myUpchar प्लस+ के साथ पूरेे परिवार के हेल्थ खर्च पर भारी बचत

संभोग (सेक्स) सभी की जिंदगी का एक ऐसा अहम हिस्सा है, जिस पर बात करने से हमेशा से ही कतराते रहें हैं। हम सभी के शरीर की अलग-अलग बनावट और प्रकृति होती है। इसी प्रकृति के आधार पर आपको कई चीजें पसंद आती है। इसी तरह से हर बार एक ही आसन या पोजीशन में सेक्स करना कई बार बोरियत भरा हो जाता है।  

भारत में ही लिखें गए कई ग्रंथों में संभोग की क्रिया में उपयोग में लाएं जाने वाले कई आसनों (पोजीशन) को बताया गया है। इसमें आप अपने स्वभाव व साथी के सहूलियत को ध्यान में रखकर इन आसनों से अपनी सेक्सुअल जिंदगी को और भी रोमांचकारी बना सकते हैं। इन आसनों या पोजीशन को अपनाकर सेक्स करने से पहले आपको अपने साथी से भी इस विषय पर पूछ लेना चाहिए, क्योंकि जरूरी नहीं कि जो पोजीशन आपको पसंद हो या आपको आनंदित करने वाली हो वो साथी को भी पसंद आए। सेक्स के दौरान पोजीशन इसलिए भी महत्वपूर्ण होती है, क्योंकि इन आसनों से सेक्सुअल जिंदगी में नयापन आता है। इसमें आप खड़े होकर, लेटकर, बैठकर व कई अन्य तरीकों के आसनों को अपना सकते हैं।

(और पढ़ें - कंडोम के प्रकार)

इस विषय पर जानने के लिए कई पुरुषों व महिलाओं में जिज्ञासा होती है, जिसको जानकर आपकी बोरियत भरी जिंदगी में भी नयापन और ताजगी आ जाएगी। तो आइये जानते हैं सेक्स पोजीशन्स के बारे में-

(और पढ़ें - यौन समस्याओं के बारे में पूरी जानकारी)

  1. यौन आसन जिनमें पुरुष ऊपर होता है - Man on top sex positions in Hindi
  2. सेक्स पोजीशन जिनमें महिला ऊपर होती है - Woman on top sex position in Hindi
  3. डॉगी स्टाइल सेक्स पोजीशन - Doggy Style position in Hindi
  4. चेहरा आमने-सामने होने वाली संभोग करने के आसन - Face to face sex position in Hindi
  5. पीछे से किये जाने वाली सैक्स के आसन - From behind sex position in Hindi
  6. खड़े हो कर करने वाली संभोग कला - Standing sex positions in Hindi
  7. बैठ कर करने वाली कामकला - Sitting sex position in Hindi
  8. घुटनों पर बैठकर किया जाने वाले सेक्स आसन - Kneeling sex position in Hindi
  9. लेट कर करने वाले समभोग के आसन - Lying down sex position in Hindi
  10. करवट हो कर करने वाली सेक्स पोजीशन - Sideways sex position in Hindi
  11. समकोण वाला सेक्स आसन - Right angle sex position in Hindi
  12. स्पूनिंग कामसूत्र आसान - Spooning sex position in Hindi
  13. काउगर्ल यौन आसन - Cowgirl sex position in Hindi
  14. क्रिस क्रोस सेक्स पोजीशन - Criss cross sex position in Hindi
  15. महिला मुख मैथुन (ब्लो जॉब) वाली काम आसन - Blow job Position in Hindi
  16. पुरुषों के लिए मुख मैथुन वाली सेक्स के आसन - Cunnilingus position in Hindi
  17. प्रेग्नेंसी के समय की जाने वाली संभोग के आसन - Position to be done during pregnancy in Hindi
  18. कम पंसद की जाने वाली काम कला के आसन - Less common sex position in Hindi
  19. यौन आसन के डॉक्टर

