myUpchar प्लस+ के साथ पूरेे परिवार के हेल्थ खर्च पर भारी बचत

यह आश्चर्य की बात नहीं है कि पुरुष लिंग पर हमेशा अधिक चर्चा होती रही है और शोध कार्यों में भी यह अधिक ध्यान प्राप्त करता रहा है। नर यौन अंग को ऐतिहासिक रूप से डोमिनेंट सेक्स माना जाता रहा है।

दूसरी तरफ, क्लाइटोरिस को खोजने में शोधकर्ताओं ने काफी समय लगा दिया। क्लाइटोरिस को मानव शरीर में एकमात्र अंग होने का अनूठा गौरव प्राप्त है जो पूरी तरह से संतुष्टि के लिए समर्पित है, यह एक अद्भुत तथ्य है जिसे विज्ञान और यौन साथियों ने लंबे समय तक समान रूप से उपेक्षित किया है।

मादा क्लाइटोरिस उतनी रहस्यमय नहीं है जितना आप वर्तमान में मानते हैं। शायद आपने कई बार सोचा होगा कि कैसे अपने साथी को बेहतर तरीके से संतुष्ट किया जाएं और कैसे स्वयं को महिला की शारीरिक रचना के बारे में शिक्षित किया जाएं, जिससे आप प्यार करते हैं या करते थे।

(और पढ़े - सेक्स लाइफ को बेहतर बनाने के तरीके)

क्लाइटोरिस के बारे में अज्ञान न केवल महिलाओं और उसके साथी के लिए बुरा है बल्कि यह उन महिलाओं के लिए भी बुरी खबर है जो बीमारी या संक्रमण के कारण क्लिटोरल दर्द का अनुभव करती हैं।

यदि आप नहीं जानते कि क्लाइटोरिस या क्लिटोरिस के बारे में कैसे बात करें, यह भी नहीं जानते कि एक स्वस्थ क्लाइटोरिस कैसे काम करती है, तो इससे हमारे जीवन की गुणवत्ता, हमारे स्वास्थ्य और यहां तक ​​कि सामान्य रूप से स्त्री समानता पर हमारी संभावनाओं को भी नुकसान पहुंचता है।

(और पढ़े - यौन स्वास्थ के बारे में संपूर्ण जानकारी)

अच्छी खबर यह है कि अब हालात बदल रहे हैं। महिलाएं स्वयं खुलकर चर्चा करने लगी हैं कि क्लाइटोरिस क्या है, यह कहां स्थित है और यह क्या करती है? यौन संतुष्टि प्राप्त करने के लिए क्लाइटोरिस को उत्तेजित करने के तरीके और क्लाइटोरिस से जुड़े विकार क्या हैं? हम इसी परिप्रेक्ष में आपको इन सभी सवालों के जवाब इस लेख में दे रहे हैं।

  1. क्लाइटोरिस क्या है - What is clitoris in hindi
  2. क्लाइटोरिस कहाँ होती है - How to find your clitoris in hindi
  3. क्लाइटोरिस कैसे उत्तेजित करें - How to stimulate her clitoris in hindi
  4. क्लाइटोरिस से जुड़े विकार - Disorders of the Clitoris in hindi
  5. क्लाइटोरिस क्या है, किधर होता है, उत्तेजित करने का तरीका के डॉक्टर

क्लाइटोरिस की प्रकृति इसके नाम में ही मिल जाती है। "क्लिटोरिस" (clitoris) प्राचीन यूनानी शब्द "क्लेटोरिस" (kleitoris) से आता है, जिसका अर्थ है "लिटिल हिल" यानी छोटी पहाड़ी और ये "क्लेइस" शब्द से भी संबंधित हो सकता है जिसका अर्थ है "की" (key) क्योंकि यह अंग एक ऐसी कुंजी हो सकती है जो महिला के यौन सुख को अनलॉक करती है।

(और पढ़े - सेक्स के फायदे और नुकसान)

