myUpchar Call

कंडोम का सही तरीके से इस्तेमाल करना जनसंख्या नियंत्रण का सबसे अच्छा तरीका है. साथ ही यह विभिन्न प्रकार के यौन रोगों से बचाने में भी मदद करता है. अब सवाल यह उठता है कि कंडोम का प्रयोग कब करना चाहिए, तो इसका सीधा सा जवाब है कि सेक्स करते समय हमेशा कंडोम का उपयोग करना सही और सुरक्षित तरीका है.

आज इस लेख में हम इसी मुद्दे पर चर्चा करेंगे -

(और पढ़ें - सबसे अच्छा कंडोम कौन सा है)

  1. कंडोम का प्रयोग कब करें?
  2. कंडोम के प्रकार
  3. कंडोम प्रयोग करते समय बरतें सावधानी
  4. सारांश
यौन रोग के डॉक्टर

आइए, अब जानते हैं कि किन अवस्थाओं में कंडोम का उपयोग जरूर करना चाहिए -

  • अगर कोई महिला गर्भवती नहीं होना चाहती, तो उसे सेक्स के समय कंडोम का इस्तेमाल जरूर करना चाहिए. इसके लिए महिला या पुरुष दोनों में से कोई भी एक कंडोम का उपयोग कर सकता है.
  • वजाइनल सेक्स, ओरल सेक्स और एनल सेक्स के दौरान कंडोम का इस्तेमाल दोनों लोगों की हेल्थ के लिए अच्छा विकल्प है.
  • अगर सेक्स के समय कोई सेक्स टॉय का भी इस्तेमाल कर रहा है, तो भी टॉय को कंडोम से कवर करना चाहिए. ऐसा करने से बैक्टीरियल वेजिनोसिस से बचा जा सकता है.
  • एचआईवीसिफीलिसहर्पीसएचपीवी व ट्राइकोमोनिएसिस जैसी यौन संचारित बीमारी मुंह के द्वारा सेक्स करते समय शरीर के अंदर आ सकती हैं. इसलिए, इनसे बचने के लिए कंडोम जरूरी है.
  • पीरियड के दौरान सेक्स करते समय भी कंडोम का उपयोग करने की सलाह दी जाती है, क्योंकि पीरियड के समय सेक्स करने से यौन संचारित बीमारी फैलने का खतरा ज्यादा होता है.

(और पढ़ें - टाइम बढ़ाने वाले कंडोम)

कंडोम दो प्रकार के होते हैं, पुरुष कंडोम और महिला कंडोम. आइए जानते हैं -

पुरुष कंडोम

पुरुष कंडोम को बाहरी कंडोम भी कहते हैं. पुरुष कंडोम आसानी से उपयोग किया जाता है. इसे सेक्स करने से पहले पेनिस पर पहना जाता है. यह स्पर्म को वजाइना के अंदर जाने से रोकता है. इससे महिला के गर्भवती होने की संभावना सिर्फ 2 प्रतिशत ही रह जाती है.

(और पढ़ें - क्या कंडोम से प्रेग्नेंट हो सकते हैं?)

महिला कंडोम

महिला कंडोम को आंतरिक कंडोम कहते हैं. इसका इस्तेमाल कम होता है. महिला कंडोम को सेक्स के दौरान वजाइना के अंदर रखा जाता है. यह डेंटल डैम से अलग होता है. यह कंडोम ओरल सेक्स के समय डेंटल बैक्टीरिया को फैलने से रोकता है. साथ ही इस्तेमाल करने से महिला के गर्भवती होने के चांसेस सिर्फ 5 प्रतिशत रह जाते हैं.

(और पढ़ें - बिना कंडोम सेक्स के जोखिम)

महिला हो या पुरुष दोनों को कंडोम उपयोग करते समय निम्न बातों को जरूर ध्यान में रखना चाहिए -

  • जब भी सेक्स करें, तो कंडोम का उपयोग जरूर करें.
  • कंडोम का उपयोग करने से पहले पैकेट को जरूर चेक करें कि उसे किस मटीरियल से बनाया गया है, ताकि आप किसी भी प्रकार की एलर्जी से बच सकें.
  • कंडोम की एक्सपायरी डेट को भी जरूर चेक करें.
  • कंडोम को ठंडी और सूखी जगह पर रखना ठीक है.
  • लेटेक्स या पॉलीयुरेथेन कंडोम का उपयोग अच्छा है.
  • सेक्स करते समय बेबी ऑयल, लोशन या कुकिंग तेल का उपयोग करने से बचें, क्योंकि इससे कंडोम के फटने का खतरा होता है.
  • एक कंडोम का उपयोग सिर्फ एक बार ही करें.

(और पढ़ें - एक्सपायर्ड कंडोम इस्तेमाल करने के नुकसान)

पुरुष और महिला कंडोम का उपयोग करके यौन संचारित बीमारी से बचा जा सकता है. इसको रोकने का यही एक मात्र तरीका है. हैंड व माउथ सेक्स के दौरान एसटीआई के खतरे से बचने के लिए कंडोम प्रयोग सुरक्षित है. सही साइज और सही पैकिंग डेट का कंडोम प्रयोग करना सुरक्षित है.

(और पढ़ें - कंडोम के साइज पर दें ध्यान)

Dr. Rajesh Manghnani

Dr. Rajesh Manghnani

सेक्सोलोजी
17 वर्षों का अनुभव

Dr. Abdul Haseeb Sheikh

Dr. Abdul Haseeb Sheikh

सेक्सोलोजी
8 वर्षों का अनुभव

Dr. Srikanth Varma

Dr. Srikanth Varma

सेक्सोलोजी
8 वर्षों का अनुभव

Dr. Pranay Gandhi

Dr. Pranay Gandhi

सेक्सोलोजी
10 वर्षों का अनुभव

ऐप पर पढ़ें
cross
डॉक्टर से अपना सवाल पूछें और 10 मिनट में जवाब पाएँ