myUpchar प्लस+ सदस्य बनें और करें पूरे परिवार के स्वास्थ्य खर्च पर भारी बचत,केवल Rs 99 में -

झड़ते बाल - ये दो शब्द पुरुषों और महिलाओं दोनों के लिए बेहद भयावह होते हैं। महिलाओं में बालों के झड़ने के कई कारण होते हैं, जैसे शारीरिक तनाव, कोई नया इलाज शुरू होने की वजह से, बालों का स्वास्थ्य बेकार रहना, पोषक तत्वों की कमी, बुखार आदि। कभी-कभी ये विभिन्न कारक एक साथ मिलकर आपके बालों के टूटने का कारण बनते हैं। आमतौर पर किसी एक कारण को केंद्र- बिंदु बनाना बेहद मुश्किल है, जब तक की उसकी अच्छे से जाँच न कर ली जाए। इसके साथ ही बालों को झड़ने से रोकने के लिय स्वस्थ आहार भी बेहद ज़रूरी है।  

(और पढ़ें - हेयर फॉल टिप्स)

स्वस्थ आहार के अलावा कुछ ऐसी बेहतरीन जड़ी-बूटियां भी हैं, जिनकी मदद से आप बालों का झड़ना रोक सकते हैं।

(और पढ़ें - हेयर केयर टिप्स)

तो आइये आपको बताते हैं कुछ प्रभावी जड़ी-बूटियां, जिनके इस्तेमाल से आपके बालों का झड़ना बिल्कुल खत्म हो जाएगा।

(और पढ़ें - आयुर्वेदिक जड़ी बूटियां)

  1. झड़ते बालों के लिए जड़ी बूटी है जिनसेंग - Ginseng herb for hair loss in Hindi
  2. झड़ते बालों की समस्या के लिए जड़ी बूटी है रोजमेरी - Rosemary herb treats hair fall in Hindi
  3. बालों को टूटने से रोकने के लिए करें सेज जड़ी बूटी का उपयोग - Benefits of sage herb for hair loss in Hindi
  4. टूटते बालों के लिए जड़ी बूटी है बरडोक - Burdock herb prevents hair loss in Hindi
  5. झड़ते बालों के लिए जड़ी बूटी है भृंगराज - Bhringraj herb cures hair fall in Hindi
  6. जटामांसी है गिरते बालों की समस्या के लिए जड़ी बूटी - Jatamansi herb treatment for hair fall in Hindi
  7. तुलसी है झड़ते बालों की परेशानी के लिए अच्छी जड़ी बूटी - Basil herb good for hair loss in Hindi
  8. बाल गिरने से रोकने के लिए रीठा जड़ीबूटी है बेहद प्रभावी - Reetha herb helps to get rid of hair fall in Hindi
  9. गिरते बालों के लिए जड़ी बूटी में उपयोग करें अदरक - Ginger herb benefits for hair fall in Hindi
  10. झड़ते बालों के लिए लेमन ग्रास जड़ी बूटी का करें प्रयोग - Lemongrass herb for hair loss in Hindi

सामग्री –

  1. दो से तीन चम्मच जिनसेंग का तेल। (और पढ़ें - जिनसेंग के गुण)

प्रक्रिया का पूरा समय –

45 मिनट

विधि –

  1. सबसे पहले तीन चम्मच जिनसेंग तेल को एक कटोरी में ले लें।
  2. अब अपने बालों को दो हिस्सों में बाटें और फिर सिर की त्वचा पर तेल को अच्छे से लगाएं।
  3. लगाने के बाद मसाज करना शुरू करें।
  4. दस मिनट तक इसी तरह मसाज करें।
  5. फिर अपने बालों में तेल को आधे घंटे के लिए ऐसे ही लगा हुआ छोड़ दें और अब बालों को शैम्पू से धो लें।

इसका उपयोग कब तक करें –

इस प्रक्रिया को हफ्ते में तीन बार दोहराएं।

(और पढ़ें - हेयर मास्क फॉर हेयर फॉल)

फायदे –

जिनसेंग रक्त परिसंचरण को उत्तेजित करता है, जिससे रक्त का प्रवाह और पोषण बालों की रोम तक अच्छे से पहुंचता है। इस जड़ी बूटी से बाल स्वस्थ तरीके से बढ़ने लगते हैं और बाल का टूटना बंद हो जाता है।

(और पढ़ें - बाल झड़ने के कारण)

