myUpchar प्लस+ के साथ पूरेे परिवार के हेल्थ खर्च पर भारी बचत

शरीर पर अच्छा दिखने के लिए या किसी अन्य कारण से त्वचा की परत में अलग-अलग रंग की न मिटने वाली स्याही डालने से बना अंकन ही टैटू कहलाता है। कोई आकृति या नाम आदि लोग अपने शरीर के किसी भी अंग पर बनवा लेते हैं। किंतु कुछ समय बाद या तो उन्हें टैटू पसंद नहीं आता है या वे कुछ बदलाव चाहते हैं, ऐसे अवांछित टैटू हटाने की प्रक्रिया को ही टैटू रिमूवल या टैटू हटाना कहा जाता है।

टैटू हटाने के तरीके अलग-अलग हो सकते हैं जो आपके टैटू के आकार, त्वचा के प्रकार आदि बातों पर निर्भर करते हैं। टैटू हटाने के लिए उपयोग की जाने वाली सामान्य तकनीकों में लेजर टैटू रिमूवल, सर्जिकल रिमूवल और डर्माब्रेशन (त्वचा को खुरच कर परत हटाना) शामिल हैं।

(और पढ़े - स्किन केयर टिप्स)

टैटू बनाने के लिए स्याही त्वचा की ऊपरी परत के नीचे इंजेक्ट की जाती है। इस कारण टैटू हटाना, टैटू बनवाने की तुलना में अधिक जटिल और महंगा होता है।

इस लेख में आप टैटू हटाने के तरीके, टैटू हटाने की मशीन, टैटू रिमूवल क्रीम, टैटू हटाने के घरेलू उपाय और टैटू हटाने के जोखिम के बारे में विस्तार से पढ़ेंगे और इसके साथ ही इस लेख में यह भी बताया गया है कि टैटू हटाने का कितना खर्च आता है।

  1. टैटू हटाने के तरीके - Tattoo hatane ka upay in hindi
  2. टैटू हटाने का खर्च - Tattoo removal cost in hindi
  3. टैटू हटाने के जोखिम - Tattoo removal risks in hindi
  4. रखते हैं टैटू बनवाने का शौक तो पहले जान लें इसके नुकसान

यदि आप टैटू हटाने के बारे में सोच रहे हैं, तो आपको टैटू हटाने से होने वाली संभावित असुविधा और इसकी सीमाओं के बारे में जान लेना चाहिए।

टैटू हटाने की प्रक्रिया की निम्न सीमाएं हैं -

  • टैटू हटाना एक बहुत धीमी और निराशाजनक प्रक्रिया हो सकती है। टैटू को हटाने के लिए आपको 10 या इससे भी अधिक सत्र की आवश्यकता होती है। जिससे आपको खर्च भी अधिक लगता है।
  • कई टैटू पूरी तरह से हटाए नहीं जा सकते हैं - अक्सर त्वचा की परत में कुछ टुकड़े रह जाते हैं।
  • कुछ रंग दूसरे रंगों की तरह फीके नहीं पड़ते हैं, जिससे निशान बचा रह जाता है।
  • गहरे रंग की त्वचा या धूप में जली हुई त्वचा वाले लोगों को टैटू लेजर विधि से नहीं हटाना चाहिए।
  • टैटू हटाना तब भी उपयुक्त नहीं होता है जब कोई महिला गर्भावस्था के शुरुआती चरण में होती हैं, हालांकि स्तनपान कराने वाली महिलाओं के लिए टैटू हटाने के कोई जोखिम अब तक पता नहीं चले हैं। (और पढ़े - ब्रेस्ट फीडिंग के फायदे)

टैटू हटाने से पहले निम्न सुरक्षा उपाय करें -

  • एक प्रतिष्ठित पेशेवर टैटू हटाने वाले का पता लगाए, जो स्वच्छ, सुरक्षित और उचित वातावरण में टैटू हटाने का काम करता है।
  • टैटू हटाने वाले विशेषज्ञ से पूछें कि अगर कुछ गलत हो तो आपको क्या करना चाहिए।
  • यदि आप चाहें तो एक त्वचा विशेषज्ञ से परामर्श लें। वह आपको टैटू हटाने के विकल्पों को अच्छे से समझा सकते हैं और आपके टैटू के लिए सबसे प्रभावी विधि चुनने में मदद कर सकते हैं।

लेजर तकनीक से टैटू हटाने के लिए अक्सर लोकल एनेस्थीसिया देकर प्रक्रिया को शुरू किया जाता है। टैटू हटाने के लिए सामान्य रूप से निम्न तकनीकों का उपयोग किया जा सकता है -

लेजर टैटू रिमूवल तकनीक
यह टैटू हटाने की सबसे लोकप्रिय विधि है। लेजर तकनीक कम से कम नुकसान करती है और सबसे अधिक आसान हैं। एक उच्च तीव्रता वाली लेजर बीम का उपयोग करके टैटू के रंग उड़ा कर काली स्याही से बने टैटू प्रभावी ढंग से हटाए जा सकते हैं। अन्य रंगों को भी उनके रंग के आधार पर अन्य चयनित लेसरों की मदद से हटाया जा सकता है। हालांकि कई साइड इफेक्ट्स हो सकते हैं, फिर भी लोग लेजर से टैटू हटाने का ही विकल्प अधिक चुनते हैं।

टैटू हटाने की क्रीम
इन क्रीम को बनाने वाली कंपनियां आपकी त्वचा की ऊपरी परत (एपिडर्मिस) को ब्लीचिंग या छीलकर टैटू को हटाने का दावा करती हैं। हालाँकि इनके दावों में कितनी सच्चाई है यह आपको एक अच्छे त्वचा विशेषज्ञ बता सकते हैं। इस लेख में आगे इसके बारे में विस्तार से बताया गया है।

टैटू हटाने की सर्जरी
सर्जरी से टैटू हटाने के दौरान, त्वचा को लोकल एनेस्थेटिक के इंजेक्शन से सुन्न कर दिया जाता है। टैटू को एक स्केलपेल (डॉक्टर द्वारा उपयोग किए जाने वाले चाकू) से हटा दिया जाता है, और त्वचा के किनारों को एक साथ वापस सिल दिया जाता है। इस प्रक्रिया के बाद, घाव पर जीवाणुरोधी मलम लगाया जाता है जो इसे जल्दी भरने में मदद करता है। सर्जरी टैटू हटाने में तो प्रभावी है - लेकिन इससे टैटू वाली जगह पर एक निशान बन जाता है और यह केवल छोटे टैटू के लिए ही एक व्यावहारिक विकल्प है।

डर्माब्रेशन (त्वचा की परत खुरचना)
टैटू वाले क्षेत्र को आम तौर पर जमने तक ठंडा किया जाता है। फिर टैटू वाली त्वचा को एक विशेष ब्रश लगे हुए उपकरण से गहरे स्तर तक छील दिया जाता है। इससे टैटू की स्याही त्वचा से बाहर निकल जाती है।

  1. टैटू हटाने की मशीन - Tattoo removal machine in hindi
  2. टैटू रिमूवल क्रीम - Tattoo removal cream in hindi
  3. टैटू हटाने का घरेलू उपाय - Tattoo removal home remedies in hindi

टैटू हटाने की मशीन - Tattoo removal machine in hindi

लेजर प्रौद्योगिकी में होने वाली प्रगति के कारण अब लेजर तकनीक से टैटू हटाना सबसे आसान और सबसे लाभदायक सौंदर्य प्रक्रिया बन चुकी है।

Q-switched नामक लेजर मशीनें जो शक्तिशाली और एकल रूप में ऊर्जा को छोड़ती हैं - अक्सर टैटू हटाने के लिए सबसे अधिक पसंद की जाती हैं। एक विशेष प्रकार की लेजर मशीन को, जिसे Q-switched ND-YAG कहा जाता है, त्वचा के रंग को स्थायी रूप से बदलने से बचने के लिए गहरे रंग की त्वचा पर भी उपयोग किया जा सकता है।

लेजर उपचार से पहले, त्वचा को लोकल एनेस्थेटिक देकर सुन्न किया जाता है। फिर टैटू की स्याही को गर्म करने और तोड़ने के लिए टैटू पर ऊर्जा की मशीन से एक शक्तिशाली बीम डाली जाती है। एक रंग का टैटू आराम से हट जाता है लेकिन जब टैटू बहुत सारे रंग वाला हो तो विभिन्न लेजर मशीनों और विभिन्न तरंग दैर्ध्य के साथ उपचार की आवश्यकता हो सकती है।

प्रक्रिया पूरी होने के बाद, आपको सूजन और फफोला हो सकता है या उपचार वाली जगह से खून बहने की परेशानी हो सकती है। घाव जल्दी भरने के लिए उस पर जीवाणुरोधी मलम लगा दी जाती है। टैटू को हल्का करने के लिए आपको कई सत्रों की आवश्यकता होगी और हो सकता है टैटू को पूरी तरह मिटाना संभव न हो।

टैटू रिमूवल क्रीम - Tattoo removal cream in hindi

टैटू की स्याही को मिटाने की उम्मीद में टैटू हटाने की क्रीम टैटू वाली त्वचा पर लगायी जाती है। ये क्रीम कई डिपार्टमेंट स्टोर्स या ऑनलाइन खुदरा विक्रेताओं के पास उपलब्ध हैं, लेकिन इस बात के प्रमाण नहीं है कि टैटू हटाने क्रीम वास्तव में टैटू को हटाती है।

इनमें से अधिकतर उत्पाद पूरी तरह से टैटू को हटाने का दावा नहीं करते हैं। इसके बजाए, वे आपके टैटू को कम दिखे ऐसा बनाने में मदद करने का दावा करते हैं। टैटू हटाने की क्रीम से भी जलन और निशान पड़ने जैसे गंभीर दुष्प्रभाव हो सकते हैं।

टैटू स्याही आपकी त्वचा की ऊपरी परत के निचे इंजेक्ट की जाती है, इसलिए टैटू हटाने क्रीम अधिक प्रभावी नहीं होती है क्योंकि क्रीम का असर केवल त्वचा की बाहरी सतह पर ही होता है। क्रीम से आपका टैटू हल्का हो सकता है, लेकिन पीछे टैटू का एक विकृत और रंग उड़ा हुआ हिस्सा छूट जाता है जो एक स्थायी निशान बन सकता है।

टैटू हटाने का घरेलू उपाय - Tattoo removal home remedies in hindi

अगर आप लेजर सर्जरी नहीं करवाना चाहते हैं या कोई वैकल्पिक उपचार ढूंढ रहे हैं तो घर पर भी त्वचा से स्थायी टैटू हटाने के लिए कई अलग-अलग घरेलू उपचार उपलब्ध हैं। घर पर टैटू को हटाने के तरीके के बारे में कुछ सबसे आम और उपयोगी युक्तियों को जानने के लिए लेख के इस खंड को पढ़े।

सलेब्रशन (Salabrasion)
यह शब्द "नमक" और "डर्माब्रेशन" से लिया गया है क्योंकि इस प्रक्रिया के अंतर्गत नमक का उपयोग करके डर्माब्रेशन किया जाता है। एक पैड को नमक के पानी में डुबो कर उससे त्वचा के टैटू को रगड़ा जाता है। इसका मकसद त्वचा की ऊपरी परत को हटाना है, ताकि टैटू की स्याही वाली परत तक पहुंचा जा सके।

एलोवेरा + गंध प्रसारिणी टॉमेंटोसा + विटामिन ई
एलो वेरा को गंध प्रसारिणी टॉमेंटोसा और विटामिन ई के साथ उपयोग किए जाने पर टैटू को हल्का करने के लिए सबसे अच्छे घरेलू उपचारों में से एक माना जाता है। एक ताजा एलोवेरा के पत्ते से रस को निचोड़ें और गंध प्रसारिणी टोमेंटोसा के 1 चम्मच के साथ रस मिलाएं और फिर विटामिन ई के 2 कैप्सूल डाल लें। अच्छी तरह से पेस्ट बनाने के लिए अच्छे से हिलाएं और फिर अपनी त्वचा के टैटू वाले क्षेत्र पर इस पेस्ट को लगाए। फिर यहाँ पर अपनी उंगली से धीरे-धीरे 10 मिनट या उससे भी अधिक समय तक रगड़े और गर्म पानी से इस भाग को धोकर साफ कर लें।

नींबू का रस
नींबू का रस विशेष रूप से हल्के और छोटे टैटू हटाने के लिए प्रभावी होता है। नींबू को दो हिस्सों में काट कर उसके रस को निचोड़ लें। इसमें 100 ग्राम नमक डाल लें और अच्छी तरह से मिक्स कर लें। एक साफ सूती के कपड़े की बॉल बनाकर उसे इस घोल में डुबो कर टैटू पर लगाएं और फिर 30 मिनट तक उसे बार-बार रगड़ें।

शहद
शहद भी छोटे और हल्के रंग के टैटू के लिए प्रभावी उपाय है। एलोवेरा के रस, दही और नमक के साथ शहद का एक बड़ा चम्मच मिलाएं। एक प्राकृतिक टैटू हटाने क्रीम बनाने के लिए उन्हें अच्छी तरह से मिश्रण करें और फिर टैटू वाले भाग पर इसे लगाए।

लेजर टैटू हटाने की लागत टैटू के आकार, उपयोग किए गए रंग और स्थान के आधार पर भिन्न हो सकती है।

जबकि एक बिंदी के आकार का टैटू हटाने में आपको लगभग 6,000 रुपये तक खर्च करने पढ़ सकते हैं, लेकिन बड़ा और अधिक रंगों वाला टैटू हटाने ले लिए आपको 50,000 या उससे अधिक की लागत आ सकती है। यह बहुत महंगा उपचार है।

हालाँकि, 'Q-switched Nd-YAG लेजर' नामक एक नई लेजर मशीन से उपचार को हाल ही में दिल्ली में राम मनोहर लोहिया अस्पताल (आरएमएल) में पेश किया गया है, जिससे टैटू हटाने के लिए केवल 6,000 रुपये का शुल्क है। चूंकि पूर्ण उपचार के लिए केवल छह सत्र की आवश्यकता है इसलिए टैटू हटाने की कुल लागत अन्य अस्पतालों की तुलना में बहुत कम है, खासतौर पर निजी अस्पतालों में जहाँ लगभग 8,000 से 9,000 रुपये प्रति सत्र लिए जाते हैं।

टैटू हटाने के कुछ संभावित जोखिम निम्नलिखित हैं -

कुछ रंग पूरी तरह से नहीं उड़ते हैं जैसे पीले, हरे और बैंगनी रंग की स्याही को उड़ाने के लिए काले, नीले और लाल रंग की अपेक्षा अधिक ऊर्जा (यानि अधिक सत्रों) की आवश्यकता पड़ती है।

आपकी त्वचा के अस्थायी रूप से गहरे रंग की या आसपास की त्वचा से अलग रंग की होने की आशंका होती है।

आप की त्वचा पर स्थायी निशान छूट जाने की भी आशंका (100 में से 3 व्यक्तियों में ऐसा हो सकता है) होती है।

यदि आपको घाव ठीक होने में समस्या, त्वचा पर चकत्ते की समस्या या त्वचा के रंग में बदलाव की समस्या होती है, इसके बारे में अपने डॉक्टर को बताएं जिनसे आप टैटू का इलाज करवा रहे हैं।

(और पढ़े - घाव भरने के घरेलू उपाय)

अगर आप टैटू हटाने के बारे में गंभीर है तो एक अच्छे त्वचा विशेषज्ञ से मिले और उनकी सलाह लेकर ही उपचार का तरीका चुने।

नोट - ये लेख केवल जानकारी के लिए है। myUpchar किसी भी सूरत में किसी भी तरह की चिकित्सा की सलाह नहीं दे रहा है। आपके लिए कौन सी चिकित्सा सही है, इसके बारे में अपने डॉक्टर से बात करके ही निर्णय लें।

और पढ़ें ...