myUpchar सुरक्षा+ के साथ पुरे परिवार के हेल्थ खर्च पर भारी बचत

नमक सिर्फ खाने पीने के प्रयोजनों के लिए उपयोग नहीं किया जाता है बल्कि इस अद्भभुत पदार्थ का कई तरीकों से प्रयोग किया जाता है। ये जानकार आपको आश्चर्य होगा कि नमक का उपयोग केवल घर में खाना पकाने में ही नहीं बल्कि घर के अन्य कार्यों, सौंदर्य और स्वास्थ्य के लिए भी किया जाता है। 

(और पढ़ें - सेंधा नमक के फायदे और नुकसान)

आईए हम आपको बता रहे हैं नमक के कुछ आश्चर्यजनक उपयोग -

  1. ज्यादा नमक खाने के नुक्सान - Jyada namak khane ke nuksan
  2. नमक के फायदे - Namak ke fayde
  3. नमक के फायदे चेहरे के लिए - Salt Benefits for Face in Hindi
  4. नमक खाना कम करने का तरीका - Namak khana kam karne ka tarika in hindi

अधिक नमक का सेवन करने से हो सकता है डिहाइड्रेशन - Too much salt can cause dehydration in hindi

यह सभी लक्षणों में सबसे स्पष्ट है लेकिन हम इसे महसूस नहीं करते हैं। हमारा शरीर सोडियम के सही स्तर को बनाए रखने के लिए कड़ी मेहनत कर उसे खुद नियमित करता है। जब हम बहुत ज्यादा नमक खाते हैं तो हम इस शरीर द्वारा बनाए नमक के संतुलन को खो देते हैं और हमारा मस्तिष्क प्यास की भावना को उत्तेजित करता है। यह हमें और अधिक पानी पीने के लिए प्रोत्साहित करता है। पानी पीने से शरीर में सोडियम का स्तर फिर से नियमित होता है।

(और पढ़ें – पानी की कमी को दूर करने के लिए ज़रूर खाएँ ये फल)

नमक ज्यादा खाने के नुकसान है वाटर रिटेंशन - Too much salt increases water retention in hindi

जब हम नमक का अधिक सेवन करते हैं तब सोडियम का उच्च स्तर हमारे रक्तप्रवाह में प्रवेश करता है। हमारा शरीर इस अधिक सोडियम की मात्रा को घोलने के लिए जितना संभव हो, उतना पानी रखे रखता है। इसका मतलब यह है कि हमारा गुर्दा मूत्र का निर्माण कम करता है और उस पानी के शरीर में रहने से शरीर के विभिन्न हिस्सों जैसे पैर, एड़ी, चेहरे, हाथ में हम सूजन का अनुभव करते हैं जिसे एडिमा कहा जाता है। इसलिए यदि किसी को बहुत अधिक पेशाब या एडिमा का अनुभव होता है तो संभावना है कि आप अपने आहार में बहुत अधिक नमक का सेवन कर रहे हैं। (और पढ़ें – नमक के इन फायदो से होंगे आप बिल्कुल अंजान)

नमक ज्यादा खाने से बढ़ता है रक्तचाप - Too much salt causes high blood pressure in hindi

आहार में सोडियम के अधिक सेवन से हाई बीपी की समस्या हो सकती है। बहुत अधिक नमक के सेवन से रक्त प्रवाह की मात्रा बढ़ जाती है। अतिरिक्त रक्त प्रवाह हमारे दिल और धमनियों पर अतिरिक्त दबाव पैदा करता है। नमक उन दवाओं जैसे एसीई अवरोधकों के साथ भी हस्तक्षेप कर सकता है जो उच्च रक्तचाप के इलाज में मदद करती हैं। आम तौर से उच्च रक्तचाप के कोई लक्षण नहीं होते हैं इसलिए लोगों को यह महसूस करने में सालों लग जाते हैं कि वे उच्च रक्तचाप से ग्रसित हैं। आपके चिकित्सक आपके सोडियम के स्तर का पता लगाने के लिए आपके रक्त का परीक्षण करवा सकते हैं, साथ ही ब्लड प्रेशर की भी जांच कर सकते हैं।

(और पढ़ें - बीपी कम करने के उपाय)

नमक की अधिकता से हो सकती है गुर्दे की पथरी - Excess salt can cause kidney stones in hindi

उच्च नमक का सेवन आपके मूत्र में कैल्शियम का स्तर बढ़ाता है जिससे आपको गुर्दे की पथरी होने की संभावना अधिक होती है। इसलिए यदि आपको गुर्दे की पथरी होने की संभावना महसूस हो रही हैं तो इसका मतलब हो सकता है कि आप बहुत अधिक नमक का सेवन कर रहे हैं।