आमतौर पर सबसे ज्यादा प्रयोग में लाई जाने वाली यह पोजीशन सभी को खूब पसंद आती है। इसको मिशनरी पोजीशन भी कहा जाता है। इस पोजीशन या आसन में दोनों ही साथियों के चेहरे आमने- सामने होते हैं। इस पोजीशन को आप कई तरह से बदल सकते हैं। लेकिन इसका मूल आधार एक ही रहता है।

(और पढ़ें - कामसूत्र के आसन)

इस पोजीशन में महिला साथी पीठ के बल लेटती है और पुरुष साथी उसके पैरों को खोलकर ऊपर की ओर लेटता है और उसकी योनि के करीब पहुंचता है। इसके बाद वह महिला के पैरों को हल्का सा ऊपर उठाकर संभोग करता है। इस पोजीशन को बटरफ्लाई पोजीशन भी कहा जाता है। इसमें पुरुष कम शक्ति का प्रयोग करने के बावजूद भी महिला को पूरी तरह से संतुष्ट कर सकता है।

(और पढ़ें - शीघ्र स्खलन)

मुख्यतः इस तरह की पोजीशन को योनि और गुदा (Anal;एनल) सेक्स के लिए प्रयोग किया जाता है। इस पोजीशन में महिला पुरूष के ऊपर रहती है।

(और पढ़ें - गुप्त रोगों का इलाज)

इस तरह की पोजीशन में दोनों ही साथियों का मुंह आमने-सामने व विपरीत हो सकता है। इसमें महिला साथी, पुरुष साथी के ऊपर रहती है। इसमें खास बात यह है कि महिला साथी अपने घुटनों के बल पर बैठकर साथी के साथ सेक्स करती है। इसी की दूसरी पोजीशन में पुरुष पीठ के बल लेटता है और महिला साथी अपने चेहरे को पुरुष साथी के विपरीत दिशा में करके घुटने के बल पर उसके ऊपर बैठकर सेक्स का आनंद लेती है। इसके अलावा अन्य पोजीशन में महिला, पुरुष साथी के ऊपर बैठकर अपने हाथों को पीछे की ओर जमीन पर टिका कर धनुष की आकृति बनाती है। इस पोजीशन में आप कई तरीके अपना सकते हैं। जिसमें महिला अपने पैरों के बल पर पुरुष के ऊपर बैठती है। इस पोजीशन में महिला और पुरुष दोनों का ही चेहरा एक दूसरे के सामने रहता है।  इसके अलावा पुरुष का किसी टेबल, कुर्सी या बेड (Bed) के किनारे पर बैठकर अपने पैरों को नीचे की ओर रखना होता है। इसके बाद महिला साथी पुरुष के ऊपर बैठते हुए सेक्स करती है। 

(और पढ़ें - महिलाओं की यौन समस्याएं)

इस तरह की पोजीशन में पुरुष महिला के साथ योनि या एनल सेक्स करते हैं। इस पोजीशन को डॉगी पोजीशन भी कहा जाता है।

(और पढ़ें - सेक्स के लिए व्यायाम)

इस पोजीशन में महिला साथी अपने हाथों और घुटनों के बल पर बैठ जाती है और पुरुष साथी पीछे से उनकी योनि या गुदा (Anal/ एनल) में लिंग प्रवेश कर सेक्स करता है। दूसरी पोजीशन में महिला पुरुष साथी के साथ सेक्स के दौरान अपने कूल्हों को पास ले जाती है ताकि सेक्स करते समय ज्यादा आनंद की अनुभूति हो। इस पोजीशन में पुरुष अपनी महिला पार्टनर के पीछे की ओर आकर दोनों पैरों को उनके शरीर के दोनों पर तरफ रखकर अपने हाथों से उनके पीछे के हिस्से को मजबूती से पकड़कर उनके शरीर को आगे व पीछे करता है। अन्य पोजीशन में महिला अपने हाथों का भी पूरा इस्तेमाल करती है। घुटनों के बल पर बैठने के बाद सेक्स के दौरान कई स्थितियों में महिला अपने हाथों से शरीर के वजन को नियंत्रित करके शरीर को आगे व पीछे की ओर ले जाती है। इस पोजीशन में महिला कलाइयों का भी पूरा प्रयोग करती है।