सामग्री –

  1. पांच से दस बूँद रोजमेरी की तेल।
  2. दो से तीन चम्मच कोई अन्य मालिश योग्य तेल।

प्रक्रिया का पूरा समय –

45 मिनट

विधि –

  1. एक कटोरी में, रोजमेरी के तेल को अपनी पसंद के आवश्यक तेल के साथ मिला दें (आवश्यक तेल जैसे नारियल, जैतून, बादाम या जोजोबा)।
  2. अब इस तेल के मिश्रण को सिर की त्वचा और बालों में अच्छे से लगा लें।
  3. लगाने के बाद दस मिनट तक मसाज करें।
  4. फिर बालों में तेल को आधे घंटे के लिए ऐसे ही लगा हुआ छोड़ दें और अब बालों को शैम्पू से धो लें।

इसका उपयोग कब तक करें –

इस उपाय को हफ्ते में तीन बार दोहराएं।

(और पढ़ें - बालों को लंबा करने के उपाय)

फायदे –

रोजमेरी बालों को बढ़ाने के लिए बहुत ही प्रभावी जड़ी बूटी है। ये न सिर्फ बालों को झड़ने से रोकती है, बल्कि बालों को बढ़ने के लिए उत्तेजित भी करती है। इसके साथ ही ये सिर की त्वचा को डिटॉक्सीफाई करती है और जड़ों को मजबूत बनाती है।

(और पढ़ें - बालों को घना करने के उपाय)

सामग्री –

  1. दो चम्मच सूखे सेज के पत्ते।
  2. दो कप पानी।

प्रक्रिया का पूरा समय –

पांच मिनट

विधि –

  1. सबसे पहले सूखे सेज की पत्तियों को दो कप पानी में दस मिनट के लिए उबालने को रख दें।
  2. फिर उबलने के बाद मिश्रण को ठंडा होने के लिए रख दें।
  3. जब एक बार मिश्रण ठंडा हो जाए तो मिश्रण को एक बर्तन में छान लें।
  4. अब अपने बालों को पहले शैम्पू से धोएं और फिर आखिर में इस मिश्रण से धोएं।

इसका उपयोग कब तक करें –

इस उपाय को हर बार बाल धोने के बाद इस्तेमाल करें।

(और पढ़ें - बाल लंबे करने का शैम्पू)

फायदे –

सेज में एंटीसेप्टिक और एस्ट्रिजेंट के गुण होते हैं जो बालों के लिए बेहद लाभदायक हैं। इस जड़ी बूटी का रोज़ाना इस्तेमाल बालों को मजबूत और घना बनाने में मदद करता है।

(और पढ़ें - बालों को बढ़ाने का तेल)

सामग्री –

  1. दो चम्मच रोजमेरी तेल
  2. दो चम्मच तुलसी का तेल
  3. दो चम्मच लैवेंडर का तेल
  4. एक चम्मच एलोवेरा जेल
  5. एक चम्मच बरडोक तेल।

प्रक्रिया का पूरा समय –

दो घंटे

विधि –

  1. सबसे पहले सभी सामग्रियों को एक कटोरी में मिला लें।
  2. अब मिश्रण को सिर की त्वचा पर लगाएं।
  3. लगाने के बाद कुछ मिनट तक मसाज करें।
  4. फिर तेल को बालों में कुछ घंटे के लिए लगाकर रखें।
  5. अब बालों को शैम्पू से धो लें।

इसका उपयोग कब तक करें –

इस उपाय को तीन हफ्ते तक दोहराएं।

(और पढ़ें - गंजापन कैसे दूर करे)

फायदे –

बरडोक की जड़ से बने तेल में 'फाइटोस्टीरोल्स' और आवश्यक फैटी एसिड होते हैं। ये पोषक तत्व सिर की त्वचा को स्वस्थ बनाये रखते हैं और बालों को प्राकृतिक तरीके से बढ़ने में मदद करते हैं।

(और पढ़ें - बाल झड़ने के उपाय

सामग्री –

  1. मुट्ठीभर भृंगराज की पत्तियां। (और पढ़ें - भृंगराज के लाभ)
  2. एक कप नारियल का तेल / तिल का तेल