(और पढ़ें - पथरी में क्या खाना चाहिए)

नमक ज्यादा खाने से बढ़ सकता है मोटापा - Namak jyada khane se badh sakta hai motapa

हाल के अध्ययनों से पता चलता है कि उच्च नमक के सेवन से कुछ लोगों में मोटापे का खतरा बढ़ सकता है। कारण अभी तक स्पष्ट नहीं हैं लेकिन एक तर्क यह है कि बहुत ज्यादा नमक खाने से आपको प्यास लगती है। इसलिए प्यास को बुझाने के लिए आप चीनी युक्त मीठे पेय का सेवन करते हैं। इस प्रकार आप जरूरत से अधिक कैलोरी का सेवन करते हैं। यह भी देखा गया है कि बच्चों और किशोरों में प्रतिदिन नमक के 1 ग्राम की वृद्धि से प्रतिदिन 27 ग्राम चीनी और मीठे पेय का सेवन बढ़ सकता है जिससे मोटापा बढ़ता है। और ज़ाहिर है अगर आप ज्यादा संसाधित पैक किए गए खाद्य पदार्थ का सेवन करते हैं या बहुत अधिक खाते हैं तो आपके शरीर में नमक और कैलोरी की मात्रा बढ़ जाती है। 

(और पढ़ें – मोटापा कम करने के घरेलू उपाय)

नमक ज्यादा सेवन करने से हो सकती है जठरांत्र की समस्या - Namak jyada khane se ho sakta hai gastritis

आहार में नमक की उच्च मात्रा का सेवन जठरांत्र की समस्या को पैदा कर सकता है। यह एस्ट्रोथिक जठरांत्र की संभावना विकसित करने की संभावना को बढ़ाता है और गैस्ट्रिक ट्यूमर को भी पैदा कर सकता है। नमक का अधिक सेवन हेलिकोबैक्टर पायलोरी बैक्टीरिया द्वारा पेट के उपनिवेशण को बढ़ाता है जिससे जठरांत्र की समस्या पैदा और बिगड़ सकती है। अगर आप इसपर ध्यान नहीं देते हैं तो यह गैस्ट्रिक ट्यूमर की समस्या भी पैदा कर सकता है। अमेरिकन इंस्टिट्यूट फॉर कैंसर के अध्यन के अनुसार उच्च नमक का सेवन पेट के कैंसर का एक संभावित कारण होता है।

(और पढ़ें – पेट की गैस दूर करने के घरेलू उपाय)

 

नमक के फायदे गले में खराश के लिए - Table Salt for Sore Throat in Hindi

गले में खराश कई कारणों की वजह से हो सकती है जैसे आम सर्दी, ड्राई एयर, अत्यधिक चिल्लाना या गले के संक्रमण आदि, किंतु नमक के साथ इसका इलाज किया जा सकता है।

नमक के पानी से कुल्ला करने से दर्द और गले में खराश की वजह से सूजन में मदद मिलती है। साल्ट एक एंटीसेप्टिक की तरह काम करता है और संक्रमण से लड़ने में मदद करता है जो गले में खराश की वजह होते हैं

इसे बनाने और इस्तेमाल करने का तरीका -

  • 1 कप गर्म पानी में आधा चम्मच नमक का मिलाएं।
  • नमक को घोलने के लिए अच्छी तरह से हिलाएं।
  • कुछ सेकंड के लिए इस घोल के साथ कुल्ला करें।
  • कुछ दिनों के लिए नियमित अंतराल पर यह करें। (और पढ़ें – आंवला तंदुरस्त गले के लिए)

नमक के लाभ दूर करें मुंह के छाले - Table Salt for Mouth Ulcer in Hindi

मुंह के छाले जो मुंह के अंदर श्लेष्मा झिल्ली पर एक अल्सर होता है जिससे जलन, दर्द, सूजन, बुखार हो सकता है। इसमें हालत बहुत दर्दनाक और साथ ही बहुत परेशान होती है, लेकिन आप टेबल नमक के साथ इस समस्या से राहत प्राप्त कर सकते हैं। दर्द को कम करने और मुंह के छालो के उपचार की प्रक्रिया को तेज करने के लिए नमक के पानी के साथ कुल्ला करने से मदद मिलेगी।