(और पढ़ें - सेक्स के दौरान दर्द)

एक दूसरे के आमने-सामने रहकर सेक्स करने वाली पोजीशन, दोनों साथियों को एक अलग ही एहसास देती है। इस पोजीशन में आप रोमांचकारी स्थिति बनाते हुए, जब महिला साथी को धीरे-धीरे किस करते हैं, तो वह उत्तेजित होना शुरू हो जाती है। इस पोजीशन को आप बैठकर, घुटनों के बल बैठकर या खड़े होकर, कैसे भी कर सकते हैं। इसमें आपकी आंखें आपके मन की भावनाओं को महिला साथी तक पहुंचाने का काम करती हैं। इसके साथ ही साथ इस पोजीशन में आप साथी महिला को देखकर उनकी भावनाओं को समझ सकते हैं और जान सकते हैं कि उनको क्या अच्छा लग रहा है और क्या नहीं।

(और पढ़ें - यौन शक्ति बढ़ाने वाले आहार)

इस तरह की पोजीशन से पुरुषों को योनि व गुदा (Anal/ एनल) सेक्स करने में सहायता मिलती है।

(और पढ़ें - बेहतर सेक्स लाइफ के लिए योग)

इसमें महिला को पीठ के बल पर लेटना होता है और पीछे से पुरुष उनके पैरों को उठाकर उनके पास आते हुए एनल सेक्स या योनि सेक्स करते हैं। इसमें आप महिला के नीचे किसी तकीए को भी रख सकते हैं। यह पोजीशन सेक्स को शुरु करने वालों के लिए बेहतर होती है। इसकी अन्य पोजीशन में महिला साथी पुरुष के ऊपर होती है। जिसमें एनल सेक्स करने की गति महिला के पास ही होती है, महिला ही इसमें सक्रियता दिखाती है, क्योंकि नीचे होने के कारण पुरूष इसमें सक्रिय नहीं हो पाते हैं।

(और पढ़ें - सेक्स के लिए योग)

इस पोजीशन को सामान्य खड़े होने के तरीके के साथ किया जाता है। इसमें दोनों ही साथियों के चेहरे एक दूसरे के सामने या वितरीत दिशा में हो सकते हैं। इसमें कई अन्य तरह की पोजीशन भी बन सकती है।

(और पढ़ें - सेक्स के दौरान महिलाएं क्या चाहती हैं)

इसमें दोनों ही साथी एक दूसरे के सामने होते हैं और वह योनि के माध्यम से सेक्स क्रिया में सम्मिलित होते हैं। इस तरह की पोजीशन में अगर आपकी साथी छोटी है तो आप उनको किसी ऊंची जगह में खड़ा करवाएं या उनको हील वाली सैंडल पहनने को कहें। अगर इस तरह की पोजीशन में आपको कोई परेशानी हो तो आप महिला साथी को उठाते समय उनकी पीठ दीवार से टिका दें। अन्य पोजीशन में पुरुष साथी के खड़े होने पर महिला सामने से उनकी गोदी में बैठ जाती है। इसमें खुद को संभालने के लिए महिला को पुरुष के कंधों पर अपनी बाजुओं को रखना होता है और इसके अलावा पैरों को पुरुष की कमर पर क्रोस करके बांधना होता है। इससे महिला की योनि या गुदा (Anal/ एनल) में लिंग प्रवेश आसानी से हो जाता है।

