आपके मासिक धर्म का मतलब यह नहीं है कि आपको यौन संबंध छोड़ना होगा। इसके विपरीत, कुछ महिलाओं के लिए तो मासिक धर्म अवधि के दौरान यौन सम्बन्ध महीने के अन्य समय की तुलना में अधिक सुखद हो सकते है।

मासिक धर्म अवधि के दौरान लुब्रिकेशन की आवश्यकता कम हो जाती है और कुछ अध्ययनों से यह भी पता चला है कि सेक्स मासिक धर्म अवधि से संबंधित प्रभावों को कम कर सकता है, जैसे ऐंठन। 2013 में प्रकाशित एक अध्ययन ने निष्कर्ष निकाला कि यौन गतिविधि कुछ लोगों के माइग्रेन और क्लस्टर सिरदर्द दर्द को कम कर सकती है।

(और पढ़ें - सेक्स के बारे में जानकारी)

मासिक धर्म चक्र के दौरान एसटीआई (यौन संचारित संक्रमण) की रोकथाम और अच्छे गर्भनिरोधक का प्रयोग आपके यौन संबंधों को अधिक सुरक्षित और मज़ेदार बना सकता है। लेकिन सेक्स करने से पहले यह सुनिश्चित करें कि आप मासिक धर्म चक्र के दौरान एसटीआई, अन्य संक्रमण और गर्भावस्था के खतरे को समझते हैं।

(और पढ़ें - महिलाओं की यौन समस्याएं और पुत्र प्राप्ति के लिए क्या करें)

मासिक धर्म चक्र के दौरान सुरक्षित सेक्स करने के बारे में आपको निम्नलिखित बातें जानने की आवश्यकता है।

  1. माहवारी के दौरान सैक्स से संक्रमण का जोखिम - Infection Risk From Sex During Period in Hindi
  2. पीरियड्स में सेक्स से गर्भधारण का क्यों होता है कम खतरा - Less Risk of Pregnancy During Period in Hindi
  3. मासिक धर्म में सम्भोग में लुब्रिकेशन की क्यों होती है कम आवश्यकता - Less Need for Vaginal Lubrication during Period in Hindi
  4. मासिक धर्म में यौन सम्बन्ध बनाना है दर्द निवारक - Sex as a Pain Reliever during period in Hindi
  5. मासिक धर्म में सेक्स के दौरान होती है अधिक यौन उत्तेजना - Increased arousal during period in Hindi
  6. मासिक धर्म के दौरान सेक्स के डॉक्टर

आपके मासिक धर्म के दौरान सुरक्षित सेक्स करना बहुत महत्वपूर्ण है क्योंकि आपको एसटीआई जैसे - एचआईवी संक्रमण हो सकता हैं। वायरस मासिक धर्म के रक्त में मौजूद हो सकता है इसलिए डॉक्टर इस जोखिम को कम करने के लिए कंडोम का उपयोग करने के लिए जोर देते हैं। आप पुरुष कंडोम या महिला कंडोम, किसी का भी उपयोग कर सकते हैं।

आप इस समय सामान्य रूप से कुछ अन्य संक्रमणों के प्रति भी अधिक प्रवण हो सकते हैं। विशेषज्ञों के अनुसार आपकी योनि का पीएच स्तर महीने भर 3.8 से 4.5 रहता है। लेकिन माहवारी के दौरान, यह स्तर ब्लड के उच्च पीएच स्तर के कारण बढ़ जाता है ऐसे में यीस्ट अधिक तेजी से बढ़ने में सक्षम हो जाता है।

(और पढ़ें - सेक्स पावर कैसे बढ़ाएं और सेक्स करने के तरीके)

योनि के यीस्ट संक्रमण के लक्षण आपके मासिक धर्म की अवधि से पहले सप्ताह में होने की संभावना है और इस समय के दौरान संभोग करने से प्रभाव बढ़ सकते हैं। लेकिन मासिक धर्म के दौरान यौन सम्बन्ध से यीस्ट संक्रमण होने के अधिक जोखिम के स्पष्ट प्रमाण नहीं है।

विशेषज्ञों के अनुसार कुछ महिलाओं को संभोग के बाद मूत्र पथ के संक्रमण होने की संभावना अधिक हो सकती है। यह संभवतः संभोग के साथ आसानी से मूत्राशय की यात्रा करने में सक्षम बैक्टीरिया से संबंधित है, लेकिन यह मासिक धर्म चक्र के दौरान किसी भी समय हो सकता है।

