myUpchar प्लस+ के साथ पूरेे परिवार के हेल्थ खर्च पर भारी बचत

आपको जानकर हैरानी होगी कि लगभग 80% पुरुष अपने लिंग के आकार को लेकर चिंतित या आशंकित रहते हैं। कुछ पुरुषों के लिए, लिंग के आकार के बारे में चिंता उनके यौन स्वास्थ्य संबंधी चिंताओं की सूची में सबसे ऊपर रहती है। शायद आप जितना सोचते हैं यह उससे भी अधिक सामान्य हैं। 

(और पढ़ें - सेक्स एजुकेशन)

दशकों से इस बात पर बहस चल रही है कि किशोर लड़कों में अत्यधिक हस्तमैथुन वयस्कता में लिंग के आकार को कम कर सकता है या नहीं। यह भी चिंता व्यक्त की जाती रही है कि बहुत अधिक हस्तमैथुन लिंग के ऊतक को नुकसान पहुंचाता है और लड़के की युवावस्था के साथ लिंग को बड़ने नहीं देता है। कुछ लोग वयस्क पुरुषों के लिए भी इसी तरह की चिंता व्यक्त करते हैं, लगे हाथ वे यह भी सुझाव देते हैं कि अत्यधिक हस्तमैथुन पुरुषों के लिंग का आकार कम कर सकता है। लेकिन वास्तविकता इससे बिलकुल अलग है। वैज्ञानिक तौर पर देखा जाए तो दोनों ही चिंताएं अनुचित हैं।

(और पढ़ें - लिंग को बड़ा करने के तरीके)

कई मिथकों के बावजूद, वास्तव में हस्तमैथुन के शारीरिक रूप से कोई हानिकारक दुष्प्रभाव नहीं हैं। हालांकि, अत्यधिक हस्तमैथुन आपके रिश्तों और रोजमर्रा की जिंदगी में समस्या पैदा कर सकता है। यौन विशेषज्ञों के अनुसार हस्तमैथुन एक सामान्य गतिविधि है। यह आपके शरीर को अच्छा लगने, खुशी महसूस करने और निर्मित सेक्स तनाव को शांत करने का एक प्राकृतिक और सुरक्षित तरीका है। यह हर तरह की पृष्ठभूमि, लिंग और नस्ल के लोगों के बीच प्राचीन समय से ही प्रचलित है। 

(और पढ़ें - हस्तमैथुन के नुकसान)

विशेषज्ञ यह भी कहते हैं कि सामान्य परिस्थितियों में यदि ऊतकों को हस्तमैथुन से कोई नुकसान होता भी है तो वो बहुत कम होता है। वे "सामान्य परिस्थितियां" इसलिए कहते हैं क्योंकि ऐसे भी उदाहरण हैं, जहां पुरुष हस्तमैथुन करने के लिए कोई खतरनाक तरीका उपयोग करते हैं और लंबे समय तक लिंग पर बहुत अधिक दबाव डालते हैं। इस तरह के अस्वाभाविक और अनुपयुक्त तरीकों के कारण ऊतकों को गंभीर क्षति पहुंच सकती है। इसके परिणामस्वरूप चोट, निशान और साथी के साथ सेक्स करने में दर्द महसूस हो सकता है। ये मुद्दे लिंग के आकार से कहीं अधिक गंभीर हैं। 

(और पढ़ें - पहली बार सेक्स कैसे करें)

सामान्यतः हस्तमैथुन का कोई हानिकारक दुष्प्रभाव नहीं होता है। लेकिन, कुछ लोग हस्तमैथुन करने के बाद खराब महसूस कर सकते हैं। कुछ लोग अपनी सांस्कृतिक, आध्यात्मिक या धार्मिक मान्यताओं और विश्वासों के कारण हस्तमैथुन के बारे में करने के बाद दोषी होने जैसी भावना महसूस कर सकते हैं। कुछ लोगों को आप यह बोलते हुए सुन सकते हैं कि हस्तमैथुन गंदा और शर्मनाक है। ऐसे लोगों को समझना चाहिए कि हस्तमैथुन न तो गलत है और न ही अनैतिक है। 

(और पढ़ें - शादी से पहले सेक्स)

यदि आप हस्तमैथुन करने के बाद अपराध बोध की भावना या खराब महसूस करते हैं, तो किसी ऐसे व्यक्ति जिसके ऊपर आप भरोसा करते हैं, इस बारे में बात करें कि आप इस तरह क्यों महसूस करते हैं तथा आप कैसे इस अपराध बोध की स्थिति से आगे बढ़ सकते हैं। यौन स्वास्थ्य में विशेषज्ञता रखने वाले किसी अच्छे चिकित्सक से मिलना ज्यादा बेहतर हो सकता है।

(और पढ़ें - लिव इन रिलेशनशिप)

विशेषज्ञों का मानना है कि हस्तमैथुन खुद की संतुष्टि और स्वास्थ्य को बेहतर बनाने के लिए एक स्वस्थ, प्राकृतिक और सुरक्षित तरीका है। हस्तमैथुन करने से आपके दिमाग और शरीर को कई फायदे हो सकते हैं। लत लगने की संभावना के बावजूद, इसके कोई हानिकारक दुष्प्रभाव नहीं हैं। हस्तमैथुन करने से आपका लिंग न तो सिकुड़ता है और न ही छोटा होता है। इसलिए, बिना अपराध बोध या शर्म के यौन सुख लेने के लिए इस क्रिया के बारे में अच्छा महसूस करें और आनंद लें।

(और पढ़ें - सुरक्षित सेक्स कैसे करें)

और पढ़ें ...