myUpchar प्लस+ के साथ पूरेे परिवार के हेल्थ खर्च पर भारी बचत

सेक्स हमारे जीवन का एक अहम हिस्सा होता है। सेक्स का नाम सुनते ही सभी लोगों का मन रोमांच से भर जाता है। आप पहली बार सेक्स कर रहें हों या इसको कई बार कर चुके हों, परंतु आपके मन में सेक्स को लेकर कई तरह के सवाल होते हैं। कई लोग सेक्स को सुरक्षित बनाने के तरीके खोजते हैं और दूसरी ओर कुछ लोग सेक्स को रोमांचक करने के उपाय जानना चाहते हैं। सेक्स को लेकर लोगों के मन में विभिन्न प्रकार के सवाल उठते हैं, लेकिन सेक्स करने के तरीके को लेकर सबसे अधिक सवाल होते हैं। आपके इसी सवाल के जवाब को नीचे विस्तार पूर्वक बताया जा रहा है।

(और पढ़ें - सेक्स के बारे में जानकारी)

  1. योनि सेक्स (सेक्सुअल इंटरकोर्स) क्या है - Sexual intercourse (yoni sex) kya hai
  2. सेक्स करने का तरीका - Sex karne ka tarika
  3. क्या सेक्स में महिलाओं की योनि से खून आता है? - Kya sex me mahilaon ki yoni se khoon aata hai
  4. सेक्स से प्रेग्नेंसी, एचआईवी व यौन संचारित रोग होने का खतरा होता है क्या? - Sex se pregnancy, STD aur HIV ka khatra hota hai kya
  5. सेक्स करने के तरीके - Sex karne ke tarike
  6. सेक्स कैसे करते हैं - Sex kaise karte hai
  7. सेक्स कैसे करे - Sex kaise kare
  8. सेक्स करने के तरीके, सेक्स कैसे करते हैं के डॉक्टर

योनि के माध्यम से की गई संभोग क्रिया को ही योनि सेक्स कहा जाता है। इसमें महिलाओं की योनि को सेक्स के केंद्र में रखा जाता है और पुरुष सेक्स के दौरान अपनी सभी क्रिया को इसी अंग में करता है।

आम तौर से एक पुरुष और महिला के बीच सेक्स को ही "सेक्सुअल इंटरकोर्स" (Sexual Intercourse) कहा जाता है। इसमें पुरुष का उत्तेजित लिंग महिला की योनि में प्रवेश करता है। सेक्सुअल इंटरकोर्स यौन सुख या बच्चा पैदा करने के लिए किये जाता है। 

(और पढ़ें - योनि के बारे में जानकारी)

भारत में 18 वर्ष से कम आयु के व्यक्ति के साथ सेक्स (संभोग) करना गैर कानूनी है। चाहे उनकी यौन सहमति हो भी, आप जिनके साथ यौन सम्बन्ध बनाना चाहते हैं, उनकी उम्र 18 से ज्यादा होना कानूनी तौर से अनिवार्य है।

(और पढें - सेक्स के दौरान दर्द क्यों होता है)

आगे पढ़िए सेक्स कैसे करते हैं -

सेक्स वैसे तो कई तरीकों से किया जा सकता है। लेकिन हम यहां पर सामान्य तरह के सेक्स, यानी एक पुरुष और महिला के बीच लिंग और योनि के मिलन (सेक्सुअल इंटरकोर्स) की बात कर रहें।

सेक्सुअल इंटरकोर्स का कोई एक निश्चित तरीका नहीं है, मगर फिर भी आप इसको करने से पहले कई तरह की तैयारियां कर सकते हैं।

(और पढ़ें - वर्जिनिटी क्या होती है)

इसको करने के लिए सबसे जरूरी बात यह है कि इसमें शामिल होने वाले दोनों ही साथी सेक्स को लेकर उत्साहित हों और साथ ही साथ इस क्रिया में किसी पर कोई दबाव न हो। अगर आप दोनों इस क्रिया का पूरा आनंद लेना चाहते हैं, तो आप दोनों को एक दूसरे की सहमति लेना बेहद जरूरी होता है। इसमें साथी की सहमति व उसके विचार जान लेना बेहद ही जरूरी होता है।

