• हिं
  • हिं

इस वक्त दुनियाभर में अगर किसी एक बीमारी की चर्चा हो रही है तो वह है नए कोरोना वायरस सार्स-सीओवी-2 से होने वाली बीमारी कोविड-19. जिन लोगों को पहले से कोई बीमारी है उन्हें तो कोविड-19 इंफेक्शन होने का खतरा अधिक है ही। साथ ही में वैसे लोग जिनकी बीमारियों से लड़ने की क्षमता यानी इम्यून सिस्टम कमजोर है उन्हें भी कोविड-19 का संक्रमण होने का खतरा काफी ज्यादा है। ऐसे में बेहद जरूरी है कि आप अपने इम्यून सिस्टम को मजबूत बनाकर रखें। 

हालांकि कई बार जाने-अनजाने में की गई बेहद साधारण सी दिखने वाली कुछ गलतियां भी आपके इम्यून सिस्टम को कमजोर बना देती हैं और बीमारियों का जोखिम बढ़ जाता है। लिहाजा अपनी कमजोर रोग प्रतिरोधक क्षमता (इम्यूनिटी) को बढ़ाने के लिए बेहद जरूरी है कि आप एक हेल्दी लाइफस्टाइल अपनाएं।

हम आपको बता रहें ऐसे कई घरेलू उपाय जिनको अपना कर आप अपनी इम्यूनिटी पावर मजबूत कर सकते हैं।

  1. स्वस्थ जीवन शैली अपनाएं
  2. तनाव ना लें
  3. प्रोसेस्ड फूड का सेवन ज्यादा ना करें
  4. नींद पूरी लें
  5. शराब ना पिएं
  6. सिगरेट-तंबाकू से दूर रहें
  7. रेग्युलर एक्सरसाइज करें
रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने के घरेलू उपाय, क्या करें के डॉक्टर

इम्युनिटी को बढ़ाने के लिए सबसे पहले आप स्वस्थ जीवनशैली को चुने। इम्युनिटी बढ़ाने के लिए कुछ सामान्य स्वास्थ्य-संबंधी दिशानिर्देशों का पालन करना ज़रूरी है। प्रतिरोधक क्षमता के साथ साथ आपके शरीर के हर हिस्से भी इन सुझावों की मदद से बेहद तरीके से कार्य करना शुरू कर देंगे।

सुझाव इस प्रकार हैं -

  • धूम्रपान न करें। (और पढ़ें - धूम्रपान छोड़ने के लिए घरेलू उपचार)
  • पोषित सब्ज़ियां, फल, साबूत अनाज और कम संतृप्त वसा वाला आहार खाएं।
  • रोज़ाना व्यायाम करें।
  • अपने वजन को संतुलित रखें।
  • अपने ब्लड प्रेशर कंट्रोल में रखें।
  • अगर आप शराब पीते हैं तो उसका सेवन कम से कम करें।
  • पूर्ण तरीके से नींद लें।
  • खाना खाने से पहले अपने हाथों ज़रूर धोएं।
  • खाना बनाने से पहले सब्ज़ियों को अच्छी तरह से धो लें जिससे कि आपको किसी भी तरह का संक्रमण न हों।
  • नियमित रूप से अपनी चिकित्सीय जांच ज़रूर करवाएं।

(और पढ़ें - वजन कम करने वाले आहार)

इस वक्त जब कोविड-19 जैसी महामारी का दौर चल रहा है, ऐसे समय में तनाव किसे नहीं है। किसी को आर्थिक चिंता की वजह से तनाव है तो किसी को भविष्य की चिंता का तनाव। लेकिन आपके लिए यह जानना बेहद जरूरी है कि तनाव आपके इम्यून सिस्टम पर बुरा असर डालता है। अमेरिका में साल 2012 में प्रोसिडिंग्स ऑफ द नैशनल एकैडमी ऑफ साइंसेज नाम के जर्नल में प्रकाशित एक स्टडी में यह बात सामने आयी कि जिन लोगों को तनाव या स्ट्रेस अधिक होता है उनमें वायरस के संपर्क में आने पर बीमार पड़ने की आशंका अधिक होती है। 