यह सिर्फ एक "लिटिल हिल" नहीं है, जैसा कि लंबे समय से माना जाता रहा है। क्लाइटोरिस एक बहुत ही महत्वपूर्ण यौन अंग है। यह महिला के यौन सुख का मुख्य स्रोत है। इसमें महिला के शरीर में पाए जाने वाले किसी भी अंग से अधिक कमोत्तेजक तंत्रिका सिरे होते हैं।

एक जब आप यह महसूस कर लेते हैं कि क्लाइटोरिस वास्तव में किसी पुरुष के लिंग के समान ही है, तो फिर ये आपके लिए उतनी आश्चर्यजनक नहीं रह जाती है। मानव भ्रूण में, क्लाइटोरिस और लिंग दोनों एक ही संरचना (जननांग ट्यूबरकल) से बने होते हैं।

क्लाइटोरिस लिंग की तरह के ही इरेक्टाइल ऊतक से बनी है। उत्तेजित होने पर, ऊतक खून के बहाव से सूज जाता है और खड़ा हो जाता है, हालाँकि यह अपने पुरुष समकक्ष से बहुत कम दिखता है। जब यह सूजती है तो क्लिटरल हुड के नीचे ग्लान्स में खिंचाव आता है।

वास्तव में, यह छोटी पहाड़ी (त्वचा के एक लबादे या "क्लिटोरल हुड" के संरक्षण में, जो मूत्रमार्ग के ऊपर पाई जाता है) क्लाइटोरिस नामक बड़े अंग की केवल एक छोटी सी नोक है, जिसे क्लिटोरल ग्रंथि कहा जाता है। यह नोक इस जननांग का सबसे आसानी से दिखाई देने वाला हिस्सा है, वास्तव में पूरा अंग उससे कहीं अंदर तक फैला हुआ है और इस धारणा को शुरुआत में कुछ साल पहले शोधकर्ता डॉ हेलेन ओ'कोनेल द्वारा सार्वजनिक रूप से ध्यान में लाया गया था।

समय आ गया है कि आप भी यह समझे कि एक महिला का यौन सुख का केंद्र एक छोटा सा नब या पिंड नहीं है, यह एक विशाल खेल का मैदान है और अब आपको यहाँ खेल का आनंद लेने के लिए केवल कुछ नियमों को जानने की आवश्यकता है।

(और पढ़े - सेक्स कब और कितनी बार करें)

क्लिटोरिस में तीन प्रमुख घटक होते हैं -

  • ग्लांस क्लिटोरिस - इस पूरे अंग का एकमात्र दृश्य हिस्सा है, जो पूरे ढांचे के पांचवें के बराबर या उससे भी कम आकार का होता है।
  • दो क्रुरा (crura) - जो ब्रैकेट की तरह विस्तारित होता है, ग्लांस क्लिटोरिस से नीचे की तरफ और वुलवा के ऊतक की गहराई में, दोनों तरफ पाया जाता है।
  • वेस्टिबुल के दो बल्ब - जो योनि द्वार के दोनों तरफ फैले होते हैं। (सभी शोधकर्ता इससे सहमत नहीं हैं कि वेस्टिबुलर बल्बों का क्लाइटोरिस से संबंध है, हालांकि शोधकर्ता “विंसेंजो” और “गिउलिआ पुप्पो”, तर्क देते हैं कि क्लाइटोरिस केवल ग्लांस, शरीर और क्रूरा" से बनी होती है) वेस्टिबुल वुलवा का भाग होता है, वुलवा महिला का बाह्य जननांग होता है।

क्लाइटोरिस की पूरी लंबाई में 7 सेंटीमीटर तक पहुंच सकती है और ग्लांस लगभग 4-7 मिलीमीटर हिस्सा होती हैं ग्लांस वह हिस्सा भी है जो तंत्रिका के स्वंतंत्र सिरों में सबसे अधिक संपन्न है, इस लिए सबसे अधिक उत्तेजना प्रदान करता है।

