myUpchar प्लस+ के साथ पूरेे परिवार के हेल्थ खर्च पर भारी बचत
P Fen के प्रमुख फायदे
P Fen संभावित रूप से असुरक्षित
Alcohol, Harmful for Heart
P Fen के साइड इफ़ेक्ट
कब्ज | मतली या उलटी | सीने में जलन | लिवर की क्षति | स्टीवन-जॉनसन सिंड्रोम | अनैफिलैक्टिक रिएक्शन | एनीमिया | एडिमा

P Fen की कीमत और पैक साइज - P Fen Price and Pack Size in Hindi

P Fen Tablet दवा खरीदें

25% की बचत हेल्थ कार्ड हेल्थ कार्ड सदस्यों के लिए

डॉक्टर से बात करें

P Fen की जानकारी

Ibuprofen - इब्यूप्रोफन

Ibuprofen का उपयोग बुखार, सिरदर्द, आर्थरालिया (arthralgia), मायलागिया (myalgia), दांत के दर्द, सर्जरी के बाद होने वाले दर्द, मासिक धर्म के दौरान दर्द, ऑस्टियोआर्थराइटिस (osteoarthritis), रुमेटीयड गठिया, आंक्यलोसिंग  स्पॉन्डिलाइटिस (ankylosing spondylitis) और गाउट में किया जाता है।

Paracetamol - पैरासिटामोल

Paracetamol का उपयोग बुखार, सिरदर्द, मासिक धर्म के दौरान दर्द, अर्थ्राल्जिअ (Arthralgia; जोड़ों में दर्द), मयलगिअ (Myalgia; मांसपेशियों में दर्द), दांत में दर्द और ऑपरेशन के बाद होने वाले दर्द के लिए किया जाता है। 

  1. P Fen क्या है? - What is P Fen in Hindi?
  2. P Fen के लाभ और उपयोग करने का तरीका- P Fen Benefits & Uses in Hindi
  3. P Fen की खुराक और इस्तेमाल करने का तरीका- P Fen Dosage & How to Take in Hindi
  4. P Fen की सामग्री- P Fen Active Ingredients in Hindi
  5. P Fen के नुकसान, दुष्प्रभाव और साइड इफेक्ट्स- P Fen Side Effects in Hindi
  6. P Fen से सम्बंधित चेतावनी- P Fen Related Warnings in Hindi
  7. P Fen का निम्न दवाइयों के साथ नकारात्मक प्रभाव- Severe Interaction of P Fen with Other Drugs in Hindi
  8. इन बिमारियों से ग्रस्त हों तो P Fen न लें या सावधानी बरतें- P Fen Contraindications in Hindi
  9. P Fen के बारे में अक्सर पूछे जाने वाले प्रश्न- Frequently asked Questions about P Fen in Hindi
  10. P Fen का भोजन और शराब के साथ नकारात्मक प्रभाव- P Fen Interactions with Food and Alcohol in Hindi
  11. P Fen कैसे काम करती है? - How does P Fen work in Hindi?
  12. P Fen का इस्तेमाल कैसे करें? - How take P Fen in Hindi?
  13. क्या P Fen का इस्तेमाल सुरक्षित है? - Is P Fen safe to use in Hindi?

P Fen क्या है? - What is P Fen in Hindi?

P Fen, पैरासिटामोल और इबूप्रोफेन का मिश्रित ब्रांड है। ये दोनों दवाएं नॉन-स्‍टेरॉएडल एंटी-इंफ्लामेट्री नामक दवाओं के समूह से संबंधित हैं। P Fen एक प्रिस्‍क्रिप्‍शन दवा है जिसका इस्‍तेमाल हल्‍के से सामान्‍य दर्द, बुखार और सिरदर्द से कुछ समय के लिए राहत पाने के लिए किया जाता है।

