myUpchar प्लस+ के साथ पूरेे परिवार के हेल्थ खर्च पर भारी बचत

रेस्पिरेटरी सिंसिशीयल वायरस इंफेक्शन क्या है?

रेस्पिरेटरी सिंसिशीयल वायरस का संक्रमण फेफड़ों और श्वसन तंत्र में होता है। दो साल से बाद बच्चों में होने वाला यह एक आम प्रकार का संक्रमण है। यह वायरस वयस्कों को भी हो सकता है। वयस्कों और स्वस्थ बच्चों में इसके लक्षण बेहद हल्के होते हैं और यह सामान्य सर्दी जुकाम की तरह ही समझे जाते हैं। 

(और पढ़ें - सर्दी में क्या खाना चाहिए

रेस्पिरेटरी सिंसिशीयल वायरस इंफेक्शन के लक्षण क्या होते हैं? 

रेस्पिरेटरी सिंसिशीयल वायरस का संक्रमण सामान्यतः पांच से छह दिनों के बाद सामने आते हैं। बड़े बच्चों और वयस्कों में मामूली लक्षण होते हैं, जिसमें नाक बंद होना, सूखी खांसी, हल्का बुखार होना, गले में दर्द और हल्का सिरदर्द होता है। गंभीर मामलों में रेस्पिरेटरी सिंसिशीयल वायरस का संक्रमण श्वसन तंत्र के निचले हिस्से में फैल जाता है, जिसकी वजह से निमोनिया और ब्रोंकोलाइटिस हो सकता है। इस संक्रमण में बच्चा मां का दूध पीने में आनाकानी करने लगता है। साथ ही वह सुस्त और उदास रहता है। 

(और पढ़ें - सर्दी जुकाम के घरेलू उपाय)

रेस्पिरेटरी सिंसिशीयल वायरस इंफेक्शन क्यों होता है?

रेस्पिरेटरी सिंसिशीयल वायरस आंखों, नाक और मुंह के द्वारा प्रवेश करता है। यह संक्रमित व्यक्ति की छींक की अति सूक्ष्म बूंदों द्वारा हवा में आसानी से फैलता है। संक्रमित व्यक्ति के पास रहने से यह वायरस अन्य व्यक्ति को भी हो जाता है। यह वायरस कुछ घंटों तक संक्रमित व्यक्ति के आस पास की चीजों में जीवित रह सकता है, जब आप उन चीजों को छूकर अपने मुंह, आंख और नाक को छूते हैं तो इससे भी वायरस आपको संक्रमित कर सकता है। 

(और पढ़ें - फ्लू के घरेलू उपाय)

रेस्पिरेटरी सिंसिशीयल वायरस इंफेक्शन​​ का इलाज कैसे होता है?

रेस्पिरेटरी सिंसिशीयल वायरस का इलाज एंटीबायोटिक्स से नहीं किया जाता है। इस संक्रमण के हल्के प्रभाव बिना किसी इलाज के ही ठीक हो जाते हैं। जिन शिशुओं और वयस्कों को रेस्पिरेटरी सिंसिशीयल वायरस का गंभीर संक्रमण होता है, उनको इलाज के लिए अस्पताल में एडमिट होना पड़ता है। 

(और पढ़ें - सर्दी जुकाम होने पर क्या करना चाहिए)

  1. रेस्पिरेटरी सिंसिशीयल वायरस इंफेक्शन की दवा - Medicines for Respiratory Syncytial Virus (RSV) Infection in Hindi

रेस्पिरेटरी सिंसिशीयल वायरस इंफेक्शन की दवा - Medicines for Respiratory Syncytial Virus (RSV) Infection in Hindi

रेस्पिरेटरी सिंसिशीयल वायरस इंफेक्शन के लिए बहुत दवाइयां उपलब्ध हैं। नीचे यह सारी दवाइयां दी गयी हैं। लेकिन ध्यान रहे कि डॉक्टर से सलाह किये बिना आप कृपया कोई भी दवाई न लें। बिना डॉक्टर की सलाह से दवाई लेने से आपकी सेहत को गंभीर नुक्सान हो सकता है।

Medicine NamePack SizePrice (Rs.)
RebetolRebetol 200 Mg Capsule940
HeptosHeptos 200 Mg Capsule120
RibahepRibahep Capsule600
RibavinRIBAVIN 50MG SYRUP 30ML83
RinhibRinhib 200 Mg Tablet1332

क्या आप या आपके परिवार में किसी को यह बीमारी है? सर्वेक्षण करें और दूसरों की सहायता करें

References

  1. National Institute of Allergy and Infectious Diseases [Internet]. U.S. Department of Health and Human Services; Diseases & Conditions.
  2. Center for Disease Control and Prevention [internet], Atlanta (GA): US Department of Health and Human Services; Respiratory Syncytial Virus Infection (RSV).
  3. Schweitzer JW, Justice NA. Respiratory Syncytial Virus Infection (RSV). [Updated 2018 Oct 27]. In: StatPearls [Internet]. Treasure Island (FL): StatPearls Publishing; 2019 Jan-.
  4. National Institutes of Health; [Internet]. U.S. National Library of Medicine. The Long-term Effect of RSV Infection.
  5. MedlinePlus Medical Encyclopedia: US National Library of Medicine; Respiratory syncytial virus (RSV).
और पढ़ें ...