myUpchar प्लस+ के साथ पूरेे परिवार के हेल्थ खर्च पर भारी बचत

पॉपकॉर्न को फिल्म थियेटर और घर पर रात को स्वादिष्ट नाश्ते की तरह खाते हुए देखा जा सकता है, लेकिन इस भोजन से जुड़े कई स्वास्थ्य लाभ भी हैं जो कि ज्यादातर लोगों ने कभी नहीं सुने होंगे।

पॉपकॉर्न को बनाना काफी सरल है, यह एक प्रकार की मकई है जिसका छिलका या शेल सख्त होता है और जिसके अंदर स्टार्च होता है। जब यह पॉपिंग मकई गरम होती है, तो मकई के दाने के अंदर दबाव बढ़ जाता है जिससे दाने चटक कर पॉपकॉर्न की शेप में आ जाते हैं। पॉपकॉर्न कई प्रकार के होते हैं, जिनमें माइक्रोवेव में पकाये जाने वाले पॉपकॉर्न भी शामिल है। पॉपकॉर्न में फाइबर, पॉलीफेनोलिक कंपाउंड, एंटीऑक्सिडेंट, विटामिन बी कॉम्प्लेक्स, मैंगनीज और मैग्नीशियम जैसी प्रभावशाली सामग्री से स्वास्थ्य लाभ मिलते हैं।

ऐतिहासिक रूप से, इस बात का सबूत है कि 6000 साल से अधिक वर्षों से पॉपकॉर्न का आनंद लिया जा रहा है, क्योंकि प्राचीन काल में मक्का कई सांस्कृतिक आहार का एक महत्वपूर्ण हिस्सा रहा है। मक्के के पौधे के उत्पाद को आग में डालकर सबसे पहले पॉपकॉर्न बनाया गया था। पॉपकॉर्न की पूर्व पुरातात्विक (archaeological) खोज पेरू में की गई थीं। पॉपकॉर्न भी अलग-अलग रंगों में आ सकते हैं, अगर अलग-अलग रंग के कॉर्न कर्नल्स (मकई के दाने) उपयोग किया जाता है।

  1. पॉपकॉर्न के फायदे - Popcorn Benefits in Hindi
  2. पॉपकॉर्न के नुकसान - Popcorn Side Effects in Hindi

पॉपकॉर्न के फायदे रखें पाचन तंत्र को स्वस्थ - Popcorn Good for Digestion in Hindi

यह समझना जरूरी है कि पॉपकॉर्न साबुत अनाज है, जो अनाज, अंकुरण और चोकर वाले अनाज के लिए एक ओहदा है। ये अनाज, चावल, और ब्रेड के समान साबुत अनाज है। चूंकि पॉपकॉर्न एक प्राकृतिक साबुत अनाज है, इसमें चोकर के सभी फाइबर शामिल होते हैं। पाचन के संदर्भ में, उच्च फाइबर सामग्री आपके शरीर को "नियमित" रखती है, जिसका अर्थ है कि आपकी आँतों के कार्यों आसानी और जल्दी से आपके पाचन तंत्र और कब्ज जैसी कंडीशन से बचा सकते हैं। फाइबर चिकनी आंतों की मांसपेशियों के पेस्टलेटिक गति को उत्तेजित करता है और पाचन रस के स्राव को प्रेरित करता है, जो दोनों ही आपकी संपूर्ण पाचन तंत्र को स्वस्थ रखने में मदद करते हैं। 

(और पढ़े – पाचन क्रिया सुधारने के आयुर्वेदिक उपाय)

पॉपकॉर्न के लाभ हैं कोलेस्ट्रॉल के लिए - Popcorn Lowers Cholesterol in Hindi

फाइबर का कार्य शरीर के भीतर एक और लाभकारी तरीके से होता है। साबुत अनाज में फाइबर होता है जो रक्त वाहिकाओं और धमनियों की दीवारों से अतिरिक्त कोलेस्ट्रॉल को कम कर सकता है, जिससे आपके समग्र कोलेस्ट्रॉल के स्तर में कमी आ जाती है। इससे खतरनाक कार्डियोवास्कुलर स्थितियों जैसे एथेरोस्क्लेरोसिस , दिल के दौरे और स्ट्रोक के खतरे की संभावना कम हो जाती है। इससे कार्डियक सिस्टम पर तनाव भी कम हो जाता है। 

(और पढ़ें – हृदय को स्वस्थ रखने के लिए खाएं ये आहार)

मधुमेह रोगियों के लिए स्वस्थ है पॉपकॉर्न - Popcorn Healthy for Diabetics in Hindi