P Fen के लाभ और उपयोग करने का तरीका - P Fen Benefits & Uses in Hindi

P Fen इन बिमारियों के इलाज में काम आती है -

  1. बुखार मुख्य (और पढ़ें - बुखार कम करने के घरेलू उपाय)
  2. सिरदर्द (और पढ़ें - सिर दर्द के घरेलू उपाय)
  3. जोड़ों में दर्द (और पढ़ें - जोड़ों में दर्द के घरेलू उपाय)
  4. मांसपेशियों में दर्द (और पढ़ें - मांसपेशियों में दर्द के घरेलू उपाय)
  5. दांत का फोड़ा
  6. दर्द मुख्य
  7. ऑस्टियोआर्थराइटिस
  8. रूमेटाइड आर्थराइटिस
  9. स्पॉन्डिलाइटिस
  10. गाउट
  11. टांगों में दर्द
  12. घुटनों में दर्द (और पढ़ें - घुटनों में दर्द के घरेलू उपाय)
  13. बदन दर्द (और पढ़ें - बदन दर्द के घरेलू उपाय)
  14. गर्दन में दर्द (और पढ़ें - गर्दन में दर्द के घरेलू उपाय)
  15. वृषण में सूजन
  16. स्लिप डिस्क
  17. कमर दर्द (और पढ़ें - कमर दर्द के घरेलू उपाय)
  18. कंधे में दर्द (और पढ़ें - कंधे के दर्द के घरेलू उपाय)
  19. टखने में फ्रैक्चर
  20. हड्डी टूटना
  21. छाती में फ्रैक्चर
  22. कॉलरबोन में फ्रैक्चर
  23. कोहनी में फ्रैक्चर
  24. आंखों के सॉकेट में फ्रैक्चर
  25. उंगली में फ्रैक्चर
  26. पैर में फ्रैक्चर
  27. हाथ के निचले हिस्से में फ्रैक्चर
  28. हाथ में फ्रैक्चर
  29. कूल्हे की हड्डी में फ्रैक्चर
  30. जबड़े में फ्रैक्चर
  31. टांग के निचले हिस्से में फ्रैक्चर
  32. नाक में फ्रैक्चर
  33. पसलियों में फ्रैक्चर
  34. पैर की उंगली में फ्रैक्चर
  35. हाथ के ऊपरी हिस्से में फ्रैक्चर
  36. ऊपरी टांग में फ्रैक्चर
  37. कलाई की हड्डी का टूटना
  38. मोच (और पढ़ें - मोच के घरेलू उपाय)
  39. एड़ी में दर्द (और पढ़ें - एड़ी में दर्द के घरेलू उपाय)
  40. कलाई में दर्द
  41. स्पोंडिलोसिस
  42. वैरीकोसेल
  43. दांत में दर्द
  44. वृषण में दर्द
  45. बच्चों में रूमेटाइड आर्थराइटिस
  46. कंधा अलग होना
  47. उंगली में चोट
  48. चोट
  49. अकल दाढ़ का दर्द
  50. सर्वाइकल दर्द
  51. टेंशन
  52. हड्डियों में दर्द
  53. पसली में सूजन
  54. हाथ में दर्द
  55. एड़ी की हड्डी बढ़ना
  56. मधुमक्खी का काटना
  57. पैर की हड्डी बढ़ना
  58. हड्डी बढ़ना
  59. रीढ़ की हड्डी में फ्रैक्चर
  60. दाढ़ में दर्द
  61. मांसपेशियों में खिंचाव
  62. गर्दन में अकड़न
  63. Hip Fracture
  64. जबड़े में दर्द
  65. जांघ में दर्द
  66. पसली में दर्द
  67. नाक में फुंसी
  68. रीढ़ की हड्डी में दर्द
  69. मांस फटना
  70. नस दबना
  71. डेंगू (और पढ़ें - डेंगू के घरेलू उपाय)
  72. मलेरिया (और पढ़ें - मलेरिया के घरेलू उपाय)
  73. चिकनगुनिया (और पढ़ें - चिकनगुनिया के घरेलू उपाय)
  74. पैरों में दर्द (और पढ़ें - पैर में दर्द के घरेलू उपाय)
  75. साइटिका (और पढ़ें - साइटिका का घरेलू उपाय)
  76. माइग्रेन (और पढ़ें - माइग्रेन के घरेलू उपाय)
  77. वायरल फीवर
  78. प्रेगनेंसी में कमर दर्द
  79. प्रेगनेंसी में ब्रेस्ट में दर्द
  80. गर्भावस्था में ऐंठन
  81. गर्भावस्था में पेडू में दर्द
  82. प्रेगनेंसी में सर दर्द
  83. प्रेगनेंसी में बुखार
  84. प्रेगनेंसी में दर्द

P Fen की खुराक और इस्तेमाल करने का तरीका - P Fen Dosage & How to Take in Hindi

Ibuprofen - इब्यूप्रोफन

Ibuprofen नॉनटेरायडियल एंटी-इन्फ्लैमेटरी ड्रग्स (एनएसएआईडीएस) (nonsteroidal anti-inflammatory drugs (NSAIDs)) के समूह से संबंधित है। यह प्रोस्टाग्लैंडीन के उत्पादन को अवरुद्ध करके दर्द को राहत देता है जो शरीर में दर्द के दौरान जारी होता है।

 