(और पढ़ें - सेक्स करने के फायदे

इस तरह की पोजीशन में सामान्य तौर पर बैठकर सेक्स किया जाता है। इसमें हर तरह की सेक्स क्रिया शामिल है।

(और पढ़ें - सेक्स टॉय क्या है)

इस पोजीशन में पुरुष जमीन पर पैरों को खोलकर बैठ जाता है, जबकि महिला उसके ऊपर बैठकर अपने पैरों को उनके पीछे की ओर मोड़ लेती हैं। इस पोजीशन को 'लोट्स' पोजीशन भी कहते हैं। बेशक इस तरह की सेक्स पोजीशन ज्यादा आरामदायक न हो, परंतु इसको करते समय दोनों को ही ज्यादा शक्ति का प्रयोग करने की जरूरत नहीं होती है। इस पोजीशन में दोनों ही साथी एक दूसरे की पोजीशन को महसूस करते हुए उनके शरीर को पूरी तरह से छू सकते हैं।  इस पोजीशन में रहते हुए सेक्स करने पर आपको समय देना पड़ता है। यह पोजीशन जल्दबाजी में सेक्स करने वालों के लिए नहीं है। इसमें दोनों ही साथियों को पूरा आनंद मिलता है। 

(और पढ़ें - कामेच्छा बढ़ाने के उपाय)

घुटनों पर बैठकर सेक्स करने वाला आसन न सिर्फ आपको आनंद पहुंचाता है, बल्कि यह काफी आरामदायक भी होता है। इस पोजीशन में एक साथी नीचे होता है तो दूसरा उसको पकड़कर सेक्स करता है। घुटनों पर बैठने वाली सेक्स पोजीशन में स्थिरता होने के कारण इसमें विविधता होती है। इस तरह की स्थिति में दोनों ही साथियों के पास सेक्स की गति को नियंत्रित करने व गहराई को महसूस करने का पूरा अवसर मिलता है। इस पोजीशन में दोनों साथियों को थकान का अनुभव नहीं होता है। अगर आप सेक्स को कुछ नए अंदाज में करना चाहते हैं तो आपको इस तरह की पोजीशन को अपनाना चाहिए। इसके साथ ही साथ अगर आपका वजन ज्यादा है तो भी आप इस तरह की पोजीशन में आराम से सेक्स कर सकते हैं।

(और पढ़ें - चरम सुख पाने के तरीके)

जिन लोगों को सेक्स के दौरान थकान हो जाती है, उन लोगों को सेक्स के लिए लेटने वाली पोजीशन को चुनना चाहिए। इस तरह की पोजीशन में आपको और आपके साथी को ज्यादा शक्ति का प्रयोग नहीं करना पड़ता है, लेकिन इसमें आपकी भावनाओं का अहम रोल होता है। इसमें एक या दोनों ही साथी लेट सकते हैं। इसमें आप शरीर के द्वारा अपनी भावनाओं को साथी के सामने उजागर कर सकते हैं। इस सेक्स पोजीशन में आप योनि, ओरल सेक्स व एनल, किसी भी तरह का सेक्स कर सकते है।

(और पढ़ें - मासिक धर्म के दौरान सेक्स)

सेक्स के दौरान करवट वाली पोजीशन में दोनों ही साथियों को एक तरफ करवट लेकर लेटना होता है। यह पोजीशन सुबह के समय साथी को जगाए रखने व उनकी उत्तेजना को जागृत करने के लिए अपनाई जाती है। इस तरह की पोजीशन में दोनों ही साथियों की आपसी सहमति की आवश्यकता होती है। इसके साथ ही साथ इसमें पोजीशन का बदलाव कम होता है। इसमें दोनों ही साथियों के हाथ खुले होते हैं, जिससे आप अपने साथी को अपनी बाहों में ले सकते हैं और उनको किस कर सकते हैं। अगर महिला साथी को थकान हो रही हो तो पुरुष इस तरह की पोजीशन को अपना सकते हैं। इस पोजीशन से पुरुष असानी से महिला साथी को उत्तेजित कर पाते हैं।