इसमें मौजूद फाइबर का शरीर के भीतर रक्त शर्करा पर बहुत ही अच्छा प्रभाव पड़ता है। जब शरीर में पर्याप्त मात्रा में फाइबर होता है, तो यह रक्त शर्करा और इंसुलिन के स्तर को नियमित करता है। रक्त शर्करा में इन उतार-चढ़ाव को कम करना मधुमेह के रोगियों के लिए एक बड़ा बोनस होता है, इसलिए हमेशा पॉपकॉर्न खाने की सलाह दी जाती है अगर आप इस मुश्किल बीमारी से पीड़ित है।

पॉपकॉर्न खाने के फायदे बचाएँ कैंसर से - Popcorn Good for Cancer in Hindi

हाल के वर्षों में शोधकर्ताओं ने पॉपकॉर्न के भीतर बड़ी मात्रा में एंटीऑक्सीडेंट क्षमता को पाया है। पॉपकॉर्न को एक अस्वस्थ फूड माना जाता था, लेकिन अब पॉपकॉर्न के छिलके (hull of popcorn) में बड़ी संख्या में पॉलीफेनोलिक यौगिक पाया गया है जो कि आपके एंटीऑक्सिडेंट के एक और शक्तिशाली प्रकार में से एक है जिसकी आपके शरीर को जरूरत होती है। एंटीऑक्सिडेंट शक्तिशाली रक्षात्मक एजेंट हैं, जो सेलुलर चयापचय के उन उप-उत्पादों को खत्म करता है जो कि शरीर में विभिन्न प्रकार के बीमारियों से संबंधित होते हैं (विशेष रूप मुक्त कणों)। मुक्त कण कैंसर कोशिकाओं में स्वस्थ सेल्युलर डीएनए को उत्परिवर्तित करने के लिए जाने जाते हैं, जो कि एक बहुत बड़ी समस्या है। पॉपकॉर्न उन जोखिमों को कम करने में गंभीरता से सहायता कर सकता है। 

(और पढ़े – कैंसर से लड़ने वाले दस बेहतरीन आहार)

पॉपकॉर्न का सेवन रोकें त्वचा की उम्र को बढ़ने से - Popcorn for Anti Aging in Hindi

मुक्त कण कैंसर की तुलना में त्वचा को भी बहुत अधिक नुकसान पहुंचाते हैं। ये उम्र से संबंधित लक्षणों से जुड़े हुए हैं जैसे झुर्रियाँ, आगे स्पॉट्स, धब्बेदार अध: पतन (macular degeneration) और अंधापन, मांसपेशियों की कमजोरी, संज्ञानात्मक गिरावट, ऑस्टियोपोरोसिस, अल्जाइमर रोग, मनोभ्रंश, बालों के झड़ना आदि। पॉपकॉर्न आपको शक्तिशाली एंटीऑक्सिडेंट के साथ बुढ़ापे में अच्छी तरह से स्वस्थ और खुशहाल महसूस करा सकते हैं जो कि मुक्त कणों के इन प्रभावों का मुकाबला करते हैं। 

(और पढ़ें - आयुर्वेद की मदद से एंटी एजिंग के लक्षणों को कम करके रहें हमेशा युवा)

पॉपकॉर्न है वजन घटाने में सहायक - Popcorn Helps in Weight Loss in Hindi

पॉपकॉर्न के एक सामान्य कप में केवल 30 कैलोरी होते हैं, जो आलू के चिप्स की समान मात्रा से लगभग 5 गुना कम है। इसके अलावा, पॉपकॉर्न में फाइबर सामग्री से आपको जल्दी भूख नहीं लगती है। इससे अधिक बार खाने से बचा जा सकता है इसलिए वजन काम करने वालो के लिए पॉपकॉर्न बहुत ही अच्छा आहार है। पॉपकॉर्न में संतृप्त वसा बहुत कम होती है और इसका प्राकृतिक तेल शरीर के लिए स्वस्थ और आवश्यक होता है। 

(और पढ़ें - मोटापा घटाने के लिए क्या खायें और वजन कम करने के लिए डाइट चार्ट)

पॉपकॉर्न निश्चित रूप से एक स्वस्थ नाश्ते की तरह लगता है, लेकिन बहुत से लोग नमक, मक्खन, या अन्य चीज़ो से टॉपिंग करते हैं जिनका शरीर पर सकारात्मक प्रभाव नहीं पड़ता है।

इसके अलावा, पहले से पैकेज्ड माइक्रोवेव पॉपकॉर्न से बचें, क्योंकि इसमें आमतौर पर मक्खन और नमक पहले ही शामिल होता है।

पॉपकॉर्न का सेवन दिल की सेहत के लिए अच्छा नहीं है। इसका कारण है नॉनस्टिक कुकवेयर और माइक्रोवेव पॉपकॉर्न जैसे पैक्ड फूड में मिलने वाला परफ्ल्यूरोऑक्नोइक एसिड (पीएफओए) नामक केमिकल।

और पढ़ें ...