आइये आगे आपको बताएं सेक्स करने का तरीका -

(और पढें - पहली बार सेक्स कैसे करें)

  1. सेक्स करने का तरीका है पहले फोरप्ले करना - Sex karne ka tarika hai pehle foreplay karna
  2. सेक्स कैसे भी करें लेकिन कंडोम जरूर लगाएं - Sex kaise bhi kare lekin condom jaroor lagaye
  3. सेक्स करने की सही पोजीशन का चयन करें - Sex karne ki sahi position ka chayan kare
  4. लिंग को योनि में प्रवेश कराने का तरीका - Ling ko yoni me pravesh karane ka tarika
  5. सेक्स को इस तरह बनाएं खास - Sex ko is tarah banaye khas

सेक्स करने का तरीका है पहले फोरप्ले करना - Sex karne ka tarika hai pehle foreplay karna

फोरप्ले एक ऐसी क्रिया है जिसको सेक्स से पहले किया जाता है। इसमें पुरुष और महिला एक दुसरे के शरीर को सेक्स करने के लिए तैयार करते हैं। इसमें किस करना, प्यार से छूना व महिला के संवेदनशील अंगों को जीभ से छूने की क्रिया को शामिल किया जाता है।

(और पढ़ें - किस कैसे करते है)

इससे महिलाओं की योनि में प्राकृतिक सेक्स लुब्रिकेंट बनना शुरू हो जाता है, जबकि पुरुष के लिंग में उत्तेजना आ जाती है। इन सभी संकेतों से पता चलता है कि महिला व पुरुष दोनों ही सेक्स के लिए तैयार हो गए हैं। फोरप्ले करने से दोनों जल्द ही यौन संबंध के चरम सुख के एक नए शिखर पर पहुंच जाते हैं।

(और पढ़ें - यौन शक्ति बढ़ाने वाले आहार)

इस तरह सेक्स के दौरान फोरप्ले अहम भूमिका निभाता है।

सेक्स कैसे भी करें लेकिन कंडोम जरूर लगाएं - Sex kaise bhi kare lekin condom jaroor lagaye

सेक्स के लिए पुरुषों को कंडोम का इस्तेमाल करना चाहिए। लिंग और योनि के संपर्क में आने से पहले पुरुष को लिंग पर कंडोम लगा लेना चाहिए। इससे दोनों के लिए यौन संचारित रोग होने की संभावना कम हो जाती है। साथ ही, अनचाहा गर्भ रोकने का एक अच्छा उपाय है कंडोम का इस्तेमाल करना।

(और पढ़ें - अनचाहा गर्भ रोकने का उपाय)

पुरुष कंडोम के अलावा आप चाहें तो महिला कंडोम का इस्तेमाल भी कर सकते हैं।

(और पढ़ें - सेक्स पावर कैसे बढ़ाएं)

सेक्स करने की सही पोजीशन का चयन करें - Sex karne ki sahi position ka chayan kare

सेक्स को करने के लिए कई तरह की सेक्स पोजीशन को अपनाया जा सकता है। लेकिन यह कहना सही नहीं होगा कि कोई निश्चित सेक्स पोजीशन या सेक्स आसन सभी को आनंद प्रदान करने वाला होता है। सामान्यतः सेक्स के दौरान यह देखा जाता है कि महिला नीचे लेट जाती है और पुरुष उनके ऊपर लेटते हुए सेक्स करते हैं। इस पोजीशन को मिशनरी पोजीशन भी कहते हैं। अधिकतर दम्पति इस तरह की पोजीशन को ही अपनाते हैं।

(और पढ़ें - योनि को साफ कैसे रखें)

इसके अलावा सेक्स पोजीशन में महिलाओं को पुरुषों के ऊपर आने वाली भी कई तरह की पोजीशन है। इसके अतिरिक्त दोनों साथियों का साथ में एक दूसरे की साइड व आगे-पीछे लेटने वाली आदि कई तरह की पोजीशन होती है। सही पोजीशन या सेक्स आसन को अपनाने के लिए दोनों ही साथियों को अपनी सहजता पर गौर करना होगा, जिसमें आप दोनों ही सहज महसूस करते हों वही पोजीशन आपके लिए सही रहेगी।

