• हिं

डेंगू मादा मच्छर एडीज इजिप्टी (Aedes aegypti) के काटने से फैलता है. ब्लड में प्लेटलेट्स की संख्या कम होना इसका मुख्य लक्षण है. इसके साथ ही डेंगू में सिरदर्द, तेज बुखार, स्किन में रैशेज, आंखों के पीछे दर्द, नजला, ज्वाइंट में दर्द जैसे सामान्य लक्षण दिखते हैं. वहीं, डेंगू के कुछ लक्षण गंभीर भी हो सकते हैं, जैसे- पेट में दर्द, उल्टी होना, खून की उल्टी होना, मल से खून निकलना, काफी ज्यादा कमजोरी महसूस होना. आज हम आपको इस लेख में डेंगू में पेट दर्द के बारे में बताएंगे.

(और पढ़ें - डेंगू के घरेलू उपाय)

  1. क्या डेंगू में पेट दर्द होना गंभीर लक्षण है? - Is abdominal pain in dengue serious in Hindi
  2. डेंगू में क्यों होता है पेट दर्द? - Causes of abdominal pain in dengue in Hindi
  3. डेंगू में पेट दर्द का इलाज - Treatment of acute abdominal pain in dengue in Hindi
  4. डेंगू में पेट दर्द होने पर परहेज - What to avoid in Dengue in Hindi
  5. सारांश - Takeaway
डेंगू में पेट दर्द के डॉक्टर

डेंगू में पेट दर्द होना एक गंभीर लक्षण है. NCBI पर छपी रिपोर्ट के मुताबिक, डेंगू बुखार के कुछ ऐसे मामले सामने आए हैं. जिसमें मरीज को अत्यधिक उल्टी के साथ पेट के दाहिने हिस्से में दर्द का सामना करना पडा था. जब मरीज के पेट का सीटी स्कैन किया गया, तो मरीज के पेट में रेक्टस शीथ हेमेटोमा (rectus sheath hematoma) की पुष्टि हुई. रेक्टस शीथ हेमैटोमा एक ऐसी स्थिति है, जिसमें रक्त वाहिका (Blood Vessels) के बाहर ब्लड असामान्य रूप से इकठ्ठा होने लगता है.

डेंगू के ये गंभीर लक्षण तेज बुखार के साथ 24-48 घंटों में दिखने शुरू हो जाते हैं. यदि आपको या आपके परिवार में किसी को भी पेट दर्द के साथ अन्य गंभीर लक्षण जैसे- उल्टी (24 घंटे में कम से कम 3 बार), नाक या मसूड़ों से खून बहना, खून की उल्टी होना, मल में खून आना दिखे, तो एमर्जेंसी में तुरंत डॉक्टर को दिखाएं. इस दौरान मरीज को इलाज की  बेहद आवश्यकता होती है.

(और पढ़ें - डेंगू का होम्योपैथिक इलाज)

WHO के मुताबिक, डेंगू के दौरान कुछ विशेष परिस्थिति से जूझ रहे मरीजों को पेट में दर्द की परेशानी हो सकती है. डेंगू में पेट दर्द सबसेरोसल फ्लूइड कलेक्शन (subserosal fluid collection) और गाढ़े पित्ताशय (thickened gallbladder) की वजह से हो सकता है. इसके अलावा ऑर्गन इंवॉल्वमेंट (organ involvement) जैसे- हेपेटाइटिस, अकैल्क्युलस कोलीसिस्टाइटिस (Acalculous cholecystitis), अग्नाशयशोध (pancreatitis), अपेंडिसाइटिस (appendicitis) और पेप्टिक अल्सर (peptic ulcer) से ग्रसित लोगों को डेंगू में पेट दर्द की समस्या हो सकती है. कुछ स्थितियों में अपच या कब्ज के कारण भी डेंगू के दौरान पेट दर्द होता है लेकिन ये अस्थायी होता है.

(और पढ़ें - डेंगू बुखार की आयुर्वेदिक दवा)

डेंगू में तेज पेट दर्द होने पर तुरंत डॉक्टर से संपर्क करें. पेट दर्द डेंगू के गंभीर लक्षणों में से एक भी हो सकता है. डेंगू मरीज की गंभीरता के आधार पर डॉक्टर उन्हें कुछ दवाई दे सकते हैं. इसके अलावा डेंगू के मरीजों को अधिक से अधिक पेय पदार्थों का सेवन करने की सलाह दी जाती है. पेट दर्द और उल्टी होने पर डॉक्टर इलेक्ट्रोलाइट लेने की सलाह दे सकते हैं. पेट में दर्द एक गंभीर लक्षण है, ऐसे में डॉक्टर कुछ जांचों के बाद अस्पताल में भर्ती की सलाह भी दे सकते हैं, क्योंकि इस दौरान आपको एक्स्ट्रा निगरानी की आवश्यकता हो सकती है.

(और पढ़ें - डेंगू में प्लेटलेट्स कितनी होनी चाहिए)

डेंगू में पेट दर्द की परेशानी होने पर आपको मसालेदार खाने से दूर रहना चाहिए. अगर आप डेंगू में इलाज के दौरान मसालेदार खाना खाते हैं, तो इससे पेट में एसिड जमा हो सकता है. दरअसल, डेंगू में हमारी इम्यूनिटी काफी ज्यादा कमजोर हो जाती है, जिसका असर आपके आंत पर पड़ता है. ऐसे में अगर आप मसालेदार चीजों का सेवन करते हैं, तो आपको ब्लॉटिंग, एसिडिटी, पेट में दर्द जैसी परेशानी हो सकती है. इसलिए डेंगू में मसालों के सेवन से दूर रहें. इसके अलावा कुछ अन्य ऐसी चीजें भी हैं, जिससे डेंगू मरीजों को परहेज करने की आवश्यकता है. जैसे-

(और पढ़ें - डेंगू में क्या खाना चाहिए)

डेंगू में पेट दर्द गंभीर लक्षणों में से एक है. इसलिए अगर आपको बुखार के साथ पेट दर्द हो रहा है, तो इसे नजरअंदाज न करें. बुखार के साथ पेट दर्द होने पर तुरंत डॉक्टर से संपर्क करें. ताकि आगे होने वाली गंभीरता से बचा जा सके.

(और पढ़ें - डेंगू में कौन से फल खाएं)

Dr. Arun R

Dr. Arun R

संक्रामक रोग
5 वर्षों का अनुभव

Dr. Neha Gupta

Dr. Neha Gupta

संक्रामक रोग
16 वर्षों का अनुभव

Dr. Lalit Shishara

Dr. Lalit Shishara

संक्रामक रोग
8 वर्षों का अनुभव

Dr. Alok Mishra

Dr. Alok Mishra

संक्रामक रोग
5 वर्षों का अनुभव

cross
डॉक्टर से अपना सवाल पूछें और 10 मिनट में जवाब पाएँ