myUpchar प्लस+ के साथ पूरेे परिवार के हेल्थ खर्च पर भारी बचत

परिचय 

जबड़े में दर्द होना एक ऐसी परिस्थिति है जिसमें आपके खाने और बोलने की क्षमता बुरी तरह प्रभावित होती हैं।

जबड़ों में दर्द की कई वजहें हो सकती है जिसमें शामिल हैं साइनस और कान या फिर दांत और जबड़ा खुद। ऐसे में यह तय करना बहुत मुश्किल है कि जबड़े में दर्द की वजह जबड़ा खुद है या फिर कुछ और। अब क्योंकि जबड़े के दर्द के कई कारण हो सकते हैं तो ऐसे में इसके उपचार और निदान का दायरा भी काफी फैला हुआ है। दांत सड़ जाना, जबड़े की हड्डी में संक्रमण हो जाना या कानों में संक्रमण हो जाना और कनपटी को नीचे वाले जबड़े से जोड़ने वाली हड्डी में दिक्क्त आ जाने से लेकर दाढ़ में दर्द होने जैसे कई कारण जबड़ों में दर्द के लिए उत्तरदायी हैं।

(और पढ़ें - दांत में दर्द क्यों होता है)

जबड़ों में दर्द के साथ हो रहे अन्य लक्षण इस पर निर्भर करते हैं कि दर्द की वजह क्या है। इनमें सूजन, पस निकलना, कान दर्द, कब्ज, सिरदर्द और जबड़ा अकड़ जाना जैसे लक्षण शामिल हैं।

इसकी रोकथाम में नियमित रूप से डेंटिस्ट से मिलना, कैफीन लेने की दर को कम करना और स्मोकिंग न करना शामिल हैं। इसके साथ ही व्यक्ति को दांत पीसने से बचना चाहिए।

जबड़े के दर्द के निदानों में आपके जबड़े की हड्डी, मांसपेशियों और दांतों का परीक्षण शामिल है। आपको अपने दांतों और जबड़े की हड्डी का एक्स रे करवाना पड़ सकता है। यह सारा उपाय इस लिए किया जाएगा ताकि आपके डॉक्टर आपको बेहतर दर्द निवारक उपचार मुहैया करवा सकें।

जबड़े के दर्द का इलाज पूरी तरह से इसके कारण पर निर्भर करता है। आपको अपने दांतों में भराई करवाने, जबड़ों की जड़ों में मौजूद मार्गो को भरवाने, दांत निकलवाने, मांसपेशियों को आराम देने वाली दवा लेने जैसे उपाय करने पड़ सकते हैं। इसके साथ ही दर्द और सूजन कम करने के लिए आइस पैक, दर्द निवारक औषधियों आदि की भी जरुरत पड़ सकती है।

गौरतलब है कि अगर जबड़े के दर्द का ठीक समय पर उपचार न किया जाएं तो यह काफी बढ़ कर न केवल स्थायी पुराना दर्द बन जाता है बल्कि कई ऐसे इन्फेक्शन्स को जन्म दे देता है जो जानलेवा हो सकते हैं।

(और पढ़ें - त्वचा पर बर्फ लगाने के फायदे)

  1. जबड़े में दर्द क्या है - What is Jaw Pain in Hindi
  2. जबड़े में दर्द के लक्षण - Jaw Pain Symptoms in Hindi
  3. जबड़े में दर्द के कारण - Jaw Pain Causes in Hindi
  4. जबड़े में दर्द के बचाव के उपाय - Prevention of Jaw Pain in Hindi
  5. जबड़े में दर्द का निदान - Diagnosis of Jaw Pain in Hindi
  6. जबड़े में दर्द का उपचार - Jaw Pain Treatment in Hindi
  7. जबड़े में दर्द के जोखिम और जटिलताएं - Jaw Pain Risks & Complications in Hindi
  8. जबड़े में दर्द की दवा - Medicines for Jaw Pain in Hindi
  9. जबड़े में दर्द की दवा - OTC Medicines for Jaw Pain in Hindi
  10. जबड़े में दर्द के डॉक्टर

