अंडकोष का लटकना - Sagging Testicles in Hindi

Dr. Rajalakshmi VK (AIIMS)MBBS

June 15, 2022

June 15, 2022

अंडकोष का लटकना
अंडकोष का लटकना

स्क्रोटम के अंदर दो अंडाकार ग्रंथियों को अंडकोष कहा जाता है. यह पुरुष सेक्स हार्मोन का उत्पादन करने और प्रजनन प्रणाली का जरूरी अंग है. अंडकोष का स्वस्थ होना जरूरी है, क्योंकि इसमें किसी भी तरह की समस्या होने पर शुक्राणु और टेस्टोस्टेरोन हार्मोन के उत्पादन में कमी आ सकती है. उम्र बढ़ने के साथ-साथ अंडकोष की त्वचा यानी स्क्रोटम लोच खो देती है, जिससे यह ढीली होती जाती है और लटकने लगती है. वहीं, कुछ लोगों में युवावस्था में ही अंडकोष लटकने लगता है. ऐसा कई कारणों से हो सकता है.

आज इस लेख में आप जानेंगे कि अंडकोष के लटकने के लक्षण, कारण और इलाज क्या-क्या हैं -

(और पढ़ें - अंडकोष में सूजन के घरेलू उपाय)

अंडकोष के लटकने के लक्षण - Sagging Testicles Symptoms in Hindi

लटकते हुए अंडकोष उम्र बढ़ने का एक स्वाभाविक हिस्सा है. जरूरी नहीं है कि यह किसी बीमारी का संकेत हो, लेकिन अगर अंडकोष के लटकने के साथ ही अन्य लक्षण भी महसूस होते हैं, तो इस स्थिति में डॉक्टर से कंसल्ट करना जरूरी होता है. ये लक्षण कुछ इस प्रकार से हैं -

(और पढ़ें - वृषण में सिकुड़न)

अंडकोष के लटकने के कारण - Sagging Testicles Causes in Hindi

अंडकोष के आसपास की त्वचा के लटकने के पुरुषों में अलग-अलग कारण हो सकते हैं. कई लोगों में यह स्वाभाविक रूप से काफी ढीली होती है. इसके लटकने के विभिन्न कारण निम्न प्रकार से हैं -

बढ़ती उम्र

जिन पुरुषों की उम्र अधिक होती है, उनके अंडकोष लटक सकते हैं. 50 की उम्र के बाद अंडकोष लटके हुए महसूस हो सकते हैं. 2014 के एक अध्ययन के अनुसार उम्र बढ़ने पर त्वचा कोलेजन खोने लगती है. इससे त्वचा में कसावट नजर नहीं आती है. ऐसा होने पर त्वचा लटकी हुई नजर आ सकती है.

(और पढ़ें - अंडकोष में चोट)

शुक्राणु का निर्माण

कई बार कम उम्र के पुरुषों में भी अंडकोष लटका हुआ दिख सकता है. ऐसा शुक्राणु का निर्माण होने के कारण होता है. शुक्राणु उत्पादन के लिए अंडकोष को सही तापमान की जरूरत होती है, इसलिए अंडकोष स्वाभाविक रूप से शरीर से थोड़ा नीचे लटक जाते हैं. ऐसा इसलिए होता है, क्योंकि शरीर का तापमान आमतौर पर 98.6°F के आसपास रहता है और स्वस्थ शुक्राणु का उत्पादन करने के लिए अंडकोष का कुछ डिग्री ठंडा रहना जरूरी है.

(और पढ़ें - अंडकोष निकालने की सर्जरी)

वैरीकोसेल

अंडकोष के लटकने का एक कारण वैरीकोसेल भी हो सकता है. यह समस्या तब होती है, जब अंडकोष के पास की नस सूज जाती है. सूजन की वजह से ब्लड सर्कुलेशन बढ़ता है, वहां गर्मी पैदा होती है. ऐसे में शरीर अंडकोष को गर्मी से बचाने के लिए नीचे कर देता है. इससे अंडकोष लटका हुआ महसूस हो सकता है. एशियन जर्नल ऑफ एंड्रोलॉजी के अनुसार 15 फीसदी पुरुषों में यह रोग दिखाई देता है. यह पुरुषों में इनफर्टिलिटी का कारण भी बन सकता है.