दरअसल, जब आप तनाव में होते हैं तो शरीर में स्ट्रेस हार्मोन कोर्टिसोल रिलीज होता है जिससे शरीर में सफेद रक्त कोशिकाएं कम हो जाती हैं और शरीर वायरस और बैक्टीरिया से लड़ने में कमजोर हो जाता है। लिहाजा बेहद जरूरी है कि आप अपने तनाव, चिंता और स्ट्रेस को कंट्रोल में रखें। खुद को हमेशा रिलैक्स रखने के लिए आप रोजाना योग कर सकते हैं, मेडिटेशन कर सकते हैं, पसंदीदा लाइट म्यूजिक सुन सकते हैं। कोई भी ऐसी ऐक्टिविटी करें जिसमें आप खुद के लिए समय निकाल पाएं और खुश रहें।

अगर आप अपने खाने में चीनी, नमक और संशोधित कार्बोहाइड्रेट्स वाली चीजों का ज्यादा इस्तेमाल करते हैं तो इनका भी आपकी बीमारियों से लड़ने की क्षमता (इम्यूनटी) पर बुरा असर पड़ता है। ऐसा इसलिए क्योंकि प्रोसेस्ड फूड में मौजूद हानिकारक पदार्थ, आंत में मौजूद गुड बैक्टीरिया पर हमला कर उन्हें कमजोर बना देता है। इतना ही नहीं, नियमित रूप से सोडा और कोल्ड ड्रिंक का सेवन भी आपके इम्यून सिस्टम पर बुरा असर डालता है। साथ ही अगर ज्यादा नमक वाली चीजें खायी जाएं तो बैक्टीरिया को मारने की शरीर की क्षमता भी कमजोर हो जाती है। लिहाजा जहां तक संभव हो पैक्ड और प्रोसेस्ड फूड की बजाए ताजे फल, हरी सब्जियां, अदरक, लहसुन जैसी हेल्दी चीजों का सेवन करें।

इन दिनों बड़ी संख्या में लोगों को नींद न पूरी करने की वजह से भी लाइफस्टाइल से जुड़ी कई बीमारियां हो रही हैं। जब हम सोते हैं तो हमारा शरीर रिपेयर मोड में चला जाता है और साथ ही शरीर में साइटोकिन्स रिलीज होते हैं जो एक प्रोटीन है और वह शरीर को किसी भी तरह के संक्रमण और सूजन से बचाने में मदद करता है। यदि आप हर रात अपनी नींद पूरी नहीं करेंगे तो शरीर में साइटोकिन्स की पर्याप्त मात्रा का उत्पादन नहीं हो पाएगा और बैक्टीरिया और वायरस से लड़ने में इम्यून सिस्टम को मदद नहीं मिल पाएगी। इसलिए बेहद जरूरी है कि आप हर रात कम से कम 7 से 8 घंटे की नींद जरूर लें क्योंकि सोना भी सेहत के लिए बेहद जरूरी है।

अगर आप नियमित रूप से रोजाना बहुत ज्यादा शराब पीते हैं तो एल्कोहल, आपके इम्यून सिस्टम को कमजोर बना देता है और आपके बीमार पड़ने का खतरा कई गुना बढ़ जाता है। एल्कोहल, आपकी आंत में मौजूद गुड बैक्टीरिया और बैड बैक्टीरिया के बीच के संतुलन को गड़बड़ कर देता है और लिवर में सूजन के खतरे को भी बढ़ा देता है। इतना ही नहीं, बहुत ज्यादा शराब पीने से आपके शरीर की सर्दी-जुकामवायरल इंफेक्शन और बैक्टीरियल इंफेक्शन से लड़ने की क्षमता भी कमजोर हो जाती है। साथ ही एल्कोहल का ज्यादा सेवन करने से निमोनिया और फेफड़ों से जुड़ी दूसरी बीमारियां होने का खतरा भी अधिक रहता है।

