विटामिन सी के कई स्वास्थ्य लाभ हैं। ये हमारी प्रतिरक्षा प्रणाली को मजबूत करने के साथ ही रक्तचाप को कम करने में मदद करता है। यह कई फलों और सब्जियों में पाया जाता है। विटामिन सी एक आवश्यक विटामिन है जिसे बाहर से ही लेना होता है क्यूँकि हमारा शरीर इसका उत्पादन नहीं कर सकता है। यह पानी में घुल जाता है और संतरे, स्ट्रॉबेरी, कीवी फल, बेल मिर्च, ब्रोकोली, केल और पालक सहित कई फलों और सब्जियों में पाया जाता है। विटामिन सी की जरूरी दैनिक खुराक महिलाओं के लिए 75 मिलीग्राम और पुरुषों के लिए 90 मिलीग्राम मानी जाती है। 

ऐसा आहार लेने से जिसमें विटामिन सी पाया जाता है, हम शरीर में इसकी कमी को कुछ हद तक पूरा कर सकते हैं, लेकिन कई लोग अपनी ज़रूरतों को पूरा करने के लिए विटामिन सी सप्लीमेंट्स को भी लेते हैं तो आइए देखते हैं कि विटामिन सी सप्लीमेंट्स लेने के क्या फायदे हैं?

(और पढ़ें - चमकती त्वचा के लिए बेहतरीन स्किन केयर रूटीन)

 
  1. पुरानी बीमारी के लिए विटामिन सी के फायदे
  2. रक्तचाप के लिए विटामिन सी के फायदे
  3. हृदय रोग के लिए विटामिन सी के फायदे
  4. गठिया के लिए विटामिन सी के फायदे
  5. आयरन की कमी को पूरा करने के लिए विटामिन सी के फायदे
  6. रोग प्रतिरोधक क्षमता के लिए विटामिन सी के फायदे
  7. याददाश्त और मानसिक स्वस्थ के लिए विटामिन सी के फायदे
  8. स्कर्वी के लिए विटामिन सी के फायदे
  9. कैंसर के उपचार को प्रभावी बनाने के लिए विटामिन सी के फायदे
  10. सारांश

विटामिन सी एक शक्तिशाली एंटीऑक्सीडेंट है जो शरीर के प्रतिरक्षा तंत्र को मजबूत करता है। 

एंटीऑक्सीडेंट हमारे शरीर से हानिकारक तनाव और बीमारी बढ़ाने वाले अणुओं को खत्म करते हैं। विटामिन सी का सेवन रक्त में एंटीऑक्सीडेंट के स्तर को 30% तक बढ़ा सकता है जिससे शरीर कई तरह की बीमारियों से लड़ने में सक्षम होता है और सूजन को भी खत्म करता है। 

 

Vitamin C Capsules
₹599  ₹999  40% छूट
खरीदें

उच्च रक्तचाप से हृदय रोग का खतरा बहुत बढ़ जाता है जो वैश्विक स्तर पर मृत्यु का प्रमुख कारण है। अध्ययन में पाया गया कि विटामिन सी सप्लीमेंट लेने से हृदय से रक्त ले जाने वाली रक्त वाहिकाओं को आराम मिलता है, जिससे रक्तचाप के स्तर को कम करने में मदद मिलती है। 

(और पढ़ें - त्वचा को मुलायम बनाने के तरीके)

 

हृदय रोग दुनिया भर में मृत्यु का प्रमुख कारण है। उच्च रक्तचाप, उच्च ट्राइग्लिसराइड या एलडीएल (खराब) कोलेस्ट्रॉल का स्तर और एचडीएल (अच्छा) कोलेस्ट्रॉल का निम्न स्तर जैसे कई कारक हृदय रोग के खतरे को बढ़ाते हैं। विटामिन सी इन जोखिम कारकों को कम करने में मदद कर सकता है, जिससे हृदय रोग का खतरा कम हो सकता है। संक्षेप में प्रतिदिन कम से कम 500 मिलीग्राम विटामिन सी लेने या सेवन करने से हृदय रोग का खतरा कम हो सकता है। 

 

गाउट एक प्रकार का गठिया है। यह बहुत दर्दनाक है और इसमें जोड़ों, विशेषकर पैर की उंगलियों में सूजन हो जाती है। गठिया से पीड़ित लोगों को सूजन और अचानक, गंभीर दर्द का अनुभव होता है। रक्त में बहुत अधिक यूरिक एसिड बढ़ जाए तो गठिया होने की आशंका बढ़ जाती है। यूरिक एसिड शरीर द्वारा उत्पादित एक अपशिष्ट उत्पाद है जो शरीर में क्रिस्टलीकृत हो कर जोड़ों में जमा होने लगता है। कई अध्ययनों से पता चला है कि विटामिन सी रक्त में यूरिक एसिड को कम करने में मदद कर सकता है और परिणामस्वरूप, गाउट के हमलों से बचाता है।

(और पढ़ें -विटामिन सी की कमी )

जोड़ों के स्वास्थ्य और गतिशीलता को सुधार कर , हड्डी और जोड़ों के दर्द से राहत दिला कर सूजन को कम करने में लाभकारी जॉइन्ट सपोर्ट टेबलेट लीजिए और अपने सपनों के पीछे भागिए बिना किसी दर्द के।  

