myUpchar प्लस+ के साथ पूरेे परिवार के हेल्थ खर्च पर भारी बचत

आजकल की तनावपूर्ण जीवनशैली के कारण आपका दिमाग व मन हमेशा अशांत रहते हैं। मन में हमेशा  आपके जीवन से संबंधित बातें चलती रहती हैं। लेकिन शायद आप यह बात नहीं जानते कि मन व दिमाग हमेशा अशांत रहने से आपके स्वास्थ्य पर असर पड़ सकता है। हाई ब्लड प्रेशर, लो ब्लड प्रेशर, सिर दर्द, डिप्रेशन आदि जैसी समस्याएं हो सकती हैं। आपके मन व दिमाग को शांत करने के लिए इस लेख में हमने कुछ उपाय बताये हैं। इन उपायों, तरीकों व नुस्खों की मदद से आप अपने मन को आसानी से शांत कर सकते हैं।

तो आइये आपको बताते हैं मन व दिमाग को शांत करने के उपाय, तरीके व नुस्खे -

  1. मन को शांत कैसे करें - Man ko shant kaise kare
  2. दिमाग को शांत करने का तरीका - Man ko shant karne ka tarika
  3. मन शांत रखने का उपाय - Man shant rakhne ka upay
  4. दिमाग शांत रखने के नुस्खे - Dimag shant rakhne ke nuskhe

मन को शांत इस प्रकार करें -

1. गहरी सांस लेने की एक्सरसाइज करें –

जब आपको महसूस हो कि मन अशांत हो गया है या दिमाग तनाव से ग्रस्त है तो आपको गहरी सांस लेने की कोशिश करनी चाहिए। यह व्यायाम आपके मन को आराम पहुंचाने में बेहद फायदेमंद है। अच्छा होगा अगर आप इस व्यायाम को रोजाना दोहराएं। मन को शांत करने के लिए आप निम्नलिखित तरीकों से ब्रीदिंग एक्सरसाइज कर सकते हैं -

  • सबसे पहले अपने मुंह को बंद करें और नाक से गहरी सांस लें। सांस लेने के बाद सात सेकेंड के लिए सांस को ऐसे ही रोक कर रखें। फिर जब सांस छोड़ें तो सात की गिनती गिनते हुए सांस छोड़ना शुरू करें। आप खुद भी समय में बदलाव कर सकते हैं।
  • इस व्यायाम को इसी तरह चार बार दोहराएं।
  • प्रत्येक सांस की प्रक्रिया के बीच कुछ सेकेंड या मिनट का अंतराल रखें। 

(और पढ़ें - प्राणायाम के लाभ)

2. मन को शांत के लिए मैडिटेशन करें –

मन को शांत करने के लिए मैडिटेशन करें। मैडिटेशन आपके दिमाग और मन को शांत करने के लिए बहुत फायदेमंद है। इसमें बस आपको आराम से बैठकर किसी वस्तु, जगह, रंग, शब्द आदि पर ध्यान केंद्रित करना है। मैडिटेशन करने के लिए एकदम शांत जगह ढूंढे और कम से कम दस मिनट तक मैडिटेशन करें। मैडिटेशन करते समय इस बात को सुनिश्चित कर लें कि आपको सिर्फ और सिर्फ सकरात्मक सोच रखनी है। मैडिटेशन की मदद से दिमाग में लगातार आने वाली नकरात्मक सोच से छुटकारा मिलता है और आप बेहतर महसूस करते हैं। 

3. किसी शांत दृश्य पर अपना ध्यान केंद्रित करें –

किसी दृश्य पर ध्यान केंद्रित करने से आपका दिमाग शांत होता है। ये तकनीक आपको थोड़ी मैडिटेशन के समान लग सकती है, लेकिन इसमें एक फर्क है। किसी भी शब्द या विचार को सोचने के बजाए केवल शांति या ख़ुशी देने वाले दृश्य पर ध्यान दें। जैसे – “आप सुबह उठे और कई साल से आप जिस दोस्त से मिले नहीं हैं उसे देखकर आप ख़ुशी से झूम उठे”। कुछ इसी तरह के सकरात्मक दृश्यों के बारें में दस मिनट तक सोचें। इस तरह आपका मन व दिमाग शांत होगा और रिलैक्स महसूस करेगा।