(और पढ़ें - कामसूत्र के पोजीशन)

सेक्स आसन में अपने साथी को प्यार से छून व करीब आने के अहसास से आप दोनों को चरम अवस्था तक पहुंचने में आसानी होती है। अगर साथी इस क्रिया में सहज न हो पा रहीं हों तो आप परेशान न हो, क्योंकि कई बार साथी को स्थिति को समझने व अपनाने में थोड़ा समय जरूर लगता है। एक बार आपका साथी आपके साथ सेक्स में सहज हो जाए, तो आप किसी अन्य पोजीशन को अपनाने पर भी विचार कर सकते हैं। सेक्स के रोमांच को बढ़ाने के लिए आप सेक्स टॉय, एनल सेक्सओरल सेक्स को अपना सकते हैं। ओरल सेक्स को करने के बाद सामान्य (योनि सेक्स) सेक्स को करने से पूर्व आपको सावधानी के रूप में कंडोम को बदलना चाहिए, यदि आप ऐसा नहीं करते हैं तो आपको यौन संचारित रोगों का खतरा बना रहता है।

(और पढ़ें - शादी से पहले सेक्स)

लिंग को योनि में प्रवेश कराने का तरीका - Ling ko yoni me pravesh karane ka tarika

फोरप्ले के बाद दोनों ही साथी जब सेक्स के लिए तैयार हों, तब पुरुष महिला की सहमति मिलने के बाद उनकी योनि में अपने लिंग को प्रवेश करा सकता है। लिंग को योनि के मुख पर ठीक से पहुँचाने के लिए अगर अपने हाथों की मदद लेनी पड़े, तो ज़रूर लें। यहाँ तक कि महिला को भी इसमें पुरुष की मदद करनी चाहिए। महिला लिंग को अपने हाथ में लेकर योनि के मुख पर रख सकती हैं। उसके बाद पुरुष का काम शुरू होता है।

(और पढ़ें - सेक्स से जुड़े मर्दों के डर)

अब पुरुष को धीरे-धीरे लिंग को योनि के अंदर ले जाएं। फिर इसको थोड़ा सा बाहर निकाले। फिर थोड़ा अंदर ले जाएँ। यह क्रिया कुछ बार दोहराएं। जब यह क्रिया स्वाभाविक हो जाए तो आप दोनों सेक्स का आनंद लेने लगेंगे। इस तरह सेक्स को करते समय आप दोनों ही साथी सहज महसूस करने लगेंगे।

(और पढ़ें - शीघ्र स्खलन का कारण)

हालांकि, कुछ ऐसी सेक्स पोजीशन भी हैं जिसमें महिला पुरुष के ऊपर होती है और वह खुद ही लिंग को योनि के अंदर प्रवेश करवा देती हैं।

इस दौरान आप या आपका साथी जब भी किसी क्रिया में रुकना चाहे तो आपको रुकना होगा। सेक्स के दौरान कई बार साथी किसी नए तरीके में सहज नहीं हो पाता है, ऐसे में आपको उनकी असहजता का ध्यान रखते हुए तुरंत उस क्रिया को रोक देना होगा।

(और पढ़ें - पुरुषों के यौन रोग)

सेक्स को इस तरह बनाएं खास - Sex ko is tarah banaye khas

यौन संबंध दो लोगों के बीच में होने वाले निजी संबंध होते हैं। इसमें दोनों साथी अपनी-अपनी जिम्मेदारी को समझते हुए एक दूसरे के करीब आते हैं। सेक्स करने वालों के मन में इसकी सही प्रक्रिया को जानने की उत्सुकता होती है, जबकि यह उत्सुकता पहली बार सेक्स करने वालों में अधिक देखने को मिलती है। तो जानते हैं सेक्स क्रिया को करने के सही तरीके व इसको खास बनाने वाले उपायों के बारे में।