प्रक्रिया का पूरा समय –

45 मिनट

विधि –

  1. सबसे पहले भृंगराज की बड़ी-बड़ी पत्तियों को छोटी-छोटी पत्तियों में काट लें और फिर एक सॉसपैन में तेल डालें और इन पत्तियों को उसमें डाल दें।
  2. दस मिनट तक तेल में पत्तियों को ऐसे ही रहने दें और गैस को भी जलते रहने दें।
  3. दस मिनट के बाद मिश्रण को ठंडा होने को रख दें।
  4. ठंडा होने के बाद, बालों को दो हिस्सों में बाँट लें और फिर इस तेल को सिर की त्वचा पर अच्छे से लगाएं।
  5. लगाने के बाद सिर की त्वचा पर अच्छे से मसाज करें।
  6. मसाज करने के बाद बालों में तेल को आधे घंटे के लिए ऐसे ही लगा हुआ छोड़ दें।
  7. फिर बालों को शैम्पू से धो लें।
  8. बचे हुए तेल को किसी सुरक्षित जगह रख दें।

(और पढ़ें - भृंगराज तेल के फायदे)

इसका उपयोग कब तक करें –

इस उपाय को हफ्ते में तीन बार दोहराएं।

(और पढ़ें - रूखे बालों के लिए तेल)

फायदे –

भृंगराज बहुत ही बेहतरीन जड़ी बूटी है, जिसका इस्तेमाल झड़ते बाल और सफ़ेद बालों के लिए किया जाता है। इससे बाल और सिर की त्वचा स्वस्थ होने लगती है और बालों को फिर से बढ़ने में मदद मिलती है।

(और पढ़ें - रूखे बालों के लिए शैम्पू)

सामग्री –

  1. पांच बूँद जटामांसी तेल। (और पढ़ें - जटामांसी के गुण)
  2. दो चम्मच अन्य लगाने योग्य तेल (नारियल या तिल का तेल)।

प्रक्रिया का पूरा समय –

45 मिनट

विधि –

  1. सबसे पहले एक कटोरी में दोनों तेल को मिला लें।
  2. अब इस तेल को सिर की त्वचा और बालों में अच्छे से लगा लें।
  3. इसे लगाने के बाद दस मिनट तक सिर की त्वचा पर मसाज करें।
  4. फिर इस तेल को बालों में आधे घंटे के लिए ऐसे ही लगा हुआ रहने दें।
  5. फिर बालों को शैम्पू से धो लें।

इसका उपयोग कब तक करें –

इस उपाय को हफ्ते में तीन बार दोहराएं।

(और पढ़ें - रूखे बालों का घरेलू उपाय)

फायदे –

जटामांसी तेल झड़ते बालों और सफ़ेद बालों की समस्या को रोकने में मदद करता है, क्योंकि इसमें रक्त को शुद्ध करने वाले गुण मौजूद होते हैं।

(और पढ़ें - सफेद बालों का आयुर्वेदिक उपचार)

सामग्री –

  1. मुट्ठीभर तुलसी की पत्तियां। (और पढ़ें - तुलसी के लाभ)
  2. दो से तीन चम्मच जैतून का तेल

प्रक्रिया का पूरा समय –

45 मिनट

विधि –

  1. सबसे पहले तुलसी की पत्तियों को सूरज के सामने सूखा लें और फिर उन्हें मिक्सर में मिक्स कर लें जिससे एक पाउडर तैयार हो सके।
  2. फिर इस पाउडर को गर्म जैतून के तेल में मिला दें।
  3. तेल में मिलाने के बाद इस मिश्रण को छान लें।
  4. छानने के बाद इसे सिर की त्वचा और बालों में लगाएं।
  5. इसे लगाने के बाद दस मिनट तक मसाज करें।
  6. मसाज के बाद तेल को बालों में आधे घंटे के लिए ऐसे ही लगा हुआ छोड़ दें।
  7. अब बालों को शैम्पू से धो लें।
  8. अगर आपके पास इस तेल की ज़्यादा मात्रा है तो आप इसे एक बोतल में बंद करके फ्रिज में रख सकते हैं। आप इस तेल को 11 दिन तक स्टोर करके रख सकते हैं।

इसका उपयोग कब तक करें –

इस उपाय को हफ्ते में तीन बार दोहराएं।

(और पढ़ें - सफेद बालों को काला करने के लिए तेल)