फिर चाहे आप सिगरेट पिएं या फिर तंबाकू चबाएं- दोनों ही परिस्थितियां आपकी सेहत के लिए बेहद नुकसानदेह हैं और इससे शरीर में सांस से संबंधी कई तरह की दिक्कतें हो सकती हैं। जो लोग बहुत ज्यादा धूम्रपान करते हैं उनके शरीर में म्यूकस ज्यादा बनने लगता है जिससे वायुमार्ग संकरा हो जाता है और फेफड़ों में मौजूद हानिकारक पदार्थों को साफ करने में मुश्किल होती है। इतना ही नहीं, तंबाकू के धुएं से शरीर का इम्यून सिस्टम कमजोर हो जाता है जिससे आपको निमोनिया और इन्फ्लूएंजा जैसी बीमारियां होने का खतरा अधिक रहता है। साथ ही खून में मौजूद सुरक्षात्मक ऐंटीऑक्सिडेंट्स की मात्रा भी कम हो जाती है। लिहाजा अगर आपको स्मोकिंग की लत है तो इसे तुरंत छोड़ दें।

अगर कोई व्यक्ति नियमित रूप से एक्सरसाइज या किसी भी तरह की फिजिकल ऐक्टिविटी करता है तो इससे फेफड़ों और वायुमार्ग में मौजूद बैक्टीरिया को शरीर से बाहर निकालने में मदद मिलती है। इससे आपको सर्दी-खांसी, जुकाम, बुखार और फ्लू जैसी बीमारियां होने का खतरा काफी कम हो जाता है। एक्सरसाइज करने से शरीर में बाहरी तत्वों से लड़ने वाले एंटीबॉडीज और सफेद रक्त कोशिकाएं दोनों में बढ़ोतरी होती है जो शरीर को किसी भी तरह के संक्रमण से लड़ने में मदद करता है। साथ ही साथ अगर आप नियमित रूप से एक्सरसाइज करते हैं तो इससे शरीर में स्ट्रेस हार्मोन कोर्टिसोल का रिलीज कम होता है। स्ट्रेस लेवल कम होने से आपका तनाव कम होता है और आप खुश रह पाते हैं। लिहाजा हर दिन कम से कम 30 मिनट एक्सरसाइज जरूर करें।

Dr. Shrishti Kumar

Dr. Shrishti Kumar

सामान्य चिकित्सा
3 वर्षों का अनुभव

Dr.Nikhil Patil

Dr.Nikhil Patil

सामान्य चिकित्सा
4 वर्षों का अनुभव

Dr Ashwani Kumar

Dr Ashwani Kumar

सामान्य चिकित्सा
20 वर्षों का अनुभव

Dr. Abhishek Ranga

Dr. Abhishek Ranga

सामान्य चिकित्सा
1 वर्षों का अनुभव

संदर्भ

  1. Luciana Besedovsky, Tanja Lange, Jan Born.Sleep and immune function. Pflugers Arch. 2012 Jan; 463(1): 121–137. PMID: 22071480
  2. Jennifer N. Morey, Ian A. Boggero, April B. Scott, Suzanne C. Segerstrom. Current Directions in Stress and Human Immune Function. Curr Opin Psychol. 2015 Oct 1; 5: 13–17. PMID: 26086030
  3. MedlinePlus Medical Encyclopedia: US National Library of Medicine; Exercise and immunity
  4. Better health channel. Department of Health and Human Services [internet]. State government of Victoria; Immune system explained
  5. Center for Disease Control and Prevention [internet], Atlanta (GA): US Department of Health and Human Services; Immunity Types
  6. Alberts B, Johnson A, Lewis J, et al. Molecular Biology of the Cell. 4th edition. New York: Garland Science; 2002. Innate Immunity.
ऐप पर पढ़ें