myUpchar प्लस+ सदस्य बनें और करें पूरे परिवार के स्वास्थ्य खर्च पर भारी बचत,केवल Rs 99 में -

योग एक बेहतरीन और लोकप्रिय स्वास्थ्य संबंधित व्यायाम है। भारत में 2000 साल से भी पहले से योगक्रिया के जरिए शारीरिक और मानसिक स्वास्थ्य लाभ लिया जा रहा है। इसके स्वास्थ्य संबंधित लाभों के बारे में जानने के बाद आज दुनियाभर में इसकी लोकप्रियता चरम पर है।

इसमें शारीरिक मुद्राएं, लयबद्ध श्वास और ध्यान संबंधी व्यायाम के जरिए व्यक्ति को एक अनोखे समग्र मन और शरीर का अनुभव होता है। ब्रेन प्लास्टिसिटी पर छपी एक नई रिसर्च के मुताबिक योग के मस्तिष्क से जुड़े कई स्वास्थ्य लाभों के बारे में पता चला है।

क्या कहता है शोध?
रिसर्च में 11अलग-अलग शोध शामिल हैं जो इस बात की पुष्टि करते हैं कि योग से मस्तिष्क के आकार और कार्य दोनों पर अच्छा प्रभाव पड़ता है। पांच अध्ययनों में 10 से 24 हफ्तों तक प्रति सप्ताह एक या उससे अधिक योग सेशन में ऐसे प्रतिभागियों को शामिल किया गया, जिनका इतिहास में योग से कोई संबंध नहीं था। शोधकर्ताओं ने बताया कि उन्होंने लोगों के मस्तिष्क की अध्ययन के शुरुआत में और अंत में तुलना की थी। 

अन्य 6 अध्ययनों में ब्रेन-इमेजिंग तकनीकों जैसे एमआरआई, फंक्शनल एमआरआई या सिंगल फोटोन एमिशन कंप्यूटराइज्ड टोमोग्राफी से रोजाना योग करने वाले और योग न करने वाले व्यक्तियों के संज्ञानात्मक अंतर को मापा गया। सभी 11 अध्ययनों में मस्तिष्क के कई हिस्सों पर प्रभाव पड़ता देखा गया।

जैसे कि योगाभ्यास से हिपोकैम्पस (मस्तिष्क का एक प्रमुख घटक) के आकार में बढ़ोतरी हुई। यूनिवर्सिटी ऑफ इलिनीऑस की विशेषज्ञ नेहा गोथे ने खुद इस बात की पुष्टि की है। नेहा ने आगे बताया कि पिछले कई ऐरोबिक्स व्यायाम से जुड़े अध्ययनों में भी इसी प्रकार के परिणाम देखने को मिले हैं, जिनमें समय के साथ हिपोकैम्पस का आकार बढ़ा था।

उन्होंने बताया कि हिपोकैम्पस याददाश्त संबंधित प्रक्रियाओं से जुड़ा होता है जो बढ़ती उम्र के साथ कम होता जाता है। इसके अलावा यह अल्जाइमर रोग और डिमेंशिया के समय सबसे पहले प्रभावित होता है।

योग के फायदे
योगाभ्यास से न केवल मस्तिष्क और शारीरिक लाभ मिलते हैं बल्कि यह कई रोगों का भी समाधान होता है। इससे नकारात्मक भावनाएं दूर होती हैं जैसे कि तनाव, चिंता आदि। योग, ऐरोबिक्स और वजन उठाने वाले व्यायामों से काफी अलग और लाभदायी होता है। इसके जरिए व्यक्ति अपनी मांसपेशियों को तकलीफ पहुंचाए बिना स्वस्थ जीवन धारण कर सकता है। 

योग कई रोगों में लाभदायी होता है, जिनमें निम्न मुख्य रूप से शामिल हैं :

इसके अलावा इससे कई गंभीर रोगों का भी इलाज किया जाता है, जहां आधुनिक विज्ञान तक नहीं पहुंच पाया है। शोध के अनुसार रोजाना योग करने वाले व्यक्ति सामान्य लोगों से अधिक तंदुरुस्त, फुर्तीले और शारीरिक व मानिसक दोनों ही रूपों में स्वस्थ होते हैं।

योग करने का उत्तम समय सुबह सूर्योदय से पहले होता है, इसके अलावा चाहें तो रोजाना योग का एक ही समय निर्धारित करना भी अच्छा माना जाता है। योग अभ्यास के लिए खुली जगह जैसे पार्क सबसे बेहतर होते हैं या ऐसी जगह जहां आप आराम से ध्यान केंद्रित कर सकें। योग आसन के दौरान शांतिपूर्ण अवस्था सबसे महत्वपूर्ण होती है।

और पढ़ें ...
ऐप पर पढ़ें