वुलवा (योनिमुख) एक ऐसा शब्द है जो सारे बाहरी मादा जननांगों के भागों का वर्णन करने के लिए प्रयोग किया जाता है। योनि (एक आंतरिक अंग) के चारों ओर, इन अंगों में लाबिया मैजोरा, लाबिया माइनोरा, क्लाइटोरिस, योनि का वेस्टिबुल, वेस्टिबुल का बल्ब और बार्थोलिन की ग्रंथियां शामिल हैं।

(और पढ़े - योनि के बारे में जानकारी)

लाबिया (होंठ) के दो सेट योनि के चारों ओर एक अंडाकार आकार बनाते हैं। लाबिया माइनोरा छोटे होते हैं और योनि को घेरते हैं। लाबिया मैजोरा बड़ा होता है और युवावस्था आने के बाद, लाबिया मैजोरा का बाहरी हिस्सा बाल से ढक जाता है। उस बिंदु पर जहां लाबिया मैजोरा मिलते हैं (प्यूबिक हड्डी के पास) क्लाइटोरिस होती है।

यदि आप करीब से देखना चाहती हैं तो निम्नलिखित तरीके का उपयोग करके आप इसे देख सकती हैं। अपनी क्लाइटोरिस को कैसे ढूंढें यहां बताया गया है -

  • अपने एक हाथ में दर्पण लें और कमर से नीचे नग्न हो जाएं।
  • अब एक कुर्सी पर या अपने बिस्तर के कोने पर बैठे और अपने पैरों को खोल कर कुर्सी या बिस्तर पर एक पैर रखें।
  • अपने पैरों के बीच दर्पण को पकड़े और इसे ऐसे कोण में रखें ताकि आप अपना वुलवा (बाहरी योनि) देख सकें।
  • अपनी योनि के बाहरी और आंतरिक होंठ को अलग करने के लिए दूसरे खाली हाथ का प्रयोग करें।
  • अपने "स्लिट" यानी योनि के छेद के ऊपर देखें, आपको त्वचा का एक पल्ला दिखाई देगा जो आपके भीतर के होंठ (लाबिया माइनोरा) से जुड़ा हुआ है, इस पल्ले को क्लिटोरल हुड कहा जाता है।
  • क्लाइटोरिस उस क्लिटोरल हुड के नीचे है जहां आंतरिक लाबिया मिलती है।

क्लाइटोरिस के सिर या ग्लांस, आकार में भिन्न हो सकते हैं, लेकिन क्लिटोरियल हुड के नीचे, वुलवा के ऊपर की तरफ क्लाइटोरिस की केवल नोक देखी जा सकती है।

(और पढ़े - महिलाओं और पुरुषों को उत्तेजित करने वाले अंग)

महिलाओं में ऑर्गास्म के लिए क्लिटोरल उत्तेजना आवश्यक है। ज्यादातर महिलाओं को अकेले लिंग प्रवेश से ऑर्गास्म का अनुभव नहीं होता है, उन्हें उत्तेजना का निर्माण करने और क्लाइमेक्स का अनुभव करने के लिए क्लिटोरल उत्तेजना की आवश्यकता होती है।

कई महिलाएं क्लाइटोरिस को एक तरफ से या क्लिटोरल हुड के माध्यम से उत्तेजित करना पसंद करती हैं। पुरुष अत्यधिक संवेदनशील क्लाइटोरिस को अतिउत्तेजना से बचाने के लिए धीरे धीरे अपनी साथी को गर्म करें। आपको महिलाओं को खुशी देने के अपने कौशल को बढ़ाना चाहिए।

(और पढ़े - सेक्स के दौरान पुरुष से क्या चाहती हैं महिलाएं)

जब बात महिला साथी के ऑर्गास्म की आती है तो संवेदनशीलता के अपने उच्च स्तर के कारण आमतौर पर क्लाइटोरिस मुख्य खिलाड़ी होती है। लोकप्रिय संस्कृति और पॉर्नोग्राफी में अक्सर महिला के ऑर्गास्म को इस तरह दर्शाया जाता है जैसे वह आमतौर पर लिंग प्रवेश के माध्यम से प्राप्त होता है, लेकिन विज्ञान पूरी तरह से एक अलग कहानी बताता है। अधिकांश महिलाओं, शोधकर्ताओं ने पाया है कि जब क्लाइटोरिस या विशेष रूप से, ग्लैन्स क्लाइटोरिस उत्तेजित होते हैं केवल तभी एक महिला ऑर्गास्म प्राप्त करती है।

