आयुर्वेद भारत का प्राचीन स्वास्थ्य विज्ञान है। एक ऐसा आयुर्वेदिक फॉर्मुला है जो सदियों से सुंदरता और निखार को बनाए रखने के लिए इस्तेमाल किया गया है। यह फॉर्मुला काम तो धीरे करता है पर बहुत ही ज़्यादा असरदार है। दो-तीन महीनों के इस्तेमाल से ही आपको इसका फायदा पता चल जाएगा। यही नही, भारतीय रानियां भी अपनी सुंदरता और यौवन को बनाए रखने के लिए इन्हीं आयुर्वेदिक जड़ी बूटियों और प्राकृतिक सामग्री का उपयोग किया करती थीं।

(और पढ़ें - चमकदार त्वचा के उपाय)

वास्तव में, आधुनिक तकनीक से पहले, सभी मनुष्य अपने सभी कॉस्मेटिक समस्याओं के लिए प्राकृतिक समाधान पर ही आश्रित थे। आज हम आपको कुछ ऐसी जड़ीबूटियों के बारे में बताने जा रहे हैं जो आपकी त्वचा टोन को हल्का करेंगी और आपको चमकदार और युवा त्वचा देंगी।

(और पढ़ें – gora hone ke upay)

आपको इसके लिए चाहिए -

इसे बनाने का तरीका -

  • एक कप लाल मसूर दाल को पीस कर पाउडर बना लें। (और पढ़ें - दाग धब्बे हटाने का नुस्खा)
  • अब हल्दी, चंदन और मसूर दाल पाउडर को 1:1: 2 अनुपात में मिश्रित करें।
  • केसर के कुछ 15-20 स्ट्रैंड मिश्रण में डालें। (और पढ़ें - चेहरे पर चमक लाने के उपाय)
  • थोड़ा सा पानी या गुलाब जल इस पेस्ट को बनाने के लिए मिश्रण में डालें।
  • आपकी त्वचा पर इस पेस्ट को लगा लें और इसे कम से कम 20 मिनट के लिए रहने दें।
  • यह धीरे से ठंडे पानी से धो लें। (और पढ़ें - चेहरा साफ करने के उपाय)

एक सप्ताह में दो बार इस फेस पैक का प्रयोग करें और आपकी त्वचा नर्म, चिकनी और चमकदार हो जाएगी।

(और पढ़ें - चेहरे को गोरा बनाने के उपाय और त्वचा की देखभाल)

ऐप पर पढ़ें
cross
डॉक्टर से अपना सवाल पूछें और 10 मिनट में जवाब पाएँ