इसे बनाने और लगाने का तरीका -

  • एक चौथाई कप गर्म पानी में 2 चम्मच नमक के मिलाएं और अच्छी तरह से हिलाएं।
  • कम से कम 20 सेकंड के लिए अपने मुँह में चारों ओर इस घोल को घुमाएं और फिर उसे थूक दें।
  • इस प्रक्रिया को दिन में 3 या 4 बार दोहराएं। (और पढ़ें – मुंह के छालों का घरेलू व आयुर्वेदिक इलाज)

नमक का फायदा है पाँव दर्द के लिए - Salt ke Fayde for Foot Pain in Hindi

पैरों में दर्द होने पर चलना मुश्किल हो जाता है, लोग इस तरह के दर्द से जल्दी से जल्दी छुटकारा पाना चाहते हैं। अगर आपके पैरो की उंगलियों, एड़ी, टखने में दर्द हो रहा है तो आप नमक के साथ इस प्रकार के दर्द को कम कर सकते हैं। साल्ट थके हुए पैरों को भी शांत करने मदद करता है। 

(और पढ़ें - काले नमक के फायदे)

इसे बनाने और इस्तेमाल करने का तरीका -

  • आधा कप नमक गर्म पानी के एक छोटे से टब में मिलाएं।
  • 10 से 15 मिनट के लिए गर्म नमकीन घोल में अपने पैर डुबो कर रखें।
  • अपने पैरों को सुखाएँ और 5 मिनट के लिए धीरे अपने पैरो की मालिश करें।
  • यह दिन में एक बार करें।

साल्ट के फायदे करे दांतों को साफ - Common Salt for Teeth in Hindi

साल्ट भी एक बहुत अच्छा टूथपेस्ट का विकल्प है, जो आप अपने दांतों को साफ और बैक्टीरिया से मुक्त रखने के लिए उपयोग कर सकते हैं। नमक में मौजूद कण आपको दाँतों के प्लार्क से छुटकारा पाने में मदद करते हैं। वास्तव में, टेबल नमक ओरल केयर उत्पादों में सबसे अधिक रूप से इस्तेमाल की जाने वाली सामग्री में से एक है।

इसे बनाने और इस्तेमाल करने का तरीका -

  • अपने टूथब्रश को टेबल नमक या समुद्री नमक में डुबोएँ और फिर उसके साथ अपने दाँत ब्रश करें।
  • यह दिन में कम से कम एक बार करें। इसके अलावा आप इसमें बेकिंग सोडा की बराबर मात्रा मिलाकर भी ब्रश कर सकते हैं। (और पढ़ें – दांतों को साफ करने का उपचार है बेकिंग सोडा)

नमक के गुण करें आँखों की सूजन दूर - Salt Water for Puffy Eyes in Hindi

सूजी या फूली हुई आँखों को ठीक करने के लिए भी आप नमक और गर्म पानी का उपयोग कर सकते हैं। नमक से त्वचा को कसने में मदद मिलेगी और वहीं गर्म पानी की गर्मी से सूजन कम हो जाएगी।

इसे बनाने और इस्तेमाल करने का तरीका -

  • एक कटोरी गुनगुने पानी में आधा चम्मच नमक मिक्स करें।
  • इस गर्म नमकीन पानी में रूई के फाहें को डुबोएँ ।
  • अपनी आँखें बंद करके अपनी पलकों के ऊपर कुछ मिनट के लिए रखें।
  • 15 से 20 मिनट के लिए इस प्रक्रिया को दोहराएं। (और पढ़ें – आँखों की थकान को दूर करने के सात सरल उपाय)

नमक का उपयोग बचाएं इन्सेक्ट बाइट्स दर्द से - Salt for Insect Bites in Hindi

कीट दंश दर्दनाक और खुजलीभरा हो सकता है। ये असुविधाएँ कम करने के लिए, आपको बस नमक की एक मुट्ठी की जरूरत है।

(और पढ़ें - खुजली के उपाय)

मधुमक्खी या पीले रंग की जैकेट डंक के जहर को बेअसर करने के लिए नमक एक शानदार तरीका है। इसके एंटीसेप्टिक गुणों के कारण यह तुरंत विष को बाहर खींचता है और प्रभावी रूप से दर्द और सूजन को कम करता है।

(और पढ़ें - समुद्री नमक के फायदे

इसे बनाने और इस्तेमाल करने का तरीका -

  • एंटीसेप्टिक साबुन और गुनगुने पानी के साथ प्रभावित क्षेत्र को धो लें। एक मधुमक्खी या ततैया डंक के मामले में, धोने से पहले बहुत ध्यान से दंश को हटा दें।
  • काटने या डंक की जगह पर नमक का पेस्ट लगाएँ।
  • इस सूखने दें और 30 मिनट के बाद अच्छी तरह से धो लें।
  • जरूरत के अनुसार दोहराएँ।