4. रोजाना व्यायाम करें -

व्यायाम तनाव को कम करने का बेहद अच्छा तरीका है। व्यायाम करने से एंडोर्फिन (endorphins) नामक हॉर्मोन जारी होता है, जो कि "खुश" रखने वाला हॉर्मोन है। आप बाहर या जिम में व्यायाम करने की बजाए घर में भी आधा घंटा व्यायाम कर सकते हैं। लेकिन इस बात का ध्यान रखें कि जो भी व्यायाम आप कर रहे हो उसमें मजा आना चाहिए। व्यायाम जैसे वेट लिफ्टिंग, कोई भी खेल, स्विमिंग आदि। रोजाना अलग-अलग प्रकार के व्यायाम करने की कोशिश करें। एक ही व्यायाम करने से आप ऊब सकते हैं। 

दिमाग को शांत करने का तरीका इस प्रकार है -

1. पसंदीदा गतिविधियां करें -

हर किसी के अलग-अलग प्रकार के शौक होते हैं जैसे खाना पकाना, खेल खेलना, किताबें पड़ना, पेंटिंग करना आदि। इस प्रकार के शौक रखने से मन शांत रहता है और इधर-उधर की बातों के बारें में नहीं सोचता। इनके अलावा आप पसंदीदा गाने भी सुन सकते हैं। गाने सुनने के साथ-साथ थोड़ा नाच भी सकते हैं। अगर आपको जानवरों के साथ खेलना पसंद है तो आप घर में जानवर भी पाल सकते हैं। इससे आप कभी उबाऊ महसूस नहीं करेंगे और मन व दिमाग भी नकरात्मक बातों से दूर रहेगा। 

2. प्रकृति के साथ वक़्त बिताएं -

दिमाग को शांत करने के लिए बाहर जाएं और हरी-भरी प्रकृति को देखकर शांति महसूस करें। ऐसा करने से आप शारीरिक और मानसिक रूप से स्वस्थ रहते हैं। अपने आसपास के पार्क में जाकर पेड़-पौधों को देखें, इसके अलावा आप खुद भी अपने पसंदीदा पौधों को घर या अपने आसपास के पार्क में लगा सकते हैं। सुबह-सुबह जल्दी उठकर प्रकृति को देखने से मन हमेशा शांत और अच्छा महसूस करता है। तो सुबह-सुबह रोज जल्दी उठने की आदत डालें।

3. मन शांत करने के लिए नहाएं –

दिमाग व मन को शांत करने के लिए नहाएं। मन को काबू करने के लिए बाथिंग (नहाना) बहुत ही बेहतरीन तरीका है। कई लाभ पाने के लिए आप नहाने के पानी में खुशबूदार तेल भी मिला सकते हैं। इससे आपको नहाने में और अधिक मजा आएगा। साथ ही मजेदार गाना सुनकर भी आप नहाने का लुत्फ उठा सकते हैं। नहाने का पानी थोड़ा गुनगुना रखें जिससे आपकी शरीर की मांसपेशियों और नसों को आराम पहुचें। 

4. सही आहार खाएं -

कुछ प्रकार के आहार में सेलेनियम, मैग्नीशियम या ट्रिप्टोफेन बहुत अधिक होता है और ये सभी होर्मोन्स को कम करते हैं जिनकी वजह से स्ट्रेस बढ़ता है। ऐसे आहार खाएं जिनसे आपके शरीर में मौजूद हॉर्मोन के स्तर में किसी भी तरह का उतार चढ़ाव न हो। आप इन आहारों को खा सकते हैं जैसे ड्राई फ्रूट, डार्क चॉकलेट, बेरी, पालक, सेब आदि। इन आहरों को रोजाना खाने से आपके मन व दिमाग को शांति मिलेगी।

(और पढ़ें - टेंशन का इलाज

मन शांत रखने का उपाय इस प्रकार है -

1. योग अभ्यास करें -

योग अभ्यास से शरीर स्ट्रेच होता है और इसमें अधिक गति की जरूरत नहीं पड़ती। योग करने से शरीर की मांसपेशियों को आराम पहुँचता है। योग करने से दिमाग बिल्कुल शांत हो जाता है और किसी भी तरह की अशांति का एहसास नहीं होता। योग करने के लिए किसी प्रशिक्षित ट्रेनर की मदद जरूर लें। अगर आपको स्वास्थ्य समस्या है जैसे स्लिप डिस्क, ऑस्टियोपोरोसिस आदि तो हमारी सलाह है कि आप योग अभ्यास न करें।

(और पढ़ें - तनाव के लिए योगासन)

2. घूमने के लिए जाएं -

अगर आप अपने मन व दिमाग को शांत करना चाहते हैं तो अपनी व्यस्त जीवनशैली में से खुद के लिए समय निकालें और बाहर कही घूमने का प्लैन बनाएं। घूमने के लिए आप पहाड़ी इलाके, हर-भरी जगह, बर्फ वाली जगह आदि जा सकते हैं। कभी-कभी खुद के लिए भी समय निकालना बेहद जरूरी है।

