myUpchar प्लस+ के साथ पूरेे परिवार के हेल्थ खर्च पर भारी बचत

एथलीट फुट क्या है?

एथलीट फुट (टिनिया पेडीस) एक कवक संक्रमण है जो आमतौर पर पैर की उंगलियों के बीच शुरू होता है। यह आमतौर पर उन लोगों में होता है जिनके पैर तंग-फिटिंग जूते के भीतर ही सीमित होते हैं। और इन लोगों के पैर में बहुत पसीना आता है। 
एथलीट फुट के लक्षणों में त्वचा पर दाने आना शामिल होता है। जिसमें आमतौर पर खुजली, चुभन  और जलन होती है। यह बिमारी संक्रामक है। और दूषित फर्श, तौलिए या कपड़ों के माध्यम से फैल सकता है।
एथलीट्स फुट अन्य कवक संक्रमणों से घनिष्ठ रूप से संबंधित है।  जैसे कि दाद और जॉक खुजली। इसका इलाज ओवर-द-काउंटर एंटिफंगल दवाओं के साथ किया जा सकता है, लेकिन संक्रमण अक्सर फिर से हो सकता है। डॉक्टर द्वारा सुझाई गई दवाएं भी उपलब्ध हैं।

  1. एथलीट फुट (पैरों में फंगल इन्फेक्शन) के लक्षण - Athlete's Foot Symptoms in Hindi
  2. एथलीट फुट के कारण और जोखिम कारक - Athlete's Foot Causes & Risk Factors in Hindi
  3. एथलीट फुट (पैरों में फंगल इन्फेक्शन) से बचाव - Prevention of Athlete's Foot in Hindi
  4. एथलीट फुट का परीक्षण - Diagnosis of Athlete's Foot in Hindi
  5. एथलीट फुट (पैरों में फंगल इन्फेक्शन) का इलाज - Athlete's Foot Treatment in Hindi
  6. एथलीट फुट की जटिलताएं - Athlete's Foot Complications in Hindi
  7. एथलीट फुट (पैरों में फंगल इन्फेक्शन) की दवा - Medicines for Athlete's Foot in Hindi
  8. एथलीट फुट (पैरों में फंगल इन्फेक्शन) के डॉक्टर

एथलीट फुट (पैरों में फंगल इन्फेक्शन) के लक्षण - Athlete's Foot Symptoms in Hindi

एथलीट फुट आपकी त्वचा पर लाल चकत्ते पैदा कर देता है। यह चकत्ते आम तोर पर पैर के अंघूठो के बीच से शुरू होते हैं। चकत्तों में खुजली जूते और मोज़े उतारने के बाद और बढ़ जाती है। 

कुछ तरीके का एथलीट फुट छाले और अलसर (ulcer) की तरह दिखता है। ऐथलीट्स फुट की वजह से रूखापन और पंजो की स्केलिंग भी हो सकती है जो पैर के ऊपरी ओर फैलती है। लोग अक्सर इसे एक्ज़िमा या रूखी त्वचा समझने की गलती कर देते हैं। (और पढ़ें- रूखी त्वचा के लिए उपचार)

यह आपके एक या दोनों पैर प्रभावित कर सकता है और आपके हाथ की ओर भी फेल सकता है- ख़ास कर अगर आप प्रभावित क्षेत्र को छूते या खुजाते हैं। 

डॉक्टर से कब संपर्क करें ?

अगर आपके पैरों पर लाल चकत्ते हों जो हफ़्तों के आत्म- उपचार के बाद भी न ठीक हो, तो तुरंत डॉक्टर से संपर्क करें। अगर आपको मधुमय (diabetes) है और आपको एथलीट्स फुट होने का अंदेशा हो रहा हो या आपको अपने पैरों में अत्यधिक लाल चकत्ते, सूजन, पैरों से पानी आना या बुखार जैसे लक्षण दिखने लगें तो जल्द से जल्द अपने डॉक्टर से संपर्क करें।  

एथलीट फुट के कारण और जोखिम कारक - Athlete's Foot Causes & Risk Factors in Hindi

एथलीट फुट क्यों होता है?

