK; Treatment - Angioedema
  2. MSDmannual consumer version [internet].Angioedema. Merck Sharp & Dohme Corp. Merck & Co., Inc., Kenilworth, NJ, USA
  3. Australasian Society of Clinical Immunology and Allergy. Angioedema. Australia; [internet]
  4. American Academy of Family Physicians. Urticaria and Angioedema: A Practical Approach. Am Fam Physician. 2004 Mar 1;69(5):1123-1129.
  5. Allen P Kaplan. Angioedema. World Allergy Organ J. 2008 Jun; 1(6): 103–113. PMID: 23282406

वाहिकाशोफ (एंजियोडीमा) की दवा - Medicines for Angioedema in Hindi

वाहिकाशोफ (एंजियोडीमा) के लिए बहुत दवाइयां उपलब्ध हैं। नीचे यह सारी दवाइयां दी गयी हैं। लेकिन ध्यान रहे कि डॉक्टर से सलाह किये बिना आप कृपया कोई भी दवाई न लें। बिना डॉक्टर की सलाह से दवाई लेने से आपकी सेहत को गंभीर नुक्सान हो सकता है।

दवा का नाम

कीमत

₹12.17

20% छूट + 5% कैशबैक


₹21.49

20% छूट + 5% कैशबैक


₹12.85

20% छूट + 5% कैशबैक


₹17.73

20% छूट + 5% कैशबैक


₹18.62

20% छूट + 5% कैशबैक


₹82.95

20% छूट + 5% कैशबैक


₹7.0

20% छूट + 5% कैशबैक


₹129.0

20% छूट + 5% कैशबैक


₹20.2

20% छूट + 5% कैशबैक


Showing 1 to 10 of 413 entries