जबड़े में दर्द क्या है - What is Jaw Pain in Hindi

जबड़ों में दर्द का आशय ऊपरी या नीचे वाले जबड़े में दर्द होने से है। यह दर्द कई कारणों से हो सकता है जिसमें शामिल है दांतों में संक्रमण, कनपटी को नीचे वाले जबड़े से जोड़ने वाले तंत्र में दिक्क्त और जबड़े की हड्डी को चोट लगना

जबड़े में दर्द के लक्षण - Jaw Pain Symptoms in Hindi

जबड़े में दर्द के लक्षण क्या हैं?

जबड़े में दर्द अपने आप में एक लक्षण है। इसके साथ ही आपको दर्द के और भी लक्षण नजर आ सकते हैं। जैसे:

डॉक्टर से कब मिलें?

  • जब जबड़े के दर्द को घरेलू उपचार से कम न किया जा सके।
  • दांतों में दर्द, दांत टूट जाना
  • अगर आपके जबड़े की हड्डी में लगातार सूजन बढ़ रही है या फिर पस निकल रही है।  
  • आपको जबड़े में दर्द के साथ-साथ सीने में दर्द, पसीना आना या फिर सांस लेने में दिक्क्त होना।
  • गर्दन और ऊपरी पीठ में दर्द होना
  • आंखों में दर्द होना
  • किसी दुर्घटना में गिरने या चोटिल होने पर अचानक जबड़े का दर्द बढ़ जाना जिसके बाद आपको जबड़ा हिलाने, मुंह खोलने और बंद करने में दर्द हो।

(और पढ़ें - दांत में कीड़े लगने का इलाज

जबड़े में दर्द के कारण - Jaw Pain Causes in Hindi

जबड़े में दर्द क्यों होता है?

यहां उन सभी कारणों का जिक्र किया गया है, जिससे जबड़े में दर्द होता है।

  • जबड़े के जोड़ और आसपास की मांसपेशियों का ठीक से काम न करना -
    जबड़े का जोड़ कनपटी के पास स्थित होता है और यह जबड़े को सिर के किनारों से जोड़ता है। यह एक बहुत ही पीड़ादायक स्थिति है, जो जबड़े की मांसपेशियों पर अतिरिक्त दबाव,  ऊपर और नीचे वाले दांतों के सीधी रेखा में न होने, जोड़ों में आर्थराइटिस होने अथवा जबड़ों या चेहरे पर चोट लग जाने से, उत्प्न्न होती है।

  • दांत पीसना, दांत भींचना या मुंह को बहुत ज्यादा खोलना
    अधिकांशतया नींद में ही कुछ लोग दांत पीसते और दांत भीचते हैं। इससे दांतों को नुकसान पहुंचता है और जबड़े में दर्द होने लगता है।  

  • दांतों में संक्रमण
    कई बार दांतों में हुए संक्रमण (dental abscesses) के चलते बेहद दर्द होता है जो जबड़ों तक फ़ैल जाता।  

  • प्रभावित अक्कल दाढ़
    प्रभावित अकल दाढ़ के चलते भी जबड़े के पिछले हिस्से में दर्द होता है।  

  • साइनसाइटिस
    साइनसाइटिस जबड़ों के करीब स्थित हवा से भरी हुई गुहा होती है। इसमें इंफेक्शन से भी जबड़ों में दर्द होता है।

  • घाव
    किसी भी अन्य हड्डी की तरह आपकी जबड़े की हड्डी भी अपनी जगह से हिल सकती है या टूट सकती है। इससे भी जबड़े का दर्द होता है।

  • आर्थराइटिस - ​
    आर्थराइटिस से भी आपकी हड्डियां कमजोर हो जाती है। (औरपढ़ें - आर्थराइटिस का इलाज)  

  • जबड़े की हड्डी गल जाना
    जहां पर जबड़े की हड्डी मसूड़ों द्वारा ढंकी हुई नहीं होती है वहां पर यह स्थिति होने की संभावना बढ़ जाती है। इसमें जबड़े की हड्डी पर असर पड़ता है और दर्द होने लगता है।