(और पढ़ें - सैर करने के फायदे)

3. दिमाग व मन को शांत करने के लिए हंसें -

जब भी आप तनावपूर्ण महसूस करें या मन कभी शांत न लगे तो जोर-जोर से हसने की आदत डालें। सुनने में आपको थोड़ा अजीब लग सकता है लेकिन यह सच है। हसने से आपके शरीर में रक्त परिसंचरण बढ़ता है और दिमाग व मन को शांति मिलती है। अपने दोस्तों के बीच बैठें जिनके साथ में आपको मजा आता है, ऐसी हास्यपदक फिल्म देखें जो आपके दिमाग से नकारात्मक सोच को दूर कर दें। खुद को खुश रखने के लिए ऐसी गतिविधियां रोजाना करें।

(और पढ़ें - हंसने के फायदे)

4. हाथों पर मसाज करें -

हाथों पर मसाज करवाने के लिए अगर आपको पार्लर में जाने का वक़्त नहीं है या किसी प्रशिक्षित मसाज ट्रेनर के पास जाने का समय नहीं है तो आप खुद भी हाथों की मसाज कर सकते हैं। दिनभर आपके हाथ किसी न किसी काम में व्यस्त रहते हैं। हाथों की मसाज करने से तनाव से राहत मिलती है। हाथों पर मसाज करने के लिए आप कोई लोशन या तेल लेकर खुद से मसाज कर सकते हैं। सिर्फ हाथ ही नहीं आप कंधे, गर्दन और सिर की त्वचा पर भी मसाज कर सकते हैं।

(और पढ़ें - बॉडी मसाज करने का तरीका)

5. सिगरेट और शराब न पीएं 

शराब और सिगरेट पीने के नुकसान सब जानते ही हैं। लेकिन उनमें अक्सर लोगों को लगता है कि सिगरेट और शराब उन्हें रिलैक्स महसूस करने में मदद करती हैं। असलियत में होता इसका विपरीत ही है। डॉक्टर बताते हैं कि सिगरेट पीने से बस थोड़ी देर के लिए ऐसा लगता है कि तनाव और चिंता कम हो गई है, लेकिन यह बस अल्पकालिक होता है। चिंता, टेंशन, तनाव सब वहीं की वहीं रहती हैं। शराब पीने से भी ऐसा ही होता है। अंत में, होता बस यह है कि आपकी सेहत को नुकसान पहुँचता है। 

(और पढ़ें - शराब पीने के नुकसान)

दिमाग शांत रखने के नुस्खे इस प्रकार हैं -

1. ज्यादा से ज्यादा पानी पियें -

दिमाग व मन को शांत करने के लिए आप ज्यादा से ज्यादा पानी पियें। पानी आपके शरीर को हाइड्रेट रखने के लिए बेहद जरूरी है और साथ ही फायदेमंद भी, क्योंकि इससे आपके शरीर से विषाक्त पदार्थ व अशुद्धियाँ सब निकल जाती हैं। अगर शरीर से अशुद्धियाँ निकलेंगी नहीं तो आप किसी भी कार्य में ध्यान केंद्रित नहीं कर पाएंगे। तो जरूरी है कि आप रोजाना ज्यादा से ज्यादा पानी पियें। 

(और पढ़ें - पानी कितना पीना चाहिए)

2. पर्याप्त नींद लेने की कोशिश करें –

मन को शांत करने का और फिर से ऊर्जा लाने का सबसे अच्छा तरीका है बेहतर नींद। जब आप सोएं तो इस बात को सुनिश्चित कर लें कि आपके कमरे में ऐसी चीजें न हो जिनकी वजह से आपका दिमाग भटक जाए और नींद में अवरोध पैदा हो। सोने से दो घंटे पहले अपना फ़ोन दूर रख दें। रात को सोते समय फ़ोन न चलाएं इससे आपको सोने में परेशानी हो सकती है।

(और पढ़ें - अच्छी नींद आने के उपाय)

3. अकेले समय बिताएं –

कभी-कभी जो लोग हमारे साथ होते हैं उनके कारण भी चिंता व तनाव की समस्या हो सकती है। तो सिर्फ खुद के साथ में भी वक़्त बिताने की कोशिश करें। अकेले रहने से भी शांति का एहसास होता है, क्योंकि आप अपनी व्यस्त जीवनशैली से बिल्कुल दूर होते हैं।

(और पढ़ें - चुप रहने के लाभ)

और पढ़ें ...