(और पढ़ें - अंडकोष का कैंसर)

अंडकोष के लटकने का इलाज - Sagging Testicles Treatment in Hindi

जैसे-जैसे उम्र अधिक होती है, त्वचा की लोच कम होने लगती है. इसकी वजह से शरीर की त्वचा के साथ ही अंडकोष की त्वचा भी लटकने लगती है. वैसे तो यह सामान्य है, लेकिन कुछ मामलों में इसे इलाज की जरूरत पड़ सकती है. 

कीगल एक्सरसाइज

कीगल एक्सरसाइज को करके लिंग और अंडकोष के स्वास्थ्य को बेहतर बनाया जा सकता है. इसे करने से प्यूबोकॉसीगल मसल्स एक्टिव होती हैं. प्यूबोकॉसीगल मसल्स का इस्तेमाल पुरुष मूत्र प्रवाह को रोकने के लिए करते हैं. इस एक्सरसाइज को करने से पेल्विक फ्लोर में सुधार होता है, जिससे अंडकोष, प्रोस्टेट व पेनिस को विभिन्न तरह के रोगों से बचाया जा सकता है.

(और पढ़ें - अंडकोष में दर्द के लिए घरेलू उपचार)

टेस्टिक्युलर होल्डिंग

अंडकोष के लटकने की समस्या को ठीक करने के लिए ये भी एक आसान एक्सरसाइज है. इसके लिए अंडकोष को एक हाथ में पकड़कर नीचे की ओर खींचने से प्यूबोकॉसीगल मसल्स को सक्रिय करने में मदद मिलती है. ऐसा रोज 5 मिनट के लिए किया जा सकता है.

(और पढ़ें - अंडकोष में गांठ का इलाज)

स्किन को हेल्दी रखें

अमेरिकन एकेडमी ऑफ डर्मेटोलॉजी के अनुसार स्किन की देखभाल करने से इस समस्या से बचा जा सकता है. इसके लिए सूरज के संपर्क में आने से बचना जरूरी है. साथ ही शराब व धूम्रपान से दूरी बनाए रखना और वजन को कंट्रोल में रखना जरूरी है.

(और पढ़ें - अंडकोष में हर्निया)

सर्जरी

लटकते अंडकोष का इलाज करने के लिए सर्जरी भी एक विकल्प हो सकता है. स्क्रोटोप्लास्टी नामक प्रक्रिया अंडकोष को नीचे तक लटकने से बचाने में मदद कर सकती है. इस प्रक्रिया के तहत स्क्रोटम से अतिरिक्त त्वचा को हटाया जाता है. इससे लटके अंडकोष की वजह से होने वाली समस्याएं भी दूर हो सकती हैं.

(और पढ़ें - अंडकोष में दर्द की होम्योपैथिक दवा)

सारांश – Summary

अधिकतर मामलों में अंडकोष का लटकना चिंता का कारण नहीं होता है, लेकिन अगर इसके साथ ही प्रोस्टेट में दर्द होता है, तो डॉक्टर से जरूर मिलना चाहिए. शुक्राणुओं के उत्पादन के लिए अंडकोष का हेल्दी होना जरूरी है. वैसे तो सैगिंग अंडकोष का कोई इलाज उपलब्ध नहीं है, एक्सपर्ट्स की मानें तो कुछ लोशन, क्रीम या सप्लीमेंट इसमें कुछ मदद कर सकते हैं.

(और पढ़ें - लिंग में दर्द)



cross
डॉक्टर से अपना सवाल पूछें और 10 मिनट में जवाब पाएँ