बंद नाक खोलने का उपाय है नमक - Salt for Nasal Congestion in Hindi

एक वयस्क या बच्चे के लिए, साल्ट बह रही नाक के लिए सबसे अच्छे घरेलू उपचारो में से एक है। साल्ट बलगम ढीला करने में मदद करेगा जिससे यह और अधिक आसानी से निष्कासित हो सकेगा। यह नासिका मार्ग को साफ करने और आपको आराम से साँस लेने में मदद करेगा। 

इसे बनाने और इस्तेमाल करने का तरीका -

  • 2 कप गर्म पानी में 1 चम्मच नमक डालकर मिश्रण तैयार करें।
  • एक नेति पॉट या अन्य नाक बहाने वाले डिवाइस का उपयोग करके इस समाधान का प्रयोग करें।
  • कुछ दिनों के लिए दैनिक रूप से 1 या 2 बार दोहराएँ। (और पढ़ें – बंद नाक खोलने के उपाय)

नमक के फायदे हैं अंडे को जल्दी पकाने के लिए - Namak ke Fayde for Eggs Boiling in Hindi

जब आप पानी में अंडे उबाल रहें है तब अंडे को जल्दी पकाने के लिए उबलते पानी में पहले थोड़ा सा नमक डाल दें। साथ ही, यह अधिक तेजी से अंडे के सफेद भाग की दरारें रोकता है।

नमक का प्रयोग करे चांदी धोने के लिए - Salt for Cleaning Silver in Hindi

टेबल नमक चांदी के बर्तन से धूल हटाने में भी मदद कर सकता है। यह धूल दूर करने के लिए आवश्यक रासायनिक प्रतिक्रिया में तेजी लाने में मदद करता है। साथ ही, यह चांदी धोने के लिए एक महान प्राकृतिक घर्षण के रूप में काम करता है।

इसे बनाने और इस्तेमाल करने का तरीका -

  • एक बड़ी रोस्टिंग पैन लें।
  • पैन में गर्म पानी डालें।
  • 2 बड़े चम्मच टेबल नमक और 2 बड़े चम्मच बेकिंग सोडा को उसमें मिलाएँ।
  • वैकल्पिक रूप से, आप 1 चम्मच सफेद सिरका भी मिला सकते हैं।
  • 3 से 5 मिनट के लिए इस घोल में अपने धूमिल चांदी के बर्तन डुबोकर रखें। भारी चांदी के बर्तन के लिए, आप एक पुराने टूथब्रश के साथ चांदी के बर्तन साफ़ कर सकते हैं।
  • अंत में, गर्म साबुन वाले पानी से धो लें।

नमक आमतौर से हमारे खाने में इस्तेमाल होता है। पर क्या आप जानते हैं कि नमक केवल हमारे भोजन के लिए ही नहीं परंतु हमारी त्वचा और चेहरे के लिए भी बहुत उपयोगी है। आइए बताते हैं कैसे?

  1. नमक के फायदे चेहरे से टैनिंग हटाने में - Namak ke fayde chehre se tan hatane me
  2. नमक बढ़ाता है चेहरे की दमक - Namak badhata hai chehre ki chamak
  3. नमक के गुण मिटायें पिंपल्स के निशान - Namak ke gun mitaye pimples ke nishan
  4. नमक है एक बेहतरीन टोनर - Namak hai ek badhiya toner

नमक के फायदे चेहरे से टैनिंग हटाने में - Namak ke fayde chehre se tan hatane me

आधा चम्मच शहद में दो चम्मच नमक मिलाकर अपने चेहरे पर लगा लें। कुछ देर रखकर इसे साफ कर लें। अगर हफ्ते में कम से कम दो बार ऐसा करेंगे तो धीरे धीरे चेहरे से टैनिंग की समस्या दूर हो जाएगी।

(और पढ़ें – त्वचा की रंगत को सुधारें केले से केवल 20 मिनट में)

नमक बढ़ाता है चेहरे की दमक - Namak badhata hai chehre ki chamak

बिना उबले दूध को चेहरे पर लगाकर सूखने दें। फिर नमक से धीरे-धीरे चेहरे को रगड़ें ताकि दूध उतर जाए। इससे आपका चेहरा एकदम से दमक जाएगा।

(और पढ़ें – सुंदर और चमकदार त्वचा पाने का अचूक घरेलू तरीका)