(और पढ़ें - सेक्स के बाद क्यों सो जाते हैं पुरुष)   

यह पोजीशन कई लोगों को पसंद है। इस पोजीशन को पसंद करने की वजह यह है कि इसमें काफी आराम मिलता है, साथ ही साथ पुरुष गहराई तक लिंग को प्रवेश कराने में सक्षम हो पाते है। इसमें सेक्स की गति पर पूरा नियंत्रण पुरुष के पास होता है। जिन पुरुषों के लिंग की लंबाई अधिक नहीं है, वह इस पोजीशन का फायदा उठा सकते हैं और इस पोजीशन को अपनाकर अपनी महिला साथी को पूरी तरह से संतुष्ट कर सकते हैं। इसके अलावा इस पोजीशन में पुरुष महिला के शरीर व उसकी भावनाओं को अच्छी तरह से देख व समझ पाते हैं।

(और पढ़ें - सेक्स के दौरान ऐंठन होने के कारण)

एक अन्य तरह की सेक्स पोजीशन को स्पून (Spoon) पोजीशन कहते हैं। इस पोजीशन में दोनों साथियों का चेहरा एक ही दिशा की तरफ होता है। इसमें ऐसा लगता है जैसे एक साथी दूसरे के पीछे लेटा हो। इस पोजीशन के कुछ अन्य तरीके भी हैं, आइये जानते हैं इनके बारे में-

(और पढ़ें - पहली बार सेक्स कैसे करें)

  • इसमें महिला करवट लेकर लेटती है। जबकि पुरुष साथी करवट लेटे हुए अपने घुटनों को मोड़ते है और महिला के पीछे लेट जाते है। इस पोजीशन में महिला साथी को परेशानी हो तो आप उनको खड़े करके भी इस पोजीशन को आजमा सकते हैं।
  • इसमें महिला साथी नीचे की ओर चेहरा करके पैरों को खोलते हुए लेट जाती है। इसके बाद इनके पीछे से पुरुष साथी ऊपर लेट जाता है। इसके बाद पुरुष सेक्स को बेहतर तरीके से करने के लिए महिला साथी के नीचे उभार लाने के उद्देश्य से योनि के पास के क्षेत्र में तकिया रख देता है। जिससे सेक्स के दौरान महिला को आराम मिलता है।
    (और पढ़ें - नपुंसकता के घरेलू उपाय)
  • इसी तरह की अन्य पोजीशन में महिला का चेहरा नीचे की ओर होता है और वह घुटनों के बल पर लेटती हैं। पुरुष साथी अपने पैरों को खोलते हुए अपनी महिला साथी के ऊपर लेटकर सेक्स करता है।
  • इसकी अन्य पोजीशन में महिला करवट लेकर लेटती है, जबकि पुरुष महिला के पैर को ऊपर उठाते हुए, खुद के वजन को अपने नीचे के पैर पर टिकाते है और पीछे की ओर से सेक्स करता है।

(और पढ़ें - शादी से पहले सेक्स)

जब महिला की उत्तेजना बढ़ जाती है, तब वह इस तरह की पोजीशन को अपनाती है। इस पोजीशन का सहारा लेकर महिला पुरुष को आसानी से उत्तेजित कर सकती है। पुरुष के ऊपर आकर महिला अपनी सहुलियत के अनुसार किसी भी तरह की पोजीशन को चुन सकती है। इस पोजीशन में महिला की योनि में लिंग का प्रवेश गहराई तक होता है। यह पोजीशन पूरी तरह से महिला के नियंत्रण में की जाती है। इससे महिलाओं को अधिक संतुष्टि मिलती है।

(और पढ़ें - एसटीडी रोग क्या है)