एथलीट फुट का कारण दाद और जोक खुजली फैलाने वाला कवक होता है। नम्म मोज़े और जूते और गर्म, नम्म मौसम इस कवक के विकास को बढ़ावा देते हैं। (और पढ़ें- कवक संक्रमण के उपचार)

एथलीट फुट संक्रामक है और प्रभावित व्यक्ति के संपर्क में आने से या दूषित तौलिये, फर्श या जूतों के माध्यम से भी फेल सकता है।  

जोखिम कारक -

आपको एथलीट फुट होने का जोखिम हो सकता है, अगर आप :

  • एक आदमी हैं 
  • बार-बार नम्म मोज़ो या जूतों का इस्तेमाल करते हैं 
  • किसी कवक रोग से प्रभावित व्यक्ति की चटाई, गलीचा, चादर, कपड़े या जूते इस्तेमाल करते हैं।  
  • अगर आप संक्रमण फैलने के जोखिम वाली जगह पर नंगे पैर चलते हैं (स्विमिंग पूल, लाकर रूम, सम्प्रदायक स्नान, सॉना, आदि)

एथलीट फुट (पैरों में फंगल इन्फेक्शन) से बचाव - Prevention of Athlete's Foot in Hindi

यह टिप्स आपको एथलीट फुट से बचने और उसके कारणों को निष्क्रिय बनाने में सहायक हो सकती हैं -

  • अपने पैरों को सूखा रखें, ख़ास कर अंगूठों के बीच में। घर में नंगे पाँव चलें ताकि आपके पैरों को भी पूरी तरह से हवा लग सके।  
  • मोज़ों को नियमित रूप से बदलें। अगर आपको पैरों में बहुत अधिक पसीना आता है तो, मोज़ों के नम्म हो जाने पर उन्हें तुरंत बदलें।  
  • हलके, अच्छे हवादार जूते पहनें। सिंथेटिक सामग्री जैसे की रबर या विनाइल के जूते पहनने से बचें। 
  • दो जोड़ी जूते रखें। हर रोज़ एक ही जोड़ी जूते न पहने। ऐसा करने से आपके जूतों की नमी को सूखने का समय नहीं मिलता। 
  • सार्वजनिक स्थानों पर अपने पैरों का बचाव करें। सांप्रदायिक स्नान, स्विमिंग पूल, शावर में जाने से पहले वाटरप्रूफ सेंडल या शावर जूते पहन लें।  
  • पैरों का उपचार करें। अपने पैरों पर रोज़ एंटीफंगल(antifungal) पाउडर लगाएं। 
  • जूते साझा न करें। जूते साझा करना कवक संक्रमण का जोखिम बढ़ा देता है। 

(और पढ़ें- पर्सनल हाइजीन के टिप्स)

एथलीट फुट का परीक्षण - Diagnosis of Athlete's Foot in Hindi

कुछ मामलों में, आपके डॉक्टर केवल आपके पैर देख कर ही एथलीट्स फुट का निदान कर देते हैं। इसकी पुष्टि करने के लिए, आपके डॉक्टर :

  • आपकी त्वचा के कुछ सैंपल ले सकते हैं और उन्हें माइक्रोस्कोप के नीचे देख सकते हैं। 
  • आपके पैरों को काली रौशनी (wood's light) के नीचे रख कर भी जांच सकते हैं 
  • आपकी त्वचा का सैंपल प्रयोगशाला में जांचने के लिए भी भेज सकते हैं

एथलीट फुट (पैरों में फंगल इन्फेक्शन) का इलाज - Athlete's Foot Treatment in Hindi

अगर आपका एथलीट फुट सौम्य है तो आपके डॉक्टर आपको ओवर-द-काउंटर एंटीफंगल मरहम, लोशन, पाउडर या स्प्रे इस्तेमाल करने का सुझाव दे सकते हैं। अगर फिर भी आपका एथलीट्स फुट ठीक नहीं होता है तो आपको डॉक्टर के पर्चे द्वारा सुझाई हुई दवाइयों की ज़रुरत पड़ सकती है। गंभीर संक्रमण के मामलो में मुँह के द्वारा ली जाने वाली दवाइयों की ज़रुरत पड़ सकती है। 