  1. साथी के मन को समझें
    सेक्स क्रिया का पूर्ण आनंद लेने के लिए आपको अपने साथी के मन को समझना होगा। यौन संबंध बनाने से पूर्व आपको यह जानने का प्रयास करना होगा कि आपका साथी इसमें शामिल होने का इच्छुक है या नहीं। अगर आप साथी की इच्छा के बिना सेक्स करते हैं तो आपको इसमें आनंद प्राप्त नहीं होगा। जब साथी आपके पास आते हुए आपको बार-बार छूने का प्रयास करें तो यह संकेत उनके मन में उठने वाली उत्तेजनाओं की ओर इशारा करता हैं। लेकिन इसको सिर्फ संकेत कहा जा सकता है, सेक्स के लिए उनकी इच्छा जानने के लिए आपको उनसे सहमति अवश्य लेनी चाहिए।
    (और पढ़ें - महिला की यौन समस्याएं)
     
  2. सही तैयारी करें
    सेक्स कई तरह से आपके स्वास्थ के लिए फायदेमंद होता है। इससे अतिरिक्त सेक्स से कैलोरी व तनाव दूर होता है। वहीं इस क्रिया को सही तैयारी के साथ न किया जाए तो यह आपके लिए कई तरह की समस्या भी खड़ी कर सकती है। इसलिए आप सेक्स को करने से पहले पूरी तैयारी कर लें। गर्भनिरोधक गोलियां व कंडोम को अपने पास जरूर रखें। आप दोनों के रिश्तों को सेक्स नजदीकियों में बदलता है, इसीलिए इसको सुरक्षित तरीके से ही करें। इसके अलावा एक कंडोम को आप बार-बार इस्तेमाल करने से बचें। साथ ही साथ इस बारे में साथी से जरूर बात करें और उनको भी सहज महसूस कराएं।
    (और पढ़ें - स्वपन दोष के उपाय)
     
  3. सही जगह सेक्स के उत्साह को बढ़ा देती है
    सेक्स सभी के लिए महत्वपूर्ण होता है। चाहे आप इसको पहली बार कर रहें हों या पहले भी कर चुके हों। महत्वपूर्ण होने के चलते इसके लिए सही जगह चुनना बेहद जरूरी होता है। सेक्स करने के लिए आप ऐसी जगह चुनें जो आप दोनों साथियों को पसंद आए। इसके अलावा आप कमरे में हल्की रोशनी रखें और रोमांटिक गानों को भी लगाएं। इससे सेक्स के समय आप दोनों ही बेहतर महसूस करते हैं।
    (और पढें - नपुसंकता के घरेलू उपाय)
     
  4. जोश की जगह होश से काम लें
    अधिकतर लोग सेक्स करते समय जोश में आ जाते हैं। जोश में सेक्स करना आपके साथी के मूड को खराब कर सकता है। सेक्स के लिए आपका उत्सुक होना अच्छी बात है, लेकिन आप अपनी इस भावना को सही तरह से उजागर करें। सेक्स के दौरान आपको ऐसा कुछ भी करने से बचना होगा, जिससे आपका साथी परेशान हो या वह असहज महसूस करे।
    (और पढ़ें - sex ke fayde)
     
  5. किस करने का अपना महत्व
    साथी के करीब आते ही आप सबसे पहले उसको किस करते हैं और किस के माध्यम से आप अपने मन की भावना साथी के साथ साझां करते हैं। अंतरगता के साथ की गई किस महिलाओं के मूड को सेक्स के लिए बनाने का काम करती है। प्यार से साथी को किस करना, छूना व करीब आते हुए सहलाना साथी में उत्तेजना जाग्रत करता है। ऐसा करने से साथी आपके साथ भावनात्मक रूप से जुड़ाव महसूस करता है। इससे आप दोनों ही बेहतर तरह से सेक्स कर पाते हैं।
    (और पढ़ें - डिलीवरी के बाद सेक्स)
     
  6. फोरप्ले करना जरूरी
    सेक्स के लिए आपका साथी खुद अपने उतारे या आप उसके कपड़े उतारे एक ही बात है, लेकिन जब आप प्यार के साथ साथी के कपड़े एक-एक करके उतारते हैं, तो इसमें दोनों ही साथियों को एक अलग ही एहसास होता है। महिला को पुरुष की अपेक्षा चरम अवस्था तक पहुंचने पर अधिक समय लगता है। ऐसा इसलिए होता है, क्योंकि महिला को उत्तेजित होने में समय लगता है। महिला को सेक्स के लिए तैयार करने की प्रक्रिया को ही फोरप्ले कहा जाता है।
    (और पढ़ें - सेक्स के दौरान की जानें वाली गलतियां)
     