(और पढ़ें - मासिक धर्म में दर्द)

जब आप पीरियड्स के दौरान यौन संबंध बनाते हैं, तो गर्भवती होने की संभावना बहुत कम होती है, क्योंकि आमतौर पर मासिक धर्म के दौरान आप अण्डोत्सर्ग से कई दिन दूर हो जाते हैं। लेकिन इसके अपवाद भी हैं। यदि आपका मासिक धर्म चक्र (21 से 24 दिन) कम है और आप अपनी माहवारी के अंत में यौन संबंध बनाते हैं, तो शुक्राणु आपकी योनि में पांच दिन तक व्यवहार्य बने रह सकते हैं, इसलिए गर्भावस्था संभव है। लेकिन अगर आप एक बच्चे की उम्मीद कर रहे हैं तो गर्भवती होने का प्रयास करने के लिए यह उपयुक्त समय नहीं है।

(और पढ़ें - मासिक धर्म में गर्भधारण)

यदि आप मासिक धर्म के दौरान संभोग करते हैं, तो योनि में पर्याप्त गीलापन होने के कारण आपको किसी लुब्रिकेंट्स अर्थात योनि में गीलापन बढ़ाने के उपाय की आवश्यकता नहीं होती हैं।। यदि आपको लुब्रीकेंट की आवश्यकता लगती है, तो पानी आधारित लुब्रिकेंट्स बाजार में उपलब्ध हैं जो सेक्स करने और कंडोम दोनों के लिए सुरक्षित हैं।

(और पढ़ें - कंडोम का उपयोग कैसे करें)

सिलिकॉन और हाइब्रिड लुब्रिकेंट्स, जो पानी आधारित और सिलिकॉन आधारित हैं, वे भी सेक्स करने और कंडोम दोनों के लिए सुरक्षित हैं। तेल आधारित लुब्रिकेंट्स, विशेष रूप से खनिज तेल आधारित लुब्रिकेंट्स का उपयोग करने से आपका कंडोम फट सकता है और लेटेक्स कंडोम के साथ तेल आधारित लुब्रिकेंट्स उपयोग करने से मना किया जाता है।

(और पढ़ें - हली बार सेक्स और सेक्स पोजीशन)

यदि आप ऐंठन, उदासी की भावना या मासिक धर्म अवधि के दौरान अवसाद का अनुभव करती हैं, इस समय सेक्स करना फायदेमंद हो सकता है। विशेषज्ञों का कहना है कि चूंकि ओर्गास्म्स एंडोर्फिन, ऑक्सीटोसिन और डोपामाइन जैसे अच्छा महसूस करवाने वाले हार्मोन को स्त्रावित करता हैं - आप सैद्धांतिक रूप से कह सकते हैं कि वे मासिक धर्म के कुछ प्रभावों को भी कम कर देंगे। इसलिए कोशिश करने में कोई नुकसान नहीं है।

(और पढ़ें - मासिक धर्म के समय पेट दर्द)

आपके हार्मोन के स्तरों में होने वाले बदलावों के कारण महीने के इस समय के दौरान आप अधिक यौन उत्तेजित और संवेदनशील महसूस कर सकते हैं। विशेषज्ञ कहते है कि कई महिलाएं पेल्विक क्षेत्र में रक्त-संकुचन की बढ़ती भावना का अनुभव करती हैं, जो आपके सेक्स ड्राइव या इच्छा को भी बढ़ा सकती हैं। लेकिन कुछ महिलाओं को, यह अतिरिक्त संवेदनशीलता इस समय के दौरान सेक्स करने में असुविधाजनक बना सकती हैं। महत्वपूर्ण यह सुनिश्चित करना है कि आप और आपके साथी दोनों इस स्थिति के साथ सहज हैं।

(और पढ़ें - मासिक धर्म जल्दी लाने के उपाय)

Dr. Nitin Malik

Dr. Nitin Malik

सेक्सोलोजी

Dr. Arun Gutte

Dr. Arun Gutte

सेक्सोलोजी

Dr. Rajesh Gupta

Dr. Rajesh Gupta

सेक्सोलोजी

और पढ़ें ...