चिड़चिड़ापन - Irritability in Hindi

Dr. Nadheer K M (AIIMS)MBBS

August 13, 2018

April 13, 2021

कई बार आवाज़ आने में कुछ क्षण का विलम्ब हो सकता है!
चिड़चिड़ापन
कई बार आवाज़ आने में कुछ क्षण का विलम्ब हो सकता है!

चिड़चिड़ापन क्या होता है ?

चिड़चिड़ापन एक उत्तेजना की भावना होती है। जब आप चिड़चिड़े होते हैं, तो आप आसानी से निराश हो जाते हैं या आसानी से परेशान हो जाते हैं। तनावपूर्ण स्थितियों में आप चिड़चिड़ाहट का अनुभव कर सकते हैं। यह एक मानसिक या शारीरिक स्वास्थ्य समस्या का लक्षण भी हो सकता है।

शिशु और छोटे बच्चे अक्सर चिड़चिड़ाहट महसूस करते हैं, खासकर जब वे थके हुए या बीमार होते हैं। उदाहरण के लिए, जब बच्चों के कान में संक्रमण होता है या पेट दर्द होता है, तो बच्चे अक्सर चिड़चिड़े हो जाते हैं।

(और पढ़ें - थकान से बचने के उपाय)

बड़े लोग भी कई कारणों से चिड़चिड़ाहट महसूस कर सकते हैं। यदि आप नियमित रूप से चिड़चिड़ाहट महसूस करते हैं, तो अपने डॉक्टर से बात करें। आपको कोई अंतर्निहित समस्या हो सकती है जिसके उपचार की आवश्यकता हो सकती है।

चिड़चिड़ापन के लक्षण - Irritability Symptoms in Hindi

चिड़चिड़ेपन के क्या लक्षण होते हैं ?

चिड़चिड़ेपन के निम्नलिखित लक्षण हो सकते हैं -

  • जल्दी परेशान हो जाना
  • बिना वजह आक्रामक होना
  • छोटी सी बात पर बुरा मानना
  • जल्दी क्रोध आना (और पढ़ें - क्रोध प्रबंधन चिकित्सा)
  • गुस्से में दूसरों के साथ मौखिक और कभी-कभी शारीरिक दुर्व्यवहार करना। शिशुओं और छोटे बच्चों को शांत करना मुश्किल हो सकता है।

(और पढ़ें - गुस्सा शांत करने का तरीका)

चिड़चिड़ापन के कारण - Irritability Causes in Hindi

चिड़चिड़ेपन क्यों होता है?

कई चीजें चिड़चिड़ेपन का कारण बन सकती हैं। इन कारणों को दो सामान्य श्रेणियों में बांटा जा सकता है - शारीरिक और मनोवैज्ञानिक।

मनोवैज्ञानिक कारण -

(और पढ़ें - मानसिक रोग के उपाय)

शारीरिक कारण -

हार्मोन परिवर्तन करने वाली स्थितियां आपकी मनोदशा को प्रभावित कर सकती हैं। यह स्थितियां इस प्रकार हैं -

अन्य संभावित कारण -

(और पढ़ें - कॉफी पीने के नुकसान)

ज्यादातर लोग समय-समय पर चिड़चिड़ाहट महसूस करते हैं। उदाहरण के लिए, रात के समय आराम न मिलने पर ज़्यादातर लोग चिड़चिड़ा महसूस करते हैं।

कुछ लोग अक्सर एवं नियमित रूप से चिढ़चिढ़ा महसूस करते हैं। यदि आपके साथ भी ऐसा ही हो रहा है तो अपने डॉक्टर से मुलाकात जरूर करें। इससे आपको अपने चिढ़चिढ़ेपन का कारण समझने में मदद मिलेगी। 

(और पढ़ें - बेचैनी क्यों होती है

चिड़चिड़ापन के बचाव के उपाय - Prevention of Irritability in Hindi

चिड़चिड़ेपन का बचाव कैसे होता है ?