Paracetamol - पैरासिटामोल

Paracetamol नोन-स्टेरॉइडल एंटी-इंफ्लेमेटरी ड्रग्स (NSAIDs) (Non-Steroidal Anti-inflammatory drugs (NSAIDs)) नामक दवाओं के समूह से सम्बंधित है। Paracetamol एक एनाल्जेसिक (Analgesic; दर्द निवारक) और एंटीपाइरेटिक (Antipyretic; बुखार के लिए) है। Paracetamol मस्तिक्ष के कुछ रासायनिक संदेशवाहकों के कार्य को अवरुद्ध करता है जो दर्द और बुखार का कारण होते है।  

यह अधिकतर मामलों में दी जाने वाली P Fen की खुराक है। कृपया याद रखें कि हर रोगी और उनका मामला अलग हो सकता है। इसलिए रोग, दवाई देने के तरीके, रोगी की आयु, रोगी का चिकित्सा इतिहास और अन्य कारकों के आधार पर P Fen की खुराक अलग हो सकती है।

दवाई की मात्रा बीमारी और उम्र के हिसाब से जानें

दवाई की मात्र देखने के लिए लॉग इन करें

P Fen की सामग्री - P Fen Active Ingredients in Hindi

Ibuprofen
Paracetamol

P Fen के नुकसान, दुष्प्रभाव और साइड इफेक्ट्स - P Fen Side Effects in Hindi

रिसर्च के आधार पे P Fen के निम्न साइड इफेक्ट्स देखे गए हैं -

  1. पेट दर्द मध्यम
  2. कब्ज कठोर (और पढ़ें - कब्ज के घरेलू उपाय)
  3. दस्त
  4. पेट के ऊपरी हिस्से में दर्द
  5. पेट की गैस मध्यम
  6. मतली या उलटी
  7. भूख कम लगना
  8. त्वचा पर चकत्ते सौम्य (और पढ़ें - त्वचा पर चकत्तों के घरेलू उपाय)
  9. सीने में जलन कठोर (और पढ़ें - सीने की जलन के घरेलू उपाय)
  10. सूजन
  11. लाल चकत्ते
  12. खुजली या जलन
  13. सांस लेने मे तकलीफ
  14. लिवर की क्षति
  15. स्टीवन-जॉनसन सिंड्रोम
  16. अनैफिलैक्टिक रिएक्शन
  17. एनीमिया कठोर (और पढ़ें - एनीमिया के घरेलू उपाय)
  18. एडिमा कठोर
  19. पीलिया मध्यम (और पढ़ें - पीलिया के घरेलू उपाय)
  20. एरिथमा (चमड़ी पर लाल-लाल दाने)
  21. इंजेक्शन लगने वाली जगह पर एलर्जी की प्रतिक्रिया

P Fen से सम्बंधित चेतावनी - P Fen Related Warnings in Hindi

क्या P Fen का उपयोग गर्भवती महिला के लिए ठीक है?

प्रेग्नेंट महिला P Fen को बिना किसी घबराहट के खा सकती हैं।

मध्यम

क्या P Fen का उपयोग स्तनपान करने वाली महिलाओं के लिए ठीक है?

स्तनपान कराने वाली महिलाओं के लिए P Fen सही और सुरक्षित है।

सौम्य

P Fen का प्रभाव गुर्दे पर क्या होता है?

P Fen का बुरा प्रभाव किडनी पर कम होता है, क्योंकि ये नुकसानदायक नहीं है।

मध्यम

P Fen का जिगर (लिवर) पर क्या असर होता है?

P Fen से लीवर पर गंभीर असर हो सकता है, अगर आपको भी इसके साइड इफेक्ट देखने को मिले तो आप दवा का सेवन न करें और इस बारे में डॉक्टर से पूछें।

मध्यम

क्या ह्रदय पर P Fen का प्रभाव पड़ता है?

हृदय काफी हद तक P Fen सुरक्षित है, हालांकि लेने से पहले डॉक्टर की सलाह लेने से बेहतर परिणाम मिल सकता है। इसके खराब परिणाम बेहद कम होते है।

कठोर

P Fen का निम्न दवाइयों के साथ नकारात्मक प्रभाव - Severe Interaction of P Fen with Other Drugs in Hindi

P Fen को इन दवाइयों के साथ लेने से गंभीर दुष्प्रभाव या साइड इफेक्ट्स हो सकते हैं -

इन बिमारियों से ग्रस्त हों तो P Fen न लें या सावधानी बरतें - P Fen Contraindications in Hindi

अगर आपको इनमें से कोई भी रोग है तो, P Fen को न लें क्योंकि इससे आपकी स्थिति और बिगड़ सकती है। अगर आपके डॉक्टर उचित समझें तो आप इन रोग से ग्रसित होने के बावजूद P Fen ले सकते हैं -

  1. दमा
  2. रक्तस्राव
  3. कंजेस्टिव हार्ट फेलियर
  4. हाई बीपी
  5. पेट में इन्फेक्शन
  6. गुर्दे की बीमारी
  7. पेट में अल्सर
  8. एनीमिया
  9. ड्रग एलर्जी
  10. गुर्दे की बीमारी
  11. शॉक
  12. लिवर रोग
  13. Drug Allergies
  14. शराब की लत
  15. Phenylketonuria
  16. न्यूट्रोपेनिया

P Fen के बारे में अक्सर पूछे जाने वाले प्रश्न - Frequently asked Questions about P Fen in Hindi

क्या P Fen आदत या लत बन सकती है?

नहीं, P Fen लेने से कोई लत नहीं पड़ती। फिर भी, जरूरत पड़ने पर डॉक्टर की सलाह पर ही P Fen का इस्तेमाल करें।

क्या P Fen को लेते समय गाड़ी चलाना या कैसी भी बड़ी मशीन संचालित करना सुरक्षित है?

हां, P Fen के सेवन के बाद आप किसी भारी मशीन या वाहन चालने का काम कर सकते हैं।

सुरक्षित

क्या P Fen को लेना सुरखित है?

हां, लेकिन डॉक्टर से सलाह जरूर लें।

हाँ, पर डॉक्टर की सलाह पर

क्या मनोवैज्ञानिक विकार या मानसिक समस्याओं के इलाज में P Fen इस्तेमाल की जा सकती है?

मस्तिष्क विकारों के लिए P Fen को लेने से कोई फायदा नहीं हो पाता।

translation missing: hi.no

P Fen का भोजन और शराब के साथ नकारात्मक प्रभाव - P Fen Interactions with Food and Alcohol in Hindi

क्या P Fen को कुछ खाद्य पदार्थों के साथ लेने से नकारात्मक प्रभाव पड़ता है?

शोध कार्यों न हो पाने के कारण इस बारे में कहना मुश्किल है कि P Fen और खाने को साथ में लेने से क्या असर होगा।

अनजान

जब P Fen ले रहे हों, तब शराब पीने से नकारात्मक प्रभाव पड़ता है क्या?

शराब और P Fen से आपके शरीर में कई तरह के गंभीर प्रभाव होते हैं। इससे बचने के लिए आपको डॉक्टर से सलाह लेनी होगी।

कठोर

P Fen कैसे काम करती है? - How does P Fen work in Hindi?

P Fen में इबूप्रोफेन और पैरासिटामोल जैसे दो क्रियाशील पदार्थ मौजूद होते हैं। इबूप्रोफेन सूजन, दर्द और बुखार को कम करती है जबकि पैरासिटामोल में दर्द-निवारक यौगिक मौजूद हैं जोकि अलग तरीके से दर्द और बुखार को कम करते हैं।

P Fen का इस्तेमाल कैसे करें? - How take P Fen in Hindi?

P Fen की टैबलेट दिन में 2 से 3 बार डॉक्‍टर के निर्देशानुसार लेनी चाहिए। आपको P Fen की न्यूनतम प्रभावी खुराक का उपयोग करना चाहिए जिससे आपके शरीर का दर्द और बुखार कम हो जाए। अस्‍थमा, अल्‍सरेटिव कोलाइटिस और पेट में अल्‍सर के मरीज़ P Fen का इस्‍तेमाल सावधानीपूर्वक करें। 3 दिन से ज्‍यादा P Fen ना खाएं और 18 साल से कम उम्र के बच्‍चों को भी P Fen ना दें।

क्या P Fen का इस्तेमाल सुरक्षित है? - Is P Fen safe to use in Hindi?

डॉक्टर द्वारा प्रिस्क्राइब की गई मात्रा में निर्धारित समय तक P Fen खाना सुरक्षित है। हालांकि, P Fen के कुछ साइड इफेक्ट्स भी सामने आए हैं जिनमें गले, जीभ और चेहरे में सूजन, सांस लेने में दिक्‍कत, आंतों से खून बहना और पेट खराब होना शामिल हैं। इनमें से कोई भी दुष्‍प्रभाव नज़र आने पर तुरंत डॉक्‍टर से बात करें और उनके निर्देशों का पालन करें।

विशेष विवरण

सामग्री For 1 Strip(S) (10 Tablets Each)

P Fen के लिए विकल्प - Substitutes for P Fen in Hindi

Medicine Name Pack Size Price (Rs.)
Combiflam 26.04
Ibugesic Plus 14.5
Acefen 29.0
Acefenac Sp 62.5
Adiflam Plus 23.0
Anaflam P 29.5
Antidol 9.96
Antidol Kid 4.14
Antiflam 10.63
This medicine data has been created by Senior Pharmacist Md. Saadullah and Pharmacist Vikas Chauhan

क्या आप या आपके परिवार में कोई P Fen लेता है ? सर्वेक्षण करें और दूसरों की सहायता करें

Select Language Preference