myUpchar प्लस+ सदस्य बनें और करें पूरे परिवार के स्वास्थ्य खर्च पर भारी बचत,केवल Rs 99 में -

वजन कम करने के लिए हम सब किसी न किसी तरह की डाइट को फॉलो करते हैं। कैलोरी काउंट करने का भी हमारा अपना तरीका होता है। हमारी पूरी कोशिश यही होती है कि किसी तरह से मेटाबॉलिज्म बढ़ा लिया जाए, ताकि वजन कम हो सके। हालांकि, हमारी सारी कोशिशें धरी की धरी रह जाती हैं, क्योंकि हमें लगता है कि सिर्फ मेटाबॉलिज्म बढ़ाने से ही वजन कम हो जाएगा, जो कि गलत धारणा है। मेटाबॉलिज्म का मतलब सिर्फ कैलोरी की खपत से कहीं ज्यादा है, इसका संबंध आपके शरीर पर होने वाले सभी तरह के कैमिकल रिएक्शन से है।

(और पढ़ें - कैसा होना चाहिए आपके सुबह का रूटीन)

खाना कैसे बढ़ाता है मेटाबॉलिज्म?

वैसे तो सभी प्रकार के खाद्य पदार्थ के जरिए थोड़ा बहुत मेटाबॉलिज्म बढ़ाया जा सकता है, मगर रोजमर्रा की कुछ ऐसी खान-पान की चीजें है जो आपके चयापचय की दर को बढ़ाती हैं और कैलोरी कम करने में सहायक होती हैं। बशर्ते, आपको शारीरिक गतिविधियों में सक्रिय बना रहना होगा।

डार्क चॉकलेट

स्वादिष्ट डार्क चॉकलेट निसंदेह आपके मेटाबॉलिज्म को बढ़ाने में सबसे बेहतर विकल्पों में से एक है। शोधकर्ताओं का कहना है कि यदि आप एक दिन में 40 ग्राम डार्क चॉकलेट खाते हैं, तो यह न केवल आपके चयापचय को बढ़ावा देगा, बल्कि आपके पाचन तंत्र को भी बेहतर करेगा। हालांकि, मिल्क और व्हाइट चॉकलेट से इस तरह का कोई लाभ नहीं होता।

मसालेदार खाना

अध्ययनों से पता चलता है कि पिपरिन और कैप्साइसिन (जैविक यौगिक जो मिर्च को उसका तीखापन देता है) शरीर के चयापचय को बढ़ाने में मदद करते हैं।

हालांकि, जब वजन नियंत्रित करने की बात आती है, तो मसालेदार भोजन के साथ दिक्कत पेश आती है। मसालेदार खाना आपके चयापचय को बढ़ाते तो हैं, लेकिन इनका स्वाद आपको अधिक खाने के लिए ललचाता भी है। अगर आप अपनी खाने की तलब को नियंत्रित कर सकते हैं, तो मसालेदार खाना वजन घटाने की योजना के लिए एक अच्छा विकल्प हो सकता है।
(और पढ़ें - वजन घटाने के उपाय)

पानी

उचित जलपान (हाइड्रेशन) अच्छे स्वास्थ्य की बुनि​यादी आवश्यकताओं में से एक है। विशेषज्ञों का सुझाव है कि प्रति दिन 8-10 गिलास पानी पीने से आपकी दैनिक ऊर्जा की मांग कम से कम 400 जूल तक बढ़ जाएगी।

इसके साथ, अगर आप अपने चयापचय को तेज करना चाहते हैं, तो इसके बजाय ठंडा पानी पिएं। कुछ शोधकर्ताओं का कहना है कि जब आप ठंडा पानी पीते हैं, तो आपका शरीर, ऊर्जा का उपयोग करने से पहले पानी को सामान्य तापमान तक गर्म कर सकता है। हालांकि, ये अवधारणा पूरी तरह से अभी तक सिद्ध नहीं हुई है, जिस पर कोशिश लगातार जारी है। 

(और पढ़ें - मेटाबोलिक सिंड्रोम के लक्षण)

कॉफी

कॉफी, एक छोटे वक्त के लिए आपकी बॉडी में कार्बोहाइड्रेट और फैट मेटाबॉलिज्म को बढ़ा देती है। वैज्ञानिकों ने पाया कि एक कप कॉफी,मेटाबॉलिटिक रेट को 3 घंटे तक बढ़ा सकती है। हालांकि ये ध्यान देने वाली बात है कि कॉफी के एक हिस्सा के भी कई दुष्प्रभाव हो सकते हैं। 

प्रोटीन रहित खाना

कार्ब्स और फैट को बर्न करने की तुलना में प्रोटीन बर्न करने में ज्यादा ऊर्जा लगती है। इसलिए, अगर आप अपने आहार में प्रोटीन से भरपूर खाद्य पदार्थ शामिल करते हैं, तो आपका मेटाबॉलिज्म स्वाभाविक रूप से बढ़ जाएगा। अगर आप शाकाहारी हैं तो ज्यादा से ज्यादा मूंगफली, सोयाबीन, कोटेज चीज़ (पनीर) और फलियां ज्यादा खाएं। इसके अलावा अगर आप मांसाहारी हैं तो आप अपने आहार में अधिक लीन मीट (बिना चर्बी का मांस) शामिल कर सकते हैं।

और पढ़ें ...
ऐप पर पढ़ें