एथलीट फुट की जटिलताएं - Athlete's Foot Complications in Hindi

एथलीट फुट आपके शरीर के कई हिस्सों में फेल सकता है, जैसे कि :

  • आपके हाथ - जो लोग प्रभावित क्षेत्र को छूते या खुजाते हैं, उनमे ये संक्रमण उनके हाथो में बभी फेल सकता है। 
  • आपके नाखून - एथलीट्स फुट से संभंधित कवक आपके पैरों के नाखून को भी प्रभावित कर सकता है। ये हिस्सा उपचार प्रतिरोधी होता है। (और पढ़ें- नाखूनों की देख रेख की टिप्स)
  • आपकी ऊसन्धि - जोक खुजली का कारण अक्सर एथलीट्स फुट फैलाने वाला कवक ही होता है।  संक्रमण का पैरों से ऊसन्धि की ओर  फैलना आम है क्योंकि कवक आपके तौलिये के माध्यम से फैल सकता है।  
Dr. Neha Gupta

Dr. Neha Gupta

संक्रामक रोग

Dr. Jogya Bori

Dr. Jogya Bori

संक्रामक रोग

Dr. Lalit Shishara

Dr. Lalit Shishara

संक्रामक रोग

एथलीट फुट (पैरों में फंगल इन्फेक्शन) की दवा - Medicines for Athlete's Foot in Hindi

एथलीट फुट (पैरों में फंगल इन्फेक्शन) के लिए बहुत दवाइयां उपलब्ध हैं। नीचे यह सारी दवाइयां दी गयी हैं। लेकिन ध्यान रहे कि डॉक्टर से सलाह किये बिना आप कृपया कोई भी दवाई न लें। बिना डॉक्टर की सलाह से दवाई लेने से आपकी सेहत को गंभीर नुक्सान हो सकता है।

Medicine NamePack SizePrice (Rs.)
TerbinaforceTerbinaforce 1% Cream44
SyscanSYSCAN 100MG CAPSULE 4S88
DermizoleDermizole 2% Cream0
Clenol LbClenol Lb 100 Mg/100 Mg Tablet55
Candid GoldCANDID GOLD 30GM CREAM59
Propyderm NfPROPYDERM NF CREAM 5GM60
PlitePlite Cream0
FungitopFungitop 2% Cream0
PropyzolePropyzole Cream0
Q CanQ Can 150 Mg Capsule9
MicogelMicogel Cream17
Imidil C VagImidil C Vag Suppository59
Propyzole EPropyzole E Cream0
ReocanReocan 150 Mg Tablet23
MiconelMiconel Gel0
BifoBifo 1% Cream47
Tinilact ClTinilact Cl Soft Gelatin Capsule135
Canflo BnCanflo Bn 1%/0.05%/0.5% Cream34
Toprap CToprap C Cream28
Saf FSaf F 150 Mg Tablet24
Relin GuardRelin Guard 2% Cream10
VulvoclinVulvoclin 100 Mg/100 Mg Capsule56
Crota NCrota N Cream27
Clop MgClop Mg 0.05%/0.1%/2% Cream34
FubacFUBAC CREAM 10GM0

क्या आप या आपके परिवार में किसी को यह बीमारी है? सर्वेक्षण करें और दूसरों की सहायता करें

References

  1. Ilkit M, Durdu M. Tinea pedis: the etiology and global epidemiology of a common fungal infection.. Crit Rev Microbiol. 2015;41(3):374-88. PMID: 24495093
  2. Altunay ZT, Ilkit M, Denli Y. [Investigation of tinea pedis and toenail onychomycosis prevalence in patients with psoriasis]. [Article in Turkish]. Mikrobiyol Bul. 2009 Jul;43(3):439-47. PMID: 19795619
  3. Goto T et al. Examining the accuracy of visual diagnosis of tinea pedis and tinea unguium in aged care facilities.. J Wound Care. 2017 Apr 2;26(4):179-183. doi: 10.12968/jowc.2017.26.4.179. PMID: 28379097
  4. MedlinePlus Medical Encyclopedia: US National Library of Medicine; Athlete's Foot
  5. Nidirect [Internet]. Government of Northern Ireland; Athlete's foot
और पढ़ें ...