  7. सही समय का चुनाव करें
    कई बार साथी किसी विशेष समय पर सेक्स के लिए तैयार नहीं होता है। इसलिए आप ऐसे समय का चुनाव करें जब आपके साथी अपने सभी काम को पूरा कर चुका हो, घर की सभी जिम्मेदारियों को पूरी करने में आप भी उनकी सहायता कर सकते हैं।
    (और पढ़ें - शुक्राणु बढ़ाने के घरेलू उपाय)
     
  8. साथी से मदद लेना
    सेक्स करते समय आपको अपने साथी से मदद लेते हुए शर्माना नहीं चाहिए। कई बार पुरुष महिला साथी से पूछे बिना इस तरह से सेक्स करते हैं कि महिला को दर्द होने लगता है। इस कारण से पुरुष को सेक्स के दौरान सही पोजीशन व आरामदायक स्थिति के बारे में महिला से बात करनी चाहिए। वहीं महिलाओं को भी पुरुषों की सहायता करते हुए बताना चाहिए कि उनको क्या करने में अच्छा लग रहा है।
    (और पढ़ें - बेहतर सेक्स लाइफ के लिए योगा)
     
  9. आखिरी पलों को बनाएं खास
    अक्सर पुरुष सेक्स के बाद महिलाओं से दूर जाकर बैठ जाते हैं या चरम अवस्था पर पहुंचते ही सोने चले जाते हैं। जबकि महिलाएं चाहती हैं कि सेक्स के बाद पुरुष उनके साथ बैठें, उनसे बातें करें। सेक्स के आखिर के पलों में पुरुषों को महिलाओं को कपड़े पहनाने में मदद करनी चाहिए। उनके साथ हंसी मजाक करके माहौल को सामान्य बनाना चाहिए। महिलाओं को भी सेक्स का अनुभव पुरुषों के साथ साझां करना चाहिए। जबकि अंत में पुरुषों को इस्तेमाल किए गए कंडोम को सही जगह पर ही फेंकना चाहिए। इसके बाद आप दोनों को संक्रमण से बचने के लिए अपने निजी अंगों की भी सफाई करनी चाहिए। 
    (और पढ़ें - सेक्स के जुड़े झूठ)

सेक्स को करते समय अधिकतर महिलाओं को उत्तेजित होने में थोड़ा समय जरूर लगता है। वहीं कई महिलाएं पहली बार सेक्स करते समय असहज व दर्द महसूस करती हैं। सामान्यतः यह दर्द ज्यादा तेज नहीं होता, परंतु महिला को यदि तेज दर्द का अनुभव हो तो पुरुष साथी को सेक्स करते समय रूकना होगा। सेक्स के दौरान जल्दबाजी न दिखाएं। महिलाओं को चरम सुख तक पहुंचाने की जिम्मेदारी भी पुरुषों की होती है, इसलिए आप किसी अच्छें ल्युब्रिकेंट का प्रयोग कर सकते हैं, ताकि इस दौरान आप दोनों की त्वचा घर्षण से जख्मी न हो। ध्यान रहें कि तेल युक्त ल्युब्रिकेंट व वैसलीन के इस्तेमाल से कंडोम के खराब हो जाने का खतरा बना रहता है।

(और पढ़ें - सेक्स के बाद योनी से ब्लीडिंग)

अगर महिला पहली बार सेक्स कर रही है तो उनको हल्का रक्त स्त्राव हो सकता है। इससे महिलाओं को घबराने की कोई आवश्यकता नहीं है, क्योंकि अधिकतर महिलाओं में पहली बार सेक्स करते समय रक्त स्त्राव होना आम बात है। अगर किसी महिला को पहली बार सेक्स के दौरान रक्त स्त्राव न हो, तो भी यह एक सामान्य अवस्था ही होती है। ऐसा जरूरी नहीं है कि पहली बार सेक्स करते समय सभी महिलाओं को रक्त स्त्राव हो।

