प्राइमरी स्क्लेरोजिंग कोलेनजाइटिस - Primary Sclerosing Cholangitis in Hindi

Dr. Rajalakshmi VK (AIIMS)MBBS

October 23, 2020

April 12, 2021

प्राइमरी स्क्लेरोजिंग कोलेनजाइटिस
प्राइमरी स्क्लेरोजिंग कोलेनजाइटिस

प्राइमरी स्क्लेरोजिंग कोलेनजाइटिस क्या है?

प्राइमरी स्क्लेरोजिंग कोलेनजाइटिस (पीएससी) पित्त नलिकाओं से जुड़ा एक रोग है। पित्त नलिकाएं पाचन में मदद करने वाले तरल (बाइल) को लिवर से छोटी आंत तक ले जाती हैं। पीएससी में इंफ्लेमेशन (लालिमा के साथ सूजन या दर्द) की वजह से पित्त नलिकाओं में स्कार बनते हैं। ये स्कार नलिकाओं को कठोर और संकीर्ण बनाते हैं और धीरे-धीरे लिवर को गंभीर रूप से नुकसान पहुंचने लगता है।

ज्यादातर लोगों में पीएससी धीरे-धीरे बढ़ता है। स्थिति बदतर होने पर लिवर फेलियर, बार-बार संक्रमण होना और पित्त नलिकाओं या लिवर में ट्यूमर होने का खतरा बढ़ सकता है। एडवांस पीएससी के मामले में केवल लिवर ट्रांसप्लांट ही एक मात्र इलाज होता है, लेकिन दुर्लभ मामलों में यह उन लोगों में भी हो सकता है, जिन्होंने लिवर ट्रांसप्लांट कराया हो।

हालांकि, उपचार के तौर पर कुछ अन्य बातों पर भी फोकस किया जा सकता है जैसे - लिवर के कार्यों की निगरानी करना, लक्षणों को ठीक करना और संभव हो तो अस्थायी रूप से ब्लॉक पित्त नलिकाओं को खोलने वाली प्रक्रियाओं को अपनाना।

(और पढ़ें - लिवर रोग)

प्राइमरी स्क्लेरोजिंग कोलेनजाइटिस के संकेत और लक्षण - Primary Sclerosing Cholangitis Symptoms in Hindi

कई बार पीएससी का निदान तब हो जाता है जब हम किसी अन्य बीमारी की वजह से ब्लड टेस्ट या एक्स-रे करवाते हैं और जांच में हमें लिवर में गड़बड़ी का पता चलता है।

पीएससी के शुरुआती लक्षणों में शामिल हैं : 

बीमारी के बढ़ने पर निम्न लक्षण देखे जा सकते हैं :

(और पढ़ें - लिवर की बीमारी के लिए व्यायाम)

प्राइमरी स्क्लेरोजिंग कोलेनजाइटिस का कारण - Primary Sclerosing Cholangitis Causes in Hindi

पीएससी का कारण स्पष्ट नहीं है, लेकिन ऐसा माना जाता है कि जब हमारी प्रतिरक्षा प्रणाली किसी संक्रमण या विषाक्त पदार्थ के प्रति प्रतिक्रिया करती है तो ऐसे में उन लोगों में पीएससी की समस्या ट्रिगर हो सकती है, जो आनुवंशिक रूप से संवेदनशील हैं।

पीएससी से ग्रस्त ज्यादातर लोगों में इंफ्लेमेटरी बाउल डिजीज (आईबीडी) की भी समस्या हो सकती है।

पीएससी और आईबीडी दोनों के लक्षण एक समय पर दिखाई नहीं देते हैं। कुछ मामलों में पीएससी के लक्षण आईबीडी होने के कई साल पहले दिखाई देने लगते हैं। यदि पीएससी का निदान कर लिया जाता है, तो आईडीबी की भी पहचान करने की कोशिश की जानी चाहिए, क्योंकि आईडीबी से पेट के कैंसर का खतरा अधिक होता है।

प्राइमरी स्क्लेरोजिंग कोलेनजाइटिस का निदान - Primary Sclerosing Cholangitis Diagnosis in Hindi

प्राइमरी स्क्लेरोजिंग कोलेनजाइटिस के निदान के लिए टेस्ट और प्रक्रियाओं में शामिल हैं :

  • लिवर फंक्शन ब्लड टेस्ट : यह एक ब्लड टेस्ट है, जिसमें लिवर के कार्यों (जिसमें लिवर एंजाइम के स्तर भी शामिल हो) की जांच की जाती है।
  • बाइल डक्ट एमआरआई : बाइल डक्ट यानी पित्त नलिका की जांच के लिए एमआरआई किया जाता है। इस टेस्ट के जरिए लिवर और पित्त नलिकाओं की छवियां तैयार होती हैं और डॉक्टर आसानी से पीएससी का निदान कर पाते हैं।
  • पित्त नलिकाओं का एक्स-रे : पित्त नली के एक्स-रे को ईआरसीपी भी कहा जाता है। हालांकि, इस टेस्ट का प्रयोग कम किया जाता है, क्योंकि इसमें जोखिम होता है।
  • एमआरसीपी : इस टेस्ट में मशीन मैगनेट और रेडियो वेव का इस्तेमाल करके पित्त नलिका की छवि तैयार करती है। चूंकि यह टेस्ट सुरक्षित और दर्दरहित है इसलिए डॉक्टर इसे प्राथमिकता दे सकते हैं।

प्राइमरी स्क्लेरोजिंग कोलेनजाइटिस का इलाज - Primary Sclerosing Cholangitis Treatment in Hindi

पीएससी के लिए अभी तक कोई प्रभावी दवा की जानकारी नहीं है, लेकिन शोधकर्ता इस पर काम कर रहे हैं। प्राइमरी स्क्लेरोजिंग कोलेनजाइटिस के उपचार का लक्ष्य बीमारी की जटिलताओं और लिवर को हुए नुकसान को ठीक करना है।

यदि आप ईआरसीपी से ग्रस्त हैं, तो डॉक्टर ब्लॉक पित्त नलिकाओं को खोलने के लिए एंडोस्कोप के माध्यम से विशेष उपकरणों का उपयोग कर सकते हैं।

डॉक्टर खुजली को कम करने के​ लिए दवा, संक्रमण को रोकने के लिए एंटीबायोटिक या दवाओं के साथ विटामिन की खुराक भी लिख सकते हैं।

लिवर फेलियर की स्थिति में लिवर ट्रांसप्लांट की आवश्यकता हो सकती है।

(और पढ़ें - लिवर रोग का आयुर्वेदिक इलाज)



प्राइमरी स्क्लेरोजिंग कोलेनजाइटिस के डॉक्टर

Dr. Abhay Singh Dr. Abhay Singh गैस्ट्रोएंटरोलॉजी
1 वर्षों का अनुभव
Dr. Suraj Bhagat Dr. Suraj Bhagat गैस्ट्रोएंटरोलॉजी
23 वर्षों का अनुभव
Dr. Smruti Ranjan Mishra Dr. Smruti Ranjan Mishra गैस्ट्रोएंटरोलॉजी
23 वर्षों का अनुभव
Dr. Sankar Narayanan Dr. Sankar Narayanan गैस्ट्रोएंटरोलॉजी
10 वर्षों का अनुभव
डॉक्टर से सलाह लें
cross
डॉक्टर से अपना सवाल पूछें और 10 मिनट में जवाब पाएँ