हाइपोफोसफैटेसिया - Hypophosphatasia in Hindi

written_by_editorial

March 25, 2019

कई बार आवाज़ आने में कुछ क्षण का विलम्ब हो सकता है!
हाइपोफोसफैटेसिया
कई बार आवाज़ आने में कुछ क्षण का विलम्ब हो सकता है!

हाइपोफोसफैटेसिया क्या है?

हाइपोफोसफैटेसिया बहुत ही दुर्लभ अनुवांशिक विकार है, जिसमें हड्डियों और दांतों का विकास असामान्य तरीके से होता है। यह असामान्यता शरीर में खनिज की कमी से शुरू होती है, क्योंकि हड्डियों और दांतों को खनिज की जरूरत होती है जैसे कैल्शियम और फास्फोरस। इन खनिजों की मदद से आपकी हड्डियां और दांत मजबूत होते हैं। हड्डियों में खनिज पदार्थ की कमी से वे मुलायम हो जाती है और बहुत जल्दी टूट जाती हैं। खनिज की कमी से दांत भी उम्र से पहले टूटने लगते हैं। 

(और पढ़ें - दांत टूटने के कारण)

हाइपोफोसफैटेसिया के लक्षण क्या हैं?

हाइपोफोसफैटेसिया के लक्षण व्यापक रूप से भिन्न होते हैं और जन्म से लेकर वयस्क तक कभी भी दिखाई दे सकते हैं। इस विकार के सबसे गंभीर लक्षण जन्म से पहले और प्रारंभिक अवस्था में देखने को मिलते हैं। हाइपोफोसफैटेसिया हड्डियों को कमजोर व नरम बना देता है, जिसके कारण शरीर के कंकाल में सूखा रोग जैसी कुछ असामान्यताएं आने लग जाती हैं। हाइपोफोसफैटेसिया के रूप जो कि बचपन या वयस्क में दिखाई देते हैं वो प्रारंभिक अवस्था में दिखने वाले लक्षणों के मुकाबले कम होते हैं। 

(और पढ़ें - दूध के दांत टूटने की उम्र)

हाइपोफोसफैटेसिया क्यों होता है?

हाइपोफोसफैटेसिया एक अनुवांशिक स्थिति है जो एएलपीएल (ALPL) जीन में परिवर्तन के कारण होता है। यह जीन शरीर में एंजाइम बनाता है जिसे एल्कलाइन फोस्फाटेस (Alkaline phosphatase) कहते हैं, जिसकी जरूरत दांतों और हड्डी मजबूत करने के लिए पड़ती है। जीन में परिवर्तन के कारण असामान्य तरीके से एन्ज़ाइम बनने लगते हैं, इस तरह शरीर में खनिज मौजूद नहीं रह पाते।

(और पढ़ें - ऑस्टियोपीनिया के कारण)

हाइपोफोसफैटेसिया का इलाज कैसे होता है?

हाइपोफोसफैटेसिया से जुड़े परीक्षण इसके लक्षणों, पहले हुई स्वास्थ्य समस्याओं और कई प्रकार के लैब टेस्ट जैसे एक्स-रे और बायोकेमिकल स्टडी पर निर्भर करते हैं। अगर डॉक्टर हाइपोफोसफैटेसिया से जुड़े लक्षणों को बहुत अच्छे से पहचानते हैं तो वो इसका इलाज भी अच्छे से कर पाएंगे। डॉक्टर आपका ब्लड टेस्ट करेंगे, इससे भी हाइपोफोसफैटेसिया से जुड़े लक्षणों के बारें में पता चल पाएगा। हालांकि, जीन में परिवर्तन से जुड़े टेस्ट पूरी तरह से जांच करने के लिए बेहद जरूरी होते हैं। ऐसे में डॉक्टर आपको दर्द के लिए नॉन-स्टेरॉइडल एंटी इन्फ्लैमटरी ड्रग की दवा देंगे। साथ ही फिजियोथेरेपी, दांतों की जांच आदि से भी हाइपोफोसफैटेसिया का इलाज हो सकता है।   

(और पढ़ें - हड्डियों को मजबूत बनाने के लिए जूस)



संदर्भ

  1. Science Direct (Elsevier) [Internet]; Hypophosphatasia
  2. Orphanet Journal of Rare Diseases. Hypophosphatasia. BioMed Central. [internet].
  3. Whyte MP. Hypophosphatasia - aetiology, nosology, pathogenesis, diagnosis and treatment. Nat Rev Endocrinol. 2016 Apr;12(4):233-46. PMID: 26893260
  4. Genetic home reference. Hypophosphatasia. USA.gov U.S. Department of Health & Human Services. [internet].
  5. National Organization for Rare Disorders. Hypophosphatasia. USA. [internet].

हाइपोफोसफैटेसिया की दवा - Medicines for Hypophosphatasia in Hindi

हाइपोफोसफैटेसिया के लिए बहुत दवाइयां उपलब्ध हैं। नीचे यह सारी दवाइयां दी गयी हैं। लेकिन ध्यान रहे कि डॉक्टर से सलाह किये बिना आप कृपया कोई भी दवाई न लें। बिना डॉक्टर की सलाह से दवाई लेने से आपकी सेहत को गंभीर नुक्सान हो सकता है।

दवा का नाम

कीमत

₹19.0

20% छूट + 5% कैशबैक


₹55.0

20% छूट + 5% कैशबैक


₹79.9

20% छूट + 5% कैशबैक


₹94.25

20% छूट + 5% कैशबैक


₹57.4

20% छूट + 5% कैशबैक


₹61.0

20% छूट + 5% कैशबैक


₹10.61

20% छूट + 5% कैशबैक


₹106.2

20% छूट + 5% कैशबैक


₹44.0

20% छूट + 5% कैशबैक


₹69.3

20% छूट + 5% कैशबैक


Showing 1 to 10 of 23 entries