(और पढ़ें - योनि के सूखेपन का इलाज)

जिन महिलाओं को सेक्स करते समय हर बार रक्त स्त्राव हो रहा हो, उनको किसी स्त्री रोग विशेषज्ञ से मिलकर इस समस्या के सही कारणों का पता लगाकर उसका निदान करना चाहिए।  

(और पढ़ें - सेक्स के दौरान ऐंठन)

कंडोम के बिना सामान्य सेक्स (योनि सेक्स) करने से प्रेग्नेंसी व यौन संचारित रोगों (एसटीडी) के साथ ही एचआईवी होने का भी खतरा बना रहता है। चाहे आप पहली बार ही सेक्स क्यों न कर रहें हो प्रेग्नेंसी व एसटीडी से बचने के लिए आपको कंडोम का इस्तेमाल जरूर करना चाहिए।

अगर आप असुरक्षित यौन संबंध बना चुके हैं, तो आपको जल्द ही किसी डॉक्टर से इस बारे में सलाह लेनी चाहिए। ऐसे में प्रेग्नेंसी को रोकने के लिए गर्भनिरोधक गोलियां ले सकते हैं। प्रेग्नेंसी से बचने के लिए आपके पास कई विकल्प मौजूद होते हैं, लेकिन यौन संचारित संक्रमण व एचआईवी से बचने के लिए आपको केवल कंडोम का इस्तेमाल करना होता है। साथी के साथ सेक्स से पूर्व सावधानी बरतना आप दोनों को ही सेक्स में सहजता प्रदान करता है। सेक्स करना आप दोनों का ही अपना निजी फैसला होता है, लेकिन इस दौरान सावधानी बरतना बेहद ही जरूरी होता है।

(और पढ़ें - सुरक्षित सेक्स के तरीके)

एक दुसरे की अपेक्षाओं को जानें - Ek doosre ki apekshaon ko jane

आपको अपने साथी के साथ सेक्स करने से कुछ समय पहले अपनी अपेक्षाओं को समझना होगा। इसके लिए आप एक सप्ताह का समय भी निर्धारित कर सकते हैं। साथी के करीब आने पर पहले कुछ दिनों में केवल आप उनके साथ किस करें व उनके हाथों को प्यार से पकड़ने तक ही सीमित रहें। इसके बाद आगे बढ़े। लेकिन ध्यान रहें कि तुरंत ही सेक्स न करें। आप व साथी दोनों ही सेक्स से क्या अपेक्षाएं रखते हैं, इस बारे में आपस में बात करें।

(और पढ़ें - लंबे समय तक सेक्स करने के उपाय)

जब सप्ताह खत्म होने वाला हो तो आपको सेक्स करना चाहिए। सेक्स को करते समय आपको अपनी और साथी की इच्छाओं का मान रखना चाहिए। इस तरह की प्रक्रिया से आप अपने व साथी के अंदर भावनाओं को जगा सकते हैं। साथ ही अपने साथी के साथ के बारे में आप क्या सोचते हैं या प्यार में आप क्या महसूस करते हैं, इन बातों को एक-दूसरे को जरूर बताएं।

(और पढ़ें - सेक्स के फायदे)

अपने साथी को मसाज दें - Apne saathi ko massage dein

बेहतर सेक्स के तरीकों में मसाज एक बेहद ही कारगर व सरल उपायों में गिनी जाती है। इससे साथी के अंदर काम भावनाएं जागती है। यह सेक्स से पहले किए जाने वाले फोरप्ले का ही एक तरीका है। मसाज आपके साथी को सेक्स के लिए धीरे-धीरे तैयार करने का काम करती है और चरम अवस्था (ऑर्गेज्म) पर पहुंचने के लिए साथी के अंदर उत्तेजना को बढ़ाती है।

(और पढ़ें - महिलाओं को उत्तेजित करने वाले अंग)