  • क्लस्टर सिरदर्द
    आम तौर पर क्लस्टर सिरदर्द दोनों में से एक आंख के इर्द गिर्द या फिर एक आंख के ठीक पीछे होता है। हालांकि फिर यह दर्द धीरे धीरे जबड़ों तक फैल जाता है। (और पढ़ें - सिर दर्द से छुटकारा पाने के उपाय

  • हार्ट अटैक - ​
    हार्ट अटैक से न सिर्फ सीने बल्कि शरीर के अन्य हिस्सों में भी दर्द होने लगता है, जैसे कि हाथ, पीठ, गर्दन और जबड़ा। महिलाओं में हार्ट अटैक के दौरान बाएं जबड़े में दर्द महसूस होता है। (और पढ़ें - हार्ट अटैक के बाद क्या खाना चाहिये

  • चेहरे की नसों में दर्द
    चेहरे की नसों में दर्द एक ऐसी परिस्थिति है जिसमें चेहरे की नसें दब जाने से सनसनी होने लगती है। इससे चेहरे के एक बड़े हिस्से समेत ऊपरी और निचला जबड़ा प्रभावित होता है। (और पढ़ें - नसों में दर्द का इलाज)

  • जबड़े पर परत या गांठ बन जाना
    जबड़े पर परत बन जाने या गांठ बन जाने से भी दर्द होता है।  

जबड़े में दर्द होने की आशंका किन वजहों से बढ़ जाती है?

  • 20 से 40 की उम्र के बीच महिलाएं ऐसे अवस्था से गुजरती है जिसमें उनके जबड़े और आस -पास की मांसपेशियों में दर्द होता है (TMJ dysfunction)।
  • गलत पोस्चर और आदतों से भी यह तकलीफ बढ़ती है जैसे कि फोन पर बात करते वक्त उसे कंधे से पकड़ने के लिए सिर को सहारा देने हेतु हाथों से जबड़े पर जोर ड़ालना। 
  • दांत टेढ़ा होना या न होना।  
  • भावनात्मक दबाव बढ़ जाना। (और पढ़ें - टेंशन का इलाज)  
  • मौखिक हाइजीन को लेकर सावधानी न बरतना।
  • ठीक से न सोना। (और पढ़ें - जल्दी सोने के उपाय
  • थकान। 
  • मसूड़े में दिक्क्त।

जबड़े में दर्द के बचाव के उपाय - Prevention of Jaw Pain in Hindi

जबड़े के दर्द से बचाव के उपाय क्या हैं?

  • नरम खाना खाइएं, जिसे चबाने में दिक्क्त न हो।  
  • कुछ भी ऐसा मत खाइएं, जिसके लिए आपको पूरा मुंह खोलना पड़े।  
  • अधिक ठोस भोजन से परहेज कीजिए।
  • बात करते, जम्हाई लेते या खाते वक्त बहुत अधिक मुंह न  खोलें।
  • भोजन के छोटे छोटे ग्रास लें।  
  • कैफीन से परहेज करें। (और पढ़ें - कैफीन के फायदे और नुकसान
  • मांसपेशी के आस पास मालिश करें।
  • कैल्शियम और मैग्नीशियम के सप्लीमेंट लें। (और पढ़ें - कैल्शियम की कमी के नुकसान)
  • अपना डेंटल चेकअप नियमित तौर पर करवाते रहें। साथ ही, अपने डॉक्टर द्वारा दी गई सलाह और सुझाव का पालन करें।
  • कोशिश करें कि आप चिल्लाएं या गाएं न। 
  • च्युइंग गम या कैंडी से पूरी तरह परहेज करें।  
  • बैठने, उठने में अपना पोश्चर ठीक रखें।
  • पेट के बल न सोएं, पीठ या करवट के बल ही सोएं।
  • अपने चेहरे और शरीर के ऊपरी हिस्से की मांसपेशियों को आराम देने वाली एक्सरसाइज करें।
  • तनाव में होने पर अपने दांत न भींचे। जहां तक संभव हो अपने जबड़ों को एक दूसरे से सटाकर न रहें। 
  • अपने जबड़ों की किसी गर्म चीज से सिंकाई करें।
  • अपने हाथों पर ठोड़ी टिका कर बैठने या खड़े रहने की आदत छोड़ दें। इस स्थिति में रहने से आपके जबड़े पर दबाव पड़ता है और यदि आपको टीएमजे (TMJ) है तो आपके जबड़े सरक भी सकते हैं।