फायदे –

तुलसी बालों की रोम को ठीक करने में मदद करती है। सिर की त्वचा पर तुलसी के तेल से मसाज करने से न ही तेल को मॉइस्चराइज़ करने में मदद मिलती है, बल्कि रक्त परिसंचरण भी उत्तेजित होता है। इससे बाल तेज़ी से बढ़ते हैं और टूटते नही हैं। तुलसी में यूगेनोल और मैग्नीशियम होता है, जिससे सिर की त्वचा का रक्त प्रवाह सुधरने लगता है।

(और पढ़ें - सफेद बालों से छुटकारा पाने के उपाय)

सामग्री –

  1. छः से सात रीठा। (और पढ़ें - रीठा आंवला शिकाकाई के गुण)
  2. दो आंवला
  3. दो कप पानी।

प्रक्रिया का पूरा समय –

15 मिनट

विधि –

  1. सबसे पहले दो कप पानी में रीठा और आंवला को भिगोकर रख दें और रातभर के लिए इसे ऐसे ही छोड़ दें।
  2. सुबह, उस मिश्रण को गर्म करें और तब तक उबालें जब तक मिश्रण में उबाल न आ जाए।
  3. अब पानी को ठंडा होने दें और फिर रीठा और आंवला को उसमें मैश कर लें।
  4. फिर मिश्रण को छान लें और शैम्पू का इस्तेमाल न करते हुए इससे बालों को धोएं।
  5. यह मिश्रण बेहद अच्छा शैम्पू है, इससे बालों को अच्छे से धोएं और पांच से दस मिनट तक इसे ऐसे ही लगा हुआ रहने दें।
  6. फिर बालों को सादे पानी से धोएं।

इसका उपयोग कब तक करें –

हफ्ते में दो बार इस मिश्रण से अपने बालों को धोएं।

(और पढ़ें - तैलीय बालों के घरेलू उपाय)

फायदे –

रीठा में सैपोनिन होता है, जो एक प्राकृतिक क्लीन्ज़र है। इससे सिर की त्वचा स्वस्थ रहती है और PH स्तर भी वापस लौटता है। यह उपाय आपके सर की त्वचा को साफ़ और स्वस्थ रखने में मदद करता है।

(और पढ़ें - तैलीय बालों के लिए शैम्पू)

सामग्री –

  1. एक घिसा अदरक। (और पढ़ें - अदरक के गुण)
  2. चार चम्मच तिल का तेल।

प्रक्रिया का पूरा समय –

45 मिनट

विधि –

  1. सबसे पहले घिसी अदरक को मुलायम कपड़े में रख दें और फिर इसका जूस निकाल लें।
  2. अब अदरक के एक चम्मच जूस को तिल के तेल के साथ मिला दें।
  3. फिर इस मिश्रण को सिर की त्वचा पर लगा लें।
  4. लगाने के बाद कुछ मिनट तक मसाज करें।
  5. मसाज करने के बाद आधे घंटे तक इस तेल को ऐसे ही लगा हुआ छोड़ दें।
  6. फिर बालों को शैम्पू से धो लें।

इसका उपयोग कब तक करें –

इस उपाय को हफ्ते में तीन बार दोहराएं।

(और पढ़ें - रूसी खत्म करने के लिए तेल)

फायदे –

अदरक का तेल डैंड्रफ का इलाज करने और उसे रोकने में मदद करता है। इससे झड़ते बाल रुकते हैं और बालों को बढ़ने में भी मदद मिलती है।

(और पढ़ें - रूसी हटाने के लिए शैम्पू)

सामग्री –

  1. तीन चम्मच सूखा लेमन ग्रास। (और पढ़ें - लेमन ग्रास के फायदे)
  2. एक कप पानी।

प्रक्रिया का पूरा समय –

पांच मिनट

विधि –

  1. सबसे पहले सूखे लेमन ग्रास को एक कप पानी में उबालने को रख दें। उबलने के बाद इसे ठंडा होने दें।
  2. जब मिश्रण ठंडा हो जाए, फिर इसे छान लें।
  3. अब बालों को शैम्पू से धोएं और फिर आखिर में इस मिश्रण से बालों को गीला करें।

इसका उपयोग कब तक करें –

इस उपाय को हफ्ते में दो बार दोहराएं।

(और पढ़ें - रूसी हटाने के घरेलू उपाय

फायदे –

लेमनग्रास बालों की रोम को उत्तेजित करता है, जिससे बालों का झड़ना रुक जाता है।

(और पढ़ें - दो मुहे बाल हटाने के उपाय)

और पढ़ें ...
ऐप पर पढ़ें