रेस्पिरेटरी सिंसिशियल वायरस इंफेक्शन (फेफड़ों और श्वसन मार्ग में संक्रमण) - Respiratory Syncytial Virus (RSV) Infection in Hindi

Dr. Nabi Darya Vali (AIIMS)MBBS

November 01, 2018

January 09, 2021

रेस्पिरेटरी सिंसिशियल वायरस इंफेक्शन
रेस्पिरेटरी सिंसिशियल वायरस इंफेक्शन

रेस्पिरेटरी सिंसिशियल वायरस (आरएसवी) क्या है?

रेस्पिरेटरी सिंसिशियल वायरस (आरएसवी) फेफड़ों और श्वसन मार्ग में संक्रमण का कारण बनता है। यह इतना सामान्य है कि अधिकांश बच्चे 2 साल की उम्र में ही इस वायरस से संक्रमित हो जाते हैं। हालांकि, वयस्क भी इसकी चपेट में आ सकते हैं। वयस्कों, बूढ़ों और स्वस्थ बच्चों में आरएसवी के सामान्य लक्षण दिख सकते हैं और आमतौर पर इसके लक्षण सर्दी जुकाम से मिलते जुलते हैं।  
 
रेस्पिरेटरी सिंसिशियल वायरस के संकेत और लक्षण क्या हैं?

वायरस के संपर्क में आने के लगभग चार से छह दिन बाद रेस्पिरेटरी सिंसिशियल वायरस के लक्षण दिखाई देने लगते हैं। इसके लक्षणों में शामिल हैं :

रेस्पिरेटरी सिंसिशियल वायरस के लक्षण (गंभीर मामलों में)

रेस्पिरेटरी सिंसिशियल वायरस इंफेक्शन श्वसन मार्ग के निचले हिस्से में फैल सकता है, जिससे निमोनिया या ब्रोंकोलाइटिस जैसी समस्या हो सकती है। इसके संकेतों और लक्षणों में शामिल हैं :

रेस्पिरेटरी सिंसिशियल वायरस का कारण क्या है?

नवजात और छोटे बच्चों में फेफड़ों और श्वसन मार्ग में संक्रमण का सबसे आम रोगाणु आरएसवी है। ये संक्रमण सभी उम्र के लोगों में हो सकता है। यह वायरस तब फैलता है जब कोई बीमार व्यक्ति खांसता या छींकता है। खांसने या छींकने के दौरान वायरस के छोटे-छोटे कण हवा में मिल जाते हैं, जो अन्य लोगों को संक्रमित करते हैं। आपको आरएसवी हो सकता है यदि : 

  • अगर आरएसवी से ग्रस्त व्यक्ति आपके पास खांसता या छींकता है
  • वायरस से संक्रमित व्यक्ति को छूने या हाथ मिलाने से
  • वायरस से संक्रमित किसी वस्तु को छूने के बाद नाक, आंख या मुंह पर हाथ लगाना

रेस्पिरेटरी सिंसिशियल वायरस का निदान कैसे होता है?

आरएसवी का निदान करने के लिए डॉक्टर संभवतः मेडिकल हिस्ट्री चेक सकते हैं। इसके अलावा वे फिजिकल टेस्ट भी कर सकते हैं, जिसमें वे स्टेथोस्कोप की मदद से फेफड़ों की घरघराहट या अन्य असामान्य ध्वनियों की जांच कर सकते हैं।

आमतौर पर लैब टेस्ट और इमेजिंग टेस्ट आवश्यक नहीं होते हैं। हालांकि, वे आरएसवी जटिलताओं का निदान करने या ऐसी स्थितियों का पता लगाने में सक्षम हो सकते हैं, जो समान लक्षण पैदा कर सकते हैं।

यदि बच्चा बहुत बीमार है तो डॉक्टर निम्नलिखित टेस्ट कर सकते हैं :

रेस्पिरेटरी सिंसिशियल वायरस का इलाज क्या है?

पैलिविजुमैब दवा से आरएसवी संक्रमण से होने वाली गंभीर समस्याओं को ठीक किया जा सकता है। डॉक्टर आरएसवी के इलाज के लिए इस दवा का उपयोग नहीं करते हैं। हालांकि, कोई भी दवा इस वायरस का इलाज नहीं करती है लेकिन, अधिकांश शिशुओं और छोटे बच्चों की देखभाल निम्न तरीके से घर पर की जा सकती है :

  • नाक से चिपचिपे फ्लूइड को ईयर बड्स या सलाईन ड्रॉप्स से साफ करें
  • सांस लेने में दिक्कत न हो, इसके लिए वेपोराइजर का इस्तेमाल करें



संदर्भ

  1. National Institute of Allergy and Infectious Diseases [Internet]. U.S. Department of Health and Human Services; Diseases & Conditions.
  2. Center for Disease Control and Prevention [internet], Atlanta (GA): US Department of Health and Human Services; Respiratory Syncytial Virus Infection (RSV).
  3. Schweitzer JW, Justice NA. Respiratory Syncytial Virus Infection (RSV). [Updated 2018 Oct 27]. In: StatPearls [Internet]. Treasure Island (FL): StatPearls Publishing; 2019 Jan-.
  4. National Institutes of Health; [Internet]. U.S. National Library of Medicine. The Long-term Effect of RSV Infection.
  5. MedlinePlus Medical Encyclopedia: US National Library of Medicine; Respiratory syncytial virus (RSV).

रेस्पिरेटरी सिंसिशियल वायरस इंफेक्शन (फेफड़ों और श्वसन मार्ग में संक्रमण) के डॉक्टर

Dr Shubham Mishra Dr Shubham Mishra श्वास रोग विज्ञान
1 वर्षों का अनुभव
Dr. Deepak Kumar Dr. Deepak Kumar श्वास रोग विज्ञान
10 वर्षों का अनुभव
Dr. Sandeep Katiyar Dr. Sandeep Katiyar श्वास रोग विज्ञान
13 वर्षों का अनुभव
Dr. Rajendra Bera Dr. Rajendra Bera श्वास रोग विज्ञान
16 वर्षों का अनुभव
डॉक्टर से सलाह लें
cross
डॉक्टर से अपना सवाल पूछें और 10 मिनट में जवाब पाएँ