myUpchar प्लस+ के साथ पूरेे परिवार के हेल्थ खर्च पर भारी बचत

वोकल कॉर्ड में विकृति क्या है?

वोकल कॉर्ड (स्वरयंत्र के तार या मुंह से आवाज निकालने वाले तार) लचीले मांसपेशी ऊतक के दो तार (बैंड) होते हैं। वोकल कॉर्ड सांस नली (ट्रेकिआ) के ऊपर की ओर वॉयस बॉक्स (larynx: लारेंक्स) के अगल-बगल स्थित होते हैं। शरीर के अन्य ऊतकों की तरह ही वोकल कॉर्ड भी तनावग्रस्त और क्षतिग्रस्त हो सकते हैं। वोकल कॉर्ड में भी संक्रमण, ट्यूमर और ट्रॉमा हो सकते हैं।

जब आप चुप रहते हैं, तब भी ये तार खुले रहते हैं। यह एक मार्ग बनाते हैं जिसके माध्यम से आप सांस लेते हैं। जब आप बात करते हैं, तो आपके फेफड़ों से निकलने वाली हवा को बंद वोकल कॉर्ड के माध्यम से गुजरना पड़ता है। इसकी वजह से उनमें कंपन होने लगती है। तेज कंपन से अधिक-पिच वाली आवाजें निकलती हैं, जबकि धीमी कंपन से कम-पिच वाली आवाजें निकलती हैं।

(और पढ़ें - फेफड़े के रोग का कारण)

वोकल कॉर्ड में विकृति या विकार को आमतौर पर तब तक नहीं देखा जाता जब तक कि समस्या गंभीर न हो जाए। गायक या जो अक्सर चिखते-चिल्लाते हैं, उन लोगों को इस समस्या का जोखिम अधिक होता है। इसके साथ ही शोर वाले वातावरण में काम करने की वजह से तेज आवाज में बात करने वाले लोगों को भी इसका जोखिम अधिक होता है।

वोकल कॉर्ड में विकृति के लक्षण क्या हैं?

अगर आपको कभी-कभी वोकल से संबंधी समस्याएं बनी रहती हैं, तो यही वह समय है जब आपको स्थायी क्षति से बचने के लिए इलाज करवाने की आवश्यकता होती है। आगे आपको तीन संकेत बताए गए हैं जिनके होने पर आपको वोकल कॉर्ड की परेशानी को ठीक करवाने पर ध्यान देना चाहिए:

(और पढ़ें - गले में दर्द के घरेलू उपाय)

वोकल कॉर्ड में विकृति क्यों होती है?

वोकल कॉर्ड में विकृति का सामान्य कारण आपकी आवाज का अधिक दुरुपयोग करना होता है जैसे - ऐसे नोट्स जबरदस्ती गाना जिन्हें आप आसानी से पढ़ भी नहीं सकते या बहुत अधिक चीखना और चिल्लाना इत्यादि। अगर आपको काम की वजह से जोर-जोर से बात करना आवश्यक हो, तो आपको वोकल कॉर्ड में विकृति का खतरा हो सकता है।

शिक्षक और प्बलिक स्पीकर (जैसे भाषण देने वाले लोग या नेता आदि) इस तरह के वोकल कॉर्ड विकार से ग्रस्त हो सकते हैं। वोकल कॉर्ड में समस्याएं किसी प्रकार के संक्रमण और अन्य बीमारियों के कारण भी हो सकती हैं।

वोकल कॉर्ड में विकृति का इलाज कैसे होता है?

अधिक जोर-जोर से बोलने के कारण होने वाले वोकल कॉर्ड विकारों को रोकने में मदद के लिए, आपको अपने वोकल कॉर्ड पर दबाव बनाए बिना बात करने का सही तरीका सीखना होगा। वॉइस थेरेपिस्ट इसमें आपकी मदद करते हैं। इसको सीखने के लिए किसी ऐसे प्रशिक्षित डॉक्टर के पास जाएं, जो वॉइस थेरेपी में विशेषज्ञ हो।

(और पढ़ें - स्पीच थेरेपी क्या है)

वोकल कॉर्ड में विकृति के लिए, दो मुख्य उपचार हैं:

  • अल्पकालिक राहत के लिए, थोड़ी देर के लिए न बोले। केवल जरूरी होने पर ही बोत करें। इसके अलावा कुछ दिनों तक ज्यादा से ज्यादा बात न करने की कोशिश करें।
  • लंबी अवधि में राहत के लिए, वॉइस थेरेपी का उपयोग करें। इसमें अपने वोकल कॉर्ड को नुकसान से बचाने के लिए सही तरीके सीखें।

यदि कम बात करने और वॉइस थेरेपी से विकार का समाधान नहीं होता है, तो इस स्थिति में अन्य उपचार भी उपलब्ध हैं, जो विकार के प्रकार पर आधारित होते हैं। आप अपने डॉक्टर से इलाज के अन्य विकल्पों के बारे में बात कर सकते हैं।

(और पढ़ें - थेरेपी के फायदे)

क्या आप या आपके परिवार में किसी को यह बीमारी है? सर्वेक्षण करें और दूसरों की सहायता करें

References

  1. Rosen CA, Lee AS, Osborne J, et al. Development and validation of the voice handicap index-10. - Laryngoscope 2004;114: 1549–56 PMID: 15475780
  2. Feierabend RH, Malik SN. Hoarseness in Adults. Am Fam Physician 2009;80:363–70
  3. Dworkin JP. Laryngitis: types, causes, and treatments. Otolaryngol Clin North Am 2008;41:419–36 PMID: 18328379
  4. Syed I, Daniels E, Bleach NR. Hoarse voice in adults: an evidence-based approach to the 12 minute consultation. Clin Otolaryngol 2009;34:54–8 PMID: 19260886
  5. Health Harvard Publishing. Harvard Medical School [Internet]. Vocal Cord Disorders. What Is It? Harvard University, Cambridge, Massachusetts.
और पढ़ें ...