(और पढ़े - कंडोम को उपयोग करने का तरीका और फायदे)

जो महिलाएं अकेले लिंग प्रवेश से ऑर्गास्म का अनुभव करने में असमर्थ हैं। उन महिलाओं के लिए, एक सुखद तरीके से क्लाइटोरिस को छूना ऑर्गास्म प्राप्त करने का एकमात्र तरीका हो सकता है। उन महिलाओं के लिए जो प्रवेश के माध्यम से ऑर्गास्म प्राप्त कर सकती हैं, क्लाइटोरिस को उत्तेजित करने से उनके ऑर्गास्म की ताकत बढ़ सकती है।

(और पढ़े - लंबे समय तक सेक्स करने के तरीके)

प्रत्येक क्लाइटोरिस अलग-अलग प्रकार से उत्तेजना पसंद करती है। किसी महिला से डेटिंग करने वाले लोगों के लिए यह विशेष रूप से महत्वपूर्ण है। सिर्फ इसलिए कि आपने अपनी पूर्व महिला साथी को क्लाइटोरिस ऑर्गास्म दिया था, इसका मतलब यह नहीं है कि, आप अपनी इस महिला साथी के लिए भी ऐसा करने में सक्षम होंगे। हर महिला क्लाइटोरिस को उत्तेजित करने के अलग-अलग तरीके पसंद कर सकती है, इसलिए पहले अपनी साथी की पसंद का पता करें।

अब जब आप इस ज्ञान में उच्च शिक्षा प्राप्त कर चुके हैं कि आखिर आपकी महिला साथी शयन कक्ष में आप से क्या अपेक्षा रख रही हैं और क्यों क्लाइटोरिस आपके ध्यान का मुख्य केंद्र होना चाहिए, जहां सबकुछ स्थित है। अब समय है इस चरम सुख के बिंदु को छूने, रगड़ने,चूमने और उत्तेजना के विभिन्न तरीकों का अध्ययन शुरू करने का। हमें उम्मीद है कि आप तैयार हैं।

  1. क्लाइटोरिस को मुँह से कैसे उत्तेजित करें - How to stimulate it with your mouth in hindi
  2. क्लाइटोरिस को हाथ से कैसे उत्तेजित करें - How to stimulate it with your hands in hindi
  3. क्लाइटोरिस को सेक्स टॉय से कैसे उत्तेजित करें - How to stimulate it with sex toys in hindi
  4. क्लाइटोरिस को लिंग से कैसे उत्तेजित करें - How to stimulate it with your penis in hindi

क्लाइटोरिस को मुँह से कैसे उत्तेजित करें - How to stimulate it with your mouth in hindi

कुछ महिलाओं को तभी चरम सुख की प्राप्ति होती है जब उनका साथी नीचे जाता है। ओरल सेक्स एक ऐसी सीखने वाली कला है जो हर व्यक्ति-व्यक्ति पर निर्भर होती है। आपकी पिछली गर्लफ्रेंड्स और साथी के लिए क्या बेहतर था, वही चीज़ आपके वर्तमान साथी के साथ काम करेगी यह पक्का नहीं है।

कई महिलाएं ओरल सेक्स के प्रति बेहतरीन प्रतिक्रिया देती हैं और महसूस करती हैं कि यह एकमात्र तरीका है जिससे वे अपने साथी के साथ ऑर्गास्म प्राप्त कर सकती हैं। चाहे आप उसे उत्तेजित कर रहे हों या आप उसे चरम पर ले जाना चाहते हो, ओरल सेक्स एक उत्तम तकनीक है।

(और पढ़े - गर्भावस्था में सेक्स करें या नहीं)

