myUpchar प्लस+ सदस्य बनें और करें पूरे परिवार के स्वास्थ्य खर्च पर भारी बचत,केवल Rs 99 में -

जब बाल रूखे और नाजुक हो जाते हैं तो बालों की रोम टूट जाती है। इससे बाल अस्तव्यस्त और दो मुहें हो जाते हैं। यह बहुत ही आम समस्या है जिसे हर कोई नजरअंदाज करता है। बालों को टूटने से बचाने के लिए अपने उत्पादों में बदलाव करें और बालों के साथ सौम्य तरीके से पेश आएं। जब आपके बाल चमकदार और स्वस्थ हो जाएंगे तो वो कभी टूटेंगे नहीं और हमेशा मजबूत रहेंगे। बालों का टूटना रोकने के लिए इस लेख में हम आपको बालों को टूटने से रोकने के उपाय और तरीके बता रहे हैं। लेकिन उससे पहले बताते हैं बाल टूटना क्या है और बाल टूटने के कारण। 

(और पढ़ें - बालों की देखभाल के लिए घरेलू उपाय)

तो आइये आपको बताते हैं बालों को टूटने से रोकने के उपाय और तरीके –

  1. बाल टूटना क्या है - Baal tootna kya hai
  2. बाल टूटने के कारण - Baal tootne ke karan
  3. बाल टूटने के घरेलू उपाय - Baal tootne ke gharelu upay
  4. बाल टूटने से कैसे रोकें - Baal tootne se kaise roke
  5. बालों को टूटने से रोकने के उपाय, नुस्खे और तरीके - Baalo ko tootne se rokne ke upay, nuskhe aur tarike
  6. बाल टूटने से रोकने की टिप्स और तरीके - Baal tutne se rokne ki tips aur tarike

अगर आपके बालों की जड़ का उपरी हिस्सा टूट जाए तो बाल बढ़ नहीं पाते और उनमें दो मुहें हो जाते हैं, इसे हेयर ब्रेकेज (hair breakage - बालों का टूटना) कहते हैं। बालों के टूटने की समस्या आमतौर पर रूखी सिर की त्वचा और खराब हुए बालों की वजह से होती है।

(और पढ़ें - रूसी हटाने के घरेलू उपाय

 

बाल टूटने के कारण इस प्रकार हैं –

1. डाइट -

आपने एक कहावत तो सुनी होगी "यु आर वॉट यु ईट" यानी आप जिस तरह का खाना खाएंगे आपकी त्वचा और बालों पर भी वैसा ही प्रभाव पड़ेगा। कुछ पोषण आपके बालों को बढ़ाने में मदद करते हैं और बालों को टूटने से रोकते हैं। इस बात का ध्यान रखें कि आपको अपनी डाइट में जिंक, आयरन और फोलिक एसिड पर्याप्त मात्रा में लेना है। पर्याप्त मात्रा में प्रोटीन और एंटीऑक्सीडेंट्स आपके बालों को खराब होने से भी बचाते हैं। (और पढ़ें - बाल झड़ने से रोकने के घरेलू उपाय

2. स्ट्रेस -

ऐसे बहुत से सबूत हैं जो तनाव और टूटते बालों के बीच के संबंध को बताते हैं। स्ट्रेस बालों की टूटने की समस्या को और बढ़ावा देता है। टेलोजेन एफ्लुवियम (Telogen effluvium) एक प्रकार का स्ट्रेस है जो काफी ज्यादा टूटते बालों से संबंध रखता है। इस प्रकार का स्ट्रेस बालों की रोम को खत्म कर देता हैं, तो जो बाल बढ़ रहे होते हैं वो बीच में से टूट सकते हैं। तनाव से दूर रहने से आप अपने बालों को स्वस्थ बना सकते हैं। (और पढ़ें - बालों को बढ़ाने का तेल)