हालांकि चिड़चिड़ाहट को पूरी तरह से रोकने का कोई भी रास्ता नहीं है, लेकिन कुछ तरीकों से गंभीर चिड़चिड़ेपन को कम किया जा सकता है।

यह तरीके निम्नलिखित हैं -

  • अपने चिड़चिड़ेपन की वजह जानें।
  • कैफीन और शराब का सेवन कम करें।
  • कुछ समय शांत या अकेले रहें।
  • अपना नजरिया विकसित करें। 
  • अपने साथियों से मेल मिलाप भी बनाएं रखें। 
  • नकारात्मक बातों और नकारात्मक ऊर्जा से दूर रहें। 

(और पढ़ें - शराब की लत का इलाज)

चिड़चिड़ापन का परीक्षण - Diagnosis of Irritability in Hindi

चिड़चिड़ेपन का निदान कैसे होता है ?

यदि आप नियमित आधार पर चिड़चिड़ाहट महसूस करते हैं, और आप इसका कारण नहीं जानते, तो अपने डॉक्टर से बात करें। वे आपको इसके संभावित कारणों की पहचान करने में मदद कर सकते हैं। वे आपकी मनोदशा को समझने और उसे सही दिशा में मोड़ने के  लिए उपचार विकल्पों और रणनीतियों पर भी चर्चा कर सकते हैं।

  • आपके चिकित्सक आपके चिकित्सकीय इतिहास के बारे में पूछेंगे और यह भी पूछेंगे कि आप कौन-कौन सी दवाएं ले रहे हैं।
  • चिकित्सक आपकी मनोवैज्ञानिक स्थितियों के इतिहास के बारे में भी पूछेंगे।
  • आपकी जीवनशैली की आदतें, जैसे कि सोने की आदतें और शराब पीने की आदतों पर चर्चा की जाएगी।
  • आपके डॉक्टर आपके जीवन में तनाव के कारणों के बारे में जानना चाहेंगे।

(और पढ़ें - तनाव के लिए योग)

आपके लक्षणों और चिकित्सा इतिहास के आधार पर, वे रक्त और मूत्र विश्लेषण सहित एक या अधिक परीक्षणों की सलाह भी दे सकते हैं।

(और पढ़ें - ब्लड टेस्ट कैसे होता है और यूरिन टेस्ट क्या होता है)

आपके रक्त में कुछ हार्मोन का स्तर हार्मोन असंतुलन को दर्शा सकता है। आपके रक्त या मूत्र में ग्लूकोज का स्तर शुगर के बारे में बता सकता है।

(और पढ़ें - महिलाओं के लिए हार्मोन का महत्व)

मूल्यांकन के लिए आपको मानसिक स्वास्थ्य चिकित्सक के पास भी भेजा जा सकता है।

चिड़चिड़ापन का इलाज - Irritability Treatment in Hindi

चिड़चिड़ेपन का इलाज कैसे होता है ?

चिड़चिड़ेपन का उपचार आपको जो दिक्क्त है पूरी तरह उस पर पर निर्भर करता है। इसकी वजह यह है कि हर एक को अपनी अपनी और अलग अलग तरह की चिड़चिड़ेपन की दिक्क्त हो सकती है और इसकी सबके लिए एक कॉमन वजह नहीं होती। चिड़चिड़ेपन का इलाज करने का सबसे अच्छा तरीका है इसके अंतर्निहित कारण को ठीक करना।

  • यदि आपके डॉक्टर आपकी मानसिक स्वास्थ्य की समस्या का निदान करते हैं, तो वे आपको परामर्श के लिए एक विशेषज्ञ के पास भेज सकते हैं। इसके साथ ही मनोदशा को नियंत्रित करने में मदद के लिए दवाओं का उपयोग किया जा सकता है। टॉक थेरेपी और दवाएं अक्सर मनोदशा विकारों जैसे - डिप्रेशन के इलाज के लिए संयोजन में प्रयोग की जाती हैं। (और पढ़ें - मानसिक रोग की दवा)
  • अगर आपके डॉक्टर को संदेह है कि आपका चिड़चिड़ापन अल्कोहल, कैफीन, निकोटीन या अन्य ड्रग्स की अपनी लत छोड़ देने के कारण होता है, तो वह टॉक थेरेपी और दवाओं के संयोजन का उपयोग कर सकते हैं। इनके उपयोग से आपकी इच्छाओं को नियंत्रित करने में मदद मिल सकती है।
  • यदि आपके हार्मोनल असंतुलन का निदान किया गया है, तो आपके डॉक्टर हार्मोन प्रतिस्थापन चिकित्सा (Hormone replacement therapy) की सलाह दे सकते हैं। यह उपचार हर किसी के लिए सही नहीं होता है। अपने डॉक्टर से बात किए बिना हार्मोन की खुराक लेना शुरू न करें। (और पढ़ें - एचसीजी हार्मोन क्या है)
  • यदि आपको संक्रमण के कारण चिड़चिड़ापन हो रहा है, तो संक्रमण ठीक होने पर चिड़चिड़ापन भी ठीक हो जाएगा। आपके डॉक्टर इसका इलाज करने में मदद के लिए एंटीबायोटिक दवाओं या अन्य दवाओं का उपयोग कर सकते हैं।