यह सब आसान बनाने के लिए, उसकी कमर के नीचे एक या दो तकिये रखने पर विचार करें। यह उसके गर्म स्थानों तक आपकी पहुंच आसान बना सकता है। एक बार जब आप ठीक से तैनात हो जाते हैं, तो उसकी दुनिया को रॉक करने के लिए आप कई चीजें कर सकते हैं।

सबसे पहले, उसकी जांघों पर हाथ से सहलाते हुए, स्वाभाविक रूप से सांस लेते हुए उसे गर्म करें ताकि वह अपनी क्लाइटोरिस पर और उसकी वुलवा के अन्य क्षेत्रों में आपकी सांस महसूस कर सके। आप उसकी कसमसाहट को अधिक बड़ा कर उसे इंप्रेस कर सकते हैं, यह इस संभावन को बढ़ाने में मदद करेगा। फिर, एक बार जब आप तैयार हो जाएं, तो उसे किसी आइसक्रीम कोण की तरह लीक करना शुरू करें, लंबे, मोटे स्ट्रोक के साथ जो उस पूरे क्षेत्र को नीचे तक कवर करते हैं।

(और पढ़े - सुरक्षित सेक्स कैसे करें)

पूरी तरह से टूट पड़ने से पहले अपनी जीभ से धीरे-धीरे लीक करते हुए तीव्रता लाएं। एक बार जब आप एक निश्चित लय तक पहुंच जाएं, तो कुछ चीजों को मिक्स करने की कोशिश करें (हालांकि आपको ध्यान रखना चाहिए कि आपकी साथी आपके स्पर्श का जवाब कैसे दे रही है। अगर उसे एक विशिष्ट लय पसंद आ रही है या विशेष रूप से सुखद लगती है, तो अगर आप अचानक लय बदलते हैं तो वह निराश हो सकती है)।

इस बात का विशेष ध्यान रखे कि ओरल सेक्स करने जा रहे हैं तो उससे पहले गलती से भी शेव न करें। कल्पना कीजिए कि अगर कोई आपके उत्तेजित लिंग के सिर के ऊपर सैंड पेपर रगड़ता है। तो आपको बिलकुल भी अच्छा महसूस नहीं होगा। आप अंदाजा लगा सकते हैं कि आपकी प्रेमिका कैसा महसूस करेगी, यदि ओरल सेक्स से पहले आप शेव करते हैं।

क्लाइटोरिस को हाथ से कैसे उत्तेजित करें - How to stimulate it with your hands in hindi

यदि आप अपने मुँह से उसकी क्लाइटोरिस को छूने के बारे में बहुत असहज या संकोच महसूस कर रहे हैं, तो आपको शायद यह तरीका सबसे पहले सीखना चाहिए। यह न केवल आंखों के संपर्क की अनुमति देता है, क्योंकि आपके चेहरा उसकी टांगों के बीच नहीं होता है, बल्कि आप इस दौरान संवाद भी कर सकते हैं ताकि आप जान सकें कि क्लाइटोरिस पर सही गति और दबाव दे रहे हैं, जो आपकी साथी को पसंद आ रहा है।

(और पढ़े - सेक्स पावर कैसे बढ़ाएं)

आपको सबसे पहले केवल एक उंगली से उसकी क्लाइटोरिस के किनारों को रगड़ने की जरूरत है। अभी सीधे उसकी क्लाइटोरिस पर दबाव डालने की जरूरत नहीं है। इसके बजाए, उसका क्लिटोरल हुड रगड़ें या अपनी अंगुली को इससे दूर रखें ताकि वह सीधा संपर्क न कर सके।

अब एक उंगली से आगे बड़े और अधिक या यहां तक ​​कि अब अपने पूरे हाथ का उपयोग कर सकते हैं। यह निश्चित रूप से अधिक उत्तेजना प्रदान करता है, क्योंकि प्रत्येक उंगली एक के बाद एक उसके क्लाइटोरिस पर चलती है। आप अपनी उंगलियों को साइड-टू-साइड चला सकते हैं या आप उन्हें गोलाकार गति में ले जा सकते हैं। हमेशा की तरह चाबी वही है कि उन तरीकों का प्रयोग करें जो वह सबसे ज्यादा पसंद करती है।