साधारण तरह से की गई मसाज न सिर्फ सेक्स को बढ़ाती है बल्कि आपकी सेक्सुअल लाइफ को भी बेहतर करती है। सेक्स के उद्देश्य से न की जाने वाली मसाज से आपको अपने साथी के शरीर के बारे में जानने का मौका मिलता है। इसके अलावा इससे साथी का तनाव कम करते सकते हैं और आप दोनों एक दूसरे के करीब आ सकते हैं। 

अगर आप कामोत्तेजना को बढ़ाने के लिए मसाज का सहारा नहीं लेते हो, तो आप अपने साथी के साथ बैठकर दोनों के बीच की गलतफहमियों को दूर करें।

(और पढ़ें - पीरियड्स में सेक्स करना चाहिए)

भावनाओं को समझने का प्रयास करें - Bhavnao ko samjhne ka prayas kare

बिना छुए हुए भी आप अपने साथी को बेहतर महसूस करवा सकते हैं। सुंगधित तेल से मसाज करना, कमरे में हल्की रोशनी के लिए मोमबत्तियों को जलाना व हल्की आवाज में रोमांटिक गानें भी, साथी में सेक्स की भावनाओं को जगाने का काम करते हैं। इसके अलावा साथी के पास होने पर एक दूसरे की सांसों की आवाज को सुनना भी आप दोनों में ही प्यार की भावनाओं को बढ़ाता है।

(और पढ़ें - मर्दाना ताकत बढ़ाने के उपाय)

साथी को किस करते समय मन की भावनाओं पर भी ध्यान दें। अगर आप सेक्स करने जा रहें हैं और इसको मजेदार बनाना चाहते हैं, तो आपको सेक्स करते समय स्ट्रॉबेरी या किसी अन्य रसदार फल को सेक्स क्रिया में शामिल करना चाहिए। लेकिन इस बात का ध्यान रखें कि आप जब भी कंडोम का इस्तेमाल करें, तो उसमें कोई तेल न लगाएं इससे वह खराब हो जाता है।

(और पढ़ें - सेक्स को मजेदार कैसे बनाएं)

साथी के कानों में प्यार भरी बातें करें - Saathi ke kano me pyar bhari baatein kare

जब आप अपने साथी के साथ होते हैं और उनके कानों में कुछ प्यार भरी बातें करते हैं तो इस अहसास से बेहतर और कुछ नहीं होता है। इस तरह का उपाय आप दोनों के बीच की दूरी को कम करता है। आप अपने साथी को प्यार का इजहार करने के लिए फोन कॉल्स या मैसेज भी कर सकते हैं। इससे आप दोनों के ही अंदर एक उत्सुकता आती है।

प्यार का संदेश देने के लिए आप ईमेल या फिर किसी पत्र का भी सहारा ले सकते हैं। लेकिन आप इस बात का ध्यान रखें कि इस संदेश को किसी खास आदमी के द्वारा ही साथी के पास भेंजे।

(और पढ़ें - रिश्तों को मजबूत बनाने के उपाय)

खुद व साथी द्वारा हस्तमैथुन करें - Khud aur saathi dwara hasthmaithun kare

खुद व साथी के द्वारा हस्तमैथुन करना आपकी सेक्सुअल जिंदगी को बेहद ही अहम बना देता है। आप अपने शरीर की यौन प्रतिक्रियाओं को जानने के लिए भी इसे अपना सकते हैं। साथ ही आपको इसे करने से कैसा महसूस हुआ, इस बात को साथी के साथ साझा भी कर सकते है।

अपने साथी का हस्तमैथुन करने से आपको इस बारे में पता चलता है कि वह कैसा महसूस करते हैं। आपके सेक्स करने के अनुभव को महसूस करने के लिए भी यह एक विकल्प हो सकता है। इसके बारे में साथी से बात जरूर करें।

(और पढ़ें - यौन शक्ति को बढ़ाने वाले आहार)

सेक्स के किए विशेष खिलौने इस्तेमाल करें - Sex ke liye vishesh khilone istemal kare

