myUpchar प्लस+ के साथ पूरेे परिवार के हेल्थ खर्च पर भारी बचत

ट्रिसमस क्या है?

ट्रिसमस एक ऐसी स्थिति है, जिसमें व्यक्ति अपने जबड़े को पूरी तरह खोल नहीं पाता है। ये समस्या ज्यादातर कुछ ही समय के लिए होती है और जल्दी ठीक हो जाती है, लेकिन कभी-कभी ये स्थायी भी हो सकती है। जबड़ा पूरी तरह से न खुलने के कारण व्यक्ति को चबाने, बोलने, खाना निगलने और मुंह की सफाई करने में दिक्कत आने लगती है। इसके कई कारण हो सकते हैं, जैसे जबड़े की मांसपेशियों की समस्या आदि। कुछ मामलों में जबड़ा पूरी तरह से न खुलना व्यक्ति के चेहरे को बिगाड़ देता है और यह स्थिति व्यक्ति के लिए दर्दनाक व चिंताजनक हो सकती है।

(और पढ़ें - जबड़े में दर्द का इलाज)

ट्रिसमस के लक्षण क्या हैं?

मुंह को पूरी तरह से ना खोल पाना ट्रिसमस का मुख्य लक्षण होता है। इसके अलावा इसमें बिना हिलाए भी जबड़े में दर्द रहना, जबड़े की मांसपेशियों में ऐंठन, मुंह खोलने से संबंधित कोई भी गतिविधि करते समय जबड़े में दर्द होना, खाना न चबा पाना और निगलने में कठिनाई

(और पढ़ें - मांसपेशियों में दर्द का इलाज)

ट्रिसमस क्यों होता है?

हमारे जबड़े में कई प्रकार की मांसपेशियां होती हैं और सबका अपना काम होता है, जिसके कारण हम चबा पाते हैं। इन सब में से किसी भी मांसपेशी को नुकसान होने के कारण मुंह खोलने में दिक्कत और दर्द के कारण चबा न पाने की समस्या हो सकती है। मुंह न खोल पाने के मुख्य कारण हैं संक्रमण, चोट, ड्रग थेरेपी, रेडियोथेरेपी, कीमोथेरेपी, ट्यूमर या विकास से सम्बंधित कारक।

(और पढ़ें - चोट लगने पर क्या करें)

ट्रिसमस का इलाज कैसे होता है?

वैसे तो जबड़ा न खोल पाने की समस्या कुछ ही समय के लिए होती है। लेकिन इसका उपचार जितना जल्दी शुरू हो, इसके ठीक होने की संभावना उतनी अधिक होती है। मुंह न खुल पाने के इलाज के लिए ऊपरी व निचले जबड़े के बीच में एक खींचने वाला यंत्र लगाया जाता है और इसे खिंचाव बनाया जाता है, जिससे आपका जबड़ा धीरे-धीरे पहले से अधिक खुलने लगता है। ट्रिसमस के कारण होने वाले दर्द के लिए आपको दर्द निवारक व अन्य दवाएं भी दी जा सकती हैं। इसके अलावा फिजिकल थेरेपी की जा सकती है और ऐसा भोजन करने की सलाह दी जा सकती है, जो चबाने में नरम हो।

(और पढ़ें - थेरेपी के फायदे)

क्या आप या आपके परिवार में किसी को यह बीमारी है? सर्वेक्षण करें और दूसरों की सहायता करें

और पढ़ें ...