इसमें महिला साथी नीचे होती है और पुरूष क्रोस के चिन्ह की तरह उनके ऊपर आकर इस पोजीशन को बनाता है। इसके अलावा अन्य पोजीशन में दोनों ही एक दूसरे के विपरीत दिशा में लेट जाते हैं। फिर पुरुष महिला की टांगों के बीच से निलकर एक कैंची की तरह आकृति बनाते हुए उसकी योनि के पास पहुंचकर सेक्स करता है, इस पोजीशन में दोनों ही साथियों के सिर विपरीत दिशाओं में रहते हैं। इस पोजीशन के लिए पुरुष व महिला दोनों का ही शरीर काफी लचीला होना चाहिए।

(और पढ़ें - सेक्स पावर कैसे बढ़ाएं और सेक्स करने के तरीके)

महिलाएं जब मुख मैथुन (ब्लो जॉब) करती हैं, तो पुरूषों को यह बेहद अच्छा लगता है। यह तरीका महिलाओं के लिए थोड़ा मुश्किल भरा होता है, क्योंकि अधिकतर महिलाओं को इस काम में थकान हो जाती है। इसके साथ ही साथ महिलाओं को इस क्रिया में लगातार बदलाव भी करना होता है। महिला मुख मैथुन में कई तरह की पोजीशन को शामिल किया जाता है। संभोग के समय जब पुरुष महिला के कपड़ों को उतारता है तो महिलाओं की उत्तेजना बढ़ जाती है। ब्लो जॉब की पोजीशन आपके साथी की भावनाओं और उनके विचारों पर निर्भर होनी चाहिए। ब्लो जॉब में महिला अपने हाथ, अंगुलियों व जीभ से क्रियाशील होती हैं। कई महिलाओं को इसको करने में असुविधा होती है परंतु पुरुषों के साथ मुख मैथुन करके आप उनको सेक्स के लिए सहज बना सकती है और अपनी इच्छा के अनुसार उन्हें सेक्स के लिए तैयार कर सकती हैं।

(और पढ़ें - फोरप्ले क्या है)

जिस तरह से महिलाओं के लिए 'ब्लो जॉब' (Blow jobs) होती है ठीक इसी तरह की क्रिया पुरुषों द्वारा भी की जाती है। पुरुषों द्वारा की जाने वाली मुख मैथुन की क्रियाएं महिलाओं द्वारा की जाने वाली मुख मैथुन की क्रियाओं से अलग होती है। इससे पुरुष महिला साथी को संतुष्ट कर पाते हैं। इसमें पुरुषों को कई तरह की पोजीशन को अपनाना होता है। इसमें पुरुष अपनी जीभ के साथ हाथों का भी प्रयोग करते हैं। इस तरह की पोजीशन को करते समय महिला साथी की इच्छाओं के बारे में जानना जरूरी होता है। कई बार इस पोजीशन को अपनाने के बाद भी पुरुष महिला को उत्तेजित नहीं कर पाते हैं, इसलिए महिला को उत्तेजित करने के लिए उनसे बात करते रहें। 

(और पढ़ें - लिंग को मोटा करने का तरीका)

इस तरह की पोजीशन का उद्देश्य यह होता है कि प्रेग्नेंसी के समय पेट के निचले हिस्से पर ज्यादा दबाव न पड़े। इसके अलावा पुरुष को भी अपनी महिला साथी की स्थिति का पूरा ध्यान रखना चाहिए। प्रेग्नेंसी के समय प्रयोग में आने वाली कुछ पोजीशन्स नीचे बताई जा रही हैं-

​(और पढ़ें - गर्भावस्था के दौरान सेक्स और गर्भावस्था में पेट में दर्द)