आज सेक्स के लिए कई तरह के विशेष सेक्स खिलौने (Sex toys) बाजार में उपलब्ध है। अगर आप और आपका साथी इनको इस्तेमाल करने में सहूलियत महसूस करता है, तो आपको अपने चरम आनंद के लिए इस तरह के खिलौनों का प्रयोग करना चाहिए। कई लोग अपनी सेक्सुअल लाइफ में इन सेक्सुअल खिलौनों जैसे वाइब्रेटर (vibrators) आदि का प्रयोग करते हैं। लेकिन अगर आपने इसके इस्तेमाल के बारे में पहले कभी सोचा ही नहीं, तो आप इसके प्रयोग से होने वाली भावनाओं को नहीं समझ पाएंगे।

इन खिलौनों को आप ऑनलाइन भी खरीद सकते है। इसके लिए जरूरी नहीं है कि आप ज्यादा पैसे खर्च करें। आप इसमें छोटे बालों वाला ब्रश भी खरीद सकती है। इस ब्रश के नरम बाल आपके शरीर पर जादू सा उत्पन्न करते है और आप इसका इस्तेमाल कर कोई नया खेल भी आजमा सकते हैं।

(और पढ़ें - सपने में सेक्स का मतलब)

सेक्स पर किताबें पढ़ें - Sex par kitaben padhe

आपको बता दें कि ऐसी कई तरह की किताबें मौजूद हैं जो किसी भी उम्र, लिंग और इच्छाओं को जानें बिना आपको सेक्स संतुष्टि के आसनों व विचारों को बताती है। अगर आप ने इस तरह की किताब को खरीदने के बारे में विचार नहीं किया है तो अब अपनी जरूरत के अनुसार इसको लेने पर विचार करें, क्योंकि इन किताबों से भी आपको काफी कुछ सिखने को मिल जाएगा।

(और पढ़ें - अच्छे सेक्स के लिए व्यायाम)

अपनी इच्छाओं व कल्पनाओं को एक दुसरे से साझा करें - Apni ichhaon aur kalpnaon ko ek doosre se share kare

इस विषय हर आदमी की अपनी अलग इच्छा व कल्पनाएं होती है। आप सेक्स को लेकर जैसा सोचते हैं, उन सभी विचारों को साथी के साथ साझा करें। सिर से पैर तक, बालों से कूल्हों तक व कहीं बाहर घुमने के बारे में, आप क्या सोचत हैं सभी बातों को अपने साथी को बताएं।

अगर आप दोनों ही एक दूसरे की कल्पनाओं को पूरा करते हैं, तो आप साथी को सेक्स में भरपूर आनंद प्रदान कर सकते हैं। इसके अलावा कुछ नए खेल के साथ सेक्स करना भी आपके लिए मजेदार हो सकता है।

(और पढें - कामेच्छा बढ़ाने के उपाय)

खुद को साफ सुथरा रखें - Khud ko saaf suthra rakhe

हम केवल आपकी सामान्य तरह की साफ सफाई के बारे में बात कर रहें हैं। इसका मतलब यह नहीं है कि आप अपने शरीर को ज्यादा ही साफ सुथरा रखने पर जोर देने लगें, थोड़ा बहुत पसीना हर किसी को आता ही है। लेकिन यह ज्यादा ना हो इस बात पर ध्यान दें।

अपने साथी को सम्मान दें और शरीर से आने वाले दुर्गंध को खुद से दूर ही रखें। 

(और पढ़ें - शरीर की बदबू दूर करने के उपाय)

किसी प्रकार की चिंता न करें - Kisi prakar ki chinta na kare

प्यार करने वाले साथी के साथ सेक्स करना जिंदगी का बेहद ही भावनात्मक और खूबसूरत अनुभव होता है। कभी-कभी सेक्स करते समय ज्यादा उत्सुक होना या ऑर्गेज्म के बारे में चिंता करना आपके लिए खराब हो सकता है। इसलिए आप अपने दिमाग को शांत रखें और प्यार के साथ सेक्स के खुशनूमा पल को महसूस करें।   

(और पढ़ें - चिंता को दूर करने के घरेलू उपाय

Dr. Abdul Haseeb Sheikh

Dr. Abdul Haseeb Sheikh

सेक्सोलोजी

Dr. Ghanshyam Digrawal

Dr. Ghanshyam Digrawal

सेक्सोलोजी

Dr. Srikanth Varma

Dr. Srikanth Varma

सेक्सोलोजी

और पढ़ें ...