3. रूखापन -

रूखे बालों की वजह से बाल खराब और टूटने लगते हैं। यह कई अन्य कारकों की वजह से भी होता है, जैसे शुष्क मौसम, कम नमी और अधिक गर्मी। जब आप बाल धोएं तो इस बात को सुनिश्चित कर लें कि बाल धोने के लिए पानी गुनगुना हो न कि गर्म। अगर आपके बालों की छोर रूखी है तो कोशिश करें कि शैम्पू का इस्तेमाल सिर्फ सिर की त्वचा में ही करें। कंडीशनर का उपयोग भी शैम्पू करने के बाद जरूर करें। (और पढ़ें - हेयर सीरम क्या है)

4. बालों में गर्म उपकरण का इस्तेमाल -

बालों को अच्छा दिखाने के लिए आप हेयर ड्रायर, फ्लैट आयरन या बालों को घुंघराले बनाने वाली मशीन में अधिक तापमान का इस्तेमाल करते हैं। हालांकि, जब आप इन उपकरणों को गलत तरीके से प्रयोग करते हैं या अत्यधिक इस्तेमाल करते हैं, तो बालों के क्यूटिकल के खराब होने का जोखिम बढ़ सकता है। (और पढ़ें - रूखे बालों के लिए शैम्पू)

5. किसी भी उपकरण का अधिक प्रयोग  –

पर्म, रेलक्सेर, प्रोफेशनल स्ट्रेटनिंग और कलरिंग कराने से आपके बाल एक या दो बार स्वस्थ तो लगते हैं, लेकिन अगर आप इन्हें अपने बालों में अधिक बार इस्तेमाल करते हैं तो, बालों के क्यूटिकल टूट जाएंगे और इस तरह बाल खराब हो सकते हैं।

"द अमेरिकन एकेडमी ऑफ़ डर्माटोलॉजी" की सलाह है कि इन बालों के लिए की जाने वाली इन प्रक्रियाओं को जल्दी-जल्दी न करवाकर उनके बीच में कम से कम 8 से 10 हफ्ते का अंतराल रखें। इसके अलावा आप इस समय हेयर मास्क का इस्तेमाल कर सकते हैं। (और पढ़ें - रूखे बालों का घरेलू उपाय

6. बार-बार बालों को धोने से बाल टूट सकते हैं –

अगर आपकी त्वचा तैलीय है तो इसका मतलब है कि आपकी सिर की त्वचा में सीबम (प्राकृतिक तेल) का उत्पादन अधिक होता है। इस तरह आपको बाल जल्दी-जल्दी धोने पड़ जाते हैं। अगर आपके बाल तैलीय हैं तो रोजाना बालों को धोना ठीक है। दूसरी तरफ, न्यूमरस फॉउंडेशन का मानना है कि अत्यधिक रूखे बाल को हफ्ते में सिर्फ एक बार ही धोना चाहिए। साथ ही, इस बात का ध्यान रखें कि आप सिर की त्वचा में शैम्पू सौम्य तरीके से लगाएं और कंडीशनर को बालों की छोर पर लगाएं। (और पढ़ें - हेयर मास्क क्या है, बनाने व लगाने का तरीका और फायदे)

7. बालों को तौलिए से सही ढंग से न पोछने से -

जब आप बालों को धोते हैं तो तौलिये से अपनी सिर की त्वचा और बालों को रगड़कर पोछते हैं। हालांकि, बालों को इतना रगड़कर पोछने से आपके बाल खराब हो सकते हैं। गीले बालों को रगड़कर पोछने के बजाए आप ऐसी तौलिए का इस्तेमाल कर सकते हैं जो बालों में मौजूद पानी को आसानी से सोख सके। आप अपने बालों को तौलिए से बांधकर भी छोड़ सकते हैं। (और पढ़ें - रूखे बालों के लिए तेल)    

8. कसकर बांधने से बाल टूटते हैं -

बालों को बांधने से बाल जड़ों से खिंचते हैं। आपने ध्यान दिया होगा कि जब बंधे हुए बालों को खोला जाता है तो रबर बैंड के साथ कई बाल टूटकर हाथ में आ जाते हैं। आप इस तरह बालों के टूटने की समस्या को रोक सकते हैं जैसे - बालों को पूरे दिन में एक बार खोलकर रखें या बालों की चोटी को थोड़ा ढीला कर दें। इसके अलावा यह सुनिश्चित कर लें कि आपने अपने बालों में सही गुणवत्ता की रबर बैंड लगा रखी हो, जिससे आपके बाल टूटे नहीं। (और पढ़ें - बाल लंबे करने का शैम्पू)

9. बालों को काढ़ने के लिए बेकार ब्रश और कंघी का इस्तेमाल करने से -

आपने यह सुना होगा कि पूरे दिन में कई बार बाल काढ़ने से आपके बाल स्वस्थ होते हैं, लेकिन "द अमेरिकन एकेडमी ऑफ़ डर्माटोलॉजी" का कहना है कि यह पूरी तरह से मिथक है। उनकी सलाह है कि आप बस अपने बालों को बनाते समय ही ब्रश या कंघी का उपयोग करें। बालों को टूटने से बचाने के लिए इस बात का ध्यान रखें कि आप बालों को बनाते वक़्त चौड़ी कंघी का ही इस्तेमाल करें। (और पढ़ें - बालों को लंबा करने के घरेलू उपाय)

10. बालों को न काटने से -

कहा जाता है कि बाल कटवाने से खराब हो सकते हैं। लेकिन ऐसा नहीं है, बालों को कटवाने से उन्हें स्वस्थ रखने में मदद मिलती है और दो मुहें बाल भी नहीं होते। जैसे आप त्वचा को एक्सफोलिएट करते हैं उसी तरह बालों को ट्रिम करवा सकते हैं - इन दोनों ही परिस्थितियों में पुरानी कोशिकाओं को साफ करके नयी कोशिकाएं सामने आती है। अगर आपके दो मुहें बाल होंगे तो यह दो मुहें आपके पूरे बालों को खराब कर सकते हैं। हर आठ हफ्ते बाद बालों को ट्रिम जरूर करवाएं। (और पढ़ें - बाल झड़ने से रोकने के घरेलू उपाय

11. हाइपरथायरोडिस्म -

हाइपोथायरोडिस्म (थायराइड कम होना) तब होता है जब आपकी थायराइड ग्रंथि थायराइड हॉर्मोन का उत्पादन नहीं कर पाती। हालांकि थायराइड बहुत ही छोटे आकार का होता है, लेकिन ये आपके शरीर के महत्वपूर्ण कार्यों में अहम भूमिका निभाता है। इसमें मेटाबॉलिज़्म, ह्रदय की गति और बल्कि बालों का बढ़ना शामिल है। जिन लोगों को थायराइड कम होता है उन्हें बाल टूटने और झड़ने की समस्या होती है, खासकर बालों को धोते और काढ़ते समय। अगर आपके बाल टूटते हैं या वजन अचानक से बढ़ जाता है तो इसके लिए अपने डॉक्टर से बात जरूर करें। (और पढ़ें - रूसी हटाने के लिए शैम्पू)

12. सही आहार न खाने से -

अगर आपको अस्वस्थ खाना बेहद पसंद है तो इससे आपके बाल खराब हो सकते हैं। यह खासकर अस्वस्थ खाने से ही होता है जिसके कारण कुपोषण होता है, जैसे एनोरेक्सिया (anorexia) और बुलिमिया नर्वोसा (bulimia nervosa)। बालों को टूटने से रोकने के लिए हमेशा स्वस्थ खाना खाएं। (और पढ़ें - बाल मोटे करने के उपाय)

बालों को टूटने से बचाने के उपाय में विटामिन को शामिल करें - Balo ko tutne se bachane ke upay me vitamin ko shamil kare

विटामिन सी, विटामिन डी3 और बायोटिन बालों को स्वस्थ बनाने के लिए बहुत ही बेहतरीन तरीके से कार्य करते हैं। बालों को अच्छा दिखाने के लिए, यह जरूरी है कि आपके बालों की रोम को पर्याप्त रक्त की सप्लाई और पोषण मिल रहा हो। विटामिन सी कोलेजन के उत्पादन में अहम भूमिका निभाता है, जो कि रक्त वाहिकाओं को बनाने का एक आधार है। जबकि विटामिन डी3 बालों को स्वस्थ बनाये रखने में मदद करता है और बायोटीन बालों को बढ़ाने के लिए आवश्यक है।

अगर शरीर में इनकी कमी होती है तो आपके बाल टूटने लगते हैं। रोजाना अपने आहार में साइट्रस फल, अंडे, चीज और हरी सब्जियों को शामिल जरूर करें। आप डॉक्टर से सलाह लेने के बाद इन विटामिन के सप्लीमेंट्स भी ले सकते हैं।

(और पढ़ें - तैलीय बालों के घरेलू उपाय)

बालों को टूटने से रोकने के लिए ग्रीन टी का इस्तेमाल करें - Baalo ko tutne se rokne ke liye green tea ka istemal kare

सामग्री –

  1. आधा बड़ी चम्मच ग्रीन टी का पाउडर।
  2. एक बड़ी चम्मच नारियल तेल। (और पढ़ें - नारियल तेल के फायदे)

विधि –

  1. सबसे पहले ग्रीन टी पाउडर को नारियल के तेल के साथ मिला लें।
  2. अब इस पेस्ट को सिर की त्वचा और बालों में लगाएं और लगाने के बाद दस मिनट के लिए पेस्ट को ऐसे ही लगा हुआ छोड़ दें।
  3. फिर अपने बालों को ठंडे पानी से धो लें।
  4. इसके अलावा, आप सिर्फ ग्रीन टी को भी पी सकते हैं।

बालों टूटने से रोकने के लिए ग्रीन टी का इस्तेमाल कैसे करें –

इस हेयर मास्क को हफ्ते में एक बार जरूर लगाएं।

फायदे –

अध्ययन से साबित हो चुका है कि ग्रीन टी में केटेकिंस (catechins) होते हैं, जिनमें एंटीऑक्सीडेंट्स और हेयर ग्रोथ (बालों की बढ़वार) को उत्तेजित करने के गुण शामिल हैं। इसमें एंटीफंगल और सूजनरोधी गुण भी होते हैं जो आपके सिर की त्वचा को संक्रमण से दूर रखते हैं और बालों को पतला होने से बचाते हैं।

(और पढ़ें - बालों में चमक लाने के उपाय)

बाल टूटने से रोकने का उपाय अंडे का मास्क है - Baal tutne se rokne ka upay ande ka mask hai

सामग्री –

  1. दो अंडे बिना जर्दी के।
  2. दो बड़ी चम्मच जैतून का तेल। (और पढ़ें - जैतून के तेल के फायदे)
  3. एक कप दूध। (और पढ़ें - दूध के फायदे)
  4. नींबू के जूस की कुछ बूँदें। (और पढ़ें - नींबू के रस के फायदे

विधि –

  1. सबसे पहले बिना जर्दी के अंडे, जैतून के तेल और नींबू के जूस को एक कटोरी में मिला लें।
  2. अब इस मिश्रण को अपनी सिर की त्वचा पर लगाएं और फिर आधे घंटे के लिए इसे ऐसे ही लगा हुआ छोड़ दें।
  3. अब अपने बालों को सौम्य क्लींजर से धोएं।
  4. इसके अलावा, आप जर्दी के साथ भी अंडे का इस्तेमाल कर सकते हैं।

बालों टूटने से बचाने के लिए अंडे का मास्क का इस्तेमाल कैसे करें –

इस उपाय को हर महीने दो से तीन बार दोहराएं।

फायदे –

अंडा प्रोटीन से समृद्ध होता है और बालों को स्वस्थ और मुलायम बनाये रखने में मदद करता है। इसमें एंटीऑक्सीडेंट और सूजनरोधी गुण होते हैं, जो बालों व सिर की त्वचा को सूजन और डेमेज (बालों को खराब) से बचाते हैं।

(और पढ़ें - घुंघराले और उलझे बालों के देसी नुस्खे)

बालों को टूटने से बचने के लिए एलो वेरा का प्रयोग करें - Balo ko tutne se bachane ke liye aloe vera ka prayog kare

सामग्री –

  1. आधा बड़ी चम्मच एलो वेरा जेल। (और पढ़ें - एलोवेरा के फायदे)
  2. आधा बड़ी चम्मच बादाम का तेल। (और पढ़ें - बादाम के तेल के फायदे)

विधि –

  1. सबसे पहले बराबर मात्रा में एलो वेरा जेल और बादाम का तेल मिला लें।
  2. इस मिश्रण को सिर की त्वचा और बालों में लगाएं।
  3. लगाने के बाद 20 से 30 मिनट के लिए इसे ऐसे ही लगा हुआ छोड़ दें।
  4. फिर बालों को कुछ मात्रा में पानी से धो दें।
  5. आप एलो वेरा जेल को कंडीशनर के तौर पर भी बालों में लगा सकते हैं।

बालों टूटने से रोकने के लिए एलो वेरा का इस्तेमाल कैसे करें –

इस उपाय को हफ्ते में दो बार लगा लगायें।

फायदे –

एलो वेरा जेल त्वचा और बालों के लिए काफी लोकप्रिय है। इसमें मॉइस्चराइजिंग, सूजनरोधी, फोटोप्रोटेक्टिव और एंटीफंगल गुण होते हैं, जो सिर की त्वचा को डैंड्रफ से मुक्त रखते हैं। एलो वेरा बालों के PH स्तर को वापस लेकर आता है, क्योंकि एलो वेरा का PH बालों के PH के समान ही होता है। 

(और पढ़ें - बालों को सिल्की करने के उपाय)

बालों का टूटना लहसुन से कम करें - Balo ka tutna lehsun se kam kare

सामग्री –

  1. 6 से 7 लहसुन की फांक। (और पढ़ें - लहसुन के फायदे)
  2. 100 मिलीलीटर नारियल या जैतून का तेल। 

विधि –

  1. सबसे पहले लहसुन की फांकों को पीस लें और फिर उसे कंटेनर में डाल दें। कंटेनर में डालने के बाद नारियल का तेल या जैतून का तेल उसमें मिलाएं।
  2. अब इसे अपने बालों और सिर की त्वचा पर लगाएं।
  3. फिर कुछ घंटे बाद बालों को पानी से धो लें। 

बालों टूटने से रोकने के लिए लहसुन का इस्तेमाल कैसे करें –

इस तेल का इस्तेमाल हफ्ते में एक बार जरूर करें।

फायदे –

आपके ज्यादातर बाल केराटिन से बने होते हैं और लहसुन सल्फर का एक समृद्ध स्रोत है, जो कि बालों में केराटिन को बढ़ावा देता है। साथ ही, लहसुन में एंटीफंगल और एंटीऑक्सीडेंट गुण होते हैं जो आपकी सिर की त्वचा को खराब होने और फंगल संक्रमण से सुरक्षित रखते हैं।

(और पढ़ें - बालों को मजबूत करने के उपाय)

टूटते बालों को रोकने का इलाज सेब का सिरका है - Tutte balo ko rokne ka ilaj seb ka sirka hai

सामग्री –

  1. एक बड़ी चम्मच सेब का सिरका। (और पढ़ें - सेब के सिरके के फायदे)
  2. दो कप पानी।

विधि –

  1. सबसे पहले सेब के सिरके को दो कप पानी में मिला लें।
  2. अब अच्छे से पूरे मिश्रण को चला लें।
  3. बालों को शैम्पू से धोने के बाद फिर इस मिश्रण से बालों को धोएं।

बालों टूटने से रोकने के लिए सेब का सिरका का इस्तेमाल कैसे करें –

इस उपाय को हफ्ते में एक बार जरूर दोहराएं।

फायदे –

बालों का PH स्तर असंतुलित होने से बाल रूखे और खराब होने लगते हैं। सेब के सिरके में "एसिटिक एसिड" (Acetic acid) होता है जो सिर की त्वचा का PH संतुलित रखने में मदद करता है। एसिटिक एसिड बालों को मुलायम बनाता है, इस तरह बाल टूटने से बचते हैं। साथ ही, सेब के सिरके में एंटीमाइक्रोबियल होते हैं जो सिर की त्वचा को संक्रमण से दूर रखते हैं।

(और पढ़ें - बालों को सिल्की करने के उपाय)

एवोकाडो बालों को टूटने से बचाये - Avocado balo ko tutne se bachaye

सामग्री –

  1. आधा एवोकाडो (छिला हुआ)। (और पढ़ें - एवोकाडो के फायदे)
  2. एक अंडे की जर्दी।
  3. एक बड़ी चम्मच मक्खन (वैकल्पिक)। (और पढ़ें - मक्खन के फायदे)

विधि –

  1. सबसे पहले एवोकाडो के गूदे को अंडे की जर्दी के साथ मिक्स कर लें। जिससे एक मुलायम पेस्ट तैयार हो सके। आप इसमें कुछ मात्रा में मक्खन भी मिला सकते हैं।
  2. अब इस पेस्ट को गीले बालों में सिर की त्वचा से छोर तक लगाएं।
  3. सिर की त्वचा पर इस मिश्रण को लगाने के बाद कुछ मिनट तक मसाज करें और फिर 20 मिनट के लिए इसे ऐसे ही लगा हुआ छोड़ दें।
  4. अपने बालों को पानी से धोने के बाद शैम्पू से धोएं और फिर हमेशा की तरह कंडीशनर का प्रयोग करें।

बालों टूटने से रोकने के लिए एवोकाडो का इस्तेमाल कैसे करें –

इस उपाय का इस्तेमाल महीने में कम से कम दो बार करें।

फायदे –

एवोकाडो में विटामिन और खनिज होते हैं। यह फल प्राकृतिक कंडीशनर की तरह कार्य करता है और बालों को खराब होने से बचाता है। एवोकाडो ओमेगा 3 फैटी एसिड से समृद्ध होता है जो कि बालों के स्वास्थ्य और चमक के लिए बेहद जरूरी है।

(और पढ़ें - सफेद बालों को काला करने के लिए तेल)

टूटते बालों को रोकने का इलाज प्याज का जूस है - Tutte baalo ko rokne ka ilaj pyaj ka juice hai

सामग्री –

  1. आधा बड़ी चम्मच प्याज का जूस। (और पढ़ें - प्याज के फायदे)
  2. आधा बड़ी चम्मच नारियल का तेल।

विधि –

  1. सबसे पहले नारियल के तेल को प्याज के जूस के साथ मिला लें।
  2. अब इस मिश्रण को बालों और सिर की त्वचा में लगाएं।
  3. लगाने के बाद 20 से 30 मिनट के लिए इसे ऐसे ही लगा हुआ छोड़ दें।
  4. फिर बालों को पानी से धो लें।

बालों टूटने से रोकने के लिए प्याज का जूस का इस्तेमाल कैसे करें –

इस उपाय को हफ्ते में एक बार जरूर दोहराएं।

फायदे –

प्याज सल्फर से समृद्ध होती है। इस तरह प्याज न सिर्फ बालों को टूटने और खराब होने से बचाती है बल्कि आपके बालों को मजबूत और स्वस्थ भी रखती है। साथ ही, प्याज में एंटीफंगल गुण होते हैं जो रूखी सिर की त्वचा और डैंड्रफ को खराब होने से बचाते हैं।

(और पढ़ें - प्याज का रस बालों के लिए)

टूटते बालों को शिया बटर से रोके - Tutte balo ka shea butter se roke

सामग्री –

  1. एक छोटी चम्मच शिया बटर। (और पढ़ें - शिया बटर क्या होता है)

विधि –

  1. सबसे पहले शिया बटर को अपनी हथेलियों पर लें और फिर उसे अपने दोनों हाथों पर रगड़ें। जिससे बटर हाथों पर पिघल जाए।
  2. अब उंगलियों की मदद से उसे बालों में लगाएं।

बालों टूटने से रोकने के लिए शिया बटर का इस्तेमाल कैसे करें –

अगर आपके बाल रूखे और खराब हो जाए तो शिया बटर का इस्तेमाल जरूर करें।

फायदे –

शिया बटर आपके बालों के लिए एक प्राकृतिक कंडीशनर की तरह काम करता है। इसमें हाइड्रेटिंग और सूजनरोधी गुण होते हैं जो बालों और सिर की त्वचा को स्वस्थ रखते हैं। शिया बटर के मॉइस्चराइज़िंग गुण आपके बालों को खराब होने से बचाते हैं।

(और पढ़ें - सफेद बालों से छुटकारा पाने के उपाय)

बाल टूटने से रोकने की टिप्स और तरीके इस प्रकार है -

  1. बालों को टूटने से बचाने के लिए सही शैम्पू और कंडीशनर का इस्तेमाल करें।
  2. हानिकारक केमिकल वाले उत्पादों से अपने बालों को दूर रखें।
  3. बालों को धोएं, फिर उन्हें सुखाएं उसके बाद बालों में कंघी करें।
  4. बालों को हमेशा प्राकृतिक तरीके से सुखाएं। बहुत कम बालों को सुखाने वाले उपकरणों का इस्तेमाल करें। अगर बालों को इन उपकरणों से सुखाना भी है तो आपका उपकरण बालों से काफी दूर होना चाहिए।
  5. बालों की स्टाइलिंग करने के लिए अन्य गर्म उपकरणों का इस्तेमाल न करें।
  6. बालों को बांधने के लिए हमेशा सही रबर बैंड का उपयोग करें।
  7. इस बात का ध्यान रखें कि आप बालों में जो भी स्टाइल बना रहे हैं वो ज्यादा टाइट नहीं होना चाहिए इससे आपके बाल टूट सकते हैं।
  8. हमेशा बालों का एक ही स्टाइल न बनाये। एक ही स्टाइल बनाने से आपके बाल एक तरफ से कम हो सकते हैं।
  9. रोजाना बालों को न कटवाएं। एक या दो महीने बाद ही बालों को ट्रिम करवाएं।
  10. बालों को कलर करने के लिए केमिकल उत्पादों की बजाए प्राकृतिक उत्पादों का इस्तेमाल करें जैसे, हिना

(और पढ़ें - हेयर स्पा करने का तरीका

और पढ़ें ...
ऐप पर पढ़ें
कोरोना मामले - भारतx

कोरोना मामले - भारत

CoronaVirus
979 भारत
1पुडुचेरी
1मणिपुर
3हिमाचल प्रदेश
1मिजोरम
3गोवा
6छत्तीसगढ़
55उत्तर प्रदेश
54राजस्थान
38पंजाब
3ओडिशा
30मध्य प्रदेश
13लद्दाख
33हरियाणा
39दिल्ली
9बिहार
14आंध्र प्रदेश
8चंडीगढ़
76कर्नाटक
6उत्तराखंड
182केरल
17पश्चिम बंगाल
66तेलंगाना
42तमिलनाडु
186महाराष्ट्र
31जम्मू-कश्मीर
53गुजरात
9अंडमान निकोबार

मैप देखें