 
Iron Supplement Tablets
₹490  ₹770  36% छूट
खरीदें

आयरन एक महत्वपूर्ण पोषक तत्व है जो शरीर में विभिन्न प्रकार के कार्य करता है। यह लाल रक्त कोशिकाओं के निर्माण और पूरे शरीर में ऑक्सीजन के परिवहन के लिए आवश्यक है। विटामिन सी लेने से हम जो भोजन करते हैं उसमें उपस्थित आयरन को शरीर बेहतर रूप से अवशोषित कर सकता है। विशेष रूप से जो लोग मांस नहीं खाते उसके लिए आयरन भोजन से लेना बहुत जरूरी है। एक अध्ययन के अनुसार,  केवल 100 मिलीग्राम विटामिन सी का सेवन करने से आयरन अवशोषण में 67% तक सुधार हो सकता है। परिणामस्वरूप, विटामिन सी आयरन की कमी से ग्रस्त लोगों में एनीमिया के खतरे को कम करने में मदद करता है।

 

लोगों द्वारा विटामिन सी के सप्लीमेंट्स लेने का मुख्य कारण प्रतिरक्षा तंत्र को मजबूत बनाना है क्योंकि विटामिन सी प्रतिरक्षा प्रणाली के कई हिस्सों में शामिल होता है। विटामिन सी लिम्फोसाइट्स और फागोसाइट्स जैसी सफेद रक्त कोशिकाओं को बढ़ाने में मदद करता है, जो शरीर को संक्रमण से बचाने में मदद करते हैं। 

विटामिन सी इन श्वेत रक्त कोशिकाओं को अधिक प्रभावी ढंग से कार्य करने में मदद करता है और उन्हें संभावित हानिकारक अणुओं से होने वाले नुकसान से बचाता है। विटामिन सी त्वचा की रक्षा प्रणाली का एक अनिवार्य हिस्सा है। इसे सक्रिय रूप से त्वचा तक पहुंचाया जाता है, जहां यह एंटीऑक्सीडेंट के रूप में कार्य कर सकता है और त्वचा की कमियों को खत्म करने में मदद करता है। अध्ययनों के अनुसार विटामिन सी लेने से घाव भी जल्दी भरने लगते हैं। 

(और पढ़ें -विटामिन सी के स्रोत, फायदे )

 

डिमेंशिया में याददाश्त पर नकारात्मक प्रभाव पड़ते हैं। दुनिया भर में 35 मिलियन से अधिक लोग इससे प्रभावित हैं। मस्तिष्क, रीढ़ और तंत्रिकाओं के पास ऑक्सीडेटिव तनाव और सूजन को बढ़ा सकता है। विटामिन सी एक मजबूत एंटीऑक्सीडेंट है जो इस मनोदशा के खतरे को कम करने में मदद करता है। विटामिन सी से योक्त भोजन या सप्लीमेंट्स लेने से उम्र बढ़ने के साथ सोच और याददाश्त पर सुरक्षात्मक प्रभाव पड़ता है।  

 

स्कर्वी - एक बीमारी जो विटामिन सी की कमी से उत्पन्न होती है - का इलाज आमतौर पर विटामिन सी सप्लीमेंट्स से ही किया जाता है।स्कर्वी के इलाज वाले अधिकांश लोगों में विटामिन सी लेने से 48 घंटों के भीतर लक्षणों में सुधार होता है और 14 दिनों के भीतर पूरी तरह से ठीक हो जाते हैं।

(और पढ़ें -विटामिन-सी युक्त फल व उनके फायदे )

 

ये तो नहीं कहा जा सकता कि विटामिन सी कैंसर को रोक सकता है या ठीक कर सकता है, लेकिन यह कैंसर के इलाज में फायदेमंद हो सकता है। कई अध्ययनों में ये पाया गया कि विटामिन सी कैंसर जैसे मानक उपचारों को ठीक करने में मदद कर सकता है। एक अन्य अध्ययन के अनुसार,विटामिन सी अग्नाशय कैंसर वाले लोगों में कुछ कीमोथेरेपी और कैंसर दवाओं के प्रभाव को बढ़ाता है। फिर भी कैंसर का इलाज करा रहे किसी भी व्यक्ति को विटामिन सी या कोई अन्य सप्लीमेंट्स लेने से पहले अपने डॉक्टर से जरूर परामर्श करना चाहिए। 

 

विटामिन सी एक पानी में घुलनशील विटामिन है जिसे आहार या पूरक आहार से प्राप्त किया जाना चाहिए। एंटीऑक्सीडेंट स्तर को बढ़ाना, रक्तचाप को कम करना, गाउट के हमलों से बचाना, लौह अवशोषण में सुधार, प्रतिरक्षा को बढ़ावा देना, और हृदय रोग और मनोभ्रंश जोखिम को कम करना जैसे इसके कई फायदे हैं। अगर आप अपने आहार से पर्याप्त विटामिन सी प्राप्त नहीं कर पा रहे हैं तो सप्लीमेंट्स के तौर पर इसे लेना विटामिन सी सेवन को बढ़ाने का एक शानदार और सरल तरीका है।

 
ऐप पर पढ़ें