(और पढ़ें - मस्तिष्क संक्रमण का इलाज)

आपके डॉक्टर आपकी मनोदशा को नियंत्रित करने में मदद के लिए जीवन शैली में बदलावों की सलाह भी दे सकते हैं। उदाहरण के लिए, वे आपको निम्नलिखित चीज़ों में बदलाव के लिए प्रोत्साहित कर सकते हैं -

(और पढ़ें - प्रेगनेंसी में तनाव का उपाय)

ऐसे में हमेशा अपने डॉक्टर से अपने निदान, इलाज के विकल्पों और उनके दूरगामी परिणाम आदि के बारें में जरूर चर्चा करें। 



संदर्भ

  1. American Academy of Pediatrics. [Internet]. Washington, D.C., United States; Irritability and Problem Behavior in Autism Spectrum Disorder: A Practice Pathway for Pediatric Primary Care.
  2. Leslie Born. et al. A new, female-specific irritability rating scale. J Psychiatry Neurosci. 2008 Jul; 33(4): 344–354. PMID: 18592028.
  3. Snaith RP, Taylor CM. Irritability: definition, assessment and associated factors.. Br J Psychiatry. 1985 Aug;147:127-36. DOI: 10.1192/bjp.147.2.127
  4. Daniel J Safer. Irritable mood and the Diagnostic and Statistical Manual of Mental Disorders. Child Adolesc Psychiatry Ment Health. 2009; 3: 35. PMID: 19852843.
  5. MedlinePlus Medical Encyclopedia: US National Library of Medicine; Fussy or irritable child.

चिड़चिड़ापन के डॉक्टर

Dr. Lovepreet Singh Dr. Lovepreet Singh सामान्य चिकित्सा
3 वर्षों का अनुभव
S ARORA S ARORA सामान्य चिकित्सा
1 वर्षों का अनुभव
Dr. Srishti Gupta Dr. Srishti Gupta सामान्य चिकित्सा
1 वर्षों का अनुभव
Dr. Ishita Bhasin Dr. Ishita Bhasin सामान्य चिकित्सा
1 वर्षों का अनुभव
डॉक्टर से सलाह लें

चिड़चिड़ापन की दवा - Medicines for Irritability in Hindi

चिड़चिड़ापन के लिए बहुत दवाइयां उपलब्ध हैं। नीचे यह सारी दवाइयां दी गयी हैं। लेकिन ध्यान रहे कि डॉक्टर से सलाह किये बिना आप कृपया कोई भी दवाई न लें। बिना डॉक्टर की सलाह से दवाई लेने से आपकी सेहत को गंभीर नुक्सान हो सकता है।

चिड़चिड़ापन की ओटीसी दवा - OTC Medicines for Irritability in Hindi

चिड़चिड़ापन के लिए बहुत दवाइयां उपलब्ध हैं। नीचे यह सारी दवाइयां दी गयी हैं। लेकिन ध्यान रहे कि डॉक्टर से सलाह किये बिना आप कृपया कोई भी दवाई न लें। बिना डॉक्टर की सलाह से दवाई लेने से आपकी सेहत को गंभीर नुक्सान हो सकता है।

दवा का नाम

कीमत

₹76.95

20% छूट + 5% कैशबैक


₹156.75

20% छूट + 5% कैशबैक


Showing 1 to 0 of 2 entries
cross
डॉक्टर से अपना सवाल पूछें और 10 मिनट में जवाब पाएँ