  1. महिला का ऊपर होना- महिला के ऊपर होने से उनके पेट के निचले हिस्से में होने वाले दबाव को महिला खुद ही नियंत्रित कर सकती है।
  2. महिला के सामने वाली पोजीशन – इस पोजीशन में महिला पीठ के बल लेटी होती है और अपने घुटनों को उठाती है। इसके बाद पुरुष महिला के खुले हुए पैरों की जगह से उसके पास जाता है। लेकिन, इस पोजीशन को करते समय महिला को अपने नीचे तकिए को रख लेना चाहिए। (और पढ़ें - सुरक्षित सेक्स के तरीके)
  3. करवट वाली पोजीशन- करवट लेने के बाद किए जाने वाले सेक्स में महिला के पेट और उसकी योनि पर अधिक दबाव नहीं पड़ता है।
  4. स्पूनिंग पोजीशन- यह पोजीशन भी करवट वाली पोजीशन की तरह ही होती है। इसमें पुरुष पीछे की ओर से सेक्स करता है। इस तरह की पोजीशन प्रेग्नेंसी के आखरी दिनों में भी प्रयोग में लाई जा सकती है।
  5. पीछे की ओर से सेक्स करने वाली पोजीशन- इस तरह की पोजीशन में पेट के निचले हिस्से व स्तनों पर सपोर्ट देना होता है। 

(और पढ़ें - डिलीवरी के बाद सेक्स)

कुछ ऐसी भी सेक्स पोजीशन होती हैं जिनको करने से लोग बचते हैं। इस तरह की पोजीशन को करने के लिए अच्छी प्रैक्टिस की जरूरत होती है। इसलिए यह पोजीशन को कम ही इस्तेमाल किया जाता है।

(और पढ़ें - सेक्स के जुड़े सच और झूठ)

  • इस तरह की पोजीशन में महिला पीठ के बल नीचे लेट जाती है और अपने घुटनों को ऊपर करती है, लेकिन अपने पैरों के तलवों को जमीन पर टिकाए हुए रहती है। इसके बाद पुरुष करवट लेते हुए और अपने शरीर को उनके पैरों के बीच में से निकालते हुए महिला के साथ एनल सेक्स करता है। इस पोजीशन को टी-स्वॉयर (T-square) पोजीशन भी कहा जाता है। (और पढ़ें - पुरुषों यौन रोग)
  • पाइलड्राइवर(Piledriver) पोजीशन एक बेहद ही मुश्किल पोजीशन होती है। इसमें महिला पीठ के बल लेटती है और अपने घुटनों को ऊपर की ओर रखते हुए अपने तलवों को जमीन पर रखती है। इसके बाद वह अपने कूल्हों को ऊपर की ओर उठाती है। जिसके बाद पुरुष आगे आकर उनके साथ एनल सेक्स करता है। इस तरह की पोजीशन में महिला की गर्दन पर जोर पड़ता है, इस दबाव को कम करने के लिए महिला की गर्दन के नीचे तकिए का प्रयोग करें। (और पढ़ें - सेक्स में लुब्रिकेशन के फायदे)
  • अन्य पोजीशन में महिला नीचे की ओर मुंह करके लेटती है। इसके बाद अपने पैरों को बेड के कोने पर व जमीन की ओर खोलती है और पुरुष उनके पैरों को पकड़कर सेक्स करता है।
  • इसके अलावा रस्टी बाइक पम्प (Rusty bike pump) पोजीशन भी पाइलड्राइवर की तरह ही होती है। बस इसमें महिला ऊल्टी हो जाती है। महिला का मुंह नीचे की ओर होता है और वह अपने शरीर की आकृति मोटर बाइक की तरह कर लेती है और अपने कूल्हों को ऊपर उठाती है। इस तरह की पोजीशन से भी एनल सेक्स किया जा सकता है।

(और पढ़ें - स्वपन दोष के कारण)

Dr. Abdul Haseeb Sheikh

Dr. Abdul Haseeb Sheikh

सेक्सोलोजी

Dr. Ghanshyam Digrawal

Dr. Ghanshyam Digrawal

सेक्सोलोजी

Dr. Srikanth Varma

Dr. Srikanth Varma

सेक्सोलोजी

और पढ़ें ...