इस बात का ध्यान रखे कि यदि आप ऐसे व्यक्ति नहीं हैं जो नाखून सैलून में अपने नाखूनों को ट्रिम करवाने के लिए रुकते है, तो भी आपके नाखूनों की उचित सफाई रखना न केवल आवश्यक है, बल्कि उसे चोट पहुंचाने से भी बचाएगा।

(और पढ़े - नाखूनों की देखभाल के लिए टिप्स)

ज्यादातर महिलाओं की योनि यौन उत्तेजना के साथ आसानी से गीली हो सकती हैं, लेकिन इसे अधिक रसीला बनाने में कुछ भी गलत नहीं है। अपने हाथ की हथेली पर सीधे पानी आधारित लुब्रिकेंट्स का प्रयोग करें, जिसे आप उसकी योनि के होंठों पर और अंदर धीरे-धीरे छूने के लिए रगड़ सकते हैं।

ओरल उत्तेजना की ही तरह अतिउत्तेजना, उसके आनंद को मार सकती है। गर्मजोशी के लिए और यहां तक ​​कि ऑर्गास्म के लिए भी फिंगरिंग बहुत अच्छी हैं, लेकिन इस बारे में बहुत जागरूक रहें कि वह किस तरह प्रतिक्रिया दे रही है और यदि वह अतिसंवेदनशीलता या थकान महसूस करती हैं, तो उसे थोड़ा ब्रेक देने के लिए अन्य गतिविधियों का सहारा लें।

क्लाइटोरिस को सेक्स टॉय से कैसे उत्तेजित करें - How to stimulate it with sex toys in hindi

हालाँकि, अधिकांश महिलाएं अकेले लिंग प्रवेश, हाथों या ओरल उत्तेजना के माध्यम से ऑर्गास्म प्राप्त करने में सक्षम हैं, लेकिन कभी-कभी ये उसे ऑर्गास्म देने के लिए पर्याप्त नहीं होते हैं। यही वह मौका है जब सेक्स टॉय, विशेष रूप से वाइब्रेटर, खेल में शामिल हो जाते हैं। सेक्स टॉय उद्योग ने हाल के वर्षों में बाजार में सुरक्षित और बहुमुखी वाइब्रेटर तथा अन्य उत्पाद लाने तक एक लंबा सफर तय किया है।

सेक्स टॉय का उपयोग करने के लिए लुब्रीकेंट का चयन बड़ी सावधानी के साथ करें। क्योंकि सिलिकॉन आधारित लुब्रीकेंट कठोर प्लास्टिक, एल्यूमीनियम, सिरेमिक, स्टील, ग्रेनाइट, लकड़ी, संगमरमर इत्यादि जैसे कठोर सामग्रियों से बने खिलौनों पर तो ठीक हैं।

लेकिन जो टॉय सिलिकॉन से बने होते हैं उनके साथ सिलिकॉन (जो सबसे महंगे वाइब्रेटर और योनि में प्रवेश योग्य सेक्स टॉय होते हैं) रिएक्शन करके आपके हजारों रुपये के सेक्स टॉय खराब कर सकते हैं और आपके साथी के नाजुक क्षेत्रों को घायल कर सकते हैं। इसका हल यह है कि पानी आधारित लुब्रिकेंट्स का प्रयोग करें।

जब सेक्स टॉय की खरीदारी कर रहे हैं, तो एक वाइब्रेटर के साथ शुरू करें जो न केवल उसे उत्तेजित करें, बल्कि उसके क्लाइटोरिस तक पहुंचे। एक वाइब्रेटर के साथ उसके क्लाइटोरिस को उत्तेजित करते हुए उसकी योनि में प्रवेश के लिए अपने लिंग या उंगलियों या एक जी स्पॉट को उत्तेजित करने वाला सेक्स टॉय का प्रयोग करना सबसे बेहतर संयोजन है।

क्लाइटोरिस को लिंग से कैसे उत्तेजित करें - How to stimulate it with your penis in hindi

