वोल्फ पार्किंसंस व्हाइट सिंड्रोम - Wolff Parkinson White Syndrome in Hindi

written_by_editorial

March 25, 2019

कई बार आवाज़ आने में कुछ क्षण का विलम्ब हो सकता है!
वोल्फ पार्किंसंस व्हाइट सिंड्रोम
कई बार आवाज़ आने में कुछ क्षण का विलम्ब हो सकता है!

वोल्फ पार्किंसंस व्हाइट सिंड्रोम क्या है? 

वोल्फ पार्किंसंस व्हाइट सिंड्रोम हृदय की एक समस्या है। इस स्थिति में हृदय की विद्युतीय चालन प्रणाली में एक अतिरिक्त विद्युतीय मार्ग बन जाता है। इससे व्यक्ति की हृदय दर में बढ़ोतरी हो जाती है। हृदय में एक निश्चित विद्युतीय प्रणाली होती है, जिसमें सिग्नल निर्धारित प्रक्रिया के तहत हृदय के ऊपर से नीचे के चैम्बर तक पहुंचते हैं। इस प्रक्रिया से ही हृदय धड़कता है।   

वोल्फ पार्किंसंस व्हाइट सिंड्रोम शिशुओं और बच्चों की हृदय दर में बढ़ोतरी की एक आम वजह होता है। 

(और पढ़ें - दिल के बढ़ने का उपचार)

वोल्फ पार्किंसंस व्हाइट सिंड्रोम के लक्षण क्या हैं?

वोल्फ पार्किंसंस व्हाइट सिंड्रोम होने पर कई लोगों की थोड़े समय के लिए ही दिल की धड़कने तेज हो जाती हैं और ऐसा लंबे समय तक नहीं चलता है। जबकि इससे सिंड्रोम से पीड़ित कुछ अन्य लोगों को दिल की धड़कने तेज होने की समस्या सप्ताह में एक या दो बार या इससे अधिक भी हो सकती है। इस सिंड्रोम में व्यक्ति को सीने में दर्द, सीने में अकड़न, बेहोशी, सांस लेने में मुश्किल होना, चक्कर आने, सिर घूमने और पेल्पिटेशन्स (दिल की धड़कने तेज या दिल की धड़कने अनियमित होना) आदि लक्षण महसूस होते हैं। 

(और पढ़ें - छाती में दर्द होने पर क्या करें)

वोल्फ पार्किंसंस व्हाइट सिंड्रोम क्यों होता है? 

वोल्फ पार्किंसंस व्हाइट सिंड्रोम एक जन्मजात हृदय दोष है, कुछ मामलों में बच्चा इस समस्या के साथ ही पैदा होता है। माता-पिता से बच्चे को प्राप्त होता है, लेकिन अधिकतर मामलों में यह कभी भी हो जाता है और पीढ़ी दर पीढ़ी नहीं चलता है। अगर आपको यह सिंड्रोम है, तो ऐसे में आपको हृदय संबंधी अन्य समस्याएं होने की संभावनाएं रहती है। 

इस सिंड्रोम के साथ पैदा होने वाले बच्चों को किशोर व व्यस्क होने के पर ही इस समस्या का पता चल पाता है।

(और पढ़ें - हृदय रोग का इलाज)

वोल्फ पार्किंसंस व्हाइट सिंड्रोम​​​ का इलाज कैसे होता है?

वोल्फ पार्किंसंस व्हाइट सिंड्रोम का इलाज एंटीएरिथमिया (अनियमित दिल की धड़कनों को कम करना) दवाओं से किया जाता है। इससे दिल की तेज धड़कनों को नियंत्रित किया जाता है।  

दवाओं के इस्तेमाल से दिल की धड़कने सामान्य न होने पर डॉक्टर रोगी को ठीक करने के लिए इलेक्ट्रिकल कार्डियोवर्जन (Electrical cardioversion) नामक थेरेपी का प्रयोग करते हैं। 

(और पढ़ें - पार्किंसंस रोग का इलाज)



संदर्भ

  1. MedlinePlus Medical Encyclopedia: US National Library of Medicine; Wolff-Parkinson-White syndrome (WPW)
  2. Cleveland Clinic. [Internet]. Cleveland, Ohio. Wolff-Parkinson-White Syndrome (WPW)
  3. Better health channel. Department of Health and Human Services [internet]. State government of Victoria; Wolff-Parkinson-White syndrome
  4. National Institutes of Health; [Internet]. U.S. Department of Health & Human Services; Wolff-Parkinson-White syndrome.
  5. National Center for Advancing and Translational Sciences. Wolff-Parkinson-White syndrome. Genetic and Rare Diseases Information Center

वोल्फ पार्किंसंस व्हाइट सिंड्रोम की दवा - Medicines for Wolff Parkinson White Syndrome in Hindi

वोल्फ पार्किंसंस व्हाइट सिंड्रोम के लिए बहुत दवाइयां उपलब्ध हैं। नीचे यह सारी दवाइयां दी गयी हैं। लेकिन ध्यान रहे कि डॉक्टर से सलाह किये बिना आप कृपया कोई भी दवाई न लें। बिना डॉक्टर की सलाह से दवाई लेने से आपकी सेहत को गंभीर नुक्सान हो सकता है।

दवा का नाम

कीमत

₹261.55

20% छूट + 5% कैशबैक


₹277.0

20% छूट + 5% कैशबैक


Showing 1 to 4 of 4 entries
cross
डॉक्टर से अपना सवाल पूछें और 10 मिनट में जवाब पाएँ