 

जबड़े में दर्द का निदान - Diagnosis of Jaw Pain in Hindi

जबड़े के दर्द का निदान कैसे होता है?

जबड़ों के दर्द का निदान और इलाज करने के लिए डॉक्टर सबसे पहले रोगी का शारीरिक परीक्षण करते हैं। इसके तहत नसों, गर्दन की हड्डियों, जबड़े, मुंह और मांसपेशियों का परीक्षण किया जाता हैं। डॉक्टर यह जांचते हैं कि हिलाने पर कहीं आपका जबड़ा भींचता तो नहीं या आवाजें तो नहीं करता। वे यह भी देखते हैं कि कहीं पूरा मुंह खोलने पर आपका जबड़ा अकड़ तो नहीं जाता। इस दौरान जबड़ा हिलाने, दांतों और जबड़ों की पोजीशन पर ध्यान दिया जाता हैं।

इस मामलें में ब्लड टेस्ट होने तक जबड़े के दर्द की वजह में दांत दर्द होने से भी इंकार नहीं किया जा सकता।

ऐसे में दर्द के पूर्ण समाधान के लिए कुछ टेस्ट किए जाते हैं, इसमें शामिल हैं-

  • ब्लड काउंट जाने के लिए ब्लड टेस्ट करना और संक्रमण अथवा सूजन की जांच करने के लिए ईएसआर करना।
  • दांतों और जबड़ों का एक्स रे करवाना।
  • सीटी स्कैन और एमआरआई द्वारा जबड़े की हड्डियों और मांसपेशियों का निरीक्षण।
  • भावनात्मक दबाव को पहचानने के लिए मनोवैज्ञानिक परीक्षण (साइकॉलोजिकल टेस्ट) करना।

जबड़े में दर्द का उपचार - Jaw Pain Treatment in Hindi

जबड़ों के दर्द का इलाज कैसे होता है?

जबड़ों के दर्द का इलाज पूरी तरह से इस बात पर निर्भर है कि यह दर्द किस कारण से हो रहा है। इसके इलाज के कई प्रकार हैं, जो इस तरह से हैं:

  • प्रभावित मांसपेशी को आराम देने के लिए दर्द निवारक दवा।
  • माउथगार्ड: माउथगार्ड एक प्लास्टिक का कवर होता है जिसे दांतों के ऊपर पहना जाता है, इसे या तो ऊपर या नीचे वाले दांतों में पहना जाता है और यह आपके मुंह में फिट हो जाता है। इसे पहनने से नींद में अगर आप अनजाने में अपने दांत भींचते भी हैं तो भी कोई समस्या नहीं खड़ी होगी।
  • अवसादरोधी दवाएं, इनकी मदद से आपको पीड़ादायक परिस्थितियों में आराम मिलेगा।
  • मलहम लगाएं। इससे आपको नसों में आराम  मिलेगा।
  • "क्लस्टर सिरदर्द" से निपटने के लिए ऑक्सीजन थैरिपी करवाएं और डॉक्टर द्वारा दी गई दवाएं लें।
  • अगर माइग्रेन का इलाज जारी हो तो कुछ ब्लड प्रेशर संबंधी दवाएं लें। (और पढ़ें - माइग्रेन के घरेलू उपाय)  
  • स्ट्रेचिंग करने से प्रभावित मांसपेशियों को आराम मिलता है।
  • रिलेक्शन थैरिपी: अपने जीवन में तनाव को कम करने के लिए रिलेक्शन थैरिपी का सहारा लें। ध्यान दें कि तनाव से जबड़ों में खिचाव, मांसपेशियों में तनाव या दांत भींच जाने जैसी दिक्क्तें हो सकती हैं। इन सभी का आपके जबड़े की मांसपेशियों और नसों पर बेहद बुरा असर पड़ता है।
  • जबड़े पर अतिरिक्त दबाव ड़ालने से बचाने के लिए नरम खाना खाएं और ज्यादा चबाने वाली चीजों से परहेज करें।
  • कोल्ड थैरेपी या नमी वाली गर्मी जैसे हॉट बाथ या स्टीम वाले टॉवल का इस्तेमाल करें।
  • मसाज लें।
  • आपको लोकल एनेस्थीसिया (Local Anasthesia) दिया जा सकता है, जिससे आपका जबड़ा कुछ देर के लिए सुन्न हो जाएगा।
  • अगर इन्फेक्शन के कारण जबड़ा दर्द कर रहा है तो एंटी बायोटिक्स लें।
  • दांतों की जड़ों में ट्रीटमेंट करवाएं (root canal treatment) इस प्रक्रिया में आपके दांतों के भीतर मौजूद संक्रमण का इलाज किया जाएगा।
  • अगर किसी प्रभावित या असामान्य दांत के कारण दर्द हो रहा है तो दांत निकलवा लें।
  • दर्द निवारक दवाएं।
  • हर सप्ताह तीन से चार बार आधे घंटे के लिए हृदय और धमनियों से जुड़ी हुई एक्सरसाइज करें। इससे आपको मांसपेशियों पर पड़ रहे तनाव और दबाव को कम करने में मदद मिलेगी।
  • क्षतिग्रस्त हड्डी को हटाने के लिए ऑपरेशन या पीड़ित नस का इलाज करवाना आदि।  
  • जलन और सूजन कम करने के लिए स्टेरॉयड लेना।
  • जबड़ों की एक्सरसाइज से अकड़ चुकी या जकड़ी  हुई मांसपेशियों से दबाव कम होता है। जबड़े की मांसपेशियों के लिए स्ट्रेचिंग, रिलेक्सिंग जैसी एक्सरसाइज की जा सकती है। मांसपेशियों को आराम देने के लिए और जल्द ठीक होने के लिए यह सब उपाय आजमाने जरूरी है।
  • जबड़ों की सर्जरी: बेहद ही चुनिंदा परिस्थितियों में टीएमडी की दिक्क्त को ठीक करने के लिए जबड़ों की सर्जरी का सुझाव दिया जाता है। यह उपचार विशेष तौर पर उन्हीं लोगों को मुहैया करवाया जाता है जो बहुत अधिक दर्द से जूझ रहे हों और यह दर्द उन्हें जबड़ों की बनावट में गड़बड़ के कारण होता है।​
  • बोटॉक्स के इंजेक्शन: अन्य प्रमुख उपचारों में बोटॉक्स के इंजेक्शन दिया जाना शामिल है। इन्हें इंजेक्शन द्वारा आपके जबड़ों की मांसपेशियों में लगाने पर इनमें खिंचाव नहीं आता जिससे आपको टीएमडी (TMD) के कारण हो रहे दर्द में राहत मिलती है।

जबड़े में दर्द के जोखिम और जटिलताएं - Jaw Pain Risks & Complications in Hindi

जबड़ों में दर्द से जुड़ी समस्याएं क्या क्या हैं?

जबड़ों में कई अलग अलग कारणों से दर्द होता है और इन्हीं कारणों के चलते रोगी को कई तरह की समस्याओं से दो चार होना पड़ता है। जैसे:

  • जान जोखिम में डाल देने वाले संक्रमण जिनसे सांस लेने तक में दिक्क्त होती है
  • पुराना दर्द
  • चबाने में दिक्क्त के कारण उचित भोजन न लेना और कुपोषण का शिकार हो जाना
  • गंभीर भावनात्मक परेशानी
  • दांत गिर जाना
  • अगर आपको हड्डी का संक्रमण है जिसका सही समय पर इलाज न किया जाए तो हड्डी गल तक सकती है और फिर उस हिस्से को निकालना पड़ सकता है
Dr. Vivek Dahiya

