बालों का झड़ना बहुत आम बात है लेकिन चिंता करने का कारण तब बनता है जब अत्यधिक बाल झड़ने लगते हैं. बालों के झड़ने के कई कारण हो सकते हैं. रहन-सहन, खान-पान, अधिक तनाव. कुछ मेडिकल कंडीशंस भी होती हैं जिनकी वजह से बाल झड़ते हैं. आज इस लेख में हम जानेंगे बाल किस बीमारी से झड़ते हैं.

(और पढ़ें - क्या गिरे हुए बाल वापस आ सकते है?)

  1. किन बीमारियों के कारण झड़ते हैं बाल
  2. बाल झड़ने का प्रमुख कारण है ये बीमारी
  3. एलोपेशीया एरेटा होने का कैसे पता चलता है
  4. क्यों होता है एलोपेशीया एरेटा
  5. क्या कहती है रिसर्च
बाल किन बीमारियों से झड़ते हैं? के डॉक्टर

थायराइड, कीमोथेरपी, दाद जैसे स्कैल्प इंफेक्शन, लाइकेन प्लेनस जैसी बीमारियां जिससे स्काल्प पर निशान पड़ जाते हैं और कुछ प्रकार की लुपस डिजीज, ऐसी मेडिकल कंडीशन हैं जिनसे हमेशा के लिए बाल गिर जाते हैं. इन सबके अलावा एलोपेशीया एरेटा (alopecia areata) नामक ऑटोइम्यून बीमारी जो बालों के रोम पर सीधा हमला करती है जो कि बालों के झड़ने का मुख्य कारण है.

इसके अलावा कुछ हेल्थ कंडीशंस भी बालों के झड़ने का कारण हैं, जैसे - 

(और पढ़ें - बाल पतले क्यों होते है)

एलोपेशीया एरेटा एक ऐसा ऑटोइम्यून डिसऑर्डर है जो कि बालों के गिरने का प्रमुख कारण हैं. इस बीमारी में बाल झड़ने की मात्रा हर व्यक्ति में अलग-अलग होती है. कुछ लोगों के सिर्फ कुछ हिस्सों के बाल झड़ते हैं. कईयों के बहुत ज्यादा बाल झड़ते हैं. कुछ लोगों के बाल वापिस उग आते हैं लेकिन फिर झड़ जाते हैं.

(और पढ़ें - गंजेपन के घरेलू उपाय)

इस ऑटोइम्यूपन डिजीज में बाल गिरने की कई कंडीशंस होती हैं लेकिन इनमें एलोपेशीया एरेटा मुख्य  रूप से सबसे आम है. जबकि अन्य कंडीशन बहुत ही दुर्लभ मामलों में होती है.

  • एलोपेशिया एरीटा टोटलिस (Alopecia areata totalis) यानि सिर के सारे बाल गिर गए.
  • एलोपेशिया एरीटा युनिवर्सलिस (Alopecia areata universalis) पूरे शरीर पर बालों का झड़ना.
  • डिफ्यूज़ एलोपेसिया एरीटा (Diffuse alopecia areata) बालों का अचानक पतला होना.
  • ओफ़ियासिस एलोपेसिया एरीटा (Ophiasis alopecia areata) सिर के किनारों और पिछले हिस्से के चारों ओर एक बैंड के आकार में बालों का झड़ना.

(और पढ़ें - गंजेपन के कारण)

जब भी आपको एलोपेशीया एरेटा डिजीज के कारण बाल झड़ते हैं तो सबसे पहले बाल गिरने लगते हैं. लेकिन इसके अलावा एलोपेशीया एरेटा होने के कई लक्षण हैं - 

  • स्कैल्प या शरीर के अन्य हिस्सों में छोटे-छोटे पैच बनना.
  • निशानों का बड़ा होना और/ या गंजे स्थान का विकसित होना.
  • वापिस बाल उगना लेकिन दूसरे जगह से गिरना.
  • बहुत कम समय में बहुत ज्यादा बाल झड़ना.
  • सर्द मौसम में बहुत तेजी से बालों का झड़ना.
  • हाथ और पैर के नाखून लाल, गहरे रंग के और गड्ढेदार होना.
  • पैच की जगह चिकनी होती है, वहां कोई रैश या रेडनेस नहीं होती. लेकिन बाल गिरने के दौरान खुजली, जलन या सेंसेशन महसूस होती है.

(और पढ़ें - बाल झड़ने से रोकने के घरेलू उपाय)

एलोपेशीया एरेटा की स्थिति तब होती है जब सफेद रक्त कोशिकाएं बालों के रोम में कोशिकाओं पर हमला करती हैं, जिससे वे सिकुड़ जाती हैं और फिर ये बालों के उत्पादन को धीमा कर देती हैं. डॉक्टर इस बारे में कुछ भी पुख्‍तातौर पर पता नहीं लगा पाएं हैं कि शरीर का इम्यून सिस्टम इस तरह से बालों के रोम को टारगेट क्यों करता है.

हालांकि कुछ कारण एलोपेशीया एरेटा के हो सकते हैं जैसे-

(और पढ़ें - बाल झड़ने से रोकने के शैम्पू)

एलोपेशीया एरेटा कई कारणों से हो सकता है. हालांकि ऐसा माना जाता है कि एलोपेशीया एरेटा का कारण जीन हो सकता है. शोधकर्ता मानते हैं कि इसका कारण आनुवंशिक हो सकता है क्योंकि एलोपेशीया एरेटा एक ऐसे व्यक्ति में होने की अधिक आशंका होती है जिसके परिवार में पहले से ही यह किसी सदस्य को है.

एक शोध में ये भी पाया गया है कि एलोपेशीया एरेटा मरीज के पारिवारिक इतिहास वाले कई लोगों में अन्य ऑटोइम्यून डिसऑर्डर जैसे एटोपी (atopy) डिसऑर्डर जिसमें हाइपोएलर्जिक, ऑटोइम्यून थायरॉयडिटिस और विटिलिगो होने की प्रवृत्ति होती है. भी पी‍ड़ि‍त को या परिवार के अन्य सदस्यों को होता हैं.

(और पढ़ें - बाल झड़ने से रोकने के लिए तेल)

शोधकर्ता अभी इस बात की पुष्टि नहीं कर पाएं हैं कि एलोपेशीया एरीटा तनाव के कारण होता है. बेशक बहुत अधिक तनाव एलोपेशीया एरेटा डिसऑर्डर को ट्रिगर कर सकता है लेकिन ये मुख्य कारण नहीं हो सकता. वहीं हाल के शोध अनुवांशिक कारण की ओर ही इशारा करते हैं.

एलोपेशीया एरेटा का इलाज और उसका प्रभाव हर व्यक्ति का अलग होता है. कुछ लोगों को इलाज की जरूरत नहीं पड़ती क्योंकि उनके बाल अपने आप ही वापस उग आते हैं. हालांकि, कुछ मामलों में, हर तरह का इलाज और हर विकल्प आजमाने के बावजूद कोई सुधार नहीं होता. कुछ मामलों में बालों का दोबारा उगना केवल अस्थायी हो सकता है.

(और पढ़ें - बाल झड़ने से रोकने की होम्योपैथिक दवा)

Dr. Dnyaneshwar Jadhav

Dr. Dnyaneshwar Jadhav

कॉस्मेटोलॉजी
2 वर्षों का अनुभव

और पढ़ें ...
cross
डॉक्टर से अपना सवाल पूछें और 10 मिनट में जवाब पाएँ