myUpchar प्लस+ के साथ पूरेे परिवार के हेल्थ खर्च पर भारी बचत

जब आप बेचैन होते हैं, तो आपके दिल की धड़कन तेज हो जाती है, आप जल्दी-जल्दी सांस लेने लगते हैं और किसी भी चीज पर ध्यान केंद्रित करने में परेशानी होती है। नौकरी के लिए इंटरव्यू या बड़े फैसले लेने से पहले बेचैनी सामान्य है लेकिन निरंतर बेचैनी सामान्य नहीं है। ये बेचैनी रात में और बढ़ जाती है जो कि दिमाग और शरीर के लिए हानिकारक हो सकती है। बेचैनी को दूर करने के लिए आप कुछ घरेलू उपायों की मदद ले सकते हैं। यह उपाय आपकी न सिर्फ बेचैनी को दूर करेंगे बल्कि आपको किसी भी तरह के तनाव से छुटकारा दिलाएंगे।

(और पढ़ें - बेचैनी के लक्षण)

तो चलिए आपको इस लेख में बताते हैं बेचैनी दूर करने के उपाय।

1. एक समय में एक ही काम करें:
एक समय में दस चीजें एक साथ करने से आपके लिए तनावपूर्ण स्थिति पैदा हो सकती है। कोशिश करें कि एक समय में बहुत सारा काम न करें। आप एक काम खत्म करने के बाद दूसरा काम शुरू कर सकते हैं। जो कार्य आप कर रहे हैं, उस कार्य को तब तक न छोड़ें जब तक आपको उससे संतुष्टि न मिल जाए। इसके बाद दूसरे कार्य की तरफ बढ़ें।

(और पढ़ें - तनाव के लिए योग)

2. खाली बैठते समय कुछ मजेदार चीज करें:
आप चाहे घर पर हो या ऑफिस में, कार्य खत्म करने के बाद या खाली समय में कुछ मजेदार गतिविधियां कर सकते हैं। जरूरी नहीं है कि आप मेहनत से भरपूर ही कोई गतिविधि करें। आप कुछ सामान्य गतिविधियां भी कर सकते हैं, जिनसे आपको ताजा और अच्छा महसूस हो। इस तरह आप अपने कार्य को ध्यानपूर्वक कर पाएंगे। रोजाना खाली समय में टहल सकते हैं, कुछ अपने पसंद का खा सकते हैं, दोस्तों से बात कर सकते हैं, कुछ मिनट झपकी ले सकते हैं, किताबें पढ़ सकते हैं, या ऐसी ही कोई गतिविधि कर सकते हैं। इस तरह आपको बेचैनी महसूस नहीं होगी और आप किसी भी परिस्थिति को अच्छे से संभाल पाएंगे।

(और पढ़ें - घबराहट रोकने के उपाय)

3. कैफीन का सेवन कम करें: 
कोशिश करें कि आप प्रतिदिन कॉफी, चाय या सोडा का सेवन कम कर दें। इनमें कैफीन की मात्रा बहुत अधिक होती है। इनकी वजह से आपको बेचैनी महसूस हो सकती है। वैकल्पिक रूप से, अगर आपको सोने में कठिनाई हो रही है, तो दिन के एक निश्चित समय के बाद कैफीन से दूर रहने का प्रयास करें। इनके अलावा आप रोजाना ग्रीन टी पी सकते हैं। ग्रीन टी आपको स्वस्थ रखेगी और बेचैनी की समस्या को कम करेगी।

(और पढ़ें - चिंता के लक्षण)

4. बेचैनी से छुटकारा पाने के लिए व्यायाम करें:
व्यायाम करने से कई बीमारियों का इलाज करने में मदद मिलती है। रोजाना एक्सरसाइज करने से आपको चिंता व तनाव की समस्या भी नहीं होती। अक्सर होने वाली बेचैनी से छुटकारा पाने के लिए रोजाना सुबह व्यायाम जरूर करें। सुबह-सुबह व्यायाम करने के अलावा आप शाम को भी कुछ हल्के व्यायाम कर सकते हैं या फिर ऐसी शारीरिक गतिविधियां कर सकते हैं, जिनसे आपकी बेचैनी कम हो सके। शारीरिक गतिविधियां जैसे पैदल चलना, कोई गेम खेलना आदि कर सकते हैं।

(और पढ़ें - चिंता दूर करने के घरेलू उपाय)

5. ध्यान भटकाने वाली चीजों की सूची तैयार करें :
अगर आपको काम के बीच में कुछ ऐसी बातें याद आती हैं जिनसे आपका ध्यान भटकता है जैसे आपको दोस्त से बात करनी है, बाजार से सामान लेने जाना है, तो ऐसी कुछ बातों की सूची आप तैयार कर सकते हैं। अगर आप इस तरह की सूची तैयार करते हैं तो आप जो काम कर रहे हैं उसपर ध्यान लगा पाएंगे और काम खत्म करने के बाद सूची में लिखे गए कामों को पूरा कर पाएंगे। सूची तैयार करने के लिए अपने पास छोटी कॉपी रखें और जो-जो बातें आपको भटका रही हैं उन्हें उसमें लिखते जाएं। जब आपका एक कार्य खत्म हो जाए फिर सूची में लिखे गए कार्यों को पूरा करें। इस तरह आप सभी कार्यों को आसानी से पूरा कर पाएंगे और बेचैनी भी महसूस नहीं होगी।

(और पढ़ें - दिमाग शांत करने के उपाय)

6. ऐसी वेबसाइट या एप का इस्तेमाल न करें जिनसे आपका ध्यान भटकता है:
काम के बीच में अगर आप चाहते हैं कि किसी भी तरह की एप या वेबसाइट आपका ध्यान न भटकाए तो अपने फोन या कम्प्यूटर में आप उन्हें ब्लॉक कर सकते हैं। कोई भी जरूरी काम करने से पहले अपने फोन में ध्यान भटकाने वाली एप को ब्लॉक कर दें, जिससे आप उनका इस्तेमाल कुछ घंटों तक न कर पाएं। कम्प्यूटर में भी आप कुछ वेबसाइट बंद कर सकते हैं, जिनसे आपका ध्यान भटकता है। इनके अलावा अगर आप चाहते हैं कि काम के वक्त फोन के कारण आपका ध्यान न भटके तो उसे दूर रख दें, ताकि आपको काम छोड़कर फोन देखने में आलस आएं। इस तरह आपको बेचैनी नहीं होगी और एक ही कार्य पर अपना ध्यान केन्द्रित कर पाएँगे।
(और पढ़ें - तनाव दूर करने के घरेलू उपाय)

7. किसी भी काम को जबरदस्ती न करें:
किसी भी कार्य को जबरदस्ती करने से न सिर्फ आपका बल्कि किसी का भी फायदा नहीं होता। अगर आप किसी शादी या किसी के घर डिनर पर नहीं जाना जाते हैं तो आप सामने वाले व्यक्ति को आराम से मना कर सकते हैं। कोई भी काम को जबरदस्ती करने से आपको बेचैनी महसूस हो सकती है। किसी भी कार्य या व्यक्ति को मना करने से आप पहले खुद को प्राथमिकता देते हैं। यह सही भी है, क्योंकि जरबदस्ती कुछ भी करने से आपको तनाव महसूस होने लगता है और आप इस वजह से चिड़चिड़े भी हो जाते हैं।

(और पढ़ें - चिड़चिड़ापन का इलाज)

8. प्रेरणा देने वाले लोगों से बातें करें:
जब भी आप बेचैनी महसूस करें तो प्रेरणा देने वाले लोगों से बात जरूर करें। फिर चाहे वो आपके परिवार में हो या दोस्त हो, जिनके साथ रहने से आपको प्रेरणा मिलती हो उनसे अपने दिल की बात साझा जरूर करें। इससे आपको बेचैनी कम होगी और किसी भी तरह के डिप्रेशन से छुटकारा मिलेगा।

(और पढ़ें - डिलीवरी के बाद डिप्रेशन का इलाज)

और पढ़ें ...