Dr. Vivek Dahiya

ओर्थोपेडिक्स

Dr. Vipin Chand Tyagi

Dr. Vipin Chand Tyagi

ओर्थोपेडिक्स

Dr. Vineesh Mathur

Dr. Vineesh Mathur

ओर्थोपेडिक्स

जबड़े में दर्द की दवा - Medicines for Jaw Pain in Hindi

जबड़े में दर्द के लिए बहुत दवाइयां उपलब्ध हैं। नीचे यह सारी दवाइयां दी गयी हैं। लेकिन ध्यान रहे कि डॉक्टर से सलाह किये बिना आप कृपया कोई भी दवाई न लें। बिना डॉक्टर की सलाह से दवाई लेने से आपकी सेहत को गंभीर नुक्सान हो सकता है।

Medicine NamePack SizePrice (Rs.)
Oxalgin DpOxalgin Dp 50 Mg/325 Mg Tablet27
Diclogesic RrDiclogesic Rr 75 Mg Injection25
DivonDIVON GEL 10GM0
VoveranVOVERAN 1% EMULGEL 30GM105
EnzoflamEnzoflam 50 Mg/325 Mg/15 Mg Tablet91
DolserDolser 400 Mg/50 Mg Tablet Mr0
Renac SpRenac Sp Tablet51
Dicser PlusDicser Plus 50 Mg/10 Mg/500 Mg Tablet46
D P ZoxD P Zox 50 Mg/325 Mg/250 Mg Tablet20
Unofen KUnofen K 50 Mg Tablet0
ExflamExflam 1.16%W/W Gel48
Rid SRid S 50 Mg/10 Mg Capsule32
Diclonova PDiclonova P 25 Mg/500 Mg Tablet13
Dil Se PlusDil Se Plus 50 Mg/10 Mg/325 Mg Tablet44
Dynaford MrDynaford Mr 50 Mg/325 Mg/250 Mg Tablet29
ValfenValfen 100 Mg Injection10
FeganFegan Eye Drop16
RolosolRolosol 50 Mg/10 Mg Tablet67
DiclopalDiclopal 50 Mg/500 Mg Tablet16
DipseeDipsee Gel57
FlexicamFlexicam 50 Mg/325 Mg/250 Mg Tablet25
VivianVivian 1.16% Gel0
I GesicI Gesic 0.1% Eye Drop26
Rolosol ERolosol E 50 Mg/10 Mg Capsule51
DicloparaDiclopara 50 Mg/500 Mg Tablet0

जबड़े में दर्द की दवा - OTC medicines for Jaw Pain in Hindi

जबड़े में दर्द के लिए बहुत दवाइयां उपलब्ध हैं। नीचे यह सारी दवाइयां दी गयी हैं। लेकिन ध्यान रहे कि डॉक्टर से सलाह किये बिना आप कृपया कोई भी दवाई न लें। बिना डॉक्टर की सलाह से दवाई लेने से आपकी सेहत को गंभीर नुक्सान हो सकता है।

OTC Medicine NamePack SizePrice (Rs.)
Mahamash Tail (50 Ml) Mahamash Tail (50 Ml) 530

क्या आप या आपके परिवार में किसी को यह बीमारी है? सर्वेक्षण करें और दूसरों की सहायता करें

References

  1. National Health Service [Internet] NHS inform; Scottish Government; Temporomandibular disorder (TMD).
  2. UW Orthopaedics and Sports Medicine. [Internet]. Seattle, WA. Lab Tests and Arthritis.
  3. American Heart Association, American Stroke Association [internet]: Texas, USA AHA: Warning Signs of a Heart Attack.
  4. MedlinePlus Medical Encyclopedia: US National Library of Medicine; Jaw pain and heart attacks.
  5. MedlinePlus Medical Encyclopedia: US National Library of Medicine; TMJ disorders.
और पढ़ें ...