नमक के गुण मिटायें पिंपल्स के निशान - Namak ke gun mitaye pimples ke nishan

एक चम्मच नमक में एक चम्मच नींबू का रस मिलाकर चेहरे पर लगाएँ और थोड़ी ही देर में इसे धो लें। ध्यान रखें इसे बहुत देर चेहरे पर ना लगा रहने दें क्योंकि इससे त्वचा बहुत रूखी हो सकती है। इस प्रयोग को करने से आपके चेहरे पर जो भी पिंपल्स के निशान हैं, कुछ ही दिनों में मिट जाएँगे।

(और पढ़ें – पिम्पल्स हटाने के उपाय)

नमक है एक बेहतरीन टोनर - Namak hai ek badhiya toner

नमक एक बेहतरीन टोनर है। यह आपकी त्वचा से अतिरिक्त तेल निकालकर आपकी त्वचा को अंदर तक साफ करता है। इसके लिए आप एक कप पानी में एक चम्मच नमक मिलाएँ और इसे एक स्प्रे बोतल में भर लें। इसे आप अपनी सूखी त्वचा पर स्प्रे करें। इस बात का ध्यान रखें कि आप अपनी आँखों को बचा कर इसे स्प्रे करें।

(और पढ़ें - टोनर क्या होता है

नमक युक्त खाद्य पदार्थों के प्रति जागरूक होना बहुत जरूरी है। सीडीसी के अनुसार 10 प्रकार के ऐसे खाद्य पदार्थ है जो लोगों के लगभग 40 प्रतिशत सोडियम के सेवन का कारण बनते हैं जैसे ब्रेड और रोल, पिज्जा, पनीर, चिकन, सूप, पास्ता, सैंडविच, मांस व्यंजन, पॉपकॉर्न और चिप्स जैसे स्नैक्स। इन खाद्य पदार्थ के सेवन से बचना चाहिए। लेकिन आप इन खाद्य पदार्थों को बहुत कम मात्रा में खा सकते हैं। इन खाद्य पदार्थों को कम खाने के अलावा नमक का कम सेवन कम करने के लिए निम्नलिखित बातों पर भी ध्यान देना चाहिए। दुकान पर खरीदारी करते समय पोषण लेबल को ध्यान से पढ़ें और अपने पसंदीदा खाद्य पदार्थों के कम-सोडियम युक्त संस्करण चुनें। व्यस्त जीवनशैली की वजह से हमारे पास खाना पकाने का समय नहीं होता है। लेकिन बाजार में मिलने वाले पैक खाद्य पदार्थ में बहुत अधिक नमक होता है। इसलिए नमक का सेवन कम करने के लिए भोजन खुद पकाएं। अध्ययन से पता चलता है कि जो लोग घर पर खाना पकाते हैं, वे स्वस्थ खाने खाते हैं और उनके भोजन में कैलोरी की मात्रा भी बहुत कम होती है। आप अपने व्यंजनों में हमेशा नमक उपयोग नहीं करें। अगर बहुत अधिक जरूरत हो तो आप अपने भोजन में स्वाद के लिए नो-साल्ट सीज़निंग्स, जड़ी बूटियां और मसालों का उपयोग कर सकते हैं। डिब्बाबंद खाद्य पदार्थ का उपयोग करने से पहले उन्हें अच्छी तरह धो लें क्योंकि इन्हे सुरक्षित रखने के लिए नमक का उपयोग किया जाता है। अपने व्यंजन में हमेशा नमक का विकल्प नहीं चुने। लेकिन यदि अवसर है तो अपने भोजन में स्वाद डालने के लिए आप नो-साल्ट सीज़निंग्स, जड़ी बूटियों और और मसालों का उपयोग कर सकते हैं। रेस्तरां में खाना खाने से पहले भोजन को कम नमक के साथ तैयार करने के लिए कहें। अधिक नमक के सेवन से होने वाले नुकसान को काम करने के लिए पोटेशियम युक्त आहार बहुत अच्छे होते हैं। पोटेशियम युक्त आहार नमक के अधिक सेवन से होने वाले कुछ नकारात्मक प्रभावों का कम करने में मदद करता है इसके लिए आप केले, पालक, टमाटर, अवोकाडोस, अनार, मीठे आलू, सैल्मन, सेम, बीट्स, ब्रोकोली आदि का सेवन कर सकते हैं। नमक का सेवन नहीं करना बहुत मुश्किल है। लेकिन इन बातों पर ध्यान देने से आप धीरे-धीरे नमक की मात्रा को कम कर सकेंगे।

और पढ़ें ...