अंत में क्लाइटोरिस तक पहुंचने का एक अन्य तरीका आपका सबसे अधिक मूल्यवान अंग, आपका लिंग है। क्लिटोरल उत्तेजना के लिए एक शक्तिशाली लेकिन अक्सर उपेक्षित तकनीक है क्लाइटोरिस से संपर्क करने के लिए लिंग की शाफ्ट (मूठ) का प्रयोग करना। बहुत सारे लुब्रीकेंट के साथ, यह तकनीक उसके होंश उड़ाने के लिए बेहतरीन हो सकती है।

(और पढ़े - यौन आसान की संपूर्ण जानकारी)

यहां अविश्वसनीय क्लिटोरल उत्तेजना के लिए 6 सेक्स पोजीशन के बारे में बताया जा रहा है -

वुमन ऑन टॉप
पुरुष साथी अपनी पीठ पर लेट जाएं। आप दोनों तरफ एक-एक पैर के साथ, उसके ऊपर आ जाएं। अपने घुटनों पर बैठ जाएं, आपके पैर उसके पैरों की ओर इशारा करते हुए रहने दे। अपेक्षाकृत सीधी बैठे, ताकि आप दोनों के शरीर एक-दूसरे के लिए लंबवत हों। अब प्रवेश करा कर अपने कूल्हों को आगे और पीछे करें या छोटे सर्कल में उसके ऊपर पिसते हुए घुमाएं।

यह स्थिति बहुत अच्छी है क्योंकि इसमें क्लिटोरल उत्तेजना के लिए कई विकल्प मिलते हैं। यदि आप थोड़ी झुकने की कोशिश करती हैं, तो आपकी क्लाइटोरिस उसके पेट के साथ रगड़ करेगी। (अपने क्लाइटोरिस पर कुछ लुब्रीकेंट लगा लें ताकि आपको अधिक अच्छा महसूस हो।)

रिवर्स काउ गर्ल
यह स्थिति वुमन ऑन टॉप के समान ही है,बस एक अंतर है कि इसमें आप दूसरी दिशा में मुँह रखती हैं। इसमें आपकी पीठ साथी की तरफ रहती है और मुँह उसके पैरों की दिशा में रहता है। रिवर्स काउ गर्ल में प्रारंभिक प्रवेश थोड़ा मुश्किल हो सकता है, तो आप मदद के लिए लुब्रीकेंट का उपयोग कर सकती हैं।

यह वास्तव में एक हॉट स्थिति है, इसलिए एक धीमा, सेक्सी मूव अच्छी तरह से काम करता है। आप आसानी से अपने हाथ को नीचे पहुंचा सकती हैं और अपने हाथ से क्लाइटोरिस पर हाथ फेर सकती हैं।

काउंटर टॉप
इस स्थिति में पुरुष साथी खड़ा रहता है, इसलिए आपको उसकी कमर के स्तर पर एक फ्लैट, मजबूत सतह की आवश्यकता होगी। काउंटर टॉप, डेस्क या ऊँचा बिस्तर आमतौर पर अच्छी तरह से काम करता है। यदि आप कुछ भी पर्याप्त नहीं पा रहे हैं, तो आप सोफे का उपयोग कर सकती हैं और आपका साथी खड़े रहने की बजाय घुटने टेक सकता है।

वह प्रवेश कराएं उसके बाद आप धीरे-धीरे अपने पैरों को उठा कर उसके प्रत्येक कंधे पर एक-एक टखना रख दें। चूंकि आपके पैर फैले हुए हैं, इसलिए आपके पास अपनी क्लाइटोरिस को हाथ से सहलाने के लिए बहुत सी जगह मिल जाती है।

सोफा डॉगी स्टाइल
घुटने अपने सोफे पर टिका कर सोफे की पीठ पर झुक जाएं। सोफे की पीठ पर अपने हाथों आराम से रख सकती है। आपका शरीर सीधा होगा, लेकिन थोड़ा झुक जाएगा। आपका साथी आपके पीछे की कुशन पर घुटने टेक सकता है या सोफे के सामने खड़ा हो सकता है। वह आपके पीछे से प्रवेश कराता है।

आप चाहे तो सीढ़ी पर भी यह स्थिति कर सकती हैं। बस अपने घुटनों के निचे कुछ लगा लें। डॉगी स्टाइल की यह विविधता इसके मानक संस्करण की तुलना में आपके क्लाइटोरिस को छूना आपके लिए अधिक आसान बनाती है।

लोटस स्टाइल
इस स्थिति के लिए आप बिस्तर पर पुरुष साथी की तरफ मुँह करके उसकी गोद में बैठती हैं, वह चाहे तो अपने पैर मोड़ कर आपको बिठा सकता या फैला कर जो भी उसके लिए आसान है। अपने दोनों पैर उसके कूल्हे के दोनों तरफ कस लें और एक दूसरे के चारों ओर अपनी बाहों को लपेट लें।

आप इस स्थिति में धक्के नहीं मार सकते हैं, इसलिए आप प्रवेश के बाद रगड़ पर ध्यान केंद्रित करें। अपनी कमर को ऊपर और नीचे हिलाने का प्रयास करें और देखें कि क्या आप उसके पेट के साथ अपनी क्लाइटोरिस को रगड़ पा रही हैं या अपने हाथ से खुद रगड़े।

साइड वेज सैडल
पुरुष साथी अपनी पीठ पर लेट जाएं, अपने घुटनों को मोड़ कर पैर बिस्तर पर टिका दें। अब महिला साथी उसके पैरों की दिशा में मुँह करके उसकी कमर पर आ जाएं। लेकिन इस स्थिति में आप अपने दोनों पैर पुरुष साथी की केवल एक जांघ के दोनों तरफ रखें। धीरे-धीरे अपने घुटनों पर बैठे और अपने हाथ से अपने अंदर लिंग का मार्गदर्शन करें।

इस स्थिति में आपकी योनि के ऊपर का क्षेत्र उसकी जांघ के साथ ऊपर और नीचे रगड़े, जैसे कि आप इस पर चढ़ने की कोशिश कर रही हो। उसकी जांघ के साथ रगड़ से क्लिटोरल उत्तेजना बढ़ती है और आप अपने पैर से करीब या आगे जरुरत के अनुसार दबाव डाल सकती हैं।

आप और आपकी महिला साथी दोनों सहमति से कोई भी तरीका उपयोग कर सकते हैं। लेकिन यदि आपकी महिला साथी किसी कारणवश किसी तरीके को नहीं आजमाना चाहती है या आपका पुरुष साथी ऐसा नहीं चाहता है, तो कोई दबाव न डाले। एक दूसरे की इच्छा और चिंताओं को समझने की कोशिश करें।

(और पढ़े - सेक्स से जुड़े मर्दों के डर)

सौभाग्य से, क्लाइटोरिस के साथ होने वाली कोई भी चिकित्सा समस्या गंभीर नहीं हैं। लेकिन अगर आपको लगता है कि आपके क्लिटोरल क्षेत्र में कुछ गड़बड़ है, तो यह काफी खतरनाक हो सकता है, खासकर क्योंकि इस अंग के बारे में बहुत कम जानकारी उपलब्ध है।

यहां, हम क्लाइटोरिस के साथ होने वाली सबसे आम समस्याओं को देखते हैं और समझाते हैं कि आप उनसे बचने के लिए क्या कर सकती हैं -

अधिकांश क्लिटोरल स्थितियों का इलाज क्रीम या एंटीबायोटिक दवाओं से किया जा सकता है। मेलेनोमा या अन्य कैंसर जैसे गंभीर विकार, एक गांठ या बंप के रूप में दिखाई दे सकते हैं। यदि आपको चिंता है, तो अपने डॉक्टर से परामर्श लें।

Dr. Abdul Haseeb Sheikh

Dr. Abdul Haseeb Sheikh

सेक्सोलोजी

Dr. Ghanshyam Digrawal

Dr. Ghanshyam Digrawal

सेक्सोलोजी

Dr. Srikanth Varma

Dr. Srikanth Varma

